फरा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

फरा धान का कटोरा कहलाने वाले छत्तीसगढ़ प्रांत का चावल से बना एक और व्यंजन है। बनाने की विधि अत्यंत सरल है, केवल चावल के आटे को गूंथ कर हाथों से 3-3.5 इंच के छोटे-छोटे टुकड़े करने है, पहले गोल करें (लोई) फिर बीच से चपटा कर मछली सा आकार दे दें। अब बस भाप से पकाना है।
वैसे, इसे पकाने के दो तरीके हैं, यदि आप तीखा खाने के शौकिन हैं तो बनाई हुई लोई को पहले तेल में लाल मिर्च डालकर हल्के से सेंक ले फिर ऊपर से पानी डालकर भाप में पकने दें। या फिर बिना तले हुए प्रेशर कुकर या फिर इटली बनाने के बर्तन में भाप में पका लें। पकने के बाद इसे मिर्ची की चटनी से साथ परोसइए।
सावधानीः इस्तेमाल में चीले की तरह केवल नया चावल इस्तेमाल किया जाता है।