विकिपीडिया:चौपाल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
विकिपीडिया चौपाल पर स्वागत है !

विकिपीडिया एक ऑनलाइन, मुक्त, ज्ञानकोश है; साथ ही यह संपादकों का समुदाय भी है। यहाँ विविध उल्लेखनीय विषयों पर प्रमाण सहित जानकारी उपलब्ध कराने के कार्य में आप भी सहभागी बन सकते हैं। ध्यान दें कि, विकिपीडिया कोई कंपनी नहीं है और विकिपीडियन स्वेच्छा से योगदान करते हैं; विकिपीडिया किसी को नौकरी पर नहीं रखती न ही पैसों की अपेक्षा करती है। हाँ, हम आपके दान का स्वागत करते हैं। नवागंतुक, विकिपीडिया की आधारभूत नीतियों की जानकारी हेतु विकिपीडिया:पंचशील अवश्य पढ़ें।
इस पृष्ठ का उपयोग कैसे करें ?
  • यहाँ विकिपीडिया से संबंधित उन विषयों पर लिखा जा सकता है जिन्हें सभी विकिपीडियन सदस्यों के ध्यान में लाने की आवश्यकता है: जैसे, आम सूचनायें और सुझाव; चर्चायें एवं प्रस्ताव जिनके लिए अन्यत्र कोई पृष्ठ निर्धारित नहीं; तथा अन्य चर्चाओं की सूचनायें जिनमें सभी इच्छुक सदस्यों की भागीदारी अपेक्षित हो।
  • किसी एक पृष्ठ विशेष (लेख, साँचा, श्रेणी इत्यादि) में सुधार/बदलाव हेतु उसके वार्ता पन्ने पर और किसी सदस्य विशेष से उसके संपादनों अथवा व्यवहार के बारे में चर्चा करने के लिए उसके सदस्यवार्ता पन्ने पर चर्चा करें। सकारात्मक दृष्टिकोण रखते हुए सामान्य वार्ता दिशानिर्देशों का अनुपालन करें।
  • ऊपर बताये पन्नों पर किसीसहमति तक न पहुँचने की दशा में यहाँ सूचना देकर अन्य सदस्यों को चर्चा में भाग लेने हेतु आमंत्रित करें; यदि यह भी विफल रहता है तब यहाँ लिखें या प्रबंधकों को सूचित करें। प्रबंधकीय कार्यों हेतु विकिपीडिया के प्रबंधकों को सूचित करने केलिए प्रबंधक सूचनापट का प्रयोग करें। अनुवाद, आयात और पृष्ठ सुरक्षा इत्यादि के लिए नियत अनुरोध पन्ने हैं।
  • अपनी निजता (प्राइवेसी) की सुरक्षा हेतु यहाँ अपना फोन नंबर, ईमेल इत्यादि न लिखें, हम ईमेल से उत्तर नहीं देते। इसके अतिरिक्त किसी उत्पाद, व्यक्ति, वस्तु अथवा विचारधारा के प्रचार हेतु इस पृष्ठ का उपयोग न करें

आपत्तियाँ दर्ज कराने अथवा प्रश्न पूछने हेतु कड़ियाँ नीचे हैं, पहले इनके उपयोग के बारे में विचार करें।
विकिपीडिया पर क्या चल रहा है


इस परियोजना पृष्ठ का अंतिम संपादन Capankajsmilyo (योगदानलॉग) द्वारा किया गया था।
    पिछला                     लेख संख्या:1,31,030                     नया जोड़ें    

अनुक्रम

अफ्रीकी संघ नामक पृष्ठ में अंग्रेजी का प्रयोग किया गया है[संपादित करें]

कृपया ध्यान दे, इस लेख में बहुत ज्यादा अंग्रेजी का प्रयोग किया गया हैं। इस लेख को पुन:निर्माण करे। धन्यवाद।

☆★(।जय महलवाल।) (✉✉)12:43, 4 जनवरी 2019 (UTC)

Call for bids to host Train-the-Trainer 2019[संपादित करें]

Apologies for writing in English, please consider translating the message

Hello everyone,

This year CIS-A2K is seeking expressions of interest from interested communities in India for hosting the Train-the-Trainer 2019.

Train-the-Trainer or TTT is a residential training program which attempts to groom leadership skills among the Indian Wikimedia community (including English) members. Earlier TTT has been conducted in 2013, 2015, 2016, 2017 and 2018.

If you're interested in hosting the program, Following are the per-requests to propose a bid:

  • Active local community which is willing to support conducting the event
    • At least 4 Community members should come together and propose the city. Women Wikimedians in organizing team is highly recommended.
  • The city should have at least an International airport.
  • Venue and accommodations should be available for the event dates.
    • Participants size of TTT is generally between 20-25.
    • Venue should have good Internet connectivity and conference space for the above-mentioned size of participants.
  • Discussion in the local community.

Please learn more about the Train-the-Trainer program and to submit your proposal please visit this page. Feel free to reach to me for more information or email tito@cis-india.org

Best!

Pavan Santhosh ( MediaWiki message delivery (वार्ता) 05:52, 6 जनवरी 2019 (UTC) )


आन्ध्र प्रदेश उच्च न्यायालय[संपादित करें]

- सायबॉर्ग (वार्ता) 09:38, 6 जनवरी 2019 (UTC)

विकिपीडिया एशियाई माह २०१८ प्रतियोगिता परिणाम[संपादित करें]

विकिपीडिया एशियाई माह २०१८
बधाई हो

पहले तो देरी से परिणाम घोषित करने हेतु क्षमा चहता हूँ किउंकि प्रतियोगिता और अन्य कार्यो में व्यस्त होने के कारण समय पर परिणाम घोषित नहीं कर पाया। मुझे प्रतियोगिता विकिपीडिया एशियाई माह २०१८ प्रतियोगिता का परिणाम सूचित करते हुए अत्यंत हर्ष हो रहा है, @Mr.Mani Raj Paul: जी विकिपीडिया एशियाई माह २०१८ में हिन्दी भाषा से २१५ लेख बना कर प्रथम स्थान पाने तथा राजदूत बनने पर हार्दिक बधाई तथा @Ahmed Nisar: जी विकिपीडिया एशियाई माह २०१८ में हिन्दी भाषा से २६ लेख बना कर द्वितीय स्थान प्राप्त करने पर हार्दिक बधाई। तृतीय स्थान पर @Sreenandhini और Nilesh shukla: रहे। आप जैसे सदस्यों के सक्रिय योगदान से यह प्रतियोगिता अन्य विकी की तुलना में अत्यंत सफल हुई और पिछले वर्ष २०१७ की तुलना में हिन्दी से इस वर्ष ११ प्रतिभागी रहे और बड़ी संख्या में २९० लेख बने, अर्थात प्रतिभागियों की संख्या में कोई वृद्धि नहीं हुई लेकिन लेखों की संख्या में चार गुनी वृद्धि हुई। सभी प्रतिभागियों को पत्रव्यहवार पोस्टकार्ड अदि हेतु ई-मेल के माध्यम से आपके पते के लिए आपको गूगल फार्म भेज दिया गया है जिसे सावधानीपूर्वक भरे। एकबार पुनः विकिपीडिया एशियाई माह २०१८ का आयोजक होने के नाते तथा हिंदी समुदाय की और से आपको और सभी प्रतिभागियों को ढेरों बधाई आशा है अगले वर्ष हम इससे भी अधिक सफलता पाएंगे ऎसी आशा है , शुभकामनाओ सहित -- -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 14:43, 8 जनवरी 2019 (UTC)

आयोजक दल
Thank you 001.jpg

कोलकाता सम्मलेन हेतु नया विषय[संपादित करें]

Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  14:46, 12 जनवरी 2019 (UTC)

--Prongs31 12:23, 19 जनवरी 2019 (UTC)

सिकराय विधानसभा क्षेत्र (राजस्थान)[संपादित करें]

--मुज़म्मिल (वार्ता) 07:09, 13 जनवरी 2019 (UTC)

FileExporter beta feature[संपादित करें]

Johanna Strodt (WMDE) 09:41, 14 जनवरी 2019 (UTC)

No editing for 30 minutes on 17 January[संपादित करें]

You will not be able to edit the wikis for up to 30 minutes on 17 January 07:00 UTC. This is because of a database problem that has to be fixed immediately. You can still read the wikis. Some wikis are not affected. They don't get this message. You can see which wikis are not affected on this page. Most wikis are affected. The time you can not edit might be shorter than 30 minutes. /Johan (WMF)

18:40, 16 जनवरी 2019 (UTC)

चित्र कॉपीराइट सहायता[संपादित करें]

विकिपीडिया पे अपना खुद का फोटो कैसे अपलोड करें, और इसे न हटाया जाए।

कोलकाता विकिसम्मेलन के लिए प्रस्तुतियाँ हेतु आह्वाहन[संपादित करें]

नमस्कार,

एतद्वार कोलकाता में आयोजित हो रहे विकिसम्मेलन २०१९ के में प्रेजेंटेशन पेश करने के लिए आह्वाहन किया जाता है। जो भी सदस्य इस सम्मलेन में कोई प्रस्तुति पेश करने हेतु इच्छुक हैं, उनसे निवेदन है की इस लिंक पर जाकर अपनी प्रस्तुति का संक्षेप प्रस्तुत कर दें। प्रेजेंटेशन प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि २४ जनवरी तय की गयी है, अतः इच्छुक सदस्य जल्द ही इस अवसर का लाभ उठाएँ। तथा सभी प्रतिभागियों व अन्य विकिसदस्यगण से भी अनुरोध है की इस लिंक पर जा कर, पेश की गयी प्रस्तुतियों में से अपनी पसंद की सभी प्रस्तुतियों का समर्थन करें। जमा की गयी प्रस्तुतियों का पुनरीक्षण और चयन का पूरा अधिकार कार्यक्रम योजना समिति के अधीन है। बहरहाल, समिति, यह निर्णय सम्मलेन के उद्देश्य, आवश्यकता और प्रतिभागियों की प्राथमिकता के अनुसार लेगी, अतः अपनी पसंदीदा प्रस्तुति का समर्थन अवश्य करें।

धन्यवाद!

Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  23:38, 20 जनवरी 2019 (UTC)

कपिंग थेरेपी[संपादित करें]

--मुज़म्मिल (वार्ता) 18:21, 24 जनवरी 2019 (UTC)

केन्द्रीय क्षेत्र (हिन्दी) लेख[संपादित करें]

लेख हिंदी के ज्ञानसन्दूक में केन्द्रीय क्षेत्र (हिन्दी) (लाल लिंक) मौजूद है। अंग्रेज़ी विकी पर हिंदी लेख के ज्ञान सन्दूक में Central Zone (Hindi) मौजूद है। केन्द्रीय क्षेत्र (हिन्दी) लेख बनाने की शुरूआत की तो पता चला के यह लेख पहले शायद लिखा गया था और हटा दिया गया है। क्या यह लेख केन्द्रीय क्षेत्र (हिन्दी) नाम से फिर से लिखा जासकता है? अह्मद निसार (वार्ता) 15:50, 25 जनवरी 2019 (UTC)

@Ahmed Nisar: जी, जिस लेख का आप उल्लेख कर रहे हैं वह कभी हटाया ही नहीं गया है। खैर इस बात को छोड़िये, आप यह लेख बेझिझक बनाइये यह कभी हटाया नहीं जा सकता। धन्यवाद!--Prongs31 15:55, 25 जनवरी 2019 (UTC)
वैसे मेरा सुझाव यह है कि इस क्षेत्र का नाम मध्य क्षेत्र रखिये। दिशा और लोकेशन के संदर्भ में यही शब्द प्रयोग होता है।--Prongs31 15:58, 25 जनवरी 2019 (UTC)
@Prong$31: जी धन्यवाद। जी मेरा मतलब हिंदी लेख के ज्ञानसन्दूक में {|fam5 = [हिन्दी भाषाएँ|केन्द्रीय क्षेत्र (हिन्दी)]} यह था। अह्मद निसार (वार्ता) 16:01, 25 जनवरी 2019 (UTC) धन्यबाद फिर से। अह्मद निसार (वार्ता) 16:01, 25 जनवरी 2019 (UTC)
@Prong$31: जी, बिलकुल सही, आप ही अपने सुझाव के हिसाब से नाम देकर स्थानांतरित कर दीजिये। अह्मद निसार (वार्ता) 17:34, 25 जनवरी 2019 (UTC)

बंजारा, खानाबदोश, लंबाणी[संपादित करें]

अंग्रेज़ी विकी पर Banjara, Nomad, Lambadi तीन अलग अलग लेख हैं। लेकिन हिंदी में बंजारा अंग्रेज़ी Nomad से, लंबाणी Banjara से जुड़े हैं, लेकिन बंजारा जनजाति (भारतीय) के लिए कोई लेख नहीं हैं मेरा सुझाव है कि

  • बंजारा - Banjara
  • लंबाणी - Lambadi
  • खानाबदोश - Nomad ---- लेख हों तो बेहतर है। अन्य सदस्यों की क्या राय है। अह्मद निसार (वार्ता) 18:55, 25 जनवरी 2019 (UTC)

कोलकता हिंदी विकी सम्मलेन २०१९[संपादित करें]

ईथर पैड लिंक अह्मद निसार (वार्ता) 04:52, 2 फ़रवरी 2019 (UTC)

सभी सदस्य उपरोक्त कड़ी के माध्यम से कोलकात्ता हिन्दी विकिसम्मेलन का जीवंत अध्यतन पढ़ सकते हैं।--आर्यावर्त (वार्ता) 05:26, 2 फ़रवरी 2019 (UTC)

बार्नस्टार[संपादित करें]

Wikisammelan Kolkata 2019.jpeg
कोलकाता विकिसम्मेलन २०१९ बार्नस्टार
विकिपीडिया:सम्मेलन/विकिसम्मेलन कोलकाता २०१९ के उत्कृष्ट आयोजन हेतु अथक परिश्रम एवं प्रतिभा के परिचय देने हेतु श्री अनिरुद्ध! जी, श्री अजीत कुमार तिवारी जी एवं मृदुरोमक विरेश राज शाह जी को मेरी ओर से सप्रेम, सोत्साह तथा सहर्ष एवं साभार समर्पित!: --आशीष भटनागरवार्ता 17:32, 9 फ़रवरी 2019 (UTC)

इसे चौपाल पर सार्वजनिक उद्देश्य से रखा है।आशीष भटनागरवार्ता 17:34, 9 फ़रवरी 2019 (UTC)

अन्नापुर्णा पर्वत समुह[संपादित करें]

--मुज़म्मिल (वार्ता) 19:42, 9 फ़रवरी 2019 (UTC)

विकी लव वुमन हेतु आमंत्रण[संपादित करें]

Wiki Loves Women Logo (hi).png
अन्य भारतीय विकिपीडिया परियोजनाओं की तरह हिंदी विकी पर भी विकी लव वुमन लेख प्रतियोगिता-२०१९ 10 फरवरी, 2019 से 31 मार्च, 2019 तक आयोजित की जा रही है। जिसमें महिलाओं, नारीवाद और लिंग समारोहों पर आधरित लेख शामिल होंगे। प्रतियोगिता नियमानुसार लेख 3000 बाइट और 300 शब्दों का होने चाहिए। कृपया नियम पढ़े प्रतिभागिता पृष्ठ पर जाकर अभी साइन अप करें। धन्यवाद -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 05:12, 10 फ़रवरी 2019 (UTC)

Question about changing the title of a Hindi page.[संपादित करें]

A page's URL is प्रभा साक्षी (https://hi.wikipedia.org/wiki/प्रभा_साक्षी) - However, it should be प्रभासाक्षी (There shouldn't be a space between words) - How can I change it?— इस अहस्ताक्षरित संदेश के लेखक हैं -Mayur aries (वार्तायोगदान) 10:14, 14 फ़रवरी 2019 (UTC)

YesY पूर्ण हुआ--Prongs31 04:05, 21 फ़रवरी 2019 (UTC)

Talk to us about talking[संपादित करें]

Trizek (WMF) 15:01, 21 फ़रवरी 2019 (UTC)

हमसे संचार के बारे में बात करें[संपादित करें]

Trizek (WMF) 15:01, 21 फ़रवरी 2019 (UTC)

वार्ता Wikilover90 (वार्ता) 19:43, 1 मार्च 2019 (UTC)  

चर्चा[संपादित करें]

कृपया यहाँ चर्चा बढ़ाएं।

  • कई बार मोबाईल ब्राउज़र से लिखने बाद अंत में उसे प्रकाशित करते हुए कई बार वह सही से सहेजे गए परिवर्तन नहीं दिखाता। मुझे लगता है कि कभी-कभी कुछ ख़ास वार्ता पृष्ठों पर बर्बरता की जाती है, जैसे कि, आईपी एड्रेस से तथ्यों और जानकारी को बदलना। इसे रोकने के लिए, ख़ास वार्ता पृष्ठों पर केवल ऑटोकॉनफ़र्ड उपयोगकर्ताओं को ही संपादन करने की अनुमति हो, तो इसे काफ़ी हद तक सुलझाया जा सकता है। इसके अतिरिक्त, कभी-कभी, वार्ता पृष्ठों का उपयोग अनंत चर्चाओं को करने के लिए किया जाता है और चर्चा के बीच में ही गैर-विकी संबंधित बातचीत पहुँच जाती है। इस तरह की चर्चाएं उपयोगकर्ता को असीम रूप से स्क्रॉल करने पर मजबूर कर देती जाती हैं। विषय को बंद करने की कुछ विशेषताएं इस समस्या को हल करने में मदद कर सकती हैं। और अगर बातचीत में गलत शब्दों का प्रयोग जाये तो ऐसे शब्दों पर ओवरसाईट का अनुरोध किया जाना चाहिए। Wikilover90 (वार्ता) 20:32, 1 मार्च 2019 (UTC)
जहां तक खास पृष्ठों और वार्ता पृष्ठों को सुरक्षित करने की बात है। इसके लिए प्रबंधकीय आधिकार के के अंतर्गत वरर्वता होने वाले पृष्ठों को सुरक्षित किया जाता है। और आप वरर्वता होने वाले पृष्ठ को सुरक्षित करने हेतु भी अनुरोध कर सकतें हैं। और जहां तक ख़ास वार्ता पृष्ठों पर केवल ऑटोकॉनफ़र्ड सदस्यों को ही संपादन करने की अनुमति का सवाल है तो विकी पर उल्लेखनीय होने के साथ सभी पृष्ठ खास है यदि सभी खास वार्ता पृष्ठ और पृष्ठ को केवल ऑटोकॉनफ़र्ड उपयोगकर्ताओं सम्पादन अनुमति देना एक कठीन कार्य होगा। -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 00:11, 3 मार्च 2019 (UTC)
  • मैं गूगल क्रोम का इस्तेमाल करती हूँ और वार्ता पृष्ठ की समस्या यही है कि नए सदस्यों को इसके बारे में ज़ादा जानकारी नहीं है और उन्हें इसे इस्तेमाल करके विकी पर चर्चा करना नहीं आता।
  1. आम तौर पर चर्चा वॉट्सऐप या मेसेंजर पर हो जाती है पर अगर विकी पर किसे से बातचीत करनी हो, तो वार्ता पृष्ठ से बेहतर प्रत्यक्ष संदेश की टेकनालॉजी का होना बेहतर रहेगा, क्यूँकि वार्ता पृष्ठ पर आए ज़रूरी बातों का पता तब तक नहीं चलता जब तक हम विकी को नहीं खोलते। इंस्टैंट मैसेज की शुरुवात अगर हो जाए, तो काफी हद तक, चर्चाओं का आसान हों सम्भव हो जाएगा।।
  2. हम ईमेल के माध्यम से एक उपयोगकर्ता को संदेश अवश्य भेज सकते हैं लेकिन कभी-कभी इसका जवाब नहीं दिया जाता है और कई उपयोगकर्ताओं को अपने ईमेल को सार्वजनिक रूप से दिखाई देने में अवरोध होता है।Sultanadeswal (वार्ता) 14:54, 4 मार्च 2019 (UTC)

1- क्रोम और मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स सबसे अच्छे है पर कई बार सदस्य को पिंग न किया जाये तो उन्हें इसके बारे में पता नहीं चलता।

2- नए सदस्य को शामिल कर सकते हैं और उन को समस्या तब आती है जब उनके सवालों को परवान नहीं किया जाता जा उन पर विशेष ध्यान नहीं दिया जाता।

4 - फिलहाल सही है । आने वाले समाए में जेकर कोई समस्या आती है तो ज़रूर बताइएगा जाएगा।

5- विचार चर्चा में नए लोगो की संख्या अगर बढ़ेगी तो नए विचार और सुझाव सामने आएगे। ਲਵਪ੍ਰੀਤ ਸਿੰਘ ਸਿੱਧੂ (वार्ता) 15:33, 4 मार्च 2019 (UTC)

1- सदस्य वार्ता पृष्ठ पर सबसे बड़ी समस्या वरर्वता है। जैसा कि मैंने देखा है हिन्दी विकी पर प्रबंधक, रोलवैकर और रिव्यूवर विशेष अधिकार वाले सदस्यों के वार्ता प्रष्ट पर आईपी एड्रेस द्वारा वरर्वता के रूप में अश्लील और अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया जाता है। जब भी किसी आईपी एड्रेस द्वारा विशेष अधिकार वाले सदस्यों के वार्ता पेज इस तरह की वरर्वता होती है तो उस सम्पादन के अवतरण को डीलीट किया जाता है या छिपाया जाता है। इसके लिए भी कोई उपाय होना चाहिए की विशेष अधिकार वाले सदस्यों के वार्ता प्रष्ट पर ऐसी वरर्वता ना हो।

2- विकिपीडिया सोशल संचार समूह जैसे व्हाट्सऐप, हैंगआउट आदि सोशल संचार समूहों में स्वतः परीक्षित सदस्य अधिकार (Autopatrolled) को सोशल समूह में जोड़ना उचित होगा। किउंकि स्वतः परीक्षित सदस्य को विकिपीडिया पर विश्वसनीय सदस्य माना जाता है। -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 16:22, 4 मार्च 2019 (UTC)

  • १)जिन विषयों पर हम चौपाल का उपयोग करते हैं और चर्चा को हर कोई देख सकता है और चर्चा का हिस्सा बन सकता है। मुख्य रूप से इंटरनेट की मुश्किल आती है जिसके कारण कुछ सदस्य हिस्सा नहीं ले पाते।

२) ज्यादातर नए सदस्यों को न तो वार्ता पृष्ठ के बारे में पता होता है और न ही उपयोग करना आता है लेकिन फिर भी यह मदद करता है

३) वार्ता पृष्ठ को उपयोगकर्ता और साथ ही लेख पृष्ठों का उपयोग करने के लिए उचित दिशानिर्देश देना ज़रूरी है

४) विकी चर्चा इस कारण महत्वपूर्ण है क्यूँकि इससे पता चलता है की विकिपीडिया पर क्या चल रहा है और यदि किसी को समस्या कोई आ रही है तो वह वार्ता पन्ने से जुड़ सकता है। ---- Sushma Sharma (वार्ता) 16:28, 4 मार्च 2019 (UTC)

  • (1) मैं समुदाय से बात करने के लिए ज्यादातर व्हाट्सएप जा मैसेंजर का प्रयोग करता हूं पर मुझे लगता है कि हिंदी के चौपाल पर भी बातें हो सकती है हिंदी विकी चौपाल पर बात करने से सभी को पता चल जाता है और सभी लोग अपनी राय भी दे सकते हैं। चौपाल पर हमें किस से बात करनी हो या वार्ता पृष्ठ पेज पर किसी से बात करनी हो तो हमें उसको टैग करना पड़ता है फिर जाकर उसको पता लगता है। मुझे लगता है कि मैसेंजर ज्यादा लाभदायक है समुदाय से बात करने के लिए और अपने प्रॉब्लम्स को ठीक करने के लिए।

(2) जो नए लोग होते हैं उनको वार्ता पृष्ठ के बारे में इतना पता नहीं होता। हम उनको बता सकते हैं कि यह आपका वार्ता पृष्ठ पेज है इसके माध्यम से आप हमसे बात कर सकते हैं। और उन्हें यह पहले से ही बता दे कि आप कुछ भी इसमें गलत बात नहीं कर सकते।

(4) अभी सही काम कर रहा है।

(5) विकी चर्चा का महत्वपूर्ण पहलू यह है कि सभी लोग अपनी अपनी राय दे सकते हैं। सभी लोग आपस में बातचीत के दौरान अपनी प्रॉब्लम्स को सुलझा सकते हैं।(Mr.Mani Raj Paul (वार्ता) 03:06, 5 मार्च 2019 (UTC))

  1. मेरे खयाल से वार्ता पन्ने पर आईपी पत्ते से जो यूजर होते है उन्हें अनुमति नहीं होनी चाहिए क्योंकि कई बार हमने देखा है कि लोग गालियां लिखकर चले जाते है और अगर कोई समय पर उन्हें नहीं देखता है तो यह बहुत खराब लगता है समुदाय के लिए।
  1. मैंने कई बार देखा है कि नए सदस्य संदेश को देखते ही नहीं। बीच एक सदस्य लगातार गूगल अनुवादित लेख बना रहा था और मैंने उन्हें संदेश भेजा लेकिन उन्होंने देखा ही नहीं। इसका मतलब यह भी हो सकता है कि नए सदस्यों को पता नहीं है वार्ता पन्ने के बारे में।
  2. नहीं पता।
  3. मेरे अनुसार तो इसमें अभी कोई समस्या नहीं है। हाँ, जब कोई वार्ता करे तो ऊपर कुछ दिशा निर्देश जरूर लिख सकते है।
  4. मेरी राय में विकि चर्चा का महत्वपूर्ण पहलू यही है कि यहाँ सब लोग विकिपीडिया से संबन्धित बातचीत कर सकते है और कोई समस्या है तो उसके बारे में एक-दूसरे से पूछ सकते है।--Raju Jangid (वार्ता) 04:28, 5 मार्च 2019 (UTC)
  1. विकिपीडिया सम्बंधित किसी भी विषय पर चर्चा करने के लिए सबसे जयादा मैं व्हाट्सप्प और फेसबुक मैसेंजर का प्रयोग करती हैं और मुझे लगता हैं यह काफी हद तक इसमें सहायक हैं।
  2. वार्ता पृष्ठ के माध्यम से हम किसी के लिए उनके वार्ता पृष्ठ पर सन्देश छोड़ सकते हैं व किसी भी प्रकार की समस्या के दौरान अन्य सदस्यों से मदद ले सकते हैं। मुझे लगता हैं सभी नए सदस्यों को वार्ता पृष्ठ के बारे में ज्यादा ज्ञात नहीं होता और इसी कारण वह उसे प्रयोग में नहीं ला पाते।
  3. अभी वर्तमान में किसी ऐसे संघर्ष के बारे में चर्चा नहीं की गयी हैं।
  4. वार्ता पृष्ठ पर हम किसी के लिए सन्देश तो छोड़ सकते हैं परन्तु हमे अच्छे से यह नहीं पता होता कि उस बात का उत्तर कब तक मिलेगा क्युकी मोबाइल फ़ोन पर तुरंत कोई भी भेजे गए मैसेज चेक कर सकता हैं पर हम हमेशा वार्ता पृष्ठ को तभी समय पर देख ले वो जरूरी नहीं। वह तभी संभव हैं जब हम विकिपीडिया खाते पर लॉग इन करे।
  5. विकी चर्चा अपने आप में महत्वपूर्ण हैं हुमुस्के माध्यम से हम्म किसी विषय पर चर्चा कर सकते हैं सबके साथ और अपने भाव प्रकट कर सकते हैं।

Aditi1601 (वार्ता) 03:36, 5 मार्च 2019 (UTC)

मैं इस विषय को जहाँ तक समझा उसके हिसाब से यह वार्ता पृष्ठ को सभी सदस्यों तक सुगम्य बनाने के लिये है। तो मेरे कुछ बिंदु निम्न हैं

1.मैं लगभग साढ़े 5 साल से विकि पर सम्पादन कर रहा हूँ और अब प्रबंधक भी हूँ। मुझे वार्ता पृष्ठ पर बातचीत में कोई समस्या नज़र नहीं आयी।

2.नए सदस्य जो वास्तव में योगदान देने और ज्ञानकोष को समृद्ध करने आते हैं वे पहले पृष्ठ बनाते हैं और अगर वहाँ कई समस्या हुई तभी वार्तापृष्ठ का उपयोग करते हैं। अतः मुझे नहीं लगता कि ऐसे सदस्यों को कोई वार्तापृष्ठ पर सन्देश छोड़ने में समस्या आती होगी। इसके अतिरिक्त मैं राजू जी के सुझाव से सहमत हूँ कि आईपी एड्रेस से किसी अनाम सदस्य को वार्तापृष्ठ पर संदेश भेजने से प्रतिबंधित किया जाना चाहिये क्योंकि कम से कम हिन्दी विकि पर अक्सर आईपी एड्रेस से प्रचार या अपशब्द ही कहे जाते हैं।

3.मै कुछ सदस्यों से इस बारे में बात करता हूँ तो सभी लगभग यही कहते हैं कि वार्तापृष्ठ का वर्तमान इण्टरफेस काफी जटिल है उसे आसान बनाया जा सकता है।

4.मेरे अनुसार वार्तापृष्ठ केवल बातचीत के लिये है और उसमे कोई तकनीकी बाधा नहीं आती। हाँ इंटरफेस जरूर आसान बना सकते हैं।

5.सबसे महत्वपूर्ण पहलू यही है कि सभी सदस्य आपस मे शिष्टाचार का पालन करते हुए बातचीत करें। इसके लिये हिन्दी विकि पर विकिपीडिया:शिष्टाचार की नीति भी मौजूद है और यह कड़ी वार्तापृष्ठ के लिये बनाये गए साँचे साँचा:वार्ता शीर्ष में भी मौजूद है। धन्यवाद!--Prongs31 11:24, 6 मार्च 2019 (UTC)

Talk pages consultation - it is time to close the Phase 1![संपादित करें]

!Hola!

Sorry to use English. Please help translate to your language. Thank you.

Community summaries are due by Saturday, April 6, 2019. It is now really time to close the conversations. We really thank everyone who has participated. Every opinion matters.

