मीर कासिम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मीर कासिम १७६० से १७६४ तक बंगाल का नवाब था। इसे ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कम्पनी ने नवाब बनाया था। उसका पूरा नाम मीर मोहम्मद अली खान था। अंग्रेजो ने 1760 में उसके ससुर मीर जाफर को हटाकर उसे सुबेदार नियुक्त किया था। मीर कासिम ने नवाबी पाने के लिए कलकत्ता कॉउंसिल को 20 लाख रुपये नगद दिए थे।[संपादित करें]