स्वामी आनन्द

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

स्वामी आनन्द (1887 - 1976) एक सन्त, गाँधीवादी कार्यकर्ता तथा गुजराती लेखक थे। वे नवजीवन और यंग इण्डिया आदि गांधी के प्रकाशनों के प्रबन्धक थे। इनके द्वारा रचित एक रेखाचित्र कुलकथाओ के लिये उन्हें सन् १९६९ में साहित्य अकादमी पुरस्कार (गुजराती) से सम्मानित किया गया।<ref name="sahitya">"अकादमी पुरस्कार". साहित्य अकादमी. अभिगमन तिथि 11 सितंबर 2016.</ref स्वामी आनंदने 'बर्फ के रास्ते बद्रीनाथ'

पुस्तक लिखी थी।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]