What is a community summary?

The goal of a community summary is to wrap up the discussions and provide a summary of what your participants said. That way, other communities can learn about your community's needs, concerns, and ideas. We have seen very different feedback on different wikis, and it is time to discover what everyone thinks!

Please include in that summary:

  • every perspective or idea your community had, and
  • how frequent each idea was; for example,
    • how many users shared a given opinion
    • whether an idea was more common among different types of contributors (newcomers, beginners, experienced editors...)

You can add as much detail as you want in that summary.

Please post it on the page for community summaries, using the most international English you have.

Can't the Wikimedia Foundation read all the feedback?

We are trying, but we really need your help. For most conversations, we have to use machine translation, which has limitations. This can help us find the most common needs or global ideas. Machine translation is useful, but it does not tell us how people are feeling or what makes your community unique.

Your community summary should be built from your community's perspective, experience and culture. You might also know of relevant discussions in other places, which we did not find (for example, perhaps someone left a note on your user talk page – it is okay to include that!). Your summary is extremely important to us.

What are the next steps?

Phase 2 will happen in April. We will analyze the individual feedback, your community summary, and some user testing. We hope to have a clear view of everyone's ideas and needs at the end of April.

Some ideas generated during phase 1 may be mutually exclusive. Some ideas might work better for some purposes or some kinds of users. During Phase 2, we'll all talk about which problems are more urgent, which projects are most closely aligned with the overall needs and goals of the movement, and which ideas we should focus on first.

Discussions about these ideas may be shaped and be moderated by the Wikimedia Foundation, guided by our decision criteria, listed on the project page.

How can I help now?

  • Please provide the summary. :)
  • While we study the feedback, we may ask you for more information.
  • We will need your help for Phase 2 as well, probably to translate or publicize some future materials we may have.

If you have any questions, please ask.

Thank you again for your help, Trizek (WMF) (वार्ता) 15:23, 5 अप्रैल 2019 (UTC)

Hello Wikilover90, J ansari, ਲਵਪ੍ਰੀਤ ਸਿੰਘ ਸਿੱਧੂ, Mr.Mani Raj Paul and Prong$31
Thank you for participating to the talk pages consultation!
Can you provide the summary of your discussions? It would help the team in charge of designing the next steps to move forward। Thank you!
Trizek (WMF) (वार्ता) 13:40, 16 अप्रैल 2019 (UTC)

विलय[संपादित करें]

आशिमा चटर्जी एवं असीमा चटर्जी के विलय पर वार्ता:आशिमा चटर्जी पर विचार रखें।आशीष भटनागरवार्ता 05:12, 24 फ़रवरी 2019 (UTC)

विकी लव्स वुमन एडीट ए थान हेतु आमंत्रण[संपादित करें]

जैसा कि सभी सदस्यों को मालूम है कि वर्तमान में हिन्दी विकी पर विकि लव्स वुमन प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है जो कि 30 मार्च तक जारी रहेगी। इसी बीच हिन्दी विकी पर विकी लव्स वुमन एडिट-ए-थॉन (edit-a-thon) सप्ताह प्रारंभ होगा जो 1 मार्च से 8 मार्च तक आयोजित किया जाएगा। इसका उद्देश्य भारतीय महिलाओं की आत्मकथाएँ और नारीवाद सम्बन्धी लेखों का निर्माण तथा विस्तार होगा। जो लेख वर्तमान में हिन्दी विकी पर उपलब्ध नहीं हैं उनका निर्माण इसकी प्राथमिकता रहेगी। सभी सक्रिय सदस्यों से अनुरोध है एडिट-ए-थॉन में हिस्सा ले और लेख बनाए। आप सबका योगदान महत्वपूर्ण है।

नमस्ते Sushma Sharma जी! इस अवसर पर ऑफ़लाइन एडीट ए थान कहाँ कहाँ होंगे। मैंने Aditi1601 जी से सुना कि कुरुक्षेत्र और दिल्ली में ये आयोजित किए जा रहे हैं। कृपया तारीक और स्थान बता दीजिए! आपका बहुत बहुत धन्यवाद। Wikilover90 (वार्ता) 13:55, 1 मार्च 2019 (UTC)

कोलकात्ता विकिसम्मेलन आयोजक समूह का अभिवादन प्रस्ताव[संपादित करें]

कोलकात्ता में विकिसम्मेलन २०१९ का आयोजन हुआ था। जिसमें आयोजक समूह के द्वारा जो प्रशंसनीय एवं एतिहासिक कार्य किया गया उसके लिए मैं अभिनंदन प्रस्ताव रखता हूँ।

  • पिछली बार सम्मेलनों में ग्रांट की धनराशि प्राप्त करने हेतु मध्यस्थि संस्था को ₹१ लाख तक कमिशन दिया गया था। जबकि इसबार एक भी रुपये का खर्च किये बिना ये कार्य हुआ है।
  • इस सम्मेलन की विशेषता ये थी कि पूरे खर्च की पूरी जानकारी समुदाय के समक्ष रखी जाएगी। ऐसा इससे पहले कभी भी नहीं हुआ।
  • आयोजको के द्वारा निर्णय लिया गया था कि एक भी वाउचर नहीं बनाया जाएगा और जो भी खर्च किया गया है उनके पक्के बिल प्रस्तुत करेंगे।
  • कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु आयोजकों, हिंदी विकिमेडियन सदस्यदल के ध्वजवाहक एवं अनुदान समिति के सदस्यों ने तन, मन, धन से परिश्रम किया है।

हालाँकि कुछ कड़क नियमो का पालन करते हुए सदस्यों को कुछ समस्याएँ भी हुई थी और उनके यातायात की पूरी रकम भी वापिस नहीं मिल पाई है। जब मैंने हंमेशा के लिए विकिपीडिया छोड़ने का ही निर्णय लिया है तब मैं आयोजन समिति और अनुदान समिति का अभिवादन करना चाहूंगा। जिससे ऐसा कार्य करने वालें सदस्यों का हौंसला बढ़े। साथ ही साथ आगे के सभी सम्मेलनों के आयोजन में हम इसे आदर्श मानकर अनुसरण करें एवं ये भी सुनिश्वित करें कि सम्मेलन में आने वाले किसी भी प्रतिभागी को अपनी जेब से यातायात खर्च की रकम भुगतनी न पड़े।--आर्यावर्त (वार्ता) 11:19, 2 मार्च 2019 (UTC)

समर्थन[संपादित करें]

  1. Symbol support vote.svg समर्थन प्रस्तावक के नाते।--आर्यावर्त (वार्ता) 11:19, 2 मार्च 2019 (UTC)

सम्मेलन, प्रतिभागी, ग्रांट और प्रतिपूर्ति संबंधी एक टिप्पणी[संपादित करें]

श्री @आर्यावर्त: जी, यूजरग्रुप पुनर्गठन के प्रस्ताव वाले अनुभाग में आपने 'सम्मेलन और ग्रांट' संबंधी कुछ आपत्तियाँ जतायी हैं। अभी तक इसका उत्तर मैंने देना उचित इसलिए नहीं समझा क्योंकि आपने सम्मेलन का फीडबैक फॉर्म नहीं भरा था। अब कुछ बातें बिंदुवार स्पष्ट करूंगा। चूंकि इस प्रक्रिया में तीनों ध्वजवाहक (@आशीष भटनागर:, @Suyash.dwivedi:, @Anamdas:)किसी न किसी रूप में शामिल रहे तो उन्हें भी यहाँ पिंग कर रहा हूँं।

  1. आपने प्रतिपूर्ति को लेकर बहुत हंगामा किया। सभी ध्वजवाहकों ने एकाधिक बार मुझसे निजी तौर पर संपर्क किया। स्पष्ट कर दूँ कि फाउंडेशन के किसी भी आधिकारिक कार्यक्रम में सार्वजनिक यातायात की ही प्रतिपूर्ति की जाती है। पक्की रसीद ही मान्य होती है, वाउचर वगैरह नहीं। खाने पीने का व्यय भी प्रतिपूर्ति में शामिल नहीं होता। भारत में सार्वजनिक यातायात की स्थिति को देखते हुए अनुदान समिति द्वारा इसे अनिवार्य नहीं बनाया गया। यदि यह आपकी निर्धारित व्यय सीमा में है तो कोई समस्या नहीं। आपकी व्ययसीमा पहले से सूचित की गई थी। वह व्ययसीमा अधिकतम थी। अलग-अलग व्यक्तियों के लिए मानदंड अलग-अलग नहीं हो सकते। हम अधिकतम या न्यूनतम का मानदंड ही रख सकते हैंं।
  2. आपने अनुदान समिति के सदस्यों पर मेल द्वारा आपत्तिजनक टिप्पणियाँ की हैं। ये टिप्पणियाँ स्पष्ट तौर पर हैरेसमेंट के दायरे में आती हैं। हम चाहें तो आपके ऊपर आधिकारिक तौर पर कार्यवाई भी कर सकते हैं। हालांकि मैं इसे अनावश्यक समझता हूँ। @अनिरुद्ध!: जी इस मामले में यथास्थान अपना पक्ष रखने को स्वतंत्र हैं।
  3. आपने नेपाल के विकिमीडिया साथियों पर भी मेल में आपत्तिजनक टिप्पणी की है। एक टिप्पणी लैंगिक विद्वेष को भी दर्शाती है। इसे भी यथास्थान प्रमाण के तौर पर प्रस्तुत किया जा सकता है। हालांकि उनके सभी व्यय (चार साथियों के ट्रेन थ्री टीयर से आने जाने मात्र)आपके प्रतिपूर्ति से भी कम है। चौथे साथी संजोग देव ने कार्यक्रम के फोटो-डॉक्यूमेंटेशन में जो सहयोग किया उसके लिए उनका यात्रा प्रतिपूर्ति बहुत कम है। ध्यातव्य है कि होटल और खाने का खर्च संजोग जी ने स्वयं उठाया था।
  4. ऋषि बंकिम चंद्र कॉलेज में हुए कार्यक्रम का कोई व्यय सम्मेलन के पैसे से नहीं हुआ। छात्रों और अध्यापक प्रतिनिधि, जो कि हिंदी विकिमीडियन हैं, के आने जाने का खर्च भी सम्मेलन के पैसे से नहीं दिया गया। उनके खाने का खर्च सम्मेलन के हॉल बुकिंग की पूर्वापेक्षाओं मेंं पहले से ही निहित थी। अर्थात 30-35 लोगों के भोजन की व्यवस्था के साथ हॉल निःशुल्क था। केवल उपकरणों का भुगतान किया गया। अगर इसमें भी आपत्ति है तो मैं सभी प्रतिभागियों के भोजन की राशि भी चुकाने को तैयार हूँ। इसका उल्लेख इसलिए किया गया क्योंकि आपके फीडबैक फॉर्म और मेल दोनों में इसकी उपयोगिता पर प्रश्नचिह्न उठाए गए हैं। अब समुदाय और ध्वजवाहक तय करेंं कि इस मामले में क्या निर्णय लिया जाय।
  5. सम्मेलन के आयोजन में जितनी पारदर्शिता संभव थी उतनी अपनाई गई। रिपोर्ट में उसका यथातथ्य उल्लेख किया जाएगा। शीघ्र ही सम्मेलन में लिए गए निर्णयों पर भी एक चर्चा प्रस्तावित की जाएगी।
    • श्री आर्यावर्त जी, सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि हम आरोप-प्रत्यारोप के स्थान पर काम करके उदाहरण प्रस्तुत करने के पक्षधर रहे हैं। लकीर हमेशा बड़ी करने की कोशिश करते रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे। हमें मतभेद रखते हुए भी किसी से असहमत होने के लिए जहर उगलने की जरूरत नहीं पड़ती। निजी तौर पर हम संबंध कभी इन बातों को लेकर खराब नहीं किया करते। जो करते हैं उनकी आज तक कभी परवाह भी नहीं की। आपने मेरे छात्रों को सम्मेलन में लाए जाने पर प्रश्नचिह्न लगाया है। अब आपको उत्तर देने की जिम्मेदारी मैं अपने छात्रों पर ही छोड़ता हूँ। वो अपने कार्य से ही आपको उत्तर देंगे। उन्हेंं सक्षम बनाने की जिम्मेदारी अब और भी शिद्दत से पूरी करूँगा। अपनी लकीर को और भी बड़ी करता रहूँगा। इसके लिए हमें किसी 'ग्रांट' की जरूरत नहीं है। सादर। सप्रेम। सधन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 07:05, 21 अप्रैल 2019 (UTC)

निर्वाचित प्रवेशद्वार[संपादित करें]

@आशीष जी, संजीव जी, अनिरुद्ध जी, माला जी, सिद्धार्थ जी, हिंदुस्तानवासी जी, आर्यावर्त जी, अजीत जी, और गॉड्रिक की कोठरी जी: सभी प्रबन्धकगण ध्यान दें। विकिपीडिया:निर्वाचित लेख पृष्ठ पर दायीं दी गईं कड़ियों में दो कड़ियाँ लाल थीं: निर्वाचित सूची और निर्वाचित प्रवेशद्वार। इनमें से निर्वाचित सूची को तो मैंने अदृश्य कर दिया है। पर निर्वाचित प्रवेशद्वार को भी अदृश्य न करके यदि प्रयास करें तो बहुत से प्रवेशद्वारों में से किसी एक को सुधार कर निर्वाचित किया जा सकता है। इस तरह एक नया आयाम भी जुड़ेगा।आशीष भटनागरवार्ता 04:40, 3 मार्च 2019 (UTC)

@आशीष जी: आपने निर्वाचित ध्वनि को अदृश्य किया है। आपके द्वारा लिखा हुआ देखकर मुझे एकबार तो गुस्सा आ गया था कि आपने निर्वाचित सूची को क्यों अदृश्य कर दिया जबकि अपने पास 4 सूचियाँ निर्वाचित हैं। लेकिन बाद में देखने से ज्ञात हुआ कि निर्वाचित ध्वनि को अदृश्य किया है। निर्वाचित प्रवेशद्वार के लिए एक बहुत ही आवश्यक चीज अपने पास नहीं है। किसी एक प्रवेशद्वार को निर्वाचित करने कम से कम उस विषय से सम्बन्धित 10 क्या आप जानते हैं, मुखपृष्ठ पर आ चुके हों। कम से कम 2 निर्वाचित लेख हों, कम से कम 5 निर्वाचित चित्र हों। यदि आपके पास ऐसा कोई विषय है तो उसके प्रवेशद्वार को हम निर्वाचित कर देंगे। मैंने बहुत पहले भौतिकी प्रवेशद्वार को निर्वाचित करने का प्रयास किया था लेकिन बाद में हिम्मत हार गया।☆★संजीव कुमार (✉✉) 15:49, 3 मार्च 2019 (UTC)

विश्व हिन्दी सम्मेलन की रिपोर्ट[संपादित करें]

माननीय @Suyash.dwivedi: जी एवं @आशीष भटनागर: जी, चूँकि आप दोनों ध्वजवाहकों ने विश्व हिन्दी सम्मेलन में हिन्दी विकिपीडिया का प्रतिनिधित्व किया था मगर 6 महीने हो जाने के बाद भी रिपोर्ट अब तक प्रकाशित नहीं हो पा रही है, ड्राफ्ट में ही पड़ी है। २४ फ़रवरी २०१९ को मैंने सुयश जी के वार्ता पृष्ठ पर इस बाबत सवाल भी किया गया मगर वे किन्हीं कारणों (शायद जानबूझकर) से सवालों से बच रहे हैं। इसी कारण यह प्रश्न मैं चौपाल पर पूछ रहा हूँ। आखिर साढ़े 6 महीने बीत जाने के बाद भी रिपोर्ट क्यों नहीं आई है, इसके कारण बताये जाएँ। अगर ध्वजवाहक महोदय ही प्रश्नों से भागेंगे तो आम सदस्यों के लिये इससे क्या उदाहरण पेश होगा यह भी सोचनीय विषय है।--Prongs31 15:29, 4 मार्च 2019 (UTC)

  • इस सम्मेलन से संबंधित कई सवाल उठाये गये हैं जो कि यहाँ देखें जा सकते हैं। साथ ही मैं इस विषय पर @आर्यावर्त और NehalDaveND: की भी टिपण्णी चाहूँगा जिन्होंने दोनों सदस्यों को विश्व हिन्दी सम्मेलन में हिन्दी विकि का प्रतिनिधित्व करने को चुना था।--Prongs31 14:50, 14 मार्च 2019 (UTC)
Pictogram voting comment.svg टिप्पणी आशीष जी और सुयश जी आपके प्रश्नों के सटीक उत्तर दे सकते हैं। यदि आप सम्मेलन के बारे में कुछ अधिक जानकारी पाना चाहते हैं तो आपको इन कड़ियों से कुछ सहायता मिल सकती है।--मुज़म्मिल (वार्ता) 14:59, 16 मार्च 2019 (UTC)
  • सम्मेलन की रिपोर्ट हालांकि सुयश जी ने अपलोड की है, किन्तु अभी मैं इस रिपोर्ट पर उठाये गए प्रश्नों के संबंध में कुछ आरम्भिक लिख रहा हूं:
    • सर्वप्रथम तो रिपोर्ट पर अन्य सदस्यों की प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा है। इसके लिये २ सप्ताह का समय शायद सही रहेगा।
    • क्या रिपोर्ट पर प्रश्नों और चर्चा पहले चौपाल पर न करके मेटा पर सीधे करना उचित है? या पहले किसी से यहां चर्चा कर लेना उचित था।
    • क्या ये प्रश्न किसी रास्ते चलते Layman द्वारा किये जा रहे हैं, या हिन्दी विकिपीडिया के प्रबन्धक द्वारा किये गए हैं, जिसे उस सम्मेलन के उद्देश्यों, उसकी समय अवधि, उस अन्तराल और तब के घटनाक्रमों की सही सही जानकारी होगी - ये माना जाये और इतनी जानकारी के उपरान्त प्रश्न किये गए हैं। यह जानना इसलिये आवश्यक है क्योंकि उसी प्रकार के उत्तर दिये जायेंगे।
    • क्या इनमें से सभी प्रश्नों के अधिकारी, प्रश्नकर्त्ता महोदय हैं?
      • या इनमें से कुछ प्रश्न फ़ाउण्डेशन के अधिकारक्षेत्र में आते हैं।
      • दूसरे के अधिकारक्षेत्र में अनावश्यक उल्लंघन किसी प्रबन्धक के लिये श्रेयस्कर नहीं होगा।
    • क्या किसी प्रबन्धक के लिये किसी ली गई व अपलोड की गई फ़ोटो/चित्र पर You also uploaded the images of Hon'ble Anerood Jugnauth & Smt Sushma Swaraj ji visited your stall. But It's seems false claim. - ऐसे प्रश्न व टिप्पणी, मेटा पर करना उचित है व हिन्दी विकिपीडिया की छवि वहां धूमिल नहीं करता?
      • क्या ऐसे लोग प्रबन्धक बनाये जाने चाहिये, जिन्हें इतना भी ज्ञान नहीं है कि
      • देश के राष्ट्रपति का सीधा चित्र (प्रेस व व्यावसायिक आमन्त्रित फ़ोटोग्राफ़र के अलावा) लेना उचित व मान्य होता है कि नहीं।
      • इतने वरिष्ठ व्यक्ति स्टॉल पर आये हों तो उन्हें अटेण्ड किया जाए या उनकी फ़ोटोग्राफ़ी की जाये?
      • चित्र लिया हो तो भी विकिमीडिया पर सार्वजनिक उपलब्ध अपलोड किया जा सकता है कि नहीं?
      • चित्रों के साथ उनकी फ़ॉरेन्ज़िक जांच रिपोर्ट संलग्न की जाये, जिससे सिद्ध होता हो कि प्रश्नकर्त्ता के प्रश्न के उत्तर साक्ष्य सहित दिये जा सकें।
    • Why you mention 10 days accommodation since you demand in grant only 6? Are you really stay there 10 days in place of 6?: क्या ग्राण्ट में ६ दिन लिखे ही पढ़े, जाने वालों की संख्या नहीं पढ़ी? क्या उतने ही लोग गए थे?
    • You mention about the "Institutions/ Representatives Contacted". I saw that most of the organisations are India based. Then what is need to go Mauritius for this work?:
      • संगठन भारत स्थित थे तो क्या ये सभी लोग आपको एक स्थान पर यहां इकट्ठे मिल रहे हैं?
      • या सभी भारतीय लोगों के होने से सम्मेलन को भारत में ही करवाने का निवेदन करते? यह प्रश्न भारत सरकार से ही करें तो बेहतर नहीं होगा?
      • या वहां मिलने वालों से नागरिकता जांच कर, केवल गैर-भारतीयों से ही मिलते, भारतीय लोगों को बात करने से मना कर देते?
    • You also call me prior to this event and claimed that Indian govt gave us relaxation in travel and many other things (like Free food, Local travel support). You also mention these things in grant request. But I don't found anyone because you mention lot of budget in the event.
      • सम्मेलन मात्र ३ दिनों का था जिसमें दोपहर के भोजन का प्रावधान था। शेष समय के भोजन का प्रबन्ध कहां से होता? (आगे बहुत कुछ है लिखने को)
      • यही प्रश्न स्थानीय यात्रा के सम्बन्ध में भी हैं?
उपरोक्त बिन्दु प्रश्न मात्र हैं, पूछे गये प्रश्नों के उत्तर बाद में सुयश जी ही यथोचित देंगे। ये तो मैंने अपनी समीक्षा ही की है, जिसमें प्रश्नों के स्तर पर प्रश्न मात्र किये हैं।आशीष भटनागरवार्ता 17:46, 16 मार्च 2019 (UTC)
जवाब देने के लिये धन्यवाद! लगता है आपने इन प्रश्नों को निजी रूप में ले लिया है। वैसे इसका जवाब सुयश जी ही देते तो बेहतर होता। आपने इन प्रश्नों को इस कदर निजी बना लेंगे यह मुझे उम्मीद नहीं थी। मैं चाहूं तो यह भी लिख सकता हूँ कि सुयश जी ने इस कार्यक्रम में आपके खर्च कितने पैसे 6 महीनों तक वापस नहीं किये यह भी लिख सकता हूँ मगर जाहिर सी बात है यहाँ पर इसकी चर्चा नहीं हो रही। उत्तर बिंदुवार ही लिखता हूँ --
  • दिल्ली सम्मेलन 2018 की रिपोर्ट पर भी संजीव जी द्वारा सीधे मेटा पर प्रश्न पूछे गए थे अतः मैंने भी यही राह अपनायी। जवाब सुयश जी को नहीं ही देना है तो यह भी बता दें। केवल ग्रांट लेने भर का ही उनका कार्य है क्या?
  • राह चलता Layman उस समय नहीं समझ आया जब आपके निर्वाचन के लिये नामांकित लेखों को स्वयं का समय देकर सुधारा और निर्वाचित करवाने में मदद की? क्या सुयश जी भी मुझे राह चलता layman समझते हैं इसी कारण मेरे प्रश्नों का जवाब देना उचित नहीं समझते? वैसे भी चौपाल पर इस कार्यक्रम की चर्चा हुई ही कहाँ है? सब चर्चाएं एक व्हाट्सएप ग्रुप पर हुई हैं। वहाँ पर भी आर्यावर्त जी और नेहल जी ने महज प्रश्न पूछने इतना हंगामा किया जैसे लग रहा था कि सुयश जी बिन विकिपीडिया की प्रगति ही रुक जाएगी। इसके अतिरिक्त भोपाल से दिल्ली यात्रा पर न जाने कितनी बार CIS से चौपाल पर बिना सूचित किये अनुदान लिये गये इसका तो जवाब देना ही नहीं है क्योंकि सारे सवाल पूछने वाले राह चलते Layman हैं और सारे अनुदान लेने वाले ही असली हिन्दी हितैषी हैं।
  • बिल्कुल जितने प्रश्न किये गए हैं वह मेरे ही ऑब्जरवेशन हैं। लेकिन मैं तो "राह चलता layman" हूँ न इसलिये मेरे प्रश्नों का कोई मोल ही कहाँ है!
  • "क्या ऐसे लोग प्रबन्धक बनाये जाने चाहिये" जैसी टिप्पणियों की उम्मीद बिल्कुल नहीं थी। इस प्रश्न का स्पष्टीकरण आप बिना निजी टिप्पणियाँ किये ही कर सकते थे।
  • जब ग्रांट में 6 दिन का जिक्र है तो वहां 10 और 12 यूनिट लिखकर संशय क्यों पैदा किया गया है?
  • यह अच्छा है कि सारे संगठन एक जगह मिले। लेकिन उन संगठनों से सम्पर्क से हिन्दी विकी को क्या फायदा हुआ इसपर भी सवाल न पूछा जाए? इसपर अब तक आयोजकों की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है। पुनः आपने निजी टिप्पणी की जिसकी मुझे उम्मीद नहीं थी।
  • सम्मेलन 3 दिन का था लेकिन अब तक यह नहीं बताया गया कि वहां कितने दिनों तक (और किस तारीख से किस तारीख तक) रुका गया है।

अंत में यही कहना चाहूंगा कि ये सारे जवाब मेटा पर भी लिखें जाय! यहाँ पर निजी टिप्पणियाँ करके सवाल पूछने वाले को हतोत्साहित करने का प्रयास न किया जाय ताकि वहाँ सुयश जी जवाब भी दे दें और कोई चू तक न करे और पूरे भारत में वही हिंदी हितैषी घोषित भी हो जाय।--Prongs31 04:15, 17 मार्च 2019 (UTC)

मुझे लगता है कि आशीष जी को जितना पता था उतना उन्होंने यहाँ पर जवाब दे दिया है। अब मैं अगला जवाब सुयश जी से ही देने का अनुरोध करता हूँ। वे चाहे तो यहाँ भी जवाब दे सकते हैं अन्यथा मेटा पर ही जवाब दें।--Prongs31 05:49, 17 मार्च 2019 (UTC)
सवाल करना एक स्वस्थ परंपरा है। कहीं भी प्रश्न पूछने से किसी देश, समाज, या व्यक्ति की बदनामी नहीं हो सकती है। बदनामी की गुंजाइश बनती है अविचारित या कुविचारित कार्यों से। मुझे भी इधर तीन महीनों में सुयश जी से पूछने योग्य कई प्रश्न अनायास ही मिल गए हैं। मैं इसे इस रूप में देखता हूँ कि उचित के आगे नहीं बढ़ने की स्थिति में अनुचित को अवसर मिलेगा ही। इसलिए सवाल नहीं पूछ रहा हूँ बल्कि थोड़ा-बहुत मिलने वाले समय में कुछ योगदान करने की कोशिश करता हूँ। लेकिन इससे सवाल पूछने वाले लोगों का महत्व कम नहीं होता है बल्कि बढ़ता ही है। अन्यथा ग्रांट देने वाले यह समझते रहेंगें की क्राइस्ट विश्वविद्यालय के कूड़े अनमोल हीरे हैं। मॉरीशस से हिंदी विकि ने अभूतपूर्व गति पकड़ी है इसलिए इसके संयोजक की तमाम अनुचित लगने वाली गतिविधियाँ प्रस्नों के दायरे से बाहर हैं। मैं मानता हूँ कि विकि कार्यक्रमों के आयोजकों को अपने आयोजन से संबंधित प्रश्नों का सामना करने के लिए हमेशा प्रस्तुत रहना चाहिए। यह पारदर्शिता और उत्तरदायित्व सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है। अनिरुद्ध! (वार्ता) 18:57, 17 मार्च 2019 (UTC)
आदरणीय @आशीष भटनागर: जी, नमस्ते। Prong$31 जी और अनिरुद्ध! जी से सहमति रखते हुए कुछ बातें निवेदन करना चाहूँगा। आपने ऊपर लिखा है कि :
    • क्या इनमें से सभी प्रश्नों के अधिकारी, प्रश्नकर्त्ता महोदय हैं?
      • या इनमें से कुछ प्रश्न फ़ाउण्डेशन के अधिकारक्षेत्र में आते हैं।
      • दूसरे के अधिकारक्षेत्र में अनावश्यक उल्लंघन किसी प्रबन्धक के लिये श्रेयस्कर नहीं होगा।

पहली बात तो यह है कि सवाल पूछने का अधिकार किसी के पास होना ही चाहिए। दूसरी बात यह कि उस सवाल पर सवाल करने के बजाय यदि उचित उत्तर संबद्ध व्यक्ति द्वारा दे दिया जाता है तो अपने आप बात स्पष्ट हो जाती है। अधिकारक्षेत्र जैसे किसी भी विशेषण का प्रयोग सदस्यों के संबंध में होने ही नहीं चाहिए। हमें कुछ दायित्व मिलता है प्रतिनिधित्व के रूप में तो उसे अधिकारक्षेत्र में सीमित कर देना या चिह्नित कर देना उचित नहीं। प्रबंधक क्या कोई भी सदस्य किसी से भी सामुदायिक/विकि हित के मामलों में सवाल पूछ सकता है। हमें इसे प्रोत्साहित करना चाहिए। अब कुछ और सवालों पर आते हैं। आपने पूछा है -

    • क्या किसी प्रबन्धक के लिये किसी ली गई व अपलोड की गई फ़ोटो/चित्र पर You also uploaded the images of Hon'ble Anerood Jugnauth & Smt Sushma Swaraj ji visited your stall. But It's seems false claim. - ऐसे प्रश्न व टिप्पणी, मेटा पर करना उचित है व हिन्दी विकिपीडिया की छवि वहां धूमिल नहीं करता?
      • क्या ऐसे लोग प्रबन्धक बनाये जाने चाहिये, जिन्हें इतना भी ज्ञान नहीं है कि
      • देश के राष्ट्रपति का सीधा चित्र (प्रेस व व्यावसायिक आमन्त्रित फ़ोटोग्राफ़र के अलावा) लेना उचित व मान्य होता है कि नहीं।
      • इतने वरिष्ठ व्यक्ति स्टॉल पर आये हों तो उन्हें अटेण्ड किया जाए या उनकी फ़ोटोग्राफ़ी की जाये?
      • चित्र लिया हो तो भी विकिमीडिया पर सार्वजनिक उपलब्ध अपलोड किया जा सकता है कि नहीं?
      • चित्रों के साथ उनकी फ़ॉरेन्ज़िक जांच रिपोर्ट संलग्न की जाये, जिससे सिद्ध होता हो कि प्रश्नकर्त्ता के प्रश्न के उत्तर साक्ष्य सहित दिये जा सकें।

