चावल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मिश्रित चावल : सफेद चावल, भूरा चावल, लाल चावल और जंगली चावल
चावल विभिन्न आकार, रंग, रूप में आते हैं।
धान से लेकर सफेद चावल बनाने की प्रक्रिया

धान के बीज को चावल कहते हैं। यह धान से ऊपर का छिलका हटाने से प्राप्त होता है। चावल सम्पूर्ण पूर्वी जगत में प्रमुख रूप से खाए जाने वाला अनाज है। भारत में भात, खिचड़ी सहित काफी सारे पकवान बनते हैं। चावल का चलन दक्षिण भारत और पूर्वी-दक्षिणी भारत में उत्तर भारत से अधिक है।

इसे संस्कृत में 'तण्डुल' कहा जाता है और तमिल में 'अरिसि' कहा जाता है।

इसे कभी-कभार 'षड्रस' भी कहा जाता है, क्योंकि में स्वाद के छहों प्रमुख रस मौजूद हैं। सांस्कृतिक हिंदी में पके हुए चावल को 'भात' कहा जाता है, किन्तु अधिकतर हिन्दी भाषी 'भात' शब्द का प्रयोग कम ही करते हैं। चावल की फ़सल को धान कहते हैं। बासमती चावल भारत का प्रसिद्ध चावल है जो विदेशों को निर्यात भी किया जाता है।

चावल घास की प्रजाति ओरीज़ा सैटिवा (एशियाई चावल) या कम सामान्यतः ओरीज़ा ग्लोबेरिमा (अफ्रीकी चावल) का बीज है। जंगली चावल का नाम आमतौर पर ज़िज़ानिया और पोर्टेरेसिया की प्रजातियों के लिए उपयोग किया जाता है, दोनों जंगली और घरेलू है, हालांकि इस शब्द का उपयोग ओरीज़ा की आदिम या अकृष्ट किस्मों के लिए भी किया जा सकता है।

चावल की खेती का पारंपरिक तरीका है तरुण अंकुर के रोपण के समय, या बाद में खेतों में पानी भरना। इस सरल विधि के लिए अच्छी सिंचाई योजना की आवश्यकता होती है, लेकिन कम मजबूत जंगली घास और कीट पौधों की वृद्धि को कम करता है, जिनकी कोई जलमग्न वृद्धि नहीं होती है, और परोपजीवी को रोकता है। जबकि चावल की खेती के लिए प्रचुर पानी अनिवार्य नहीं है, सिंचाई के अन्य सभी तरीकों में वृद्धि की अवधि के दौरान जंगली घास और कीट नियंत्रण में उच्च प्रयास और मिट्टी को उर्वरित करने की अलग पहुंच की आवश्यकता होती है।

चावल, एकबीजपत्री, आमतौर पर एक वार्षिक पौधे के रूप में उगाया जाता है, हालांकि उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में यह बारहमासी के रूप में जीवित रह सकता है और 30 वर्षों तक रटून की फसल पैदा कर सकता है।

दुनिया भर में खपत[संपादित करें]

2013 तक, चावल की विश्व खाद्य खपत 565.6 मिलियन मीट्रिक टन (623.5 मिलियन शॉर्ट टन) धान समकक्ष (377,283 मीट्रिक टन (415,883 शॉर्ट टन) मिल्ड समकक्ष) थी, जबकि सबसे बड़े उपभोक्ता चीन था जहाँ 162.4 मिलियन मीट्रिक टन (179.0 मिलियन शॉर्ट टन) धान के समतुल्य (विश्व खपत का 28.7%) की खपत होती हैं और भारत में 130.4 मिलियन मीट्रिक टन (143.7 मिलियन शॉर्ट टन) धान के समतुल्य (विश्व खपत का 23.1%) की खपत होती है।[1][2]

चावल एशिया की सबसे महत्वपूर्ण फसल है। उदाहरण के लिए, कंबोडिया में, कुल कृषि क्षेत्र का 90% हिस्सा चावल उत्पादन के लिए उपयोग किया जाता है। [3]

