भारत की स्वतन्त्रता

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भारत की स्वतंत्रता

भारत का ध्वज

भारत की स्वतंत्रता से तात्पर्य ब्रिटिश शासन द्वारा 15 अगस्त 1947 को भारत की सत्ता का हस्तांतरण भारत की जनता के प्रतिनिधियों को किए जाने से है। इस दिन दिल्ली के लाल किले पर भारत के पहले प्रधानमंत्री [पंडित जवाहर लाल नेहरू] ने भारत का राष्ट्रीय ध्वज फहरा कर स्वाधीनता का ऐलान किया किया था। भारत के स्वाधीनता संग्राम की शुरुआत 1857 में हुए सिपाही विद्रोह को माना जाता है। स्वाधीनता के लिए हजारों लोगो ने अपने प्राण न्यौछावर किए थे। भारत को स्वतन्त्रता कैसे मिली तथा भारत को स्वतन्त्रता मिलने में सबसे अधिक किसका योगदान है, इस पर भारी मतभेद है।[1]

भारत का विभाजन[संपादित करें]

14 अगस्त 1947 को भारत विभाजन और पाकिस्तान का निर्माण हुआ।

नेहरू और जिन्ना ने मिलकर भारत के टुकड़े करके अपने अपने देश की सत्ता संभाल ली ,

स्वतंत्र भारत के पहले पदाधिकारी[संपादित करें]

स्वतंत्र भारत का प्रथम मंत्रिमण्डल

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]