रिपोर्ट में कोई गलत दावा करना हिंदी विकिपीडिया की छवि धूमिल कर सकता है,मेटा पर या किसी भी मंच पर ऐसे सवाल नहीं। अगर हम किसी भी दावे को सत्यापित नहीं कर सकते तो उसे हमें उल्लिखित करने से बचना चाहिए। बाकी बातें, जैसा कि उपर्युक्त दोनों सदस्यों और आपने भी कहा है, सुयश जी के उत्तर मिलने के बाद ही बेहतर ढंग से हो पाएंगी। सबसे जरूरी बात यह कि हमें सवालों को व्यक्तिगत तौर पर नहीं लेना चाहिए। धन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 06:52, 18 मार्च 2019 (UTC)

नमस्कार @अजीत कुमार तिवारी: जी! रिपोर्ट में कोई गलत या असत्यापनीय दावा किया हो तो अवश्य आपकी बात यहां लागू होती है। किन्तु मैंने जो लिखा है, उसका तात्पर्य ितना मात्र है कि क्या देश के वरिष्टतम पदाधिकारी (राष्ट्रपति) महोदय के स्टॉल आगमन पर क्या आप चित्र लेंगे/ ले पायेंगे या उन्हें attend करेंगे? तदोपरान्त जाते जाते जो चित्र संभव हुआ, वह लिया और अपलोड भी कर दिया, अब इसकी सत्यापन प्रक्रिया क्या हो सकती है... इस पर प्रकाश डालें तो बेहतर होगा। यही हाल श्रीमती स्वराज जी वाले चित्र का भी था। इन दोनों के अलावा कोई अन्य चित्र इस प्रकार डाला हो तो अवश्य ्सन्देह के घेरे में आता है। प्रत्येक तथ्य सत्यापनीय होना अवश्य चाहिये तभी पारदर्शिता आती है - और पारदर्शिता होने पर अधिकांश सन्देह उपजते ही नहीं हैं। किन्तु वहीं यह भी सत्य है कि शत प्रतिशत सत्यापनीयता न शत-प्रतिशत पारदर्शिता सम्भव ही होती है, न की जा सकती है। यह मेरा विचार है। शेष मैंने ऊपर लिखा ही है कि मुख्य उत्तर सुयश जी ही देंगे, मैंने मात्र कुछ प्रश्न ही किये थे।
दूसरी बात ये थी कि ये प्रश्न यदि चौपाल पर पहले कर लिये जाते तो शायद बेहतर होता, मेटा इनके लिये बड़ा मन्च प्रतीत होता है, बाकी अपनी समझ एवं विवेक है।
प्रश्न पूछना सदा ही स्वागतयोग्य होता है, होना भी चाहिये (ऐसी मेरी मान्यता है) किन्तु प्रश्न स्तरीय तो हों, कौन, किससे और कहां पूछ रहा है - यह भी ध्यानयोग्य है। वहीं ये भि अत्यावश्यक है कि प्रश्नों के उत्तर ससमय और संतुष्टि के भीतर मिल जायें तो उससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता है। इसके लिये उत्तरकर्त्ता को सदा ही प्रयासरत रहना चाहिये।
क्योंकि मैं प्रश्नों के उत्तर नहीं दे रहा हूं, अतएव किसी भी उत्तर पर प्रकाश नहीं डाल रहा हूं, और सुयश जी के लिये ही छोड़ रहा हूं।
सादर:आशीष भटनागरवार्ता 08:33, 18 मार्च 2019 (UTC)
  • @Suyash.dwivedi और आशीष भटनागर: नमस्ते, आप दोनों एक टीम की तरह वहाँ हिंदी विकिपीडिया के प्रतिनिधि के तौर पर गए और अब जब टीम के कार्यों की रपट मेटा पर प्रस्तुत की जा रही तो उस रपट पर आने वाले प्रश्नों का उत्तर भी आप लोगों को एक टीम के रूप में ही देना चाहिए। जहाँ, तक बात प्रश्नों के स्तरीय होने की है, या तो आप लोग कोई स्तर निर्धारित कर दें, या फिर उत्तर दें। उदाहरण के लिए मैं तब भी इन सब सम्मेलनों से दूर था और अब तो हिंदी विकिपीडिया से ही दूर हूँ, चौपाल चूँकि सार्वजनिक मंच है हमारी विकिपीडिया का, संपादन न भी करूँ तो इसे बीच-बीच में देखता रहता। अब वर्तमान में यदि मैं उस रपट पर कोई प्रश्न करना चाहूँ तो हो सकता है आपकी टीम को वो रस्ता चलते लेयमैन के सवाल टाइप भी लगें। चूँकि, रपट मेटा पर प्रस्तुत की जा रही और सवाल भी वहाँ पूछे जा सकते, मेरे विचार में तो उचित मंच वही है। जो सवाल मुझे पूछने होंगे, अवश्य ही मेटा पर पूछूँगा। इसमें बड़ा या छोटा मंच क्या? मैं Prong$31 जी के प्रश्नों से सहमत हूँ, उनका उत्तर दिया जाना चाहिए। और साथ ही किसी को भी प्रश्न पूछने का अवसर भी मिलना चाहिए। धन्यवाद। --SM7--बातचीत-- 10:20, 18 मार्च 2019 (UTC)
प्रिय मित्रों, निजी एवं व्यावसायिक कार्यों के कारण अभी मैं कुछ दिन व्यस्त हूं, निश्चिंत रहें आपके सभी प्रश्नों का उत्तर दिया जाएगा-- सुयश द्विवेदी (वार्ता) 15:47, 18 मार्च 2019 (UTC)

need some historical editing[संपादित करें]

here I found many historical details are incorrect and some are missing। — इस अहस्ताक्षरित संदेश के लेखक हैं -Jagdish Lovenshi (वार्तायोगदान) 14:59, 5 मार्च 2019‎ (UTC)

एसवीजी फाइल अनुवाद अभियान 2019[संपादित करें]

SVG Translation Campaign 2019 in India Final Logo.svg

नमस्कार: एसवीजी फाइल अनुवाद अभियान 2019 SVG Translation Campaign 2019 की शुरुआत 21 फरवरी, 2019 को हो चुकी है यह 38 दिनों तक चलेगा। दिल्ली में बूटकैंप में प्रतिभागियों को पता है कि एसवीजी क्या है। बाकी सदस्यों को संक्षेप में कहने के लिए, यह एक प्रकार की फ़ाइल है और इस अभियान के तहत हम अंग्रेजी या अन्य भाषाओं में पाई जाने वाली तस्वीरों का हिंदी में अनुवाद करेंगे और उन्हें विकिमीडिया कॉमन्स पर अपलोड करेंगे। किर्पया दिल्ली में बूटकैंप के प्रतिभागियों से विशेस रूप से अनुरोध है वह इस अभियान भाग लें और अन्य सदस्यों विस्तार से बतायें। धन्यवाद -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 15:44, 11 मार्च 2019 (UTC)

New Wikipedia Library Accounts Available Now (March 2019)[संपादित करें]

Hello Wikimedians!

The TWL OWL says sign up today!

The Wikipedia Library is announcing signups today for free, full-access, accounts to published research as part of our Publisher Donation Program. You can sign up for new accounts and research materials on the Library Card platform:

  • Kinige – Primarily Indian-language ebooks - 10 books per month
  • Gale – Times Digital Archive collection added (covering 1785-2013)
  • JSTOR – New applications now being taken again

Many other partnerships with accounts available are listed on our partners page, including Baylor University Press, Taylor & Francis, Cairn, Annual Reviews and Bloomsbury. You can request new partnerships on our Suggestions page.

Do better research and help expand the use of high quality references across Wikipedia projects: sign up today!
--The Wikipedia Library Team 17:40, 13 मार्च 2019 (UTC)

You can host and coordinate signups for a Wikipedia Library branch in your own language. Please contact Ocaasi (WMF).
This message was delivered via the Global Mass Message tool to The Wikipedia Library Global Delivery List.

विकिमीडिया समिट इंडिया 2019[संपादित करें]

नमस्कार। बर्लिन में आयोजित होने वाले विकिमीडिया समिट 2019 (28-31 मार्च) के लिए सीआईएस (CIS) द्वारा दिल्ली में 16-17 मार्च को एक रणनीतिक बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक में मुझे भाग लेने के लिए आमंत्रिक किया गया था। इस बैठक के दौरान विकिमीडिया आंदोलन के 9 रणनीतिक कार्यसमूहों के दायरों और संभावनाओं पर चर्चा हुई। इस दौरान बर्लिन जाने वाले लगभग सभी (बांग्ला और उड़िया के साथी विकिपीडियन साथी अनुपस्थित रहे) सदस्य उपस्थित थे, जिन्होंने सीआईएस के प्रतिनिधियों के साथ रणनीतिक चर्चा की। मैंने इस चर्चा के दौरान क्षमता निर्माण (CIS प्रतिनिधि पवन संतोष एवं Wikisource प्रतिनिधि गुरलाल मान के साथ टीम के तौर पर) पर अपना पक्ष रखा। क्षमता निर्माण के लिए अकादमिक पाठचर्या को लक्ष्य करने का प्रस्ताव देने के साथ ही इस बात पर जोर दिया कि सामुदायिक क्रियाकलापों में गुणवत्ता और बेहतर परिणाम के लिए संबंधित सदस्य/सदस्यों का उत्तरदायित्व तय किया जाय। इस बैठक से विकिमीडिया आंदोलन के 2030 के लक्ष्यों को समझने में मदद मिली। आप सभी से अनुरोध है कि इन दस्तावेज़ों का अध्ययन कर उसमें भाग लेने पर विचार करें। इस संबंध में आपके कुछ सुझाव हों तो संबंधित चर्चा में भाग लें एवं हमें भी सलाह देकर लाभान्वित करें। धन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 10:43, 26 मार्च 2019 (UTC)

@अजीत कुमार तिवारी: मैंने यह दस्तावेज़ पढ़े और मुझे यह उपयोगी लगा। चूँकि मेरे लिये यह विषय नया है इसलिये मैं इसमें मैं सुझाव नहीं दे सकता। शेष आपको बर्लिन यात्रा की शुभकामनाएं! उम्मीद है आप हम हिन्दी विकिपीडियनों पर खरे उतरेंगे तथा जवाबदेही के साथ इस क्षेत्र में काम करेंगे।--Prongs31 02:12, 28 मार्च 2019 (UTC)

Section editing in the visual editor on the mobile site[संपादित करें]

Please help translate to your language

The Editing team has been working on two things for people who use the visual editor on the mobile site:

Some editors here can see these changes now। Others will see them later। If you find problems, please leave a note on my talk page, so I can help you contact the team. Thank you, and happy editing! Whatamidoing (WMF) (वार्ता) 03:57, 1 अप्रैल 2019 (UTC)

विकिमीडिया आंदोलन रणनीति 2018-20[संपादित करें]

प्रिय सदस्यों,

मेरा नाम रूपिका शर्मा है और मैं विकिमीडिआ फाउंडेशन द्वारा नियुक्त हिंदी भाषा की रणनीति समन्वयक हूँ। अगले कुछ महीने मैं हिंदी भाषा समुदाय के साथ रणनीति प्रक्रिया के बारे में चर्चाएँ करुँगी जो 2030 तक विकिमीडिया परियोजनाओं में होने वाले बदलाव को परिभाषित करेंगी।

2017 में आंदोलन रणनीति प्रक्रिया का पहला चक्र शुरू हुआ था जिसमे हिंदी समुदाय के सदस्यों ने भाग लिया था जिससे हम रणनीतिक दिशा की ओर बढ़ सके और अभी 2018 से 2020 तक दूसरा चक्र चल रहा है। इसमें हम विकिमीडिया की भविष्य की भूमिका को ध्यान में रखते हुए और अपनी संरचनाओं को अद्यतन करने के लिए एक सहयोगी रणनीति विकसित करने के लिए एक व्यापक चर्चा शुरू करेंगे जिससे हम 2030 तक अपनी रणनीतिक दिशा में सफलतापूर्वक आगे बढ़ सकें।

विकिमीडिया परियोजनाएं अपने उपयोगकर्ताओं की जरूरतों को बेहतर ढंग से कैसे पूरा करें? हिंदी समुदाय के सदस्यों को विचार-विमर्श में भाग लेकर इस रणनीतिक दिशा को प्रभावित करने का न्योता दिया जा रहा है।

इन चर्चाओं से प्रतिक्रिया संरचनात्मक परिवर्तनों के लिए संस्तुति का आधार बनेगी जिसके साथ हम अपने रणनीतिक दिशा में सफलतापूर्वक और दृढ़ता से आगे बढ़ सकेंगे।

वे कौन सी बातें हैं जिनकी समुदाय को सबसे ज्यादा महत्वता है? हम आपके लिए आंदोलन की रणनीति प्रक्रिया को समझना कैसे आसान बना सकते हैं? भाषा और तकनीकी प्रवीणता बाधाओं को ध्यान में रखते हुए। आप इन चर्चाओं के लिए किन प्लेटफार्मों और मध्यस्थों को पसंद करेंगे?

नौ कार्यवाहक समूहों - भूमिकाएं और ज़िम्मेदारियां, आय के स्रोत, संसाधन आबंटन, विविधता, सहभागिताएं, क्षमता निर्माण, सामुदायिक स्वास्थ्य, उत्पाद व प्रौद्योगिकी और वकालत ने दस्तावेज तैयार किए हैं जिनमें हमारे आंदोलन की संरचनाओं से संबंधित विषयों पर मुख्य प्रश्न हैं। मई के अंत तक, हिंदी समुदाय के प्रत्येक सदस्य के पास इन सवालों के जवाब देने और स्कोपिंग दस्तावेजों पर अपनी राय साझा करने का मौका है।

आपके जवाब मुद्दों, चुनौतियों और अवसरों की रूपरेखा तैयार करेंगे जिसे कार्यदल आगे बढ़ाएगा। वे हमारे आंदोलन की गहरी समझ हासिल करने, रोमांचक संभावनाओं की पहचान करने और बदलाव के लिए संस्तुति विकसित करने में मदद करेंगे। इन पहलुओं को विकिमेनिया 2019 में वितरित किया जाएगा। सभी हिंदी भाषा उपयोगकर्ताओं से अनुरोध किया जाता है:

  • आंदोलन के बारे में मुख्य पृष्ठ पढ़ना शुरू करें।
  • पहचानें कि आप किस विषय (स्कोपिंग दस्तावेज़) में सबसे अधिक रुचि रखते हैं।
  • प्रत्येक विषय (या सबसे बड़ी रुचि के विषय) के मुद्दों को पढ़ें और उन पर प्रतिबिंबित करें। उदाहरण के लिए, ये "क्षमता निर्माण" विषय में मुद्दे हैं।
  • रणनीति प्रक्रिया की परिचर्चा के लिए ऑन-विकी, सोशल मीडिया और ऑफ़लाइन वार्तालापों में मित्रवत स्थान नीति का पालन करना याद रखें। ध्यान केंद्रित चर्चाओं के लिए एक सुखद वातावरण सुनिश्चित करने के लिए इन अपेक्षाओं की आवश्यकता होती है जहां योगदानकर्ता सम्मानपूर्वक संलग्न होते हैं।

आपसे अनुरोध है कि आंदोलन रणनीति के पृष्ठों और स्कोपिंग दस्तावेजों को देखें; इनका अनुवाद पेशेवर अनुवादकों द्वारा किया गया है और यदि किसी तरह के बदलाव की आवश्यकता हो तो आप उसके मुताबिक बदलाव कर सकते हैं। इसके इलावा आंदोलन रणनीति से संबंधित कोई भी प्रश्न या संदेह हो, तो अवश्य पूछें।

हम कैसे अधिक न्यायसंगत और सांस्कृतिक रूप से विविध बनेंगे? इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए, हम अपनी चर्चाओं को निर्देशित करेंगे। स्कोपिंग दस्तावेज़ों बारे में आपकी क्या प्रतिपुष्टि है? क्या आपको रणनीति प्रक्रिया के बारे में कोई संदेह हैं? आप मेरे वार्ता पृष्ठ या ईमेल पर किसी भी प्रश्न या संदेह के साथ मेरे पास पहुंच सकते हैं। मैं आप सभी को एक अच्छी चर्चा की कामना करती हूँ और आपके ध्यान के लिए अग्रिम धन्यवाद देती हूँ। आंदोलन की रणनीति प्रक्रिया के बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया यहाँ जाएँ। RSharma (WMF) (वार्ता) 08:12, 3 अप्रैल 2019 (UTC)

उम्मीद है कि हिंदी समूह आंदोलन रणनीति 2018 - 20 में भाग लेकर भाईचारे की ज़रूरतों को ध्यान में रखते हुए अपने पक्ष को सामने रखेगा ताकि रणनीतिक दिशा में हिंदी भाषा के सदस्यों की आवाज़ अवश्य मौजूद रहे। इस रणनीति आंदोलन के तहत विकिमीडिआ फाउंडेशन नीतियाँ तय करेगी जिसका संरचनात्मक परिवर्तनों पर सीधा प्रभाव पड़ेगा। इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि हिंदी समुदाय इस प्रक्रिया में भाग ले और अपने दृष्टिकोण को साझा करे।

नौ कार्यवाहक समूहों - भूमिकाएं और ज़िम्मेदारियां, आय के स्रोत, संसाधन आबंटन, विविधता, सहभागिताएं, क्षमता निर्माण, सामुदायिक स्वास्थ्य, उत्पाद व प्रौद्योगिकी और वकालत ने दस्तावेज तैयार किए हैं जिनमें हमारे आंदोलन की संरचनाओं से संबंधित विषयों पर मुख्य प्रश्न हैं।

आप अपनी रुचि के अंतर्गत आने वाले विषय में कार्यवाहक समूहों द्वारा तैयार किए गए इन स्कोपिंग दस्तावेज़ों के बारे में यहाँ पड़ सकतें हैं और अपनी टिप्पणी और सिफारिशें को गूगल फॉर्म या मेटा विकी में इन स्कोपिंग दस्तावेज़ों के वार्ता पृष्ठ पर भी छोड़ सकतें हैं। इसके अतिरिक्त, इस प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के लिए हम प्रत्येक सप्ताह 1 विषय पर खुली चर्चा करेंगे। इसके लिए कार्यक्रम निम्नानुसार हैं:

  • अप्रैल 1 - 15: क्षमता निर्माण (Capacity Building) और भूमिकाएं और ज़िम्मेदारियां (Roles and Responsibilities)
  • अप्रैल 16 - 30: संसाधन आबंटन (Resource Allocation) और सहभागिताएं (Partnerships)
  • मई 1 - 15: सामुदायिक स्वास्थ्य (Community Health) और विविधता (Diversity)
  • मई 16 - 31: उत्पाद और प्रौद्योगिकी (Product & Technology), आय के स्रोत (Revenue Streams) और वकालत (Advocacy)

इन तारीखें को हमने आपकी सुविधा और इस कार्यक्रम को समय से आगे बढ़ाने के लिए रखा है। परंतु आप स्वयं मई के अंत तक किसी भी स्कोपिंग दस्तावेज़ पर कभी भी अपनी प्रतिक्रिया दे सकते हैं। इसी को लेकर चलते हुए कल से क्षमता निर्माण (Capacity Building) के प्रश्नों के बारे में चर्चा शुरू की जाएगी। आप सभी से अनुवेदन है कि क्षमता निर्माण के स्कोपिंग दस्तावेज़ को अवश्य पड़ें।

सामुदायिक वार्तालाप का सारांश मासिक आधार पर मेटा विकी पर साझा किया जाएगा (जिसका लिंक चौपाल पर भी डाला जाएगा) और समुदाय को प्रतिक्रिया प्रदान करने का अवसर दिया जाएगा। RSharma (WMF) (वार्ता) 10:48, 5 अप्रैल 2019 (UTC)

Read-only mode for up to 30 minutes on 11 April[संपादित करें]

10:56, 8 अप्रैल 2019 (UTC)

आंदोलन रणनीति अनौपचारिक बैठक[संपादित करें]

नमस्कार! 14 अप्रैल, रविवार को सीआईएस-एटूके (CIS-A2K), नई दिल्ली दफ़्तर में 11:00-15:00 बजे विकिमीडिया आंदोलन रणनीति 2018-20 की अनौपचारिक बैठक है। आंदोलन की रणनीति प्रक्रिया के बारे में अधिक जानने के इच्छुक सदस्यों का वहाँ स्वागत है। धन्यवाद।RSharma (WMF) (वार्ता) 17:25, 11 अप्रैल 2019 (UTC)

@RSharma (WMF): जी, क्या इस बैठक में ऑनलाइन नहीं जुड़ा जा सकता है? क्योंकि मैं दिल्ली वासी नहीं हूं।--Prongs31 03:13, 12 अप्रैल 2019 (UTC)
नमस्ते @Prong$31: जी, सीआईएस-एटूके दफ़्तर में कान्फ्रेंसिंग (conferencing) की उपलब्धता है, तो इसमें कोई समस्या नहीं होगी। आप और अन्य इच्छुक सदस्य rsharma@wikimedia.org पर अपना ईमेल भेज दीजिये। हैंगऑउट या गूगल मीट पर हम ऑनलाइन कॉन्फ़्रेंसिंग करके आपसे जुड़ने का प्रयास करेंगे। अगर कोई टेक्निकल मुश्किल आई,तो हम आपको बता देंगे। आपके उत्साह और रुचि के लिए बहुत बहुत धन्यावाद। RSharma (WMF) (वार्ता) 04:53, 12 अप्रैल 2019 (UTC)

Wikimedia Foundation Medium-Term Plan feedback request[संपादित करें]

Please help translate to your language

The Wikimedia Foundation has published a Medium-Term Plan proposal covering the next 3–5 years. We want your feedback! Please leave all comments and questions, in any language, on the talk page, by April 20. धन्यवाद! Quiddity (WMF) (talk) 17:35, 12 अप्रैल 2019 (UTC)

ध्यान दें :विकिमीडिया फाउंडेशन ब्रांड चर्चा[संपादित करें]

विकिमीडिया फाउंडेशन ब्रांड पर चर्चा कर रहा है और हिंदी समुदाय के विचार सुनना चाहता है। कृपया यहाँ चर्चा में हिस्सा लें। --Abhinav619 (वार्ता) 08:21, 17 अप्रैल 2019 (UTC)

ध्यान दें[संपादित करें]

हरिद्वार लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र पक्षपात पूर्ण भाषा बिना संदर्भ के Goutam1962 (वार्ता) 15:51, 17 अप्रैल 2019 (UTC)

@Goutam1962: जी, मैंने प्रचार पाठ हटा दिया है लेकिन यह कार्य आप भी कर सकते हैं। इसलिये आपसे निवेदन है कि जहाँ भी ऐसा प्रचार देखे उसे बेझिझक होकर हटा दें। धन्यवाद!--Prongs31 09:12, 18 अप्रैल 2019 (UTC)

हिंदी विकिमीडियन्स यूजरग्रुप के पुनर्गठन का प्रस्ताव[संपादित करें]

समस्त विकिपीडियन साथियों को नमस्कार। आप सभी को विदित है कि हिंदी विकिपीडिया और उसके बंधु प्रकल्पों की ऑनलाइन एवं ऑफलाइन गतिविधियों को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए यूजरग्रुप की महत्वपूर्ण भूमिका है। यूजरग्रुप को सुचारू रूप से परिचालित करने के लिए नियमित अंतराल पर उसका पुनर्गठन आवश्यक है। हमें स्थानीय तौर पर कुछ नियम-उपनियम (bylaws) भी बनाने की आवश्यकता है। यूजरग्रुप को उपयुक्त चुनाव प्रक्रिया द्वारा पुनर्गठित कर हम विकिमीडिया 2030 लक्ष्यों की तरफ व्यवस्थित ढंग से आगे बढ़ सकेंगे। विकिमीडिया फाउंडेशन द्वारा उपलब्ध कराए गए 9 सूत्रीय गुंजाइश दस्तावेजों (स्कोपिंग डॉक्यूमेंट्स) पर कार्यदल गठित करने के लिए यूजरग्रुप की अहम भूमिका रहने वाली है। चूंकि मैं विकिमीडिया समिट 2019 में हिंदी विकिमीडियन यूजरग्रुप के प्रतिनिधि के तौर पर शामिल हुआ था इसलिए मैं इस प्रक्रिया की पहल कर रहा हूँ। विकिमीडिया समिट 2019 में अपने अनुभवों को एक रिपोर्ट के रूप में मैं एक सप्ताह के भीतर समुदाय से साझा करूँगा। मुझे यह रिपोर्ट कार्यक्रम के एक सप्ताह के भीतर समुदाय से साझा कर देनी चाहिए थी लेकिन मैं निजी और अकादमिक कारणों से व्यस्त होने के कारण ऐसा नहीं कर पाया। इसके लिए मैं समुदाय से क्षमाप्रार्थी हूँ। कृपया यूजरग्रुप संपर्कसूत्र/ध्वजवाहक (contact person) के चुनाव के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया का संज्ञान लें एवं पुनर्गठन की इस प्रक्रिया में सहयोग करें।

  • यूजरग्रुप को पुनर्गठित करने के लिए चुनाव
  1. यूजरग्रुप के तीन संपर्क सूत्रों (3 Contact Persons) का चुनाव प्रत्येक वर्ष अप्रैल से मार्च सत्र (वित्तीय वर्ष) के लिए किया जाय।
  2. तीनों संपर्क सूत्र केवल एक सत्र या वर्ष के लिए चुने जाएं। संपर्क सूत्र एक सत्र के पश्चात अगले एक सत्र के लिए प्रत्याशी नहीं हो सकेंगे। एक सत्र के पश्चात वे पुनः प्रत्याशी हो सकेंगे।
  3. किसी भी प्रकार की अनियमितता का दोषी पाए जाने पर कार्यकाल पूरा होने के पूर्व भी संपर्क सूत्र को हटाया जा सकता है। सत्र समाप्त होने के कम से कम एक सप्ताह के पूर्व ध्वजवाहक पुनर्गठन की प्रक्रिया की पहल कर दें जिससे क्रम बरकरार रहे।
  • यूजरग्रुप का संपर्क सूत्र/ध्वजवाहक प्रत्याशी होने के लिए न्यूनतम योग्यता
  1. हिंदी विकिपीडिया मुख्य नामस्थान पर गैर-बॉट/सेमी-बॉट न्यूनतम 5000 संपादन, आलेख स्तर से ऊपर के बिना हटाए गए कम से कम 50 लेखों का निर्माण एवं कम से कम एक अन्य बंधु प्रकल्प पर सकारात्मक योगदान।
  2. हितों के टकराव को रोकने के लिए आवश्यक है कि प्रत्याशी विकिमीडिया से संबद्ध किसी लाभ के पद पर कार्यरत न हो अर्थात किसी चैप्टर, फाउंडेशन अथवा CIS आदि में स्थायी अथवा अस्थायी रूप से वेतनभोगी न हो।
  3. प्रत्याशी हिंदी विकिपीडिया अथवा उसके किसी बंधु प्रकल्प पर न्यूनतम दो वर्ष पूर्व से सक्रिय हो। सदस्य ऑफलाइन विकि गतिविधियों में भी भागीदार हो।
  • चुनाव में मतदान के लिए न्यूनतम मापदंड
  1. 1 अक्टूबर 2018 से 31 मार्च 2019 तक हिंदी विकिपीडिया मुख्य नामस्थान में न्यूनतम 50 संपादन।
  2. 31 मार्च 2019 तक हिंदी विकिपीडिया मुख्य नामस्थान में न्यूनतम 1000 संपादन और 10 बिना हटाए गए पृष्ठों का निर्माण।
  3. 31 मार्च 2019 के पूर्व हिंदी विकिपीडिया पर स्वतः परीक्षित सदस्य।
      • इस बार के चुनाव के लिए आवश्यक तीन प्रत्याशियों का नामांकन कर रहा हूँ। वर्तमान तीनों ध्वजवाहकों (आदरणीय श्री @आशीष भटनागर: जी, श्री @Suyash.dwivedi: जी एवं श्री @Anamdas: जी) एवं समस्त हिंदी विकिमीडिया समुदाय से अनुरोध है कि कृपया मतदान की प्रक्रिया एक सप्ताह या अधिकतम दस दिन में पूरी कर लें जिससे कि अप्रैल समाप्त होने के पूर्व सत्रारंभ हो सके। अगर कोई साथी सदस्य खुद को या किसी अन्य को नामांकित करना चाहे तो कर सकता है। इस प्रस्ताव मेंं किसी सकारात्मक फेरबदल के सुझाव का हार्दिक स्वागत है। चूंकि मैंने ही यह प्रस्ताव रखा है इसलिए मैं स्वयं को अगले दो सत्र के लिए नामांकन के लिए अनुपलब्ध रखूंगा। धन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 06:21, 18 अप्रैल 2019 (UTC)

टिप्पणी[संपादित करें]

  • देर आये, दुरुस्त आये। ये सब बहुत पहले होना चाहिए था। पर कोई बात नहीं, अभी सही।
  • निवेदन है कि कोई भी प्रस्ताव रखें तो उसमें अन्य सदस्यों के सुझाव, बदलाव अवश्य आमंत्रित करें। सबको साथ लेकर चलें।
  • आपके दिए उक्त सुझावों से मैं सहमत हूँ। एक योगदानकर्ता के तौर पर।
  • ध्वजवाहक होने के नाते मैं अलग से समर्थन व्यक्त करता हूँ।
  • सुझाव यह है कि अर्हताओं पर समुदाय से चर्चा कर लें, कहीं यह न हो कि कोई उम्मीदवार ही न मिले।
  • एक हफ्ते की बजाय एक माह पूर्व चुनाव का समय रखें, या पंद्रह दिन।
  • फिलहाल आप अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिंदी विकी का प्रतिनिधित्व कर लौटे हैं तो आपकी उपस्थिति यूज़र ग्रुप में मैं अनिवार्य समझता हूं। कांटेक्ट पर्सन तीन हों ये अनिवार्य नहीं है। मेरा सुझाव है कि 3 से 5 हों। या फिर 6 कर लें और 3 का कार्यकाल जनवरी से जनवरी और 3 का जून से जून रखें। ऐसे में एक ही बार पूरा प्रबंधकमण्डल बदलने पर आने वाली अप्रत्याशित समस्याओं से बचा जा सकेगा।