पिछले 25 वर्षों में अमरीका की चावल खपत में तेजी से वृद्धि हुई है, जो आंशिक रूप से बीयर उत्पादन जैसे वाणिज्यिक अनुप्रयोगों से प्रेरित है।[4] पांच में से लगभग एक वयस्क अमेरिकी अब प्रति दिन कम से कम सफेद या ब्राउन चावल का आधा हिस्सा खाने की सूचना देता है। [5]

पोषक तत्त्व[संपादित करें]

Rice, white, long-grain, regular, unenriched, cooked without salt
Rice p1160004.jpg
प्रति परोस का 100 ग्राम (3.5 औंस)
ऊर्जा 130 किलोकैलोरी (540 कि॰जूल)
कार्बोहाइड्रेट 28.1 g
शर्करा 0.05 g
आहार रेशे 0.4 g
वसा 0.28 g
प्रोटीन 2.69 g
पानी 68.44 g
थायमिन(विटा.बी) 0.02 mg (2%)
रिबोफ्लेविन(विटा.बी) 0.013 mg (1%)
नायसिन(विटा.बी) 0.4 mg (3%)
पैण्टोथेनिक अम्ल (बी) 0 mg (0%)
विटामिन बी 0.093 mg (7%)
कैल्शियम 10 mg (1%)
लौह 0.2 mg (2%)
मैग्नेशियम 12 mg (3%)
मैंगनीज़ 0 mg (0%)
फास्फोरस 43 mg (6%)
पोटैशियम 35 mg (1%)
सोडियम 1 mg (0%)
जस्ता 0.049 mg (0%)
Link to USDA Database entry
Percentages are relative to US recommendations for adults.
Source: USDA Nutrient database
Rice, white, short-grain, cooked
प्रति परोस का 100 ग्राम (3.5 औंस)
ऊर्जा 544 कि॰जूल (130 किलोकैलोरी)
कार्बोहाइड्रेट 29 g
शर्करा 0 g
आहार रेशे 0 g
वसा 0 g
प्रोटीन 2.4 g
पानी 68.5 g
थायमिन(विटा.बी) 0.2 mg (15%)
रिबोफ्लेविन(विटा.बी) 0.0 mg (0%)
नायसिन(विटा.बी) 1.5 mg (10%)
पैण्टोथेनिक अम्ल (बी) 0.4 mg (8%)
विटामिन बी 0.164 mg (13%)
कैल्शियम 1 mg (0%)
लौह 1.5 mg (12%)
मैग्नेशियम 8 mg (2%)
मैंगनीज़ 0.4 mg (20%)
फास्फोरस 33 mg (5%)
पोटैशियम 23 mg (0%)
जस्ता 0.4 mg (4%)
Percentages are relative to US recommendations for adults.
Source: USDA Nutrient database

चावल में ना सिर्फ फाइबर मौजूद होता है बल्कि इसमें विटामिन, कैल्शियम, आयरन, थायमीन और मिनरल्स जैसे पोषक तत्व समाए होते है

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "खाद्य बैलेंस शीट >कमोडिटी बैलेंस > फसलें प्राथमिक समतुल्य". मूल से २ अप्रैल २०१६ को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ३ अक्टूबर २०१९.
  2. "चावल की दुकान". लवलोकल.इन. अभिगमन तिथि ९ जून २०२१.
  3. पुक्रिज, डॉन (२००४) चावल का जलना Archived 2014-03-31 at the Wayback Machine, टेंपल हाउस Pty, ISBN 1-877059-73-0.
  4. संयुक्त राज्य अमेरिका का कृषि विभाग (यूएसडीए) आर्थिक अनुसंधान सेवा. "ब्रीफिंग रूम: चावल". मूल से ९ अप्रैल २००८ को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २४ अप्रैल २००८.
  5. आयोवा स्टेट यूनिवर्सिटी (जुलाई २००५). "संयुक्त राज्य अमेरिका में चावल की खपत: खाद्य उपभोग सर्वेक्षण से नए साक्ष्य". मूल से २८ मई २०१० को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २४ अप्रैल २००८. Cite journal requires |journal= (मदद)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]