सिख

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सिख धर्म के अनुयायियों को सिख कहते हैं । इसे कभी-कभी सिक्ख भी लिखा जाता है। इनके पहले गुरू गुरु नानक जी हैं। गुरु ग्रंथ साहिब सिखों का पवित्र ग्रन्थ है। इनके प्रार्थना स्थल को गुरुद्वारा कहते हैं। हिन्दू धर्म की रक्षा में तथा भारत की आजादी की लड़ाई में और भारत की आर्थिक प्रगति में सिखों का बहुत बड़ा योगदान है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

pahle hindu the baad mein sikh bane inho ne hindu dharm ki kya help karni jab ki j b to hindu se bane hai guru nanak g ko to peer b kahte hai wo sab ko ekta ka sandesh dekar gae hai wo koi sikh guru ja hindu guru nai the wo khud bagwan the bus