धन्यवाद सहित।


अनामदास 03:51, 20 अप्रैल 2019 (UTC)

आपत्ति/विरोध[संपादित करें]

इस विषय में सोचने के बाद मैं स्वयं को इस प्रक्रिया को समर्थन देने हेतु असमर्थ पा रहा हूँ और आपत्ति भी है। कारण निम्नलिखित हैं:-

  1. यहाँ जिस तरह अचानक से नए ध्वजवाहकों का चुनाव, भावि ध्वजवाहकों के नाम पहले से ही निर्धारित करके और नियम भी निर्धारित करके प्रस्ताव रखा गया है; ऐसा प्रतीत होता है कि ये सब पूर्वनिर्धारित (preplanned) है और सदस्यों का समर्थन प्राप्त करने हेतु ही औपचारिक रूप से प्रस्ताव को चौपाल पर रखा गया है।
  2. हिन्दीविकि सदस्यदल के दो ध्वजवाहकों की अनुपस्थिति में ही उनको पद से हटाने का प्रस्ताव लाया गया है। ये सही नहीं है।
  3. सदस्यदल बनने के बाद नीतिनियम बनाने की ज़िम्मेदारी ध्वजवाहकों और दल के सदस्यों दोनों की है परंतु ये वर्तमान तीनों ध्वजवाहकों की उपस्थिति में होना चाहिए। अनुपस्थिति में नहीं।
  4. जब अभी तक नियम नहीं बने हैं और ना ही ध्वजवाहकों का कार्यकाल निर्धारित हुआ है। ना ही ध्वजवाहकों ने इस्तीफा दिया है तो अचानक से उनका कार्यकाल समाप्त कैसे घोषित कर दिया गया? जब उनका कार्यकाल समाप्त नहीं हुआ, निर्धारित नहीं हुआ तो चुनाव कैसा? नियम भी नहीं बने उसके पहले सीधा चुनाव?
  5. जब भी चुनाव हो ये प्रक्रिया ध्वजवाहकों द्वारा होनी चाहिए जबकि यहाँ प्रस्तावक स्वयं ध्वजवाहक पद के उम्मीदवार है। तटस्थता नहीं रहती।
  6. प्रस्तावक द्वारा बताया गया है कि बर्लिन सम्मेलन के बाद उनको सदस्यदल की आवश्यकता महसूस हुई, तो क्या वर्तमान ध्वजवाहक समुदाय के साथ प्रस्तावक कार्य नहीं कर सकते थे?
  7. विकि में अब असक्रिय बन चुके पूर्व प्रबंधक महोदय का प्रस्ताव रखने के बाद तुरंत ही सक्रिय होकर प्रक्रिया में भागीदारी करना आश्वर्यजनक है।
  8. कुछ दिन पूर्व अन्यत्र चर्चा में एक प्रबंधक ने कहाँ था कि आप धजवाहकों को हटाने का प्रस्ताव क्यों नहीं लाते? एक पूर्व प्रबंधक और वर्तमान ध्वजवाहक जो अभी इस प्रक्रिया में सक्रिय है, उन्होंने मुझे संदेश भेजा था कि आप नए ध्वजवाहकों के चुनाव का प्रस्ताव लाइए। लगता है कि अब ये प्रस्ताव अजित जी के द्वारा लाया गया है। प्रस्तावक और कुछ वरिष्ठ प्रबंधकों को ध्वजवाहक पद देकर उनका सहयोग प्राप्त किया जा रहा है।
  9. इससे पहले भी दिल्ली सम्मेलन के बाद सुयश द्विवेदी जी को सम्मेलन के हवाले ध्वजवाहक पद से हटाने और दूसरों को जोड़ने का प्रस्ताव आया था। ये उनकी पुनरावृत्ति है। कुछ लोग उन्हें हटाना चाहते हैं ये स्पष्ट है। जो सही नहीं है।
  10. एक नियम ऐसा भी रखा गया है कि चैप्टर में होने के कारण सुयश जी ध्वजवाहक बने ही नहीं। मतलब द्वैषभाव से प्रेरित उनको हटाने का पूरा प्रबन्ध किया गया है। ये सभी युद्ध दोनों दलों में सम्मेलन की ग्रांट प्राप्त करने हेतु हो रहे हैं।
  11. हमारे कुछ वरिष्ठ प्रबंधक जो स्वच्छ प्रतिभा के धनी हैं उनको भी इस राजकीय दलदल में घिसटने का प्रयास किया गया है।

तुरंत ही इस प्रक्रिया को समाप्त करके तीनों ध्वजवाहक इस प्रक्रिया को पुनः आरंभ करेंगे और पहले नीतिनियम समुदाय के सहयोग से निर्धारित करने के बाद न्यायिक प्रक्रिया से चुनाव करवाएंगे ऐसी उम्मीद करता हूँ।--आर्यावर्त (वार्ता) 02:47, 21 अप्रैल 2019 (UTC)

आदरणीय श्री @आर्यावर्त: जी, आपकी आपत्तियों का हृदय से स्वागत है। बिंदुवार उत्तर देता हूँ।
  1. पहले बिंदु का उत्तर है कि प्रस्तावित प्रक्रिया में सुझाव आमंत्रित किए गए हैं।
  2. पद से हटाने जैसे वाक्यों का प्रयोग द्वेषपूर्ण है। हालांकि किसी के भी अनुपस्थिति में कोई प्रक्रिया आमंत्रित नहीं की गई। तीनों सदस्यों को ऑनविकि पिंग भी किया गया और उन्हें ऑफविकि निजी संदेश द्वारा भी जानकारी दी गई थी। उपस्थिति/अनुपस्थिति की वजह संबंधित ध्वजवाहक ही बताएं तो बेहतर है। सबकी निजी व्यस्तताएं हैं इसलिए इससे संबंधित कोई अनिवार्यता नहीं रखी गई।
  3. यूजरग्रुप बने हुए लगभग दो साल पूरे होने को है तो नीति-नियम या कार्ययोजना गठित करने की दिशा में क्या ठोस पहल की गई? तय करिए कि इसका जवाब आप देंंगे या ध्वजवाहकों पर छोड़ें? प्रस्ताव मेंं ही लिखा गया है कि न्यूनतम मानदंडों के साथ पुनर्गठन की प्रक्रिया पूरी कर नियम-उपनियम (bylaws) बनाने की दिशा मेंं काम हो तो इसमें वर्तमान ध्वजवाहक आगे आकर सहयोग करेंं।
  4. प्रस्ताव में भी इस बात को रखा गया है कि पारदर्शी प्रक्रिया और सामुदायिक सौहार्द के लिए आवश्यक है कि पुनर्गठन की प्रक्रिया हर वर्ष चलती रहे और इसकी पहल ध्वजवाहक ही करें। कृपया बताएं कि किस पंक्ति में मैंने स्वयं को उम्मीदवार घोषित किया है। जब मैंने दो वर्ष के लिए स्वयं को अनुपलब्ध ही रखा है तब तटस्थता की समस्या कैसे आ गई?
  5. विकिमीडिया विकिसमिट 2019 में यूजरग्रुप अफिलिएट्स की मीटिंग मेंं प्रतिनिधि के तौर पर शामिल हुआ था। उस मीटिंग में इन बातों पर उपस्थित प्रतिनिधियों में बातचीत के दौरान ही यह स्पष्ट हुआ कि यूजरग्रुप का गठन-पुनर्गठन, उसे नियम-उपनियम सामुदायिक इच्छाशक्ति और विवेक पर निर्भर है। पारदर्शिता और जवाबदेही के लिए यूजरग्रुप का नियमित अंतराल पर पुनर्गठित होना हितों के टकराव और एकाधिकार की स्थिति से बचने के लिए आवश्यक है। उस मीटिंग के मेटा सूचना पेज पर आदरणीय सुयश जी ने हस्ताक्षर भी किए थे, जबकि वे वहाँ मौजूद नहीं थे। हालांकि उन्हें औपचारिक तौर पर वहाँ उपस्थित प्रतिनिधि को सूचित करना चाहिए था। मुझे उस मीटिंग की सूचना वहाँ मौजूद कार्यक्रम निर्देशिक से मिली किसी ध्वजवाहक से नहीं। मैं किसी के साथ भी काम करने को तैयार हूँ। सवाल यह है कि क्या आप या वर्तमान ध्वजवाहक यूजरग्रुप के पुनर्गठन की लोकतांत्रिक प्रक्रिया की पहल या उसमें सहयोग के लिए तैयार हैं?
  6. अगर आप श्री @Anamdas: जी की बात कर रहे हैं तो वे बाकायदा ध्वजवाहक हैं। उन्हेंं ऑनविकि प्रस्ताव में पिंग किया गया था और अन्य दोनों ध्वजवाहकों की तरह ऑफविकि निजी संदेश भेजा गया था। वैसे यहांँ अप्रासंगिक है लेकिन मेल करके आपने भी अपने असक्रिय होने और विकिपीडिया छोड़ देने की प्रतिज्ञा की थी। मेटा पर प्रबंधकीय अधिकार भी छोड़ने की बात करके वापस ले ली थी। हालांकि यह सब आपका निजी फैसला है, इसलिए केवल अपनी बात रखेंं। अन्य सदस्य अपना पक्ष रखने में सक्षम हैं।
  7. निजी संदेशों पर की गई बातचीत को मैंं विकिपीडिया पर प्रामाणिक नहीं मानता। यह प्रस्ताव मैंने किसी के कहने पर नहीं अपितु यूजरग्रुप प्रतिनिधि के तौर पर अपने दायित्वों के पहल के तौर पर रखा है। मैं किसी का प्रवक्ता नहीं हूँ, न ही किसी को अपना प्रवक्ता मानता हूँ। मतभेदों के साथ भी हम सामुदायिक तौर पर एक दूसरे के साथी और सहयोगी हैं और हमेशा बने रहेंगे। यह बात जितनी जल्दी आप समझ लेंगे उतना ही आपके और समुदाय के स्वास्थ्य के लिए श्रेयस्कर होगा। विकिमीडिया स्कोपिंग दस्तावेजों में सामुदायिक स्वास्थ्य एक अहम दस्तावेज है। उसका अध्ययन अवश्य करें।
  8. श्री सुयश जी का नाम आप एकाधिक बार ले चुके हैं। अब उन्हेंं सीधे अपना मत रखने दीजिए। 'कुछ लोग' नहीं अपितु मेरा प्रस्ताव है कि अब पुनर्गठन की इस प्रक्रिया में सुयश जी भागीदार बनें एवं स्वस्थ उदाहरण प्रस्तुत करें। एक वर्ष पश्चात वे या कोई भी न्यूनतम मानदंडों को पूरा कर प्रत्याशी हो सकते हैं। आप उनके प्रवक्ता बनने की बजाय उनके विवेक पर विश्वास रखेंं। वे अपना पक्ष रखने में पूर्णतया सक्षम हैं।
  9. इस बिंदु पर मैं इतना ही कहना चाहता हूँँ कि हितों का टकराव (conflict of interest) एक गंभीर मामला है। अगर आप फाउंडेशन के किसी स्थायी अथवा अस्थायी वेतनभोगी पद पर हैं तो ऐसी जगह पर प्रत्याशी होना अनैतिक ही नहीं अवैध भी है। ग्रांट का मसला उठाकर आप अनजाने में या जानबूझकर व्यक्ति केंद्रित हो रहे हैं जो सामुदायिक स्वास्थ्य के लिए अनुचित है। 'दोनों दलों में सम्मेलन की ग्रांट प्राप्त करने के लिए युद्ध' जैसे वाक्य का प्रयोग ही आपके द्वेषपूर्ण आचरण की पुष्टि कर रहा है। अप्रत्यक्ष तौर पर आप पूर्व में करवाए गए सभी सम्मेलनों पर आर्थिक अनियमितता का प्रश्नचिह्न लगा रहे हैं। ध्यातव्य है कि कोलकाता सम्मेलन 2019 की रिपोर्ट और आर्थिक व्यय का ब्यौरा अभी तक सार्वजनिक नहीं किया गया है। सम्मेलन से संबंधित आपका ऑनविकि फीडबैक पढ़ कर लगा कि आधिकारिक तौर पर कुछ समुदाय को सूचित किया जाय। इस संबंध में कुछ स्पष्टीकरण आपके उपरिलिखित अनुभाग में दिया जाएगा।
  10. 'स्वच्छ प्रतिभा के धनी' सभी प्रबंधक इस 'राजकीय दलदल' में 'स्वेच्छा' से उतरे हैं ताकि इसे 'साफ' कर सकें।
    • वर्तमान ध्वजवाहकों से पुनः निवेदन है कि इस प्रक्रिया में सुधार सुझाएं, समर्थन या विरोध करें किंतु इसे विलंबित न करेंं। सादर। सप्रेम। सधन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 06:15, 21 अप्रैल 2019 (UTC)
प्रिय @आर्यावर्त: जी, आपका यह विरोध मुझे किसी के भड़काने पर किया गया विरोध लग रहा है। आप सुयश जी के पक्ष में लिख रहे हैं इससे यह बात साफ है। आप सुयश जी का इतना पक्ष ले रहे हैं जरा उनसे यह पूछिये कि क्यों एक महीने से अधिक विश्व हिन्दी सम्मेलन पर पूछे प्रश्नों का जवाब उन्होंने नहीं दिया है? आपसे भी मैंने इस संबंध में प्रश्न पूछा था लेकिन आपने भी जवाब न देना उचित समझा। आपका कब विकिपीडिया सम्पादित करने का मन न हो कब आप मेटा पर जाकर प्रबंधकीय अधिकार हटाने का अनुरोध कर दें और कब पलटी मार लें इसका कोई भरोसा नहीं है। आपने स्वयं की छवि एक अविश्वसनीय व्यक्ति के रूप में स्थापित कर ली है। कृपया गुटबाजी को बढ़ावा न दे यह सामुदायिक स्वास्थ्य के लिये अच्छा नहीं है। यह बात कान खोलकर सुन ले कि यह सदस्यसमूह किसी की निजी जागीर नहीं है।--Prongs31 03:10, 21 अप्रैल 2019 (UTC)
@अजीत कुमार तिवारी: जी, मैने मतदान में भाग ले लिया है किन्तु उसके बाद भी अपने विचार रखना चाहूँचा। मैं इतना अनभिज्ञ हूँ कि आपका प्रस्ताव जल्दी-जल्दी पढ़ने के बाद मेरे मन में कोई प्रश्न पैदा नहीं हुआ और न ही उसमें कुछ 'छिपाया हुआ' लगा। किन्तु आर्यावर्त जी की बिन्दुवार 'खुदाई' पढ़कर मेरी भी आँख खुली और अब मुझे भी लगने लगा है कि आपके प्रस्ताव में बहुत कुछ अलिखित रह गया, जिसे लिखने से इस विषय से अनभिज्ञ या अल्पज्ञ लोगों को सुविधा होती। मुझे तो यही नहीं पता कि यहाँ कुछ लोग 'ध्वजवाहक' भी हैं। जब ध्वजवाहक हैं (भले ही निष्क्रिय हों), तो उनको नियमपूर्वक हटाने का प्रस्ताव लाना चाहिए था, यह तो बहुत महत्वपूर्ण बिन्दु लग रहा है। इसके अलावा आर्यावर्त जी के कई बिन्दुवार कथन मुझे तर्कसंगत लग रहे हैं। --अनुनाद सिंह (वार्ता) 07:44, 21 अप्रैल 2019 (UTC)
@अनुनाद सिंह: जी, धन्यवाद कि आपने सवाल रखा। आर्यावर्त जी की 'खुदाई' पुरातात्विक महत्व की है, इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता। मैंने उनके सभी बिंदुओं का यथास्थान उत्तर भी दिया है। आपके मन में भी जो कुछ हो जरूर पूछें। मित्रवर, 'छिपाने' के लिए मेरे पास कुछ भी नहीं है। सच पूछिए तो यूजरग्रुप की प्रक्रिया संबंधी बहुत सी बातें मुझे भी हाल ही में पता चली हैं। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 08:03, 21 अप्रैल 2019 (UTC)
@अजीत कुमार तिवारी और अनुनाद सिंह: जी,प्रत्युत्तर के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद। चुनाव में व्यस्त होने के कारण उत्तर नहीं दे पाया अतः क्षमाप्रार्थी हूँ। अजीत जी के उत्तर से मैं संतुष्ट नहीं हूँ और मेरे सभी प्रश्न अभी भी बरकरार है। ऐसी स्थिति में ये प्रक्रिया सफल घोषित होती है तो मेरे हिसाब से अन्यायपूर्ण ही होगा और हम भविष्य की पीढ़ी को भी अच्छा संदेश नहीं दे पाएँगे। स्पष्ट करना चाहूंगा कि मुझे वर्तमान ध्वजवाहकों को हटाने या उम्मीदवारों से कोई आपत्ति नहीं है जो भी आपत्ति है ये इस क्षतिपूर्ण प्रक्रिया से है।
  • यहाँ आपने सुझाव आमंत्रित किये हैं कि पूरा मसौदा प्रस्तुत किया है ये समझना मुश्किल है। मैंने आरंभ से चर्चा बार बार पढ़ी। आपने स्वयं ही नियम बनाकर लिख दिए हैं; इसलिए ही ये चर्चा ऐसी प्रतीत हो रही है कि आप सब कुछ कहीं से निर्धारित करके ही आये हैं और औपचारिकता पूर्ण करने हेतु चौपाल का उपयोग कर रहे हैं। नीचे अनामदास जी को भी लिखना पड़ा है कि दूसरों के सुझाव भी लें, सब को साथ लेकर चलें। चर्चा का नाम भी आपने हिन्दी विकिमीडियन्स यूजरग्रुप के पुनर्गठन का प्रस्ताव दिया है और चर्चा भी पुनर्गठन की दिशा में चल रही है, न कि नीतिनियम निर्धारण की दिशा में। नियम तो आपने लिख दिए और उनके आधार पर पुनर्गठन के लिए नए नामांकन आ गए और उनको समर्थन भी दिया गया।
  • नियम निर्धारित करने के लिए प्रारम्भ में अलग से विस्तृत चर्चा होनी चाहिए और पुख्ता चर्चा के बाद नीति नियम पारित होने चाहिए। नीति नियम निर्धारण के कार्य में तीनों में से कम से कम दो ध्वजवाहकों की उपस्थिति भी आवश्यक है।
  • जब तक कोई नियम बने नहीं है और नियमों के लिए सर्वसम्मति या आम राय नहीं बनी तब तक पुनर्गठन के लिए किया गया चुनाव और उनका कार्यकाल भी अयोग्य है।
  • ध्वजवाहकों को हटाना शब्द द्वैषपूर्ण नहीं है परंतु वास्तविकता है। वर्तमान ध्वजवाहकों का कार्यकाल पूर्ण नहीं हुआ है क्योंकि कार्यकाल अभी तक निर्धारित ही नहीं हुआ है। इसके पहले ही आपके द्वारा पुनर्गठन का प्रस्ताव लाया गया है और नामांकन भी हो गए हैं जिसमें आप स्वयं भी उम्मीदवार हैं। नए ध्वजवाहक चुनने से वर्तमान ध्वजवाहक स्वतः ही हट जाते हैं। ये आपने भले ही अघोषित रखा हो परंतु यहीं वास्तविकता है। ये वास्तविकता नहीं है तो क्या यदि नए ध्वजवाहक निर्वाचित होते हैं तो वर्तमान ध्वजवाहक भी चालू रहेंगे? मैंने हटाना शब्द का प्रयोग इसलिए किया है क्योंकि उनका कार्यकाल पूर्ण होने के बाद उनके द्वारा निर्वाचन की प्रक्रिया होती तो सही होता। जब उनका कार्यकाल निर्धारित नहीं हुआ था तब उनका कार्यकाल चालू है तभी अचानक से ही ये पुनर्गठन का प्रस्ताव आया है। इसमें उनको हटाना भी अघोषित रूप से सम्मिलित है। कार्यकाल पूरा होने के बाद पुनर्गठन की प्रक्रिया आरंभ करना और उनके चालू कार्यकाल में ही नए ध्वजवाहकों के निर्वाचन का प्रस्ताव लाना; दोनों में क्या अन्तर है आप समझते होंगे। साथ ही आपने लिख दिया है कि वर्तमान ध्वजवाहक इसबार ध्वज वाहक नहीं बन पाएँगे अतः उनका चालू रहना भी अवरोधित किया गया है। एक ध्वजवाहक तो चैप्टर में होने के कारण कभी ध्वजवाहक न बने ये भी आपने घोषित कर दिया है। मेरे कहने का तात्पर्य ये नहीं है कि आपने ये द्वैषपूर्ण भाव से किया है। ये प्रक्रिया अनुचित है। इसे तुरंत रोका जाए।
  • चालू ध्वजवाहकों ने दो वर्ष में नीतिनिम निर्धारण हेतु कोई कार्य किया भी हो तो मुझे ज्ञात नहीं है। क्यों नहीं किया, कब करेंगे ऐसे प्रश्नों के उत्तर वे स्वयं ही दे सकते हैं। न केवल ध्वजवाहक हमने भी आजतक इस विषय में कुछ नहीं किया। दिल्ली सम्मेलन में मैंने इस विषय में चर्चा आमंत्रित की थी परंतु आयोजकों द्वारा मेरे सुझाव के सभी बिंदु हटाकर अपने हिसाब से सम्मेलन की कार्यसूची बनाई थी। इस सम्मेलन के बाद, सम्मेलन के नाम से कुछ लोगों को ध्वजवाहक के रूप में जोड़ने का और सुयश जी को ध्वजवाहक से हटाने का प्रस्ताव चौपाल पर आया था।
  • अभी जब चर्चा शुरू हुई ही है तो पहले नीतिनियम तय करने के लिए प्रस्ताव रखना चाहिए। जिसमें कम से कम दो ध्वजवाहक सम्मिलित हो।
  • किसी भी ध्वजवाहक को कोई सदस्य ये संदेश भेज दें कि अब आप ध्वजवाहक नहीं रहे और वे ध्वजवाहक से हट जाए ऐसा नहीं है। आपने ध्वजवाहकों को संदेश भेजा ये अच्छी बात है परंतु पहला संदेश उनको नीतिनियम के निर्धारण के लिए भेजना चाहिए। पहली चर्चा भी नीतिनियम बनाने के लिए हो। जब सभी नीतिनियम, कार्यकाल आदि निर्धारित हो जाए उसके बाद यदि पुनर्गठन की आवश्यक्ता हो तो चालू ध्वजवाहकों के द्वारा ये प्रक्रिया होनी चाहिए। तीन में से दो ध्वजवाहक सम्मिलित हो तभी ध्वजवाहकों की बहुमत बनती है।
  • पारदर्शी प्रक्रिया और सामुदायिक सौहार्द के लिए पुनर्गठन की प्रक्रिया आवश्यक है परंतु इस प्रक्रिया का नियम अनुसार, न्यायपूर्ण होना और कार्यवाही में पारदर्शिता भी आवश्यक है। यहाँ तटस्थता की समस्या इसलिए है क्योंकि आपने प्रस्ताव रखा और आप उम्मीदवार भी है। तीन में से दो ध्वजवाहक प्रक्रिया में सम्मिलित नहीं है। सीधे ही नामांकन हो गए हैं। न तो चुनाव के लिए पूर्व से घोषणा की थी, न ही आवेदन प्रस्तुत किये गए थे। न ही चुनाव प्रक्रिया कराने वाले कोई निष्पक्ष व्यक्ति की घोषणा हुई है। एक साथ कुछ लोगों के ही नामांकन किये गए और मत भी दे दिए अतः बहुत से सदस्यों को नामांकन का मौका ही नहीं मिला। नामांकन करने वालें ने स्वघोषित रूप से तय करके कुछ सदस्यों के नामांकन कर दिए हैं।
  • ये कोई प्रबंधक नामांकन नहीं है कि किसीने नामांकन कर दिया, किसीने मत दे दिया और हो गया!
प्रबंधक और ध्वजवाहक नामांकन में अंतर
  1. प्रबंधक विकि के कार्यो के लिए हैं और ध्वजवाहक समुदाय के कार्यो के लिए।
  2. प्रबंधक के लिए कभी भी नामांकन हो सकता है और कोई किसीका भी नामांकन कर सकते हैं। कितने भी प्रबंधक बना सकते, आवश्यकतानुसार। ध्वजवाहक की सङ्ख्या मर्यादित है और उनका चुनाव उनके कार्यकाल पूर्ण होने के बाद होता है या तो किसी ध्वजवाहक इस्तीफा दें, मृत्यु हो जाए, अमान्य घोषित हो ऐसी स्थिति में ही नया चुनाव हो सकता है।
  3. हिन्दी विकिमित्र सदस्यदल एक पंजीकृत सामाजिक संस्था है जो हिन्दी विकिपीडिया से जुड़े सदस्यों द्वारा बनी है और उनके लिए कार्य करती है। हिन्दी विकिपीडिया भिन्न है।
  4. ध्वजवाहकों के चयन की प्रक्रिया भी भिन्न होती है। प्रबंधकों के चयन की तरह नहीं। पहले (ध्वजवाहकों का काल पूर्ण हो गया हो या इस्तीफा, मृत्यु, अमान्य होने की स्थिति में जगह खाली हुई हो तब) चुनाव की घोषणा होती है। ये प्रक्रिया तटस्थ व्यक्ति या चालू ध्वजवाहकों के द्वारा होती है। आवेदन आमंत्रित किये जाते है और इसके लिए कोई भी दल का सदस्य आवेदन कर सकता है। उनको स्वयं ही आवेदन करना होता है। एक व्यक्ति स्वघोषित रूप से कुछ लोगों को आगे कर दे ऐसा नहीं होता है। आवेदन के बाद उम्मीदवार पात्र है या नहीं ये देखा जाता है और बाद में निर्धारित काल के लिए मतदान और परिणाम की घोषणा होती है। सभी संस्थाओं में यहीं प्रक्रिया होती है जो न्यायिक है।
  • मैं भी मानता हूँ कि पुनर्गठन की प्रक्रिया आवश्यक है परंतु साथ ही ये प्रक्रिया आदर्श होनी चाहिए, न्यायिक होनी चाहिए, नियमानुसार होनी चाहिए। ध्वजवाहकों को इस प्रक्रिया के लिए समय देना चाहिए।
  • अनामदास जी ध्वजवाहक है परंतु कम से कम तीन में से दो ध्वजवाहक (बहुमत ध्वजवाहक) होने चाहिए।
  • जैसे आप किसी के प्रवक्ता नहीं वैसे मैं भी नहीं, आपको यूजरग्रुप से सदस्य के तौर पर अपनी बात रखने का अधिकार है उतना मुझे भी है। मुझे जो भी अनुचित लगा उस ओर अंगुलिनिर्देश किया है और अपनी बात रखी है। उम्मीद करता हूँ कि इसे आप किसी का व्यक्तिगत विरोध या व्यक्तिगत समर्थन के रूप में नहीं लेंगे।
  • स्वच्छ प्रतिभा के धनी प्रबंधक चुप ही है।
  • पहले केवल नीतिनियम निर्धारण की चर्चा कीजिये, मैं तैयार हूं। इसे पारित होने के बाद यदि वर्तमान ध्वजवाहकों का कार्यकाल समाप्त हो जाता है तो चुनाव की घोषणा की जाए और तटस्थ व्यक्ति अथवा ध्वजवाहक इस चुनाव की प्रक्रिया करें।--आर्यावर्त (वार्ता) 03:25, 26 अप्रैल 2019 (UTC)

@अजीत कुमार तिवारी: ये पिछले (यानी वर्तमान पदस्थ) झंडाबरदार कैसे चुने गए थे ?--SM7--बातचीत-- 08:07, 26 अप्रैल 2019 (UTC)

@SM7: जी, बेहतर होगा कि इस सवाल का जवाब अब तीनों ध्वजवाहक ही दें। जहाँ तक मेरी जानकारी है, नामांकन और समुदाय के मतदान से ही उनका चयन हुआ था। मुझे ज्ञात नहीं कि यूजरग्रुप गठन के पूर्व कोई नियम या गठन के पश्चात परिचालन संबंधी कोई नियमावली बनायी गयी। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 09:03, 26 अप्रैल 2019 (UTC)
@आर्यावर्त: जी, आपने दूसरी बार लिखा है कि मैं उम्मीदवार हूँ। यह प्रमाणित करने के लिए पर्याप्त है कि आप प्रस्ताव कितने ध्यान से पढ़ रहे हैं। मैंने खुद से खुद की उम्मीदवारी न कभी की है और न कभी करने की आकांक्षा रखता हूँ। योग्यता और क्षमता रहेगी तो जिम्मेदारियाँ मिलती रहेंगी और निभाता भी रहूँगा। अब ध्वजवाहकों के औपचारिक उत्तर के बाद ही इन दुहराए सवालों पर कुछ कहूँगा। सामुदायिक चर्चा में आपकी रूचि है यह बहुत अच्छी बात है। फिलहाल 28 अप्रैल तक संभावना दस्तावेजों (स्कोपिंग डॉक्युमेंट्स) पर चर्चा खुली हुई है। वहाँ भी चर्चा आवश्यक है जो समुदाय की आकांक्षा और यूजरग्रुप की महत्वपूर्ण भूमिका से भी संबंधित है। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 09:03, 26 अप्रैल 2019 (UTC)
@अजीत कुमार तिवारी:जी, ये मेरी गलती है। क्षमा कीजिएगा। अनामदास जी की आपको सुनिश्वित करने की टिप्पणी और आपकी योग्यता के देखते हुए मेरे मन में यहीं था कि आप ध्वजवाहक के उम्मीदवार है ही। इस विषय में और आपकी तटस्थता पर मुझे कोई शंका नहीं है। वर्तमान प्रक्रिया से समस्या अवश्य है।--आर्यावर्त (वार्ता) 13:38, 26 अप्रैल 2019 (UTC)
विकिपीडिया सदस्य समूह पुनर्गठन प्रक्रिया में सहमति, मतदान, नामांकन और विरोध के जरिए शामिल सदस्यों! हिंदी विकिपीडिया हिंदी विकिपीडिया सदस्यों का एक समूह और उनके अथक परिश्रम का मूर्त रूप ही तो है। इसके सारे नियम तरीके सदस्यों को ही तय करने है। मैं स्वयं वर्तमान सदस्य समूह को 'हटाने का प्रस्ताव' लाए जाने के बजाय सदस्य समूह को पुनर्गठित करने का प्रस्ताव लाने का पक्षधर हूँ। किसने क्या नहीं किया इसपर लंबी चर्चा करने के बजाय जो काम कर सकते हों उनके लिए मार्ग तैयार करना मुझे हमेशा श्रेयकर लगता है। साथ ही यह मार्ग पूर्व के सदस्यों के प्रति असम्मान के प्रदर्शन से भी हमें सुरक्षित रखता है।

यदि कुछ सदस्यों ने आपसी चर्चा करके तथा पारस्परिक सहमति बनाकर पुनर्गठन की प्रक्रिया शुरु की है तो इस प्रक्रिया की वैधता इसके प्रति व्यक्त सदस्यों की सहमति ही निश्चित कर सकती है। शुरुआती सहमति ऑफ लाइन बैठक करके या ऑन लाइन विकि से इतर माध्यमों का उपयोग करके बनाने में न केवल कोई आपत्ति नहीं की जा सकती है बल्कि इस पारस्परिक संवाद प्रक्रिया को बढ़ावा देने की जरूरत भी है। अधिक-से-अधिक सदस्य चौपाल से इतर पारस्परिक संवाद से जुड़कर विकिपीडिया के सुनियोजित विकास को तेज कर सकते हैं।

प्रस्तावक, नामांकित सदस्य, मत प्रदाता सदस्य तथा विरोध करने वाले सदस्यों को शामिल कर लिया जाय तो १५ से भी अधिक सक्रिय सदस्य इस प्रक्रिया के अंग हो चुके हैं। तीन वर्तमान प्रबंधक नामांकन स्विकृति के रूप में अपना पक्ष व्यक्त कर चुके हैं। दो प्रबंधक समर्थन का मत भी व्यक्त कर चुके हैं। इसके अतिरिक्त मत के रूप में अनेक समृद्ध योगदानकर्ता सदस्यों तथा पूर्व प्रबंधकों का समर्थन भी मौजूद है। एक वर्तमान ध्वजवाहक का समर्थन भी हासिल हो चुका है। ऐसे में एक वर्तमान प्रबंधक का प्रक्रिया के प्रति व्यक्त संदेह और विरोध इस प्रक्रिया को रोकने में असमर्थ ही सिद्ध होगा। किंतु उनके नियमों को व्यवस्थित करने की कामना माने जाने के योग्य है तथा इस प्रक्रिया की पूर्णता के पश्चात पुनर्गठित समूह से एक माह के भीतर अगले वर्ष के पुनर्गठन से संबंधित ठोस नियमों के प्रस्ताव की आशा की जानी चाहिए। हर स्थिति में अंतिम निर्णय विकि सदस्यों के सामूहिक विवेक का ही होगा किसी व्यक्ति या कुछ व्यक्तियों का नहीं। यह निश्चित है। अनिरुद्ध! (वार्ता) 22:11, 26 अप्रैल 2019 (UTC)

@अनिरुद्ध!: जी,टिप्पणी हेतु धन्यवाद। मैंने आपके विषय में बहुत चर्चा सुनी है और मैं आपको एक आदर्श व्यक्ति मानता हूँ। सुना है कि आपने एक सदस्य की टिप्पणी के बाद स्वयं को कुछ समय के लिए प्रतिबन्धित कर लिया था? मुझे लगा कि आप कुछ समय के लिए ध्वजवाहक नामांकन से स्वयं को हटा लेंगे और नीति नियम निर्धारण के बाद न्यायिक रूप से इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाएंगे। आपने ऐसा नहीं किया। ध्वजवाहक तो आप नीतिनियम आदि निर्धारित हो जाने के बाद भी बन सकते थे। हम भविष्य की पीढ़ी को भी एक अच्छा उदाहरण दे सकते थे।
  • आपने लिखा है कि वर्तनमान ध्वजवाहकों को हटाने के बदले पुनर्गठन का प्रस्ताव लाने के पक्ष में है। मतलब वर्तमान ध्वजवाहक भी रहेंगे और नए भी आएंगे? यदि इस पुनर्गठन के बाद वर्तमान ध्वजवाहक नहीं रहेंगे तो इसका सीधा सीधा मतलब यहीं होता है कि वर्तमान ध्वजवाहकों को हटाने के लिए ये प्रस्ताव है। यदि ऐसा नहीं है तो आपको धैर्य रखना चाहिए और वर्तमान ध्वजवाहकों की प्रतीक्षा करनी चाहिए और उनके साथ नीतिनियम तय करने के बाद ही उनके आधार पर पुनर्गठन की प्रक्रिया आरंभ करनी चाहिए। पुनर्गठन करना ही है लेकिन नियमानुसार न्यायिक तरीके से तो हो। यहाँ प्रस्तावक ने स्वयं ही नियम बनाकर लिख दिए हैं जो अनुचित है। नीतिनियम पुख्ता चर्चा और आमसहमति से तय होने चाहिए। बिना नीतिनियम वर्तमान ध्वजवाहकों का कार्यकाल निर्धारित नहीं हो सकता, न ही भविष्य का कार्यकाल निर्धारित हो सकता है। आखिर ध्वजवाहक बनने/बनाने की इतनी जल्दी क्यों? कुछ समय के लिए धैर्य नहीं रख सकते?
  • आपने लिखा है कि कुछ सदस्य कहीं और चर्चा करके आये और सबकुछ तय करके आये ये अच्छी बात है! मतलब इस चर्चा में भी सब पूर्व निर्धारित ही है। जब इस बात का आधार बनाकर, आपकी इस टिप्पणी से प्रेरणा लेकर ग्रान्ट प्राप्ति जैसे उद्देश्य से ही यहाँ आने वालें सदस्य मिलकर अपना एक दल बनालेंगे और कहीं और से सबकुछ तय करके अपने निजी हितों की पूर्ति के लिए सब चलाएंगे तब याद कीजियेगा कि इस प्रकार की प्रवृत्ति की नींव आप रख रहे हैं आज।
  • आप ध्वजवाहक तो बन भी जाएंगे। इसमें मेरी कोई हार नहीं होगी। न तो मुझे कोई ग़ैरलाभ होगा। सत्य की, नीति की हार होगी। इसे अधःपतन की शुरुआत मानें।--आर्यावर्त (वार्ता) 04:15, 27 अप्रैल 2019 (UTC)
@आर्यावर्त: जी, अकेले आपके कहने से न तो हिंदी विकिपीडिया का पतन होगा न ही उत्थान। अतः कोई भी अनुमान न लगायें। फिलहाल आप भी धैर्य रखकर अन्य दो झंडाबरदारों की प्रतिक्रिया का इंतजार करें। मैं भी दोनों महोदयों की चुप्पी का अंदाजा लगाकर धर्म-अधर्म, उत्थान-पतन का लेक्चर दे सकता हूँ लेकिन इन सब बातों का यहाँ कोई अर्थ नहीं है। इसके अतिरिक्त आप बार बार दोनों ही महानुभवों की अनुपस्थिति का हवाला दे रहे हैं इसलिये आपसे पूछना चाहता हूँ कि क्या आपको यह पहले से पता है कि दोनों जने कुछ नहीं बोलने वाले हैं?Prongs31 09:26, 27 अप्रैल 2019 (UTC)
@SM7: जी, पूर्व झंडाबरदार ग्रुप के संस्थापक सदस्य हैं। उस समय इस कार्य के लिए कोई आगे ही नहीं आ रहा था। झंडा पकड़वाने वाले अधिक थे, पकड़ने वाला कोई नहीं था। जैसे तैसे तीन सदस्यों ने हामी भरी, सो झंडा हाथ में थमा दिया गया। गिरते पड़ते जो कुछ भी किया उसका कुछ सकारात्मक परिणाम यह है कि अब काफी लोग इसमें भाग ले रहे हैं। किसी की मोनोपोली न रहे इसके लिए अति आवश्यक है कि समय समय पर बदलाव होता रहे। आशा है कि सक्रिय लोगों के जुड़ने से यह आंदोलन आुर गति पकड़ेगा। शुभकामनाओं सहित। --अनामदास 12:53, 27 अप्रैल 2019 (UTC)
@Anamdas: जी, पहली बात तो आप तीनों झंडाबरदार यह समझ लें कि यह आप लोगों के उद्द्यम का परिणाम/फल नहीं है कि और लोग इसमें रुचि ले रहे। वर्तमान स्थिति में यह अजीत जी के उद्यम के कारण हुआ है।
दूसरी बात यह कि बहुत हिचकिचाहट न हो तो आप तीनों स्वीकार कर लें कि झंडा पकड़ाने का कार्य उस वाट्स एप ग्रुप में हुआ था जिसे "आप" के संरक्षण में उस समय "समर्थन" करने/करवाने के अड्डे के रूप में इस्तेमाल किया जाता था (मैंने निजी तौर पर "समर्थन' के विरुद्ध अपने डेढ़ दिन बर्बाद किये थे, पर शायद किसी को समझ में नहीं आया)
तीसरी बात यह कि, जब तीनों वर्तमान झण्डाबरदार घालुये में चुने गए थे और इतने दिनों तक इस रोल में कोई तिनका तक न उखाड़े तो अब यह कहना कि उन्हें हटाने के लिए यह प्रस्ताव लाया गया है, बिल्कुल ही दुर्भावनाग्रस्त बात है। आप तीनों निकम्मा रहे और अब कोई नया चुनना चाहता, तो इसे "हटाना" कहेंगे?
आप चाहें तो झंडाबरदारों की स्वच्छ छवि का इस्तेमाल करते हुए दूसरों को (जिनका पेशा यही है) रायता फैलाने का मौक़ा दें। मुझे कोई आपत्ति नहीं।
प्रश्न मैंने यही पूछा था, क्योंकि मेरे विचार में आप तीनों झण्डाबरदार एक किस्म की लॉबिंग के तहत बने हैं, चुने हुए नहीं हैं। इस बार काम से कम चुनाव तो हो रहा। आप भी लड़ लें चुनाव में।
फिर नियम और इस एनजीओ के बाइलॉज भी बना लेंगे चर्चा करके की आगे क्या होगा --SM7--बातचीत-- 19:39, 27 अप्रैल 2019 (UTC)
@Prong$31: : आर्यावर्त जी द्वारा की गई विस्तृत चर्चा मैं पढ़ नहीं पाया हूँ। किन्तु उनके भावों से अवगत हूँ। संक्षेप में मेरी राय यह है कि समुदाय की सामूहिक राय व शक्ति किसी भी नियम/विनियम से ऊपर है, बल्कि उससे ऊपर इस प्रकल्प में कुछ भी नहीं। ध्वजवाहक मात्र समुदाय के सेवक हैं, मालिक नहीं। समुदाय सर्वोपरि है।--अनामदास 13:00, 27 अप्रैल 2019 (UTC)

हिंदी विकिमीडियन्स यूजरग्रुप के पुनर्गठन प्रस्ताव - के सम्बन्ध में[संपादित करें]

  1. हिन्दी विकिमीडिया यूज़र ग्रुप के पुनर्गठन/चुनाव की प्रक्रिया का प्रस्ताव लाने से पूर्व यह आवश्यक है कि इस बारे में नियम-विनियम तय कर लिया जाए एवं सहमति कर सुनिश्चित कर लिए जायें। तदोपरान्त वर्तमान यूज़र ग्रुप के अस्थायी अन्तराल २ वर्ष के दिनांक २६ जून को पूर्ण होने पर यूज़र ग्रुप द्वारा चुनाव की प्रक्रिया आरम्भ कर एक माह के भीतर परिणाम घोषित कर नये सदस्यों को कार्यभार ससम्मान सौंप दिया जाए, जैसा कि किसी भी संस्था या अन्य बहुत से यूज़र ग्रुप्स के चुनावों में पालन किये जाने वाली सामान्य प्रक्रिया होती है, और शायद सर्व साधारण को मान्य भी होगी।
  2. उपरोक्त प्रस्ताव पर नियमन प्रणाली तय करने पर पूर्ण सहमति है, किन्तु इस हेतु अर्हताओं तथा मापदण्डों पर पर्याप्त चर्चा एवं सहमति नितान्त आवश्यक है।
  3. वर्तमान सदस्य नामांकन प्रस्ताव चुनाव शैली से कुछ हट कर जाता प्रतीत हो रहा है, और हाँ यह ध्यातव्य हो कि यह हिन्दी विकिपीडिया प्रबन्धक चुनाव नहीं हैं, वरन सम्पर्क सूत्र (व्यक्ति) निर्धारण मात्र है। सम्पर्क सूत्रगण का प्रमुख कार्य फ़ाउण्डेशन एवं विकिपरियोजना सदस्यों के बीच एक कड़ी या सूत्र (इण्टरफ़ेस) का कार्य करना होता है।
  4. सदस्यगण कृपया इस बात पर ध्यान दें कि यूज़र ग्रुप पूर्णकाल सक्रिय रहा है जिसके हाल के आयोजनों में दिल्ली, कोलकाता सम्मेलन, आदि हैं। इस सम्बन्ध में पर्याप्त जानकारी यहाँ मिल जायेगी जो सर्व-सुलभ है।
  5. सदस्य आर्यवर्त जी की टिप्पणियों के बारे में कहना चाहूंगा कि न तो इनकी किसी भी टिप्पणी या सुझाव देने से पूर्व मेरी कोई इनसे चर्चा हुई है न कोई अन्य सम्पर्क। इनकी ये निजी राय है, जिसमें न मेरी स्वीकृति है न अस्वीकृति, किन्तु हाँ अधिकांश बिन्दु सहमति अवश्य मांगते हैं।
  6. जब निर्वाचन हेतु लेख कई कई माह तक प्रतीक्षारत रह सकते हैं, तो अभी कार्यकाल पूर्ण होने से पूर्व ऐसी कोई युद्धस्थिति प्रतीत नहीं होती है कि मात्र एक ध्वजवाहक प्रस्तुत होने व अन्य दो कि अनुपस्थिति में शीघ्रातिशीघ्र निर्णय ले लिया जाए।
  7. न तो कोई ध्वजवाहक त्यागपत्र दे रहा है, न यमलोक की राह को अग्रसर हुआ है, न ही कार्यकाल पूर्ण हुआ है तो नये पुनर्गठन के नामांकन की बिना वर्तमान ध्वजवाहकवर्ग की उपस्थिति के प्रक्रिया चलाये जाने का अर्थ समझ नहीं आया।
  8. २६ जून को वर्तमान २ वर्षीय कार्यकाल पूर्ण होने पर नये दल के गठन हेतु प्रक्रिया घोषित कर आरम्भ की जा सकती है, तथा एक माह के भीतर उसे पूर्ण कर नयी समिति को वर्तमान समिति द्वारा ससम्मान कार्यभार सौंपा जाये, जैसा की प्रथम बिन्दु में लिखा ही गया है।
  9. हाँ नियमों पर चर्चा अवश्य की जा सकती है एवं तय भी कर लेने चाहिये।
  10. अजीत जी को ध्वजवाहक दल के प्रतिनिधि रूप में बर्लिन अवश्य भेजा गया था, जिसके बारे में वे जानकारी देंगे, किन्तु यहाँ तो यूज़रग्रुप स्वयं उपस्थित है, अतः यहाँ किसी प्रतिनिधि की आवश्यकता प्रतीत नहीं होती, अतः चुनाव प्रक्रिया ग्रुप स्वयं कर लेगा, उनके सहायक रहने की आवश्यकता अवश्य होगी।
  11. अतः मेरा विचार प्रबन्धक रूप में तथा ध्वजवाहक रूप में यह है कि फ़िल्हाल इस चयन प्रक्रिया को छोड़ कर चुनाव नियमावली तय कर लें। तदोपरान्त बिन्दु १ के अनुसार चुनाव प्रक्रिया का पालन करें। आशा है यह सर्वमान्य होगा।
आशीष भटनागरवार्ता 19:23, 28 अप्रैल 2019 (UTC)

नमस्ते आशीष जी! जब निर्णय की घड़ी आई है तो आप पुनः नए सिरे से प्रक्रिया शुरु करने की बात कर रहे हैं? क्या आप भी चाहते हैं कि वर्तमान ध्वजवाहकों के प्रति असंतोष को हटाने के प्रस्ताव के जरिए सामने लाया जाय। क्या हम मतदान के जरिए आपका कार्यकाल तत्काल समाप्त करने का प्रस्ताव लेकर आएं। क्या सदस्य समूह के नाम पर हुई करतूतों का सार्वजनिक आख्यान किया जाय? सुयश जी के इजरायल, भोपाल, दिल्ली, मऑरिशस के कर्म के उत्तरदायित्व से आप स्वयं को क्या सुरक्षित रख पाएंगें? जो आयोजक या प्रतिभागी होकर वर्ष भर तक अपनी रपटें शामिल नहीं करते क्या उन्हें बचाने में आप अकर्त्वय नहीं किए जा रहे हैं? क्या इन जिम्मेवारियों से आप स्वयं को मुक्त सिद्ध कर सकते हैं? ऐसे में जो लोग आगे बढ़कर बिना कुकृत्यों पर बहस किए हुए सहजता से विकि हित में सदस्य समूह का कार्य आगे बढ़ाना चाहते हैं उन्हें रोकने की कोसिश कितना उचित है? इसपर आप पुनः विचार कर लें। मेरे लिए तो अप्रैल और जून के परिवर्तन में या निर्वाचन में कोई फर्क नहीं हो सकता है। लेकिन आप पता नहीं क्या आशा कर रहे हैं। मुझे तो ऐसी स्थिति में प्रबंधक पद भी त्यागने में एक पल का समय नहीं लगेगा। संपर्क सूत्र बने रहने की आपको क्या जिद है वह भी दो माह के लिए यह मेरी समझ से परे है। नीचे आपके बिंदुओं पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहा हूँ- 1.हिन्दी विकिमीडिया यूज़र ग्रुप के पुनर्गठन/चुनाव की प्रक्रिया का प्रस्ताव लाने से पूर्व यह आवश्यक है कि इस बारे में नियम-विनियम तय कर लिया जाए एवं सहमति कर सुनिश्चित कर लिए जायें। तदोपरान्त वर्तमान यूज़र ग्रुप के अस्थायी अन्तराल २ वर्ष के दिनांक २६ जून को पूर्ण होने पर यूज़र ग्रुप द्वारा चुनाव की प्रक्रिया आरम्भ कर एक माह के भीतर परिणाम घोषित कर नये सदस्यों को कार्यभार ससम्मान सौंप दिया जाए, जैसा कि किसी भी संस्था या अन्य बहुत से यूज़र ग्रुप्स के चुनावों में पालन किये जाने वाली सामान्य प्रक्रिया होती है, और शायद सर्व साधारण को मान्य भी होगी।

यह प्रस्ताव है या आदेश? प्रस्ताव है तो मेरा मत विरोध का है। आदेश है तो मेरा प्रश्न होगा कि यह अधिकार आपको मिला कैसे? अबतक आप कहाँ थे। मॉरीशस यात्रा में आप शामिल थे किंतु उसकी रपट पर उठाए प्रश्नों का उत्तर देने में सुयश जी के पास समय न होने के तर्क से आपने कभी असहमति क्यों नहीं प्रकट की। आप उनके साथ अन्य ऑनलाइन माध्यमों में सक्रिय रहे तब भी आपने साथी को सही मार्ग चुनने की सलाह क्यों नहीं दी? स्वयं उन आपत्तियों का उत्तर क्यों नहीं दिया? ऐसे में यदि समुदाय ने तत्काल नए ध्वजवाहक बनाने का निश्चय कर लिया है तो आपको परेशानी क्यों हो रही है?

2.उपरोक्त प्रस्ताव पर नियमन प्रणाली तय करने पर पूर्ण सहमति है, किन्तु इस हेतु अर्हताओं तथा मापदण्डों पर पर्याप्त चर्चा एवं सहमति नितान्त आवश्यक है।

क्या आपके निर्वाचन में अपनाए गे नियमों से ये नियम बेहतर नहीं हैं? या ये प्रक्रिया पूर्व की प्रक्रिया से बेहतर नहीं है? क्या हम और बेहतर प्रक्रिया के विकास की ओर उन्मुख नहीं हैं? क्या सहमति का अर्थ १००% सहमति है? क्या ७०%-८०% लोगों का एक प्रस्ताव के पक्ष में मतदान आपको सहमति नहीं लगता है? क्या आप वर्तमान स्थिति में कभी १००% सहमति हासिल कर सकते हैं॥ यदि नहीं तो क्या आपने स्वयं को हमेशा ध्वजवाहक बनाए रखने की सोची है?

3.वर्तमान सदस्य नामांकन प्रस्ताव चुनाव शैली से कुछ हट कर जाता प्रतीत हो रहा है, और हाँ यह ध्यातव्य हो कि यह हिन्दी विकिपीडिया प्रबन्धक चुनाव नहीं हैं, वरन सम्पर्क सूत्र (व्यक्ति) निर्धारण मात्र है। सम्पर्क सूत्रगण का प्रमुख कार्य फ़ाउण्डेशन एवं विकिपरियोजना सदस्यों के बीच एक कड़ी या सूत्र (इण्टरफ़ेस) का कार्य करना होता है।

क्या यह चुनाव से अलग जाता सबको प्रतीत हो रहा है या अपनी और दो-तीन लोगों की राय को आपने सबकी राय मान ली है? कोई भी किसी का भी नामांकन कभी भी कर सकता हो इतनी छूट तो चुनाव में भी नहीं मिलती। यदि आपकी नजर में कोई योग्य व्यक्ति संपर्क सूत्र बनने से छूट रहा हो तो जरूर उसे नामांकित करें। लेकिन अपनी राय को क्या निर्णय भी मानना आवश्यक है?

4.सदस्यगण कृपया इस बात पर ध्यान दें कि यूज़र ग्रुप पूर्णकाल सक्रिय रहा है जिसके हाल के आयोजनों में दिल्ली, कोलकाता सम्मेलन, आदि हैं। इस सम्बन्ध में पर्याप्त जानकारी यहाँ मिल जायेगी जो सर्व-सुलभ है।

हिंदी विकि से सर्वाधिक और निरंतर सक्रिय रहने वाले अनुनाद जी भी ध्वजवाहक जैसी किसी भी चिज से अनभिज्ञता जता चुके हैं? क्या यह भी सक्रियता का एक प्रमाण नहीं है? मुझे हिंदी विकि युजर ग्रूप के अलग प्रकल्प होने और सुयश जी के उसके व्यूरोक्रैट होने का भी पता चला। इसी नाते वे स्वयं को हिंदी के व्यूरोक्रैट भी बताते रहे हैं और बिना चौपाल पर किसी को सूचित किए अनेक स्थलों पर अपने को हिंदी विकि के चौपाल से समर्थन पा चुके प्रतिनिधि बना चुके हैं। क्या आप इसे भी सक्रियता नहीं कहेंगें?

5.सदस्य आर्यवर्त जी की टिप्पणियों के बारे में कहना चाहूंगा कि न तो इनकी किसी भी टिप्पणी या सुझाव देने से पूर्व मेरी कोई इनसे चर्चा हुई है न कोई अन्य सम्पर्क। इनकी ये निजी राय है, जिसमें न मेरी स्वीकृति है न अस्वीकृति, किन्तु हाँ अधिकांश बिन्दु सहमति अवश्य मांगते हैं।

आप जैसा कहते हैं वैसा मान लेने में मुझे कोई आपत्ति नहीं है। किंतु क्या फिर हम आपके बारे में भी वही राय बनाएं जो सुयश और योगेश जी के बारे में बना चुके हैं?

6.जब निर्वाचन हेतु लेख कई कई माह तक प्रतीक्षारत रह सकते हैं, तो अभी कार्यकाल पूर्ण होने से पूर्व ऐसी कोई युद्धस्थिति प्रतीत नहीं होती है कि मात्र एक ध्वजवाहक प्रस्तुत होने व अन्य दो कि अनुपस्थिति में शीघ्रातिशीघ्र निर्णय ले लिया जाए।

शीघ्र निर्णय लेने में समस्या क्या है? देर करके आप क्या कर लेंगें जो इतने दिनों में नहीं किया? क्या यह नई प्रक्रिया को रोकने की कोशिश मात्र नहीं है? कहीं बार-बार अनुपस्थिति का तर्क कुछ ढकने का प्रयास तो नहीं है?

7.न तो कोई ध्वजवाहक त्यागपत्र दे रहा है, न यमलोक की राह को अग्रसर हुआ है, न ही कार्यकाल पूर्ण हुआ है तो नये पुनर्गठन के नामांकन की बिना वर्तमान ध्वजवाहकवर्ग की उपस्थिति के प्रक्रिया चलाये जाने का अर्थ समझ नहीं आया।

विकि सदस्यों में सदस्य समूह के कार्यपद्धति के प्रति असंतोष है। अब भी यदि आप यह नहीं समझे हैं तो क्या हटाए जाने का प्रस्ताव लाने पर समझेंगें?

8.२६ जून को वर्तमान २ वर्षीय कार्यकाल पूर्ण होने पर नये दल के गठन हेतु प्रक्रिया घोषित कर आरम्भ की जा सकती है, तथा एक माह के भीतर उसे पूर्ण कर नयी समिति को वर्तमान समिति द्वारा ससम्मान कार्यभार सौंपा जाये, जैसा की प्रथम बिन्दु में लिखा ही गया है।

वर्तमान ध्वजवाहकों का रवैया देखते हुए क्या यह बेहतर नहीं है कि आपके प्रस्ताव को स्वीकार करने के बजाय वर्तमान निर्वाचन प्रक्रिया को पूर्ण घोषित कर काम करने योग्य सदस्यों को उचित दायित्व सौंप दिया जाय?

9.हाँ नियमों पर चर्चा अवश्य की जा सकती है एवं तय भी कर लेने चाहिये। 10.अजीत जी को ध्वजवाहक दल के प्रतिनिधि रूप में बर्लिन अवश्य भेजा गया था, जिसके बारे में वे जानकारी देंगे, किन्तु यहाँ तो यूज़रग्रुप स्वयं उपस्थित है, अतः यहाँ किसी प्रतिनिधि की आवश्यकता प्रतीत नहीं होती, अतः चुनाव प्रक्रिया ग्रुप स्वयं कर लेगा, उनके सहायक रहने की आवश्यकता अवश्य होगी।

ग्रूप को यह अधिकार किसने दे दिया कि वह अपना निर्वाचन करने का तरीका तय करे। निर्वाचन का प्रस्ताव हिंदी विकि प्रबंधक द्वारा लाया गया है। किसी सदस्य द्वारा भी लाया जा सकता था? सदस्यों के इस अधिकार को छीनने का अधिकार समूह को दिया किसने? आपकी यह टिप्पणी क्या यह सिद्ध नहीं करती है कि उसने स्वयं को आम सदस्यों से ऊपर की कोई संस्था समझ लिया है? और क्या ऐसे सदस्यों को जिम्मेवारी से मुक्त नहीं कर दिया जाना चाहिए?

11.अतः मेरा विचार प्रबन्धक रूप में तथा ध्वजवाहक रूप में यह है कि फ़िल्हाल इस चयन प्रक्रिया को छोड़ कर चुनाव नियमावली तय कर लें। तदोपरान्त बिन्दु १ के अनुसार चुनाव प्रक्रिया का पालन करें। आशा है यह सर्वमान्य होगा।

यह अमान्य है। आपकी तसल्ली के लिए मैं एक दूसरा प्रस्ताव दे रहा हूँ। पुनर्गठन प्रस्ताव की वैधता का निर्णय समुदाय पर छोड़ दिया जाय। नीचे अलग से प्रस्ताव की वैधता के लिए प्रस्ताव ला रहा हूँ। अनिरुद्ध! (वार्ता) 00:09, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

@आशीष भटनागर: जी नमस्ते। आपके द्वारा उपलब्ध कराए गए लिंक से यूजरग्रुप की सक्रिय गतिविधियों की जानकारी मिली। कृपया यूजरग्रुप की इस वेबसाइट के बारे में भी कुछ जानकारी प्रदान करें कि यह इस अवस्था में क्यों है? फाऊंडेशन की लैंग्वेज कमिटी ने हिंदी विकिस्रोत को स्वीकृति देने में विलंब इस कारण भी किया कि हिंदी के कई प्रकल्प डोमेन पाने के पश्चात निष्क्रिय हो गए और उसे संसाधनों का दुरुपयोग माना गया। सुयश जी इसी प्रकल्प पर कुल 4 संपादन कर 10 दायित्व धारण किए हुए हैं, बावजूद इसके प्रकल्प निष्क्रिय है। इसके बारे में समुदाय को कैसे नियोजित किया आप लोगों ने? --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 16:50, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

अनिरुद्ध कुमार[संपादित करें]

पहले संपर्क सूत्र के लिए मैं अनिरुद्ध जी का नाम प्रस्तावित करता हूँ।

स्वीकृति[संपादित करें]

मुझे यह उत्तरदायित्व स्वीकार है। अनिरुद्ध! (वार्ता) 14:08, 18 अप्रैल 2019 (UTC)

समर्थन[संपादित करें]

  1. प्रस्तावक के तौर पर समर्थन। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 06:21, 18 अप्रैल 2019 (UTC)
  2. Symbol support vote.svg समर्थन नीचे दिये कारण के अनुसार--Prongs31 16:40, 19 अप्रैल 2019 (UTC)
  3. Symbol support vote.svg समर्थन --Abhinav619 (वार्ता) 04:24, 20 अप्रैल 2019 (UTC)
  4. पूर्ण Symbol support vote.svg समर्थन--Raju Jangid (वार्ता) 05:22, 20 अप्रैल 2019 (UTC)
  5. Symbol support vote.svg समर्थन --अनुनाद सिंह (वार्ता) 05:56, 21 अप्रैल 2019 (UTC)
  6. Symbol support vote.svg समर्थन -- निलेश शुक्ला (वार्ता) 08:46, 22 अप्रैल 2019 (UTC)nilesh shukla
  7. Symbol support vote.svg समर्थन -- टिप्पणी अनुभाग में किए गए प्रश्नों के उत्तर से संतुष्ट हो मैं अनिरुद्ध जी को समर्थण देता हूँ। आपके अनुभव के प्रकाश में हिंदी विकि आगे बढ़ता रहे, यही कामना है। --अनामदास 10:26, 22 अप्रैल 2019 (UTC)
  8. Symbol support vote.svg समर्थन -- अह्मद निसार (वार्ता) 19:45, 23 अप्रैल 2019 (UTC)
  9. Symbol support vote.svg समर्थन -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 10:55, 26 अप्रैल 2019 (UTC)
  10. Symbol support vote.svg समर्थन Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  08:58, 27 अप्रैल 2019 (UTC)

विरोध[संपादित करें]

टिप्पणी[संपादित करें]

कृपया स्पष्ट करें कि क्या आप समझते हैं कि यूज़र ग्रुप के सम्पर्कसूत्र का कार्य विकिपीडिया पर प्रबंधन आदि से अलग है? क्या आप जानते हैं कि सम्पर्कसूत्र बनने पर आपको अपनी संपर्क जानकारी सार्वजनिक करनी होगी? क्या आप सम्मेलन, प्रशिक्षण इत्यादि कार्यों के आयोजन में रुचि रखते हैं/रखेंगे? --अनामदास 04:00, 20 अप्रैल 2019 (UTC)

आपके तीनों प्रश्नों का उत्तर हाँ है। किंतु संपर्क सूत्र का मुख्य कार्य फाउंडेशन और विकि संपादकों और प्रयोक्ताओं के बीच सूचनाओं के आदान-प्रदान में कड़ी का कार्य करना है। संवाद बिना कड़ी के भी संभव हो सकता है किंतु विकि फाउंडेशन यदि आयोजन संबंधी तथा अन्य मामलों में समुदाय से संपर्क करने में सुविधा के लिए कुछ लोगों को नियत करने की हमसे उम्मीद करता है तो उसमें हमें कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। इस नियत करने के तरीके को यदि हम अजीत जी के प्रयासों के जरिए अधिक व्यवस्थित बनाने जा रहे हैं तो इसमें सभी सदस्यों को अवश्य सहयोग करना चाहिए। इस वर्ष यह सहयोग मैंने दायित्व ग्रहण करने के लिए स्वयं को प्रस्तुत करके दिया है और अगले वर्षों में मतदान करके भी दूँगा। अनिरुद्ध! (वार्ता) 08:10, 22 अप्रैल 2019 (UTC)

संजीव कुमार[संपादित करें]

दूसरे संपर्क सूत्र के लिए मैं संजीव जी का नाम प्रस्तावित करता हूँ।

स्वीकृति[संपादित करें]

एक वर्ष नीति जैसे अच्छे सुझावों के साथ स्वीकृत।☆★संजीव कुमार (✉✉) 15:53, 18 अप्रैल 2019 (UTC)

समर्थन[संपादित करें]

  1. प्रस्तावक के तौर पर समर्थन। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 06:21, 18 अप्रैल 2019 (UTC)
  2. अनुभवी प्रबंधक होने के तौर पर मेरा पूर्ण समर्थन। --Raju Jangid (वार्ता) 13:42, 19 अप्रैल 2019 (UTC)
  3. Symbol support vote.svg समर्थन--Prongs31 16:42, 19 अप्रैल 2019 (UTC)
  4. Symbol support vote.svg समर्थन --Abhinav619 (वार्ता) 04:25, 20 अप्रैल 2019 (UTC)
  5. Symbol support vote.svg समर्थन -- निलेश शुक्ला (वार्ता) 08:48, 22 अप्रैल 2019 (UTC)nilesh shukla
  6. Symbol support vote.svg समर्थन -- अह्मद निसार (वार्ता) 19:46, 23 अप्रैल 2019 (UTC)
  7. Symbol support vote.svg समर्थन -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 10:55, 26 अप्रैल 2019 (UTC)
  8. Symbol support vote.svg समर्थन Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  08:59, 27 अप्रैल 2019 (UTC)
  9. Symbol support vote.svg समर्थन - यूसरग्रुप में आपकी मौजूदगी निश्चित ही विकिआंदोलन को एक नई दिशा प्रदान करेगी, एसा मेरा विश्वास है। शुभकामनाओं सहित। --अनामदास 12:40, 27 अप्रैल 2019 (UTC)

विरोध[संपादित करें]

टिप्पणी[संपादित करें]

कृपया स्पष्ट करें कि क्या आप समझते हैं कि यूज़र ग्रुप के सम्पर्कसूत्र का कार्य विकिपीडिया पर प्रबंधन आदि से अलग है? क्या आप जानते हैं कि सम्पर्कसूत्र बनने पर आपको अपनी संपर्क जानकारी सार्वजनिक करनी होगी? क्या आप सम्मेलन, प्रशिक्षण इत्यादि कार्यों के आयोजन में रुचि रखते हैं/रखेंगे? --अनामदास 03:59, 20 अप्रैल 2019 (UTC)

@संजीव कुमार: :व्यक्तिगत तौर पर मैं आपके संभावित उत्तर जानता/समझता हूँ, किन्तु सामुदायिक स्वास्थ्य हेतु यह उचित है कि अंधाधुंध मतदान व समर्थन/विरोध की बजाय तार्किक प्रक्रियाओं को बढ़ावा दिया जाए, नए सदस्य भी स्वस्थ प्रक्रियाएं अपनाएँ। अतः निवेदन है कि कृपया औपचारिक उत्तर अवश्य दें ताकि अन्य सदस्यों को भी निर्णय लेने में सहायता हो।--अनामदास 10:35, 22 अप्रैल 2019 (UTC)

@अनामदास जी: हाँ, मुझे यह ज्ञात है कि यूजर ग्रूप और विकिपीडिया प्रबन्धन में बहुत अन्तर है। बहुत सारे डर भी हैं जो सुयश जी ने मुझे समझाये थे। जानकारी सार्वजनिक करने की बात पर आपको पहले से ही ज्ञात है कि मेरे सम्पादन (खासकर शुरूआती) कोई भी मेरे जीवन अथवा अस्तित्व को समझ सकता है। वैसे भी मैंने कभी अपनी सार्वजनिक पहचान को छुपाया नहीं है। व्यक्तिगत जीवन को को सार्वजनिक करना हो तो बात अलग होती है। प्रशिक्षण कार्यों में मैं पहले से रुचि रखता रहा हूँ लेकिन सम्मेलनों में मैं अभी भी रूचि नहीं रखता। मेरा अनुमान अब भी यह है कि सम्मेलन जब भी हो, उसकी सभी चर्चायें ऑनलाइन होनी चाहिये जिससे सभी सदस्य उन्हें सुन सकें। वैसे मेरे लिए यह जानना भी रूचिकर होगा कि आप मुझसे कौनसे उत्तर की प्रतीक्षा कर रहे थे?☆★संजीव कुमार (✉✉) 19:28, 23 अप्रैल 2019 (UTC)
@संजीव कुमार: : हमारे यहाँ अभी तक बिना कुछ सोचे समझे बिना पूछे बताए मात्र अपनी पसंद के आधार पर समर्थन विरोध व्यक्त करने की परंपरा बनी हुई है। आपसे प्रश्न पूछने का मेरा उद्देश्य मात्र औपचारिकता के तौर पर ही था, ताकि नए सदस्य यह सब देख सीख सकें और अन्ध समर्थन-विरोध की बजाय तार्किक चर्चा करके मत व्यक्त करें। यूसरग्रुप में आपकी मौजूदगी निश्चित ही विकिआंदोलन को एक नई दिशा प्रदान करेगी, एसा मेरा विश्वास है। शुभकामनाओं सहित। --अनामदास 12:39, 27 अप्रैल 2019 (UTC)

पीयूष मौर्य[संपादित करें]

तीसरे संपर्क सूत्र के लिए मैं पीयूष जी का नाम प्रस्तावित करता हूँ।

स्वीकृति[संपादित करें]

समर्थन[संपादित करें]

  1. प्रस्तावक के तौर पर समर्थन। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 06:21, 18 अप्रैल 2019 (UTC)
  2. Symbol support vote.svg समर्थन हिन्दी विकि यूजर ग्रुप पिछले दो वर्षों से असक्रिय पड़ा है। अब आवश्यक है कि इसके अंदर परिवर्तन हों।--Prongs31 09:03, 18 अप्रैल 2019 (UTC)
  3. --Symbol support vote.svg समर्थन--Sushma Sharma (वार्ता) 12:54, 19 अप्रैल 2019 (UTC)
  4. Symbol support vote.svg समर्थन --Abhinav619 (वार्ता) 04:25, 20 अप्रैल 2019 (UTC)
  5. पूर्ण Symbol support vote.svg समर्थन--Raju Jangid (वार्ता) 05:22, 20 अप्रैल 2019 (UTC)
  6. Symbol support vote.svg समर्थन --अनामदास 08:31, 20 अप्रैल 2019 (UTC)
  7. Symbol support vote.svg समर्थन -- निलेश शुक्ला (वार्ता) 08:00, 22 अप्रैल 2019 (UTC)NILESH SHUKLA
  8. Symbol support vote.svg समर्थन -- अह्मद निसार (वार्ता) 19:46, 23 अप्रैल 2019 (UTC)
  9. Symbol support vote.svg समर्थन -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 10:56, 26 अप्रैल 2019 (UTC)
  10. Symbol support vote.svg समर्थन Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  09:00, 27 अप्रैल 2019 (UTC)

विरोध[संपादित करें]

टिप्पणी[संपादित करें]

कृपया स्पष्ट करें कि क्या आप समझते हैं कि यूज़र ग्रुप के सम्पर्कसूत्र का कार्य विकिपीडिया पर प्रबंधन आदि से अलग है? क्या आप जानते हैं कि सम्पर्कसूत्र बनने पर आपको अपनी संपर्क जानकारी सार्वजनिक करनी होगी? क्या आप सम्मेलन, प्रशिक्षण इत्यादि कार्यों के आयोजन में रुचि रखते हैं/रखेंगे? --अनामदास 04:00, 20 अप्रैल 2019 (UTC)

आपके तीनों सवाल के जवाब 'हाँ' हैं।--हिंदुस्थान वासी वार्ता 04:43, 20 अप्रैल 2019 (UTC)

परिणाम[संपादित करें]

आदरणीय ध्वजवाहक समूह (श्री @आशीष भटनागर:जी, श्री @Anamdas:जी एवं श्री @Suyash.dwivedi: जी)! इस प्रस्ताव को आज 10 दिन पूरे हो चुके हैं। समुदाय का अपेक्षित समर्थन भी प्राप्त हो चुका है। एक ध्वजवाहक ने अपनी टिप्पणियों के द्वारा प्रस्ताव और प्रत्याशियों का समर्थन भी किया है। प्रस्ताव की तटस्थता संबंधी एक साथी सदस्य की टिप्पणियों का यथोचित उत्तर भी दिया गया, जिसके बाद उन्होंने तटस्थता के मुद्दे पर अपनी गलती स्वीकार की और उसे समाप्त माना। उन्हें प्रक्रिया से समस्या है और कुछ मतभेद भी जिनका हमें सम्मान करना चाहिए। यह विकिपीडिया या किसी भी सामुदायिक प्रकल्प के लोकतांत्रिक होने का प्रमाण है कि मतभेदों के साथ भी हम साथ आकर कार्य कर सकते हैं। एक ध्वजवाहक साथी सदस्य (@Anamdas:) ने तो यहाँ तक कहा कि
"समुदाय की सामूहिक राय व शक्ति किसी भी नियम/ विनियम से ऊपर है, बल्कि उससे ऊपर इस प्रकल्प में कुछ भी नहीं"
। हालांकि हमेंं पुनर्गठन के पश्चात महीने भर के भीतर यूजरग्रुप संबंधी ठोस नियम/ विनियम बनाने चाहिए। मासिक/ पाक्षिक लक्ष्य निर्धारित होने चाहिए एवं विकिसदस्यों के बीच रुचि और क्षमतानुसार कार्यदल का वितरण होना चाहिए। इस प्रकार हम विकिपीडिया की 12 मासीय कार्ययोजना एवं विकिमीडिया 2030 संभावना दस्तावेजों की दिशा में व्यवस्थित रूप से कार्य कर सकेंगे, साथ ही शिथिल पड़े परियोजनाओं और बंधु प्रकल्पों पर भी अधिक केंद्रित होकर कार्य कर सकेंगे। इसलिए अन्य दो ध्वजवाहकों (@आशीष भटनागर: जी एवं @Suyash.dwivedi: जी)से पुनः निवेदन है कि 24 घंटे के भीतर अपनी टिप्पणी देकर इस चर्चा को बंद कर परिणाम घोषित करें। धन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 13:24, 28 अप्रैल 2019 (UTC)

प्रक्रिया का उल्लंघन एक गम्भीर समस्या है। सदस्य के द्वारा उठाए गए मुद्दों का निराकरण प्रस्तुत किया जाय, तभी हम कह सकते हैं कि मतभेद का सम्मान किया जा रहा है। --अनुनाद सिंह (वार्ता) 13:35, 28 अप्रैल 2019 (UTC)
@अनुनाद सिंह: जी, प्रक्रिया अभी तक तय थी ही नहीं। उसे ही तो नियत करना है। चयन की प्रक्रिया समुदाय के विवेक और कार्यप्रणाली के सहजबोध पर निर्भर है। सदस्य द्वारा उठाए गए मुद्दों का निराकरण ऊपर बिंदुवार किया गया है। आप भी बताएं कि किस बिंदु का निराकरण स्पष्ट नहीं हुआ तो मैं पुनः कोशिश करूँ। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 15:41, 28 अप्रैल 2019 (UTC)
@अजीत कुमार तिवारी और अनुनाद सिंह: जी,हाँ ये सही है कि अजीत जी प्रस्तावक है और प्रत्याशी भी है ऐसा मानना मेरी गलती है और इस विषय में मैंने क्षमा की प्रार्थना भी की है। इसका तात्पर्य ये नहीं है कि मेरी और से गलती का स्वीकार करके चर्चा समाप्त कर दी गई है। मेरे द्वारा उठाए गए अनेकों प्रश्नों का समाधान हुआ ही नहीं है।
  • जिस ध्वजवाहक महोदय ने आपको ये कहाँ कि "समुदाय की सामूहिक राय व शक्ति किसी भी नियम/ विनियम से ऊपर है, बल्कि उससे ऊपर इस प्रकल्प में कुछ भी नहीं"; उसी महोदय ने मुझे ये भी कहाँ था कि, "कोई ग्रान्ट में छोटा मोटा ग़फ़ला करे तो आपको क्या समस्या है? विकि को तो लाभ होता है ना?" उसी महोदय द्वारा मुझे कुछ दिन पूर्व ही ध्वजवाहकों को हटाकर दूसरों को चयनित करने का प्रस्ताव लाने के लिए कहाँ गया था। अब ये प्रस्ताव आपके (अजीत जी) द्वारा आया है।
  • जब कोई नियम बने ही नहीं है तो प्रक्रिया के पूर्व नियम बनाने आवश्यक हैं। नियमों के बिना प्रक्रिया हो ही नहीं सकती। आपने जो नियम लिख दिए उसके बारे में न तो कोई चर्चा हुई है और नहीं चर्चा आमंत्रित की गई है। ये अमान्य है।
  • नियमावली बनाने के बाद ही ये प्रक्रिया हो सकती है।
  • वर्तमान ध्वजवाहकों का कार्यकाल अभी पूरा नहीं हुआ है, न ही तीनों में से किसी भी ध्वजवाहक ने इस्तीफा दिया है, न ही कोई ध्वजवाहक अमान्य घोषित हुआ है। न ही वर्तमान ध्वजवाहकों को हटाने के लिए कोई प्रस्ताव आया है जिनके ऊपर आम सहमति बनी हो। अतः वर्तमान ध्वजवाहक अभी बरकरार है। उनका कार्यकाल समाप्त होने के बाद ही नया चुनाव हो सकता है।
  • ध्वजवाहकों को चुनने के लिए भी नीतिनियम तय होने चाहिए, चुनाव प्रक्रिया निर्धारित होनी चाहिए। कार्यकाल निर्धारित होना चाहिए। कार्य भी निर्धारित होना चाहिए। केवल प्रथम बार ऐसा हो सकता है कि ध्वजवाहक तय होने के बाद नीतिनियम बनाए जाए। अब ये दूसरा चुनाव है जिससे पहले नीतिनियम बनाने आवश्यक है। अभी ये प्रक्रिया अमान्य है।
  • प्रस्तावक ने स्वयं ही कुछ नीतिनियम मनमर्जी से लिख दिए हैं। इस विषय में न तो कोई चर्चा हुई है, न आम सहमति बनी है, न ही चर्चा आमंत्रित की गई है। ये अमान्य है।
  • प्रस्तावक द्वारा अपने मन से ही निर्धारित करके तीन नाम नामांकित किये गए हैं और किसी भी अन्य सदस्य को नामांकन का कोई मौका नहीं दिया गया है। ये अमान्य है।
  • प्रस्तावक द्वारा स्वयं ही निर्णायक होकर घोषित कर दिए गए नियम द्वैषपूर्ण हैं क्योंकि अमुक अमुक व्यक्ति पुनः और अमुक कभी भी ध्वजवाहक न बने ऐसा प्रावधान किया गया है। ये अमान्य है।
  • नामांकन प्रक्रिया में एक ही ध्वजवाहक की सहमति है। दो की नहीं है। बहुतमत ध्वजवाहक सहमत नहीं है। न ही ये प्रक्रिया ध्वजवाहक द्वारा हो रही है। ये अमान्य है।
  • अनामदास जी और प्रस्तावक ये दोनों कहीं और सबकुछ तय करके ही आये हैं। अनिरुदफ़ह जी की टिप्पणी से भी ये स्पष्ट होता है। ऐसी स्थिति में उनके द्वारा की गई ये प्रक्रिया अमान्य है।
  • अनामदास जी स्वयं मतदान प्रक्रिया में भाग ले चुके हैं। उम्मीदवारों के समर्थक है। प्रस्ताव के साथ भी उनकी साँठगाँठ है ऐसा मुझे लगता है। ऐसी स्थिति में उनके द्वारा लिया गया निर्णय तटस्थ नहीं परंतु उनके पक्ष में ही होगा। ये अमान्य है।
  • आपने लिखा है कि २४ घंटे में परिणाम घोषित करें, १० दिन हो गए हैं। अभी चर्चा अधूरी है और ऐसा कोई नियम नहीं कि दस दिन में चर्चा समाप्त की जाए। महीने के लिए भी चल सकती है। आपको इतनी जल्दी क्यों है?
  • आप या तो मेरे द्वारा प्रस्तुत किए गए तथ्यों का स्वीकार कीजिए या तो किसी और तथ्य से उन्हें काट दीजिए। तथ्यों को अनदेखा नहीं किया जा सकता।--आर्यावर्त (वार्ता) 17:03, 28 अप्रैल 2019 (UTC)
@आर्यावर्त: जी, आप जिसके भी हवाले से बात कहें उसका लिखित कोई प्रमाण भी दें। जैसे सम्मेलन संबंधी आपके द्वारा भेजे गए सभी ईमेल प्रमाण हैं कि आप ऑफविकि क्या बोलते हैं और ऑनविकि क्या? उन सभी ईमेल्स की ड्राफ्ट हम समुदाय के सामने रखेंगे आर्थिक ब्यौरों के साथ। आपके सभी जवाब बिंदुवार दिए जा चुके हैं। सवाल दुहराने से उनके जवाब बदल नहीं जाएंगे। अब आशीष जी और सुयश जी के उत्तर के बाद ही कुछ कहना उचित होगा। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 17:36, 28 अप्रैल 2019 (UTC)

योगेश जी! आपके फरवरी के बाद के योगदान इस योग्य नहीं हैं कि आपके आरोपों को गंभीरता से लिया जाय। हाँ आपके अनेक कार्य ऐसे हैं जिन्हें गंभीरता से लेने की जरूरत है। उनमें शामिल है-

  1. विकि सदस्यों के पारस्परिक सहमति के प्रयासों को षडयंत्र कहना,
  2. अपने व्यक्तिगत द्वेष को सार्वजनिक मत पर अधिमान देना,
  3. कोलकाता सम्मेलन के बिल भुगतान में प्रक्रिया पालन करने के बजाय मनमानी करना और बिना बिल के भुगतान माँगना तथा इसके लिए शिकायतें करना,
  4. स्वयं कुछ उपयोगी न करना और जो सजग और सक्रीय हैं उनके मार्ग में अनावस्यक रोड़े बनना
  5. प्रबंधक होकर बिना इतिहास देखे पृष्ठों को हटाना, संपादित करना और सदस्यों को चेतावनी देना।
  6. मेटा पर स्वयं को प्रबंधक पद से मुक्त करने का निवेदन करना तथा २४ घंटे के भीतर फिर स्वयं ही प्रस्ताव वापस लेना और इसके लिए आशीष जी से संवाद जैसे मिथ्या तर्क का सहारा लेना।

आप भरोसा रखीय। जब आपके विरोध इस योग्य हो जाएंगें हम उसके आधार पर उम्मीदवारी ही नहीं विकि भी छोड़ सकते हैं किंतु वर्तमान स्थिति में आप विरोध करने के बजाय विरोध सहने की पात्रता हासिल कर चुके हैं। आपके विरोध के कारण लगभग १२-१३ सदस्यों के बीच की सहमती का गला घोंटना अब किसी के लिए भी संभव नहीं है। यह प्रस्तावक की विनम्रता है कि वे पूर्व ध्वजवाहकों से निर्णय की घोषणा चाहकर सामुदायिक स्वास्थ्य को बेहतर रखना चाहते हैं। मैं भी सम्मानित सदस्यों के सम्मान की रक्षा चाहता हूँ। किसी भी सदस्य के सम्मान की रक्षा सामूहिक मत की स्वीकृति में ही संभव है। व्यक्तिगत हठ या मेरी नहीं मानोगे तो प्रक्रिया नहीं चलेगी का रवैया केवल संबंधित सदस्य का ही नुकसान कर सकती है। मेरे बजाय किसी और के चुनाव का रास्ता तो आज भी खुला है और सबके चाहने पर कभी भी खुल जाएगा। मैं इसके लिए कार्यकाल पूरा करने, प्रक्रिया अपनाने जैसी बात का सहारा कभी नहीं लूँगा। लेकिन इस प्रक्रिया को अमान्य ठहराने की कोशिश करने वालों को मेरे सख्त प्रतिरोध का सामना करना पड़ेगा। तबतक जबतक की विकि सदस्यों की सार्वजनिक आम राय इस प्रस्ताव के रिरुद्ध न हो जाय। अनिरुद्ध! (वार्ता) 18:01, 28 अप्रैल 2019 (UTC)

तीनों ध्वजवाहकों के दायित्वत्याग के साथ प्रस्तावित तीनों सदस्यों का संपर्क सूत्र नामांकन सफल घोषित किया जाता है। आशा है कि निर्वाचित सदस्य पूर्ण सत्यनिष्ठा और पारदर्शिता के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे। साथ ही यूजरग्रुप के नियम-विनियम बनाने की प्रक्रिया को निर्वाचित सदस्य औपचारिक दायित्व ग्रहण के साथ ही आरंभ करें। निवर्तमान ध्वजवाहकों से निवेदन है कि प्रक्रिया हस्तांतरण की औपचारिकता शीघ्र पूरी कर यूजरग्रुप नियम-विनियम और 12 मासीय कार्ययोजना निर्माण में सहयोग करें। धन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 17:12, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

पुनर्गठन प्रस्ताव की वैधता का निर्णय[संपादित करें]

प्रिय विकि मित्रों? अजीत जी के सदस्य समूह को पुनर्गठित करने का प्रस्ताव विकि हित में लिया गया निर्णय है और विकि परंपराओं और विकि भावना के अनुरूप है। यही मानकर और समझकर मैने भी अपनी संपर्क सूत्र बनने की स्वीकृती दी थी। १० दिनों का मतदान हो चुका है। अबतक १० से अधिक सदस्यों का प्रत्यक्ष समर्थन इस प्रक्रिया को मिल चुका है। किंतु तीन महत्वपूर्ण सदस्य इस प्रस्ताव के विरुद्ध हैं। हम इस प्रस्ताव पर पुनः एक बार सदस्यों की राय माँगते हैं जिससे सामूहिक विवेक की सत्ता पुनः निश्चित की जा सके और अपने मत को सामूहिक मत समझने के ब्रम से बचा जा सके। प्रश्न - क्या अजीत जी द्वारा लाया गया सदस्य समूह के पुनर्गठन का प्रस्ताव तथा उसपर हुआ मतदान उचित या वैध है?

यदि अधिक सदस्य प्रस्ताव को वैध मानेंगें तो अजीत जी ऊपर के मतदान का निर्णय घोषित करेंगें और उम्मीदवार सदस्य नए संपर्क सूत्र के रूप में १ वर्ष के लिए तत्काल प्रभाव से सक्रीय हो जाएंगें।
यदि सदस्य इस प्रस्ताव को अवैध मानेंगें तो पूर्व के ध्वजवाहक पूर्ववत सक्रीय रहेंगें तथा आशीष जी के मतानुसार २६ जून के बाद एक माह के भीतर नए नियमों के आधार पर निर्वाचन प्रक्रिया प्रारंभ करेंगें।
मतदान की योग्यता पूर्व प्रस्ताव में वर्णित योग्यता ही होगी। पिछले १२ माह में १००० से अधिक विकि प्रकल्प संपादन करने वाले नए सदस्य भी अपनी राय दे सकते हैं।

मतदान ७ दिनों तक चलेगा। ६ मई २०१९ को कोई भी इसका परिणाम घोषित कर सकता है। पूर्व प्रस्ताव के सभी पक्षों, प्रस्तावक, उम्मीदवार, मतदान करने वाले, प्रश्न करने वाले एवं अन्य सदस्यों से इस निर्णय प्रक्रिया में शामिल होने और उसे विकि हित में स्वीकार करने का निवेदन किया जाता है। अनिरुद्ध! (वार्ता) 00:39, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

हाँ! पुनर्गठन प्रक्रिया और मतदान उचित और वैध है[संपादित करें]

  1. Symbol support vote.svg समर्थन-- अनिरुद्ध! (वार्ता) 00:42, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  2. Symbol support vote.svg समर्थन मुझे इस प्रक्रिया के विरोध में लिखे गये सारे तर्क बेमानी लगते हैं तथा यह दो ध्वजवाहकों की पद पर रहने मात्र की लालसा दिखाते हैं। मैं @आशीष भटनागर: जी से पूछना चाहता हूँ यह 26 जून की तारीख कहा तय हुई है? क्या वे इस संबंध में कोई कड़ी प्रदान कर सकते हैं? मुझे आशीष जी भाषा में सुयश जी का पद से चिपके रहने का मोह स्पष्ट दिखाई देता हैं। चर्चा नियमों के बारे में अवश्य होनी चाहिये थी और प्रस्ताव को ध्यान से पढ़ा जाय तो अजीत जी ने एक खिड़की नियमों पर सुझाव के लिये भी खोल रखी थी। मगर सुयश जी द्वारा पहले तो आर्यावर्त जी से विरोध करवाना फिर लगभग वही बातें आशीष जी से कहलवाई। यह सब सामुदायिक स्वास्थ्य के खिलाफ लगता है। प्रक्रिया में लगभग 15 लोग सम्मिलित होकर राय व्यक्त कर रहे अथवा मत दे रहे उसमे महज दो लोगों और पीछे से मास्टरमाइंड द्वारा सारी चीज़ें मैनिपुलेट की जा रही हैं। मुझे लगता है कि अब चूंकि अनामदास जी इस्तीफा देने की इच्छा व्यक्त कर ही चुके हैं तो अन्य दो सदस्यों के विरुद्ध महाभियोग प्रस्ताव लाया जाए। इस प्रकार से स्वयं को ब्यूरोक्रेट घोषित करने वाले लोग प्रक्रिया को बाधित करें यह सही नहीं हैं। साथ मे मैं सुयश जी व आशीष जी दोनों से गुजारिश करता हूँ कि मेटा पर विश्व हिन्दी सम्मेलन के विषय में जवाब दें। शायद यही कारण है कि सुयश जी सीधे यहाँ विरोध नहीं कर रहे बल्कि अन्य सदस्यों से करवा रहे हैं। जब मैंने सवाल पूछा तो मुझपर निजी हमले भी किये गए मगर डेढ़ माह होने को हैं पूछे गए सवालों के जवाब नहीं दिए जा रहे। यह अपने आप मे दोनों ध्वजवाहकों की साख पर बड़ा प्रश्नचिह्न लगाता है।--Prongs31 10:53, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  3. Symbol support vote.svg समर्थन--Raju Jangid (वार्ता) 11:02, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  4. Symbol support vote.svg समर्थन -- काफी हद तक मैं सदस्य:Prong$31 जी के उक्त विचारों से सहमत हूँ। पुनश्च - समुदाय किसी भी नियमावली से ऊपर है। समुदाय सर्वोपरि है। इसे कभी न भूलें। --अनामदास 12:50, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  5. प्रस्तावक के तौर पर मैं समुदाय के मतदान को पूर्णतः वैध और उचित मानता हूँ। @Prong$31: जी के साथ सहमति के साथ ही यूजरग्रुप के डोमेन का एक लिंक चस्पा कर रहा हूँ। ध्वजवाहक बताएं कि यह वेबसाइट इस स्थिति में क्यों है? समुदाय के किन लोगों तक इसकी पहुंच है? --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 16:27, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  6. अवश्य सहमत। जब कोई पूर्व प्रक्रिया निर्धारित नहीं तो चौपाल से बेहतर क्या हो सकता। --SM7--बातचीत-- 17:41, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

समर्थन![संपादित करें]

Symbol support vote.svg समर्थन-- हालाँकि अब यहाँ "समर्थन" देने का कोई खास मक़सद नहीं, सिवाय इसके की मैं कुछ दिनों से चले आ रहे इस "चर्चा" में अपनी राय/टिप्पणी शामिल करना चाहता हूँ: बात कुछ यूँ है, की यूजर ग्रुप को मान्यता तो बहुत पहले मिल गयी थी, मगर सही मायनों में, मान्यता मिलने के बाद, इस यूजर ग्रुप को बनाने के मुख्य उद्देश्यों की दिशा में इसके "करता-धर्ताओं" ने, पदग्रहण करने के बाद कोई सरथक कदम नहीं, उठाए, हाँ, यूजर ग्रुप के झंडे के नीचे कुछ सम्मलेन अवश्य आयोजित किये गए, मगर, यूजर ग्रुप गठित करने का उद्देश्य, सम्मलेन के लिए झंडा बनना नहीं है अपितु, समुदाय को संगठित करना और हिंदी विकिप्रकल्पों में हो रहे काम को सुनियोजित रूप से प्रबंधित करना, तथा, सामुदायिक स्वस्थ को बरक़रार रखना तथा, हिंदी समुदाय को विकिमीडिया आंदोलन के भीतर एक संगठित पहचान दिलाना है। पिछले कुछ वर्षों से हिंदी विकी पर चले आ रही चीज़ें, जैसे, अप्रबन्धित हिंदी विकिप्रकल्प, हिंदी समुदाय का असंगठित होना, गुटबाज़ी, आपसी मतभेद, सदस्यों का दुराचरण, इत्यादि दिशाओं में यूजर ग्रुप कोई सार्थक कदम उठाने में विफल रहा है। यहाँ मैं इस बात को भी मानता हूँ, की यूजर ग्रुप, केवल ध्वज्वाहकों से ही नहीं बनता, अपितु तमाम सदस्यों से बनता है, मगर पूर्व ध्वजवाहकगण हिंदी विकिमीडीआन्स यूजर ग्रुप को उस स्तर तक लाने में कोई ऐसा कदम ही नहीं उठा पाए की जिससे यूजर ग्रुप को विकिमीडिया आंदोलन के भीतर एक संगठन का रूप दिया जा सके, जिसका सबसे बड़ा उदाहरण ये है की २ वर्ष बीतने के बाद भी, ध्वजवाहकगण अपने पद की समय-सीमा भी तय नहीं कर पाए, संगठन के नियम और विधान गठित करना तो और बात है। यूजर ग्रुप का नाम केवल मेटा पर ग्रांट मांगने भर के लिए ही इस्तेमाल होता रहा है। इसके ऊपर, "व्यस्तता" होने के बावजूद, ऐसे पद पर बने रहने के लिए इतनी बहसबाज़ी और "रिमोट-कंट्रोलिंग" करना खुद में एक शोध का विषय सा है। इस बात को दोहराने की भी आवश्यकता नहीं की इस प्रक्रिया के विरोध में उठाए गए सारे सवाल और तर्क बेमाने हैं, मैं किसी भी सक्रिय योगदानकर्ता और हिंदी विकी के शुभचिंतक से, उल्टा इस प्रक्रिया में खुल के भाग लेने की उम्मीद करता हूँ। अंत में ये कहना चाहूंगा की इसे "पुनर्गठन" नहीं, बल्कि यूजर ग्रुप का "गठन" ही कहना उचित होगा।

नए ध्वज्वाहकों को शुभकामनाएँ!!!

Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  21:29, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

नहीं! पुनर्गठन प्रक्रिया और मतदान गलत और अवैध है[संपादित करें]

परिणाम[संपादित करें]

तीनों ध्वजवाहकों के दायित्व त्याग के पश्चात पुनर्गठन प्रक्रिया को वैध मानते हुए निर्वाचन परिणाम सफल घोषित किए जा चुके हैं। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 17:46, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

चर्चा:विकिमीडिया आंदोलन रणनीति 2018-20/भूमिकाएं और ज़िम्मेदारियां[संपादित करें]

इस हफ्ते हम भूमिकाओं और जिम्मेदारियों के विषय पर बातचीत करेंगे। इस विषय पर काम करने वाले समूह (वर्किंग ग्रुप) ने विकिमीडिया आंदोलन में मौजूद संरचनाओं और मॉडलों के बारे में विचार-विमर्श और बातचीत के निर्मित कुछ प्रश्नों को निर्धारित किया है और यह पहचानने के लिए कि भूमिकाएँ और संरचनाएँ कहाँ अच्छी तरह से काम कर रही हैं (निर्णय लेने के लिए जिम्मेदारियाँ/अधिकार स्पष्ट हैं, और जिम्मेदारियाँ निष्पादित की जा रहीं हैं) और कहां ठीक से काम नहीं कर पा रही।

विकिमीडिया आंदोलन में संगठनात्मक संरचनाएं अक्सर बेतरतीब ढंग से, गैर-रणनीतिक रूप से बढ़ी हैं, या उन संदर्भों में विकसित हुई थीं जो अब मौजूद या प्रासंगिक नहीं हैं; वर्तमान में:

  • वर्तमान में कोई वैश्विक संस्था नहीं है जिसके पास आंदोलन के लिए निर्णय लेने की प्रक्रियाओं का नेतृत्व करने और इन निर्णयों को लागू कर परिवर्तनों करने के लिए कोई प्रक्रिया हो
  • सत्ता कुछ संगठनों में केंद्रीकृत है;
  • हमें आंदोलन में नेतृत्व की स्पष्ट परिभाषा का अभाव है;
  • हमारे पास इस बात की साझा समझ नहीं है कि कौन सा संगठनात्मक मॉडल हमारे मिशन की सर्वोत्तम सेवा कर सकता है, और संगठनों और समूहों के लिए विकास के एक स्पष्ट मार्ग को परिभाषित नहीं किया गया है।

विकिमीडिया फ़ाउंडेशन की भूमिका स्वयं एक अनुदानकर्ता, प्लेटफ़ॉर्म प्रदाता, वैश्विक फंडरेज़र से लेकर सामुदायिक समर्थक और समन्वयक तक होती है। अगर हम आंदोलन को नए सिरे से शुरू करते हैं, तो हम इसकी संरचना कैसे करेंगे और हम आंदोलन को बढ़ाने के लिए भूमिकाओं और संरचनाओं का विकास किस प्रकार से करेंगे?

  1. इक्विटी की हमारी रणनीतिक प्राथमिकता पर खरा उतरने के लिए हमें अपनी संगठनात्मक संरचनाओं, वैश्विक निर्णय लेने की प्रक्रियाओं और शक्ति गतिकी में क्या बदलाव करने की आवश्यकता है?
  2. हम वैश्विक आंदोलन में जिम्मेदारियों को कैसे साझा करें ताकि लोगों, संगठनों और समूहों को हमारे आंदोलन को आगे बढ़ाने और हमारी रणनीतिक दिशा की ओर अग्रसर होने का अधिकार मिले?
  3. प्रभावी तरीके से भविष्य के बदलाव के प्रबंधन के लिए हमें किन प्रक्रियाओं की आवश्यकता है जो समावेशी और सहभागितापूर्ण हों ?
  4. क्या संरचनाएँ, प्रक्रियाएँ और व्यवहार हमें अपने निर्णय लेने में सभी आवाज़ों (जैसे वर्तमान योगदानकर्ताओं और उभरते दर्शकों सहित) को शामिल करने में सक्षम करेंगे?
  5. वैश्विक, क्षेत्रीय, स्थानीय या विषयगत स्तर पर कौन सी जिम्मेदारियां बेहतर ढंग से रखी गई हैं; जिसे केंद्रीयकृत किया जाना चाहिए और जिसे विकेंद्रीकृत किया जाना चाहिए (उदाहरण के लिए यूज़र ग्रुप एवं चैप्टर की भूमिका, सी आई ऐस जैसे संबद्ध संगठन, विकी क्लब आदि)?
  6. आंदोलन के दौरान संघर्ष प्रबंधन और समाधान को कैसे संरचित किया जाना चाहिए?

आप अपनी प्रतिक्रिया इस पृष्ठ पर, नीचे टिप्पणी में या मुझे ईमेल (rsharma@wikimedia.org) पर भी दे सकते हैं।RSharma (WMF) (वार्ता) 07:22, 22 अप्रैल 2019 (UTC)

वर्तमान मुद्दे[संपादित करें]

आपके सुझाव/प्रतिक्रिया[संपादित करें]

@RSharma (WMF): जी, पूरी चर्चा पढ़ने के बाद भी ठीक से समझ नहीं आया। आपको बात इस तरह रखनी चाहिए कि नया सदस्य भी इसे समझ सकें। क्या आप ऐसा कर सकती हैं?-आर्यावर्त (वार्ता) 02:42, 27 अप्रैल 2019 (UTC)

@आर्यावर्त: जी, आपकी जिज्ञासा के लिए धन्यवाद। ऊपर बताए गए पहिलु संक्षेत में आंदोलन के संरचनात्मक स्तर पर वर्णन करते हैं। संक्षेप में, हर संपादक के पास आंदोलन में अनुभव और भूमिका के विभिन्न स्तर हैं - कुछ सदस्य ऑनलाइन संपादन के माध्यम से योगदान करते हैं, कुछ आउटरीच के माध्यम से, और अन्य गलैम (GLAM) संस्थानों और शैक्षिक भागीदारी के माध्यम से योगदान करते हैं। आप भूमिकाओं और जिम्मेदारियों के विषय के स्कोपिंग दस्तावेज़ को इस पृष्ठ पर पढ़ सकते हैं और अंग्रेजी संस्करण के लिए इस पृष्ठ पर पढ़ सकते हैं।

संक्षेप में, यह विषय विकिमीडिया आंदोलन की विभिन्न संगठनात्मक संरचनाओं की भूमिकाओं और जिम्मेदारियों पर चर्चा के बारे में है। ऐसे कई मॉडल हैं जो हमारे आंदोलन का समर्थन करते हैं, जिनमें चैप्टर (chapter), विषयगत संगठन (thematic organizations) और उपयोगकर्ता समूह (user groups) शामिल हैं।

इस विषय का मुख्य प्रश्न यह है कि यह संगठनात्मक संरचनाएँ (organizational structures) भारत और हिंदी समुदाय के लिए ठीक तरीके काम कर रही हैं? यदि नहीं, तो इसके जुड़ते वर्तमान मुद्दे क्या हैं जो विकिमीडिया आंदोलन की वृद्धि को प्रभावित कर रहे हैं और आप इसके लिए क्या सुझाव देते हैं? क्या हिंदी समुदाय इस वर्तमान मॉडल द्वारा किए जा रहे जिम्मेदारियों के बंटवारे, जवाबदेही साझा करने और निर्णय लेने की प्रक्रिया के लिए सुझाव देना चाहेगा? RSharma (WMF) (वार्ता) 18:26, 27 अप्रैल 2019 (UTC)

@RSharma (WMF): जी, बहुत बहुत धन्यवाद। मेरे विचार/सुझाव निम्नलिखित है।
  • वर्तमान में हिन्दी विकि के लिए कार्य करने हेतु हिन्दी विकिमित्रों का यूजरग्रुप, इण्डिया चैप्टर और सीआईएस हैं। यूजरग्रुप के कारण सम्मेलन और कार्यशालाएं सम्भव हो पाए हैं। जहाँ तक इण्डिया चैप्टर की बात है हमने एक सदस्य को चैप्टर में भेजने का प्रयास किया था लेकिन हिन्दी विकि को कोई अधिक लाभ नहीं हुआ है। सीआईएस ने भी ज्यादातर पैसे हिन्दी के बदले दूसरे विकियों में ही खर्च किये हैं। प्रथम तो ये सभी संस्थाओं की वेबसाइट और वार्तालाप की भाषा में इंग्लिश के साथ हिंदी को भी सम्मिलित करनी चाहिए। विश्व में एक बहुत बड़ा समुदाय भारत से हैं और उनकी भाषा कोई भी हो, हिन्दी जानते हैं। इससे दूसरी भारतीय भाषा विकि के समुदाय को भी लाभ होगा।--आर्यावर्त (वार्ता) 10:48, 28 अप्रैल 2019 (UTC)
@RSharma (WMF): जी। हिन्दी विकी समुदाय को देखा जाये तो विश्व स्तर पर भागीदारी ना के बराबर रही है। हिन्दी विकी को भागीदारी की अवश्यकता है। लेकिन वर्तमान में हिन्दी समुह के विकास के लिए किए जा रहे प्रयास जो विकी के कल्याण में एक मुख्य भूमिका निभायेंगे।

हिन्दी विकी कलकत्ता सम्मेलन में कार्य योजना वनाई गयी थी जिसका उद्देश्य हिन्दी विकी का विकास और हिन्दी विकी के बंधु प्रकल्पों को वेहतर रूप से सक्रिय करना है।

हिन्दी विकी युजर ग्रुप की ऑनलाइन की तुलना में आॅफलाईन सक्रियता बहुत कम है और यदि हिन्दी के अलावा अन्य भारतीय विकी परियोजना को देखा जाये तो बहुत अच्छी गतिविधियां है। इसके कई कारण हैं जैसे सदस्यों में आपसी मतभेद हैं, जिम्मेदारी और रूचि की अवश्यकता। लेकिन आनलाइन स्तर पर हिन्दी विकी ज्यादातर प्रथम स्थान पर रही है।

पहले विकीमीडिया फाउंडेशन प्रत्यक्ष रूप से हिन्दी विकी सदस्यों के विचार/सुझाव नही मांगता था। लेकिन यह अब मुझे ऐसा देखकर बहुत अच्छा लगा जिससे सभी सदस्य अपने विचार और सुझाव प्रत्यक्ष रूप से साझा कर सकते हैं।

आर्यावर्त जी, के सुझाव अनुसार मेरा भी यही विचार है कि सभी संस्थाओं की वेबसाइट और वार्तालाप की भाषा में इंग्लिश के साथ हिंदी को भी सम्मिलित करना चाहिए। -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 17:48, 28 अप्रैल 2019 (UTC)

@RSharma (WMF): जी, कुछ सुझाव बिंदुवार रख रहा हूँ :
  1. जब तक ऐसी कोई वैश्विक संस्था न बने हमें स्थानीय तौर पर निर्णयन को संभव बनाना चाहिए।
  2. सत्ता हमेशा विकेंद्रित ही रहनी चाहिए तथा नियमित अंतराल पर परिवर्तित होनी चाहिए।
  3. परिभाषा जो भी मानें, नेतृत्व वही मान्य होना चाहिए जो आंदोलन को सामुदायिक भावना के साथ सकारात्मक दिशा में ले जाने की दृष्टि, इच्छा और क्षमता रखता हो।
  4. 'स्थानीय से सार्वभौमिक' (local to global) का मॉडल अपनाया जाना चाहिए क्योंकि हर भाषा-समुदाय की अपनी

भिन्न विशिष्टता और समस्या है।

  • आंदोलन को नये सिरे से शुरू करने की बजाय हम चली आ रही प्रक्रियाओं में सुधार करें। इस संबंध में बिंदुवार सुझाव कुछ इस प्रकार हैं :
  1. न्याय या समता (इक्विटी) के लिए लैंगिक, भाषिक और तकनीकी खाइयों को पाटने पर तत्काल काम करना चाहिए।
  2. रुचि और क्षमता के अनुसार स्वेच्छा और सामुदायिक निर्णय से सदस्यों में आंदोलन संबंधी जिम्मेदारियों का वितरण होना चाहिए।
  3. शिक्षा के क्षेत्र में आंदोलन की पहुंच अब अनिवार्य होनी चाहिए। अकादमिक पाठचर्या (academic curriculum) इसे न केवल समावेशी अपितु धारणीय और सहभागितापूर्ण भी बनाएगा।
  4. नियमित अंतराल पर ऑनलाइन एवं ऑफलाइन कार्यशालाएं/ चर्चा (विकिस्कूल/ विकिकोचिंग जैसी पहल) करके हम सभी नये पुराने सदस्यों को नियोजित कर सकते हैं।
  5. यूजरग्रुप को विकेंद्रित और नियमित अंतराल पर पुनर्गठित करते रहने की आवश्यकता है।
  6. पारदर्शिता, जिम्मेदारी और जवाबदेही संघर्ष को न पनपने देने के लिए अनिवार्य है। यदि मतभेद और संघर्ष की स्थिति उत्पन्न हो भी जाए तो उसे गरिमापूर्ण ढंग से प्रबंधित किया जाए। आपसी संवाद और संबंधित सवालों के त्वरित और तर्कपूर्ण उत्तर द्वारा संघर्ष प्रबंधन किया जा सकता है।

मैंने अपनी क्षमतानुसार सुझाव देने की कोशिश की है। आशा है इनसे कुछ मदद मिलेगी। धन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 18:51, 28 अप्रैल 2019 (UTC)

@आर्यावर्त: जी, @J ansari: जी, और @अजीत कुमार तिवारी: जी, आपके सुझावों और प्रतिक्रिया के लिए बहुत बहुत धन्यवाद। आपके सुझाव आगे भेज दिए गए हैं। उम्मीद है, आगे भी समुदाय का अमूल्य योगदान आता रहेगा। RSharma (WMF) (वार्ता) 15:11, 2 मई 2019 (UTC)
@Sharma (WMF): जी, आपका भी बहुत बहुत धन्यवाद एवं स्वागत है।--आर्यावर्त (वार्ता) 15:18, 2 मई 2019 (UTC)

New multiwiki system[संपादित करें]

Hello, kindly translate this message for the community. I would like to introduce a new initiative by Yurik at Multilingual Templates and Modules. The tech and non-tech people from this wikipedia are invited to share their views and facilitate its implementation here. Thanks Capankajsmilyo (वार्ता) 08:10, 25 अप्रैल 2019 (UTC)

Please revert the link spam[संपादित करें]

Please revert the spam added by User "Narendra6m". -- 27.60.185.232 (वार्ता) 12:48, 25 अप्रैल 2019 (UTC)

Train-the-Trainer 2019 Application open[संपादित करें]

Apologies for writing in English, please consider translating
Hello,
It gives us great pleasure to inform that the Train-the-Trainer (TTT) 2019 programme organised by CIS-A2K is going to be held from 31 May, 1 & 2 June 2019.

What is TTT?
Train the Trainer or TTT is a residential training program. The program attempts to groom leadership skills among the Indian Wikimedia community members. Earlier TTT has been conducted in 2013, 2015, 2016, 2017 and 2018.

Who should apply?

  • Any active Wikimedian contributing to any Indic language Wikimedia project (including English) is eligible to apply.
  • An editor must have 600+ edits on Zero-namespace till 31 March 2019.
  • Anyone who has the interest to conduct offline/real-life Wiki events.
  • Note: anyone who has already participated in an earlier iteration of TTT, cannot apply.

Please learn more about this program and apply to participate or encourage the deserving candidates from your community to do so. Regards. -- Tito (CIS-A2K), sent using MediaWiki message delivery (वार्ता) 05:07, 26 अप्रैल 2019 (UTC)

नमस्ते,
हमें यह बताते हुए बहुत खुशी हो रही है कि CIS-A2K द्वारा आयोजित ट्रेन-द-ट्रेनर (टीटीटी) 2019 कार्यक्रम 31 मई, 1 और 2 जून 2019 को आयोजित होने जा रहा है।

टीटीटी क्या है?
ट्रेनर द ट्रेनर या टीटीटी एक आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम है। कार्यक्रम भारतीय विकिमीडिया समुदाय के सदस्यों के बीच नेतृत्व कौशल विकसित करने का प्रयास करता है। इससे पहले TTT 2013, 2015, 2016, 2017 और 2018 में आयोजित किया गया है।

किसे आवेदन करना चाहिए?

  • किसी भी भारतीय भाषा के विकिमीडिया परियोजना (अंग्रेजी सहित) में योगदान देने वाला कोई भी सक्रिय सदस्य आवेदन करने के लिए पात्र है।
  • एक संपादक के पास 31 मार्च 2019 तक शून्य-नामस्थान पर 600 से ज्यादा संपादन होने चाहिए।
  • जो कोई भी ऑफ़लाइन/वास्तविक जीवन विकी घटनाओं का संचालन करने में रुचि रखता है।
  • ध्यान दें: कोई भी व्यक्ति जो TTT में पहले भी भाग ले चुका है, वो आवेदन करने के योग्य नहीं है।

कृपया इस कार्यक्रम के बारे में अधिक जानने और भाग लेने या प्रोत्साहित करने के लिए आवेदन करें। सादर। - टिटो (CIS-A2K), MediaWiki message delivery (वार्ता) 05:07, 26 अप्रैल 2019 (UTC)

Request[संपादित करें]

Sorry to post in English. Please translate for the community. I would like to grant bot DiBabelYurikBot written by Yurik a bot flag. The bot makes it possible for many wikis to share templates and modules, and helps with the translations. See project page. Capankajsmilyo (वार्ता) 17:05, 26 अप्रैल 2019 (UTC)

@आशीष जी, संजीव जी, अनिरुद्ध जी, माला जी, सिद्धार्थ जी, हिंदुस्तानवासी जी, आर्यावर्त जी, अजीत जी, और गॉड्रिक की कोठरी जी: Capankajsmilyo (वार्ता) 02:59, 13 मई 2019 (UTC)

राजू जांगिड़ ट्रेन द ट्रेनर कार्यक्रम २०१९ के लिए आवेदन प्रस्ताव[संपादित करें]

नमस्कार सभी को, वैसे यहाँ बताना जरूरी तो नहीं है लेकिन फिर भी मैं यहाँ लिख रहा हूँ कि मैं टीटीटी अर्थात ट्रेन द ट्रेनर कार्यक्रम २०१९ के लिए आवेदन कर रहा हूँ। इसमें मैं विकिपीडिया से जुड़े छोटे-मोटे शिक्षा कार्यक्रम कैसे कराएं, कॉपीराइट और क्रीएटिव कॉमन्स जैसे टॉपिक पर और सीखना चाहता हूँ।

यदि समुदाय किन्हीं सदस्यों को मतदान करके भेजना चाहता है तो इससे मुझे कोई ऐतराज नहीं है।
--Raju Jangid (वार्ता) 16:49, 28 अप्रैल 2019 (UTC)

मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं। पियुष, निलेश आदि को भी इस बार या अगली बार आवेदन जरूर करना चाहिए। वैसे मेरी भी यह जानने में रुचि है कि सीआइएस करोड़ों के ग्रांट का कितना सार्थक उपयोग कर रहा है। अपने अनुभव को हमारे साथ जरूर साझा कीजिएगा। यह शुभ लक्षण है कि हिंदी विकि के वास्तविक योगदानकर्ता ऑफ लाइन कार्यक्रमों की ओर भी उन्मुख हो रहे हैं। इससे अयोग्य लोगों के ऐसे आयोजनों में हिंदी के प्रतिनिधि होने के नाम पर पर्यटन करने का मार्ग निस्संदेह अवरुुद्ध होगा। आप कुछ पर्यटन भी करेंगें तो उससे भी हिंदी विकि को समृद्ध करने का रास्ता बना लेंगें। इसलिए आपको और आप सरीखे अन्य संभावित आवेदकों को मेरी शुभकामना औ्र समर्थन। अनिरुद्ध! (वार्ता) 21:06, 28 अप्रैल 2019 (UTC)
धन्यवाद @अनिरुद्ध!: जी। अगर आवेदन प्रस्ताव को स्वीकार किया जाता है तो यहाँ अपने अनुभव अवश्य साझा करूंगा साथ ही अन्य सदस्यों को भी आवेदन जरूर करना चाहिए।--Raju Jangid (वार्ता) 05:02, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

नोट- मुझे छात्रवृति मिल गयी थी लेकिन समय की कमी के कारण मैंने मना कर दिया।--Raju Jangid (वार्ता) 11:03, 20 मई 2019 (UTC)

  • Symbol support vote.svg समर्थन --Abhinav619 (वार्ता) 02:13, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  • Symbol support vote.svg समर्थन बहुत बहुत सुभकामनाएँ। मुझे आशा की आपका यह प्रशिक्षण विकी के लिए अच्छा साबित होगा। -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 04:18, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  • Symbol support vote.svg समर्थन -- अह्मद निसार (वार्ता) 11:55, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  • Symbol support vote.svg समर्थन -- Sushma Sharma (वार्ता) 16:03, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  • आपके ऑनविकि और ऑफविकि पूर्व योगदान को देखते हुए पूर्ण Symbol support vote.svg समर्थन है। आशा है आपके प्रशिक्षण अनुभवों से समुदाय भी लाभान्वित होगा। शुभकामनाएं। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 16:16, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  • Symbol support vote.svg समर्थनProngs31 17:14, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  • Symbol support vote.svg समर्थन ऑफ़वीकी कार्यों में आपकी भागीदारी और रुचि से मुझे पूरा भरोसा है कि आपका इस वर्ष के TTT में जाना, न केवल आपके लिए बल्कि समुदाय के लिए भी लाभदायक सिद्ध होगा...। शुभकामनाओं सहित। Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  19:28, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  • Symbol support vote.svg समर्थन निलेश शुक्ला (वार्ता) 19:27, 1 मई 2019 (UTC)nilesh shukla

J ansari/ट्रेन द ट्रेनर कार्यक्रम २०१९ के लिए आवेदन प्रस्ताव[संपादित करें]

नमस्ते, मैं TTT2019 में भाग लेने के लिए इच्छुक हूं, और मैंने इसके लिए आवेदन किया है। मैं TTT2019 में तकनीकी और गैर तकनीकी कार्यों को सीखना चाहता हूं जैसे मीडियाविकि टूल, फेव्रीकेटर, ग्रीट पेच, लिंनिक्स एसवीजी स्थापित और विकी की अॉफलाईन गतिविधियां। मेरी अन्य सक्रिय सदस्यों से भी गुजारिश है वह भी आवेदन करें जो TTT2019 में प्रशिक्षण के लिए इच्छुक हैं। -जे. अंसारी वार्ताAnimalibrí.gif 06:23, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

यूज़रग्रुप के ध्वजवाहक से त्यागपत्र[संपादित करें]

अगर चर्चा भाव से हटकर शब्दों पर ही आ गई है तो मैं यहाँ औपचारिक रूप से यूज़रग्रुप के ध्वजवाहक से त्यागपत्र प्रस्तुत करता हूँ। मेरे विचार से मेरा असक्रिय होना मुझे हटाने के लिए पर्याप्त आधार होना चाहिए था। --अनामदास 12:46, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

विगत कुछ दिनों से अपनी निजी व्यस्तता और व्यावसायिक व्यस्तता के कारण मैं भी समय नहीं दे पा रहा हूं और अतः मैं अपने ध्वजवाहक कॉन्टैक्ट पर्सन पद से त्यागपत्र दे रहा हूं साथ ही आप सब को पुनः सूचित करना चाहूंगा कि कि इन्हीं व्यस्तताओं के कारणों के चलते मैं विकीपीडिया इंडिया चैप्टर के ई सी पद से कुछ माह पहले ही त्यागपत्र दे चुका हूं

- सुयश द्विवेदी (वार्ता) 16:38, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

सुयश जी! उम्मीद है कि आपकी यह सहयोगी प्रवृत्ती पुराने ध्वजवाहकों के कार्यों, अनुभवों और संसाधनों के हस्तांतरण के रूप में भी प्राप्त होगी। इसकी शुरुआत आप विकि सदस्य समूह की बेवसाइट की व्यवस्था का अधिकार नए निर्वाचित सदस्यों को हस्तांतरित करने के रूप में करें। आप यहाँ के व्यूरोक्रैट हैं जिसमें किसी भी सदस्य को वर्तमान समय में खाता खोलने तक का अधिकार नहीं है। मैं आपसे अनुरोध करता हूँ की सबसे अधिक संपादन करने वाले संजीव जी को आप ब्यूरोक्रैट का अधिकार हस्तांतरित करने की प्रक्रिया शीघ्र ही शुरु करें जिससे हम उसे सचमुच सदस्य समूह का सकृय बेवसाइट के रूप में विकसित कर सकें। । उम्मीद है कि इस स्वाभाविक अधिकार हस्तांतरण के लिए हमें संघर्ष का मार्ग नहीं चुनना पड़ेगा। अनिरुद्ध! (वार्ता) 22:49, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

ध्वजवाहक पदत्याग[संपादित करें]

अपनी समझ से पूर्ण निष्ठापूर्वक पड़ का वहन किया। अब ध्वजवाहक दल के दोनों अन्य सदस्यों के पदत्याग के साथ मैं यहाँ स्वयं भी ध्वजवाहक पद से त्याग करता हूँ।

भविष्य के पदाधिकारियों को शुभकामनाएं। --आशीष भटनागरवार्ता 16:52, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

Hangout invitation[संपादित करें]

I have created a hangout to improve collaboration and coordination among editors of various wiki projects. I would like to invite you as well. Please share your email to pankajjainmr@gmail.com to join. Thanks Capankajsmilyo (वार्ता) 16:31, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

हिंदुस्थान वासी ― ट्रेन द ट्रेनर कार्यक्रम 2019 के लिये आवेदन[संपादित करें]

मैं हिंदुस्थान वासी, ट्रेन द ट्रेनर 2019 के लिये आवेदन कर रहा हूँ। मैं इसमें भाग लेकर ऑफलाइन कार्यक्रम कराने सम्बंधित जानकारी पाना चाहता हूँ, जो मैं समुदाय के साथ साझा करके उसको लाभान्वित करने का प्रयास करूँगा।--हिंदुस्थान वासी वार्ता 16:52, 29 अप्रैल 2019 (UTC)

  1. Symbol support vote.svg समर्थन आशा है कि आप भी राजू जी के साथ मिलकर प्रशिक्षण पश्चात समुदाय को ऑफविकि और ऑनविकि लाभान्वित करेंगे। शुभकामनाएं। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 17:03, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  2. Symbol support vote.svg समर्थन इस आशा के साथ कि TTT में भागिदारी से आपके ऑफलाइन कार्यों से समुदाय को लाभ मिलेगा...Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  19:32, 29 अप्रैल 2019 (UTC)
  3. Symbol support vote.svg समर्थन --Abhinav619 (वार्ता) 03:30, 30 अप्रैल 2019 (UTC)
  4. Symbol support vote.svg समर्थन -- अह्मद निसार (वार्ता) 10:35, 30 अप्रैल 2019 (UTC)
  5. Symbol support vote.svg समर्थन एक वरिष्ठ प्रबंधक ने पहली बार किसी आउटरीच कार्य मे रुचि ली है इसलिये पूर्ण समर्थन। उम्मीद है कि सदस्य समुदाय की उम्मीदों पर खरा उतरेंगे।--Prongs31 12:51, 30 अप्रैल 2019 (UTC)
  6. Symbol support vote.svg समर्थन और शुभकामनायें। --SM7--बातचीत-- 17:28, 30 अप्रैल 2019 (UTC)
  7. Symbol support vote.svg समर्थन निलेश शुक्ला (वार्ता) 19:27, 1 मई 2019 (UTC)nilesh shukla

हिंदी विकिमीडियन्स सदस्यदल पुनर्गठन: ध्वजवाहक चुनाव प्रक्रिया[संपादित करें]

ये मेरा प्रस्ताव भविष्य में ध्वज्वाहकों के चुनाव हेतु एक सुनियोजित व संहिताबद्ध प्रक्रिया बनाने हेतु है। सर्वसम्मति के साथ, इसे सदस्यदल के विनियमों में शामिल किया जा सकता है। यहाँ मैंने कुछ बातों का ध्यान रखा है: हालाँकि अभी हम केवल ३ ध्वजवाहक रख रहे हैं, मगर भविष्य में हो सकता है की ४, ५ या अधिक ध्वजवाहक हों। तथा सदस्य:Anamdas जी की इस बात को भी ध्यान में रखकर की वर्ष में एक बार सारे ध्वज्वाहकों के चुनाव के बजाय, ६ महीनों में आधे लोगों का चुनाव हो, और अगले ६ महीनों पश्चात् बाकि के ६ का। अतः चुनाव में ध्वज्वाहकों की संख्या फिक्स्ड नहीं है।


प्रस्तावित नियम निम्न हैं:


प्रस्ताव मसौदा
प्रथम बिंदु
  1. चुनाव में केवल मतदान योग्य सदस्य ही अपना मत दे सकते हैं। किसी भी अयोग्य सदस्य के मतदान को पूर्णतः अमान्य माना जाएगा।
नामांकन
  1. चुनाव में, कोई भी मतदान योग्य सदस्य स्वयं को, अथवा अपने पसंद के किसी भी सदस्य को, प्रत्याशी के तौरपर नामांकित कर सकता है।
  2. प्रत्येक नामांकनकर्ता, अधिकतम उतने ही प्रत्याशियों को नामांकित कर सकता है, जितने स्थानों के लिए चुनाव होना है (उदाहरण: यदि ३ ध्वजवाहक स्थानों हेतु चुनाव हो रहा है, तो अधिकतम ३ प्रत्याशियों को नामांकित कर सकते हैं)
  3. चुनाव हेतु नामांकित प्रत्येक प्रत्याशी को मतदान-योग्य होना, तथा विनियमों द्वारा आवश्यक अन्य सभी अर्हताओं पर खरा उतारना आवश्यक है, अन्यथा उसके नामांकन को ख़ारिज समझा जाएगा।
  4. प्रत्याशी के रूप में नामांकन स्वीकृत होने हेतु प्रत्याशी की स्वीकृति आवश्यक है। बिना स्वीकृति के नामानलन को अमान्य मन जाएगा।
मतदान
  1. प्रत्येक मतदान योग्य सदस्य किसी भी नामांकित प्रत्याशी के समर्थन में अपना मत देने तथा मतदान से परहेज़ करने हेतु भी स्वतंत्र है।
  2. प्रत्येक मतदाता, अधिकतम, प्रत्याशित स्थानों की संख्या के बराबर, प्रत्याशियों के समर्थन में अपना मत दे सकता है। (उदाहरण:यदि ३ ध्वजवाहक स्थानों हेतु चुनाव हो रहा है, तो अधिकतम ३ प्रत्याशियों के समर्थन में मत दे सकते हैं)
  3. मतदाता, एक प्रत्याशी को अधिकतम एक ही मत दे सकता है।
  4. चुनाव में मतदान और नामांकन एक तय समय-सीमा के अंतर्गत होगा। अंतिम तिथि के बाद किसी भी नामांकन या मतदान को अस्वीकृत माना जायगा।
  5. तय समय के अंत के बाद प्रत्याशियों को चुना जाएगा।
चयन
  1. चुनाव की तय समय सीमा के पश्चात्, जितने प्रत्याशित स्थान हैं, अधिकतम मत प्राप्त करने वाले उतने प्रत्याशियों को ध्वजवाहक नामित किया जाएगा। (उदाहरण:यदि ३ ध्वजवाहक स्थानों हेतु चुनाव हो रहा है, तो अधिकतम मत प्राप्त करने वाले ३ प्रत्याशियों को ध्वजवाहक चुना जाएगा)
  2. दो या उससे अधिक लोगों को सामान संख्या में मत मिलने के अवसर में, उन प्रत्याशियों, समुदाय, तथा पदस्थ ध्वज्वाहकों के बीच बात-चीत और चर्चा करके किसी एक प्रत्याशी को, आपसी समन्वय, योग्यता व आवश्यकता के आधार पर चर्चा करके चुना जाएगा।
चुनावों की निगरानी और समन्वय
  1. चुनावों का समन्वयन और निगरानी, पदस्थ ध्वज्वाहकों की ज़िम्मेदारी है।
  2. चुनावी प्रक्रिया से सम्बंधित मतभेद, प्रश्न या चर्चा, पदस्थ ध्वज्वाहकों के समन्वय के अंतर्गत होगी।


इस प्रक्रिया के बिंदुओं पर चर्चा और सुधर किया जा सकता है। Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  05:31, 30 अप्रैल 2019 (UTC)

स्पष्टीकरण

@आर्यावर्त और SM7: जी यहाँ एक बात स्पष्ट करना चाहूंगा की यहाँ हम केवल चुनाव प्रक्रिया को पहले संहिनबद्ध करेंगे, मतदाता और प्रत्याशियों हेतु अर्हताएँ इसके बाद निर्धारित की जाएं।Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  09:52, 2 मई 2019 (UTC)

संशोधन प्रस्ताव १:केवल स्वनामांकन माना जाए[संपादित करें]

प्रस्तावकर्ता: सदस्य:आर्यावर्त और सदस्य:SM7 का प्रस्ताव
मुख्या बिंदु:

इस संशोधन के अनुसार सम्पर्कसूत्र/ध्वजवाहक चुनाव में केवल स्वयं को नामांकित किया जा सकेगा, कोई भी सदस्य किसी दूसरे सदस्य को नामांकित नहीं कर सकेगा। इस प्रस्ताव पर सभी सदस्यों से निवेदन है की अपना समर्थन, विरोध, टिप्पणी इत्यादि दें।

समर्थन[संपादित करें]

विरोध[संपादित करें]

चर्चा[संपादित करें]

संशोधन प्रस्ताव २:चुनाव प्रक्रिया कार्यकाल समाप्ति के एक महीने पूर्व ख़त्म हो जाय[संपादित करें]

प्रस्तावकर्ता: सदस्य:आर्यावर्त
मुख्या बिंदु:

ध्वजवाहक चुनावों को पदस्थ ध्वजवाहक/सम्पर्कसूत्रों के कार्यकाल समाप्ति के एक महीने पहले ही समाप्त कर दिया जाय।

समर्थन[संपादित करें]

विरोध[संपादित करें]

चर्चा[संपादित करें]

इस प्रस्ताव के विरोध का मुझे कोई विशेष कारण नहीं दीखता, सिवाय इसके की यदि किसी के पास एक महीने के समय को घटाने या बढ़ने का कोई सुझाव हो तो।Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  09:52, 2 मई 2019 (UTC)

पद नामकरण सुझाव[संपादित करें]

पिछले कुछ समय से समुदाय में "ध्वजवाहक" पद के नाम को बदलने की मांग आ रही है, यहाँ इस पद के नामकरण पे भी चर्चा कर इस पद को इसकी ज़िम्मेदारियों और गरिमा के अनुकूल नए नाम देने पर भी सार्वजनिक चर्चा करना आवश्यक लगता है। सभी सदस्यों से निवेदन है की यहाँ पद के नए नाम पर सुझाव और चर्चा कर लिया जाय।Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  09:52, 2 मई 2019 (UTC)

चर्चा[संपादित करें]




चर्चा[संपादित करें]

प्रथम तो नीतिनियम तय करने हेतु चर्चा आरम्भ करने के लिए श्री निरपराधवत् मृदुरोमकः महोदय का धन्यवाद करना चाहूंगा। मेरे द्वारा सुझावित बिंदु निम्नलिखित हैं:-
  1. मतदान योग्य सदस्य ही अपना मत दे सकते हैं ऐसा लिखने के बदले हमें ये लिखना चाहिए कि किस हालात में सदस्य अपना मत दे सकता है। जैसे कि
  • मतदाता हिन्दी विकिमेडियन्स यूजरग्रुप का सदस्य होना चाहिए जिसने मेटा पर साइनअप करके यूजरग्रुप की सदस्यता ली है। (सदस्यता कौन ले सकता है ये निर्धारित करने हेतु अलग से चर्चा हो सकती है।)
  • सदस्य चुनाव की घोषणा के पूर्व ६ महीने से ज्यादा पुराना साइनअप किया हुआ सदस्य होना चाहिए। जिससे केवल चुनाव में अपने प्रत्याशी को मत देने की इच्छा से आने वालें सदस्यों को रोका जाए।
मतदान के लिए बहुत कड़े नियम नहीं होने चाहिए जिससे ये प्रक्रिया कुछ ही सदस्यों के बीच की न बन जाए। जितना अधिक मतदान होगा उतनी ही किसी एक व्यक्ति, दल की मोनोपोली की स्थिति कम होगी।
  1. चुनाव में कोई भी मान्य सदस्य किसी भी मान्य सदस्य को ध्वजवाहक के लिए नामांकित करें ये प्रक्रिया क्षतिपूर्ण है। जिसके कारण निम्नलिखित हैं।
  • चुनाव की प्रक्रिया निष्पक्ष, न्यायिक और पारदर्शी होनी चाहिए।
  • यूजरग्रुप में सभी सदस्य समान है और किसी को भी चुनाव लड़ने का अधिकारः है (इच्छा हो और उम्मीदवार बनने की शर्ते पूरी करते हैं) परंतु जब कुछ सदस्य कुछ ही (अपने पसंदीदा) सदस्यों को आगे करते हैं तो असमानता की स्थिति पैदा होती है। सभी को समान अधिकार नहीं मिलता।
  • कुछ सदस्य दूसरे द्वारा नामित हो और कुछ न हो तो उनको चुनाव लड़ने का लाभ नहीं मिलता जिसको किसीने नामांकित किया ही नहीं। यदि सदस्य स्वयं को नामांकित करें तो स्वनामांकन और दूसरे द्वारा नामांकित होने में बहुत बड़ा अंतर होता है। ये स्थिति मतदान प्रक्रिया पर प्रभाव ड़ालती है। जिसको स्वयं नामांकन करना पड़ा उनका पल्लू हल्का हो जाता है और जितने की संभावना भी कम हो जाती है। इस प्रकार चुनाव के पूर्व ही असमानता की स्थिति पैदा होती है।
  • मान लो यदि कोई सदस्य वरिष्ठ है और वो किसी तीन प्रत्याशी का नामांकन करता है तो मतदाताओं पर उनका प्रभाव पड़ता है और दूसरे उम्मीदवारों का पक्ष चुनाव के पहले ही कमजोर हो जाता है।
  • कोई नया सदस्य किसी का नामांकन करें तो ऐसे उम्मीदवारों का पक्ष वरिष्ठ सदस्य द्वारा नामांकित किए गए उम्मीदवारों की तुलना में कमजोर हो जाता है और मतदान प्रक्रिया को प्रभावित करता है।
  • ऐसी स्थिति में सभी उम्मीदवार समान नहीं रहते, कुछ आम और कुछ खास हो जाते हैं। आम उम्मीदवार खास उम्मीदवार के सामने कमज़ोर पड़ने की स्थिति में चुनाव जीत नहीं पाता।
  • ये आवश्यक है कि उम्मीदवार अपने दम पर चुनाव लड़े,न कि किसी और वरिष्ठ द्वारा नामांकित होने से उनका समर्थन प्राप्त करके लड़े। तभी प्रक्रिया समान और पारदर्शी तरीकों से हो सकती है।
  • सभी योग्यता प्राप्त सदस्य को चुनाव लड़ने का समान अधिकार, सभी उम्मीदवार एक समान कोई आम और कोइ खास नहीं, सभी को समान तक की मूलभूत बातों का अनुसरण इस प्रक्रिया में नहीं होता।
समान और न्यायिक चुनाव प्रक्रिया
  • ध्वजवाहकों का कार्यकाल समाप्त होने से एक महीने से पूर्व चालू ध्वजवाहकों के द्वारा चुनाव की प्रक्रिया का आरंभ होना चाहिए।
  • स्टुअर्ड, फाउंडेशन के ट्रस्टी आदि के चुनाव की प्रक्रिया में जिस पद्धति का प्रयोग होता है वह आदर्श पद्धति है। जिसमें चुनाव की घोषणा के बाद कोई भी इच्छुक प्रत्याशी (इलीजिबिटी के मापदंडों के तहत योग्यता हो तो) नामांकन कर सकता है और नामांकन करने की प्रक्रिया निर्धारित दिनांक से निर्धारित दिनांक तक चलती है। नामांकन के लिए आवश्यक समय दिया जाता है और चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही ये नामांकन कब से कब तक होगा इसकी भी घोषणा की जाती है। नामांकन की प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद मतदान के साथ सदस्य प्रत्याशी को सवाल पूछकर उनकी समीक्षा करते हैं और उनके आधार पर मत देते हैं। बाद में परिणा की प्रक्रिया होती है।
  1. सभी सदस्य जितने ध्वजवाहक पद के लिए मतदान हो रहा है उतने ही मत दे सकते हैं। तीन के लिए चुनाव हो रहा है तो किसी भी तीन को चुनने का उनको अधिकार होगा। यदि कभी एक ध्वजवाहक के लिए चुनाव हो तो किसी भी एक ध्वजवाहक को मत दे सकते हैं।
  2. अधिक सङ्ख्या में प्रत्याशियों को समान मत की स्थिति में उनके विकि सम्पादनों की संख्या, योगदान आदि देख सकते हैं और विकि का कार्यकाल कितने समय का है ये भी देखा जा सकता है।
सभी सदस्यों एवं नवनिर्वाचित माननीय ध्वजवाहकों से अनुरोध है कि इस विषय में अपनी राय दें।--आर्यावर्त (वार्ता) 03:15, 1 मई 2019 (UTC)

सुझाव (SM7)[संपादित करें]

  • प्रत्याशी अपना नामांकन स्वयं करें।
  • मतदान करने वाला यूज़र ग्रुप का सदस्य अवश्य हो (जैसे कि मैं नहीं हूँ, तो नहीं कर सकता)। सक्रियता का पैमाना अवश्य हो और सख्त हो।
  • प्रत्याशी के लिए भी सक्रियता (विकि पर वार्ता नामस्थानों और वार्ता जैसे स्थलों के अतिरिक्त) पर्याप्त हो यह अर्हता में शामिल हो।

इसके अलावा पदस्थ अथवा नामांकित व्यक्तियों में से कोई चुनाव का परिणाम, विवाद इत्यादि से न संबंधित रहे इसके लिए क्या उपाय किया जाय मुझे समझ में नहीं आ रहा।

चयनित व्यक्ति अगर अपना पद छोड़ना चाहे तो किसे संबोधित करके, कहाँ अपना इस्थीपा दे यह भी तय कर लें।

और विकिसमुदाय और यूजर ग्रुप में अंतर है, अतः यह मतदान इत्यादि चौपाल पर न हो यह भी सुनिश्चित करें। यूज़र ग्रुप समुदाय के मत को प्रभावित करने की कोशिस न करे यह भी। धन्यवाद। --SM7--बातचीत-- 17:21, 1 मई 2019 (UTC)

आज ही संभवतः किसी पुराने सदस्य के एकदम नए कहते ने मेटा पर यूजरग्रुप की सदस्यता ली है। जिनके हिन्दी विकि में सदस्य नामस्थान में दो ही सम्पादन हैं और दोनों आज ही कि तारीख के हैं। ऐसी स्थिति में मतदान के लिए कुछ अर्हताएँ निर्धारित करना आवश्यक लग रहा है। मतदान के लिए मेरे विचार से यूजरग्रुप की वेबसाइट अधिक योग्य स्थल है। जहाँ सभी सदस्यों को अपना खाता बनाने की अनुमति नहीं। सदस्यता लेने पर खाता बना दिया जाता है। साथ ही सदस्यका हिंदी विकिपीडियन होना आवश्यक है अतः उनके हिन्दी विकि में योगदान और सक्रियता को भी दबाया में रखा जाना चाहिए।--आर्यावर्त (वार्ता) 14:56, 2 मई 2019 (UTC)
@आर्यावर्त: जी, ऐसे खातों को छाँटने के लिए ही "मतदाता हेतु योग्यता" लगाया जाएगा। हम किसी को भी साइन अप करने से रोक नहीं सकते, यूजर ग्रुप अथवा विकिमीडिया आंदोलन से सम्बद्ध किसी भी संस्था को inclusive होना होता है, अर्थात किसी को भी सदस्यता लेने से रोक नहीं सकते।Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  19:56, 2 मई 2019 (UTC)
@SM7: जी, मैं निजी तौरपर इस बात का पक्षधर हूँ की किसी भी हिंदी परियोजना पर (विनियमों के अनुसार सक्रियता के मानदंडों के अनुसार) सक्रीय व्यक्ति को मतदान का अधिकार स्वचालित रूप से प्राप्त हो, चाहे उसने साइन अप किया हो या ना किया हो। मगर हाँ, नामांकित होने के लिए: १) कमसेकम ६ महीने पुर्व साइन अप किया होना ज़रूरी हो, २) ऑफलाइन कार्यों में सक्रीय हो (अर्थात समुदाय के लोग उसे निजी तौरपर जानते हों), इत्यादि जैसे मापदंड रखने चाहियें। ये अर्हताएं, चाहे वो मतदान-योग्यता की हो, या नामांकित होने की हो, ये अलग से अवश्य करेंगे। दूसरी बात ये, की यूजर ग्रुप के चुनाव, मेटा पर, या यूजर ग्रुप के साइट पर होंगे, मगर विकिपीडिया पर बैनर लगा देंगे। "यूज़र ग्रुप समुदाय के मत को प्रभावित करने की कोशिस न करे" इस बात का अर्थ समझ में नहीं आया।Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  19:56, 2 मई 2019 (UTC)
@Innocentbunny: जी, निजी तौर पर शायद मैं इस सदस्य मंडल से कभी जुड़ना न पसंद करूँ और संपादनों के चलते मेरे पास स्वचालित रूप से वोट देने का अधिकार हो यह कुछ उचित नहीं प्रतीत होगा। बहरहाल अगर अर्हतायें बाद में तय करनी हैं तो इनपर तभी बात करेंगे। यहाँ चौपाल के बजाय मतदान यूजर ग्रुप वाले मेटा पन्ने पर हो यह इसलिए भी जरूरी है कि कोई विक्षनरी इत्यादि का प्रयोगकर्ता भी इस समूह का सदस्य हो सकता और मतदान करने विकिपीडिया पर आये यह उचित नहीं होगा। अतः सभी हिंदी प्रकल्पों पर बैनर लगा देना और मतदान मेटा के पन्ने पर कराना सबसे बढ़िया है।
तीसरी बात और आगे की सोच कर लिख दिया था। उसे जाने दें। मेरा आशय यह था कि वाट्स एप समूह की तरह यूजर ग्रुप का इस्तेमाल भी यहाँ विकिपीडिया पर कोई निर्णय करवाने में समर्थन/विरोध जुटाने में न हो। खैर यह अलग विषय है और तब बात करेंगे जब यूजर ग्रुप के सदस्यों और संपर्क सूत्रों की भूमिका निर्धारित करें।
सुझावों को प्रस्ताव में शामिल करने के लिए धन्यवाद। --SM7--बातचीत-- 04:56, 3 मई 2019 (UTC)
@Innocentbunny: जी, सुझावों को सम्मिलत एवं पुनः स्थापित करने के लिए धन्यवाद। आपका विचार उत्तम है कि सभी को सदस्यता और मतदान का अधिकार प्राप्त हो परंतु कुछ बातें तकनीकी होती है ये तकनीकी बातें आवश्यक भी है। वर्तमान में हमने सभी के लिए सदस्यता निःशुल्क और खुल्ली रखी है और कोई भी सक्रिय सदस्य मेटा पर यहाँ साइनअप करके सदस्यता ले सकता है। मेटा पर हमारी ये पॉलिसी दो सालों से लागू है। इसमें भी कोई व्यक्ति अन्य किसी का नाम नहीं जोड़ सकता, सदस्य को स्वयं सदस्यता लेनी होती है। भविष्य में हम इसके लिए वार्षिक सदस्यता भी रख सकते हैं और सदस्यता शुल्क भी रख सकते हैं। जैसा कि चैप्टर, CIS आदि में होता है। हम सभी उनके डिफ़ॉल्ट रूप से सदस्य नहीं है। यूजरग्रुप भी ऐसी ही एक संस्था है। यूजरग्रुप विकिपीडिया नहीं है इसलिए खाता बनाने से किसी को यूजरग्रुप की सदस्यता प्राप्त नहीं होती, नहीं हम किसी भी सदस्य के ऊपर यूजरग्रुप की सदस्यता थोप सकते हैं, जब तक सदस्य ने स्वयं सदस्यता न ली हो। विकिपीडिया और यूजरग्रुप में भिन्नता ये है कि विकिपीडिया में खाता सदस्य होता है और एक व्यक्ति कितने भी खाते बना सकता है, जब कि यूजरग्रुप में व्यक्ति सदस्य है। छद्म खाते या स्वयं की पहचान गोपनीय रखने वालें सदस्यों को भी हम यूजरग्रुप की सदस्यता नहीं दे सकते हैं। यूजरग्रुप विकिपीडिया खातों से नहीं व्यक्तियों का संगठन है। यूजरग्रुप के पास वित्तिय संचालन होता है इसका संचालन/निर्वहन खाता नहीं व्यक्ति ही कर सकता है। वित्तीय जिम्मेदारी भी है और कानूनी प्रक्रिया में कोई भी व्यक्ति छद्म रूप से अपनी पहचान छुपाकर इस प्रकार की प्रवृत्ति नहीं कर सकता है। यदि कोई ग़फ़ला हुआ तो गलत निर्णय लेने में समर्थन देने वाले सभी सदस्यों को कोर्ट में हाजिर होने के लिए तैयार होना होता है, उनको समन्स, नोटिस भेजना होता है और इन सभी प्रक्रियाओं के लिए व्यक्ति का होना आवश्यक है। खातों को इसलिए भी सीधी सदस्यता नहीं दे सकते क्योंकि खाते तो कठपुतली भी हो सकते हैं, किसी के कितने भी हो सकते हैं। उनके संपादन भी हो सकते हैं लेकिन हो सकता है कि व्यक्ति एक ही हो, एक से अधिक व्यक्ति एक ही खाता समय समय पर चला रहे हो। ऐसे खातों से ध्वजवाहकों का चुनाव नहीं हो सकता, हुआ तो भी मत देने वाला बोगस हो तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही हो सकती है लेकिन जब कोई व्यक्ति ही न हो तो कार्यवाही किसके विरुद्ध हो? संक्षिप्त में हमें यूजरग्रुप का संचालन एक ट्रस्ट की तरह करना है और वित्तीय जिम्मेदारियों का भी निर्वहन करना होता है इसलिए सभी को डिफ़ॉल्ट रूप से सदस्य नहीं बना सकते। यहाँ लिखी बातों के अलावा और भी कई ऐसी बाते हैं जिस कारण ये संभव नहीं है। चैप्टर आदि में भी आपने देखा होगा कि सदस्यता लेते समय फॉर्म भरवाया जाता है जिसमें हमें कुछ निजी जानकारियां देनी होती है। यदि ये जानकारी गलत, झूठी हो तो इसके लिए सदस्य स्वयं जिम्मेदार होता है। ऐसी स्थिति में सभी को सदस्यता नहीं दी जा सकती। ये ग़ैरकानूनी है और आगे बड़ी समस्या पैदा हो सकती है।--आर्यावर्त (वार्ता) 08:30, 3 मई 2019 (UTC)

निवेदन[संपादित करें]

  • काफी दिनों से विचार चल रहा है तो एक विचार ये भी आया कि ये ध्वजवाहक है क्या? यूज़रग्रुप के लिए यह आवश्यक है कि कम से कम तीन सदस्यों अपने संपर्क-विवरण सार्वजनिक करें ताकि फाउंडेशन उनसे वार्तालाप कर सके, हिसाब किताब पूछ सके। ये हमारी ही सामंतवादी मानसिकता है कि हम स्वयं ही अपने ऊपर राजा की नियुक्ति कर रहे हैं, उसे ध्वजवाहक का नाम दे रहे हैं। या फिर ये इसलिए कि ताकि कोई बलि का बकरा मिले जिसे जिम्मेदारी की सूली पर चढ़ाया जा सके और काम सही न हो तो बाद में गाली दी जा सके। हम भारतवासी ये समझने में ही नाकाम हैं कि समता पूर्वक कैसे काम किया जाए। ऊँच नीच पैदा करना ही हमारी आदत रही है। विकिपीडिया एक अलग प्रकार का प्रकल्प है। ध्वजवाहक शब्द का त्याग करें, संपर्कसूत्र शब्द अधिक उचित है। जो चाहे वो संपर्कसूत्र बन सकता है, जो चाहे वो अपने क्षेत्र में किसी भी प्रकार के आयोजन का प्रस्ताव रख सकता है, ग्राण्ट का आवेदन कर सकता है, जिसे काम करने की इच्छा हो आगे बढ़े और काम शुरु कर दे। भारत जैसे बड़े देश में सौ संपर्क सूत्र भी कम पड़ जाएंगे इतना काम करने को है। अन्य सभी प्रकल्पों की भाँति पुराने व समुदाय के विश्वासप्राप्त सदस्य नए सदस्यों का मार्गदर्शन करते रहें। न कोई राजा न कोई प्रजा। इति। नमस्कार। --अनामदास 04:52, 1 मई 2019 (UTC)
@Anamdas: जी, एक बात तो सबसे पहले साफ़ कर दूँ की ध्वजवाहक कोई विशेष पद होगा नहीं, ना ही हम ऐसा मॉडल बनाएंगे जिसमें कोई सामंतवादी hierarchy हो। इस सन्दर्भ में ये बात तो बिलकुल सही है की "ध्वजवाहक" नाम को त्याग कर "सम्पर्कसूत्र" को अपनाया जाए। मेरे नज़र में हम केवल "मतदान योग्य सदस्य" की एक विशेष श्रेणी रखेंगे, जिसमें हिंदी प्रकल्पों में योगदान कर रहे सभी सदस्य होंगे। इस श्रेणी में रहने की कुछ अर्हताएं होंगी, जिसमें पिछले एक साल के सार्थक ऑफलाइन या ऑनलाइन योगदान की कुछ न्यूनतम मापदंड होंगे। जो भी सदस्य इन मापदंडों पर खरा उतरेगा, केवल वही मतदान में भाग ले सकता है। अतः दूसरे शब्दों में "मतदान-योग्य" होने का अर्थ हुआ "सक्रीय सदस्य" सम्पर्कसूत्र, इन मतदान योग्य सदस्यों में से ही प्रतिवर्ष रोटेट होते रहेंगे और ये कोई विशेष पद नहीं होगा, केवल एक वर्ष के लिए सक्रिय सदस्यों में से किन्ही ३ (अथवा जितने भी आवश्यक हों) सदस्यों को फाउंडेशन से मेल, इत्यादि प्राप्त करने और चौपाल/समुदाय तक पहुँचाने और अन्य आवश्यक संपर्क प्रदान करने की ज़िम्मेदारी दी जयेगी। मैं इस पक्ष का हूँ की समुदाय को संगठित रखने के लिए, एक semi-organised hierarchy होनी चाहिए, जिसमें सम्पर्कसुत्रों पर समुदाय में मतभेद वगैरह पर निगरानी रखने की नैतिक ज़िम्मेदारी हो। इस मायने में हम सम्पर्कसुत्रों को "First among equals" जैसा समझ सकते हैं।Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  08:58, 1 मई 2019 (UTC)
अनामदास जी मुझे बड़ी खुशी हुई आप ने खुल कर अपनी बात राखी, और मैं आप से शतप्रतिशत सहमत हूँ। हिंदी विकी का दायरा बड़ा होने के बावजूद सुकडा हुआ नज़र आता है, जिस का मुझे कई दिनों अफ़सोस रहा है। आप ने बिलकुल दुरुस्त कहा। मैं भी मेरे हौसले के मुताबिक़ सेवा करने को तैयार हूँ। एक दो प्रस्ताव रखने का इच्छुक हूँ। अह्मद निसार (वार्ता) 07:48, 1 मई 2019 (UTC)
@Anamdas: जी, किसी भी अच्छे विचार का दम निकालना हो तो उसकी परिधि और परिभाषा अमूर्त कर दिया जाय। दर्शन में इसे अवैध सामान्यीकरण की समस्या (fallacy of illicit generalisation) कहते हैं। क्या नाम रखना है उस पर सदस्यों की राय आने दीजिए। जहाँ एक प्रकल्प पर 20-30 सक्रिय योगदान कर्ताओं का भी सतत बने रहना एक चुनौती है वहाँ 100 संपर्क-सूत्र कैसे कम पड़ सकते हैं! इच्छुक सदस्य प्रकल्प पर योगदान देते रहें और समुदाय का विश्वास प्राप्त करें। विकेंद्रित नेतृत्व की विशेषता ही है कि सभी में क्षमता हो और विरेश जी के पूर्वकथनानुसार 'फर्स्ट एमंग ईक्वल्स' की तर्ज पर काम आगे बढ़ता रहे। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 11:52, 1 मई 2019 (UTC)
@Anamdas: जी, आपके ध्वजवाहक के कार्यकाल दौरान जब भी मैंने आपको आपने क्या कार्य किया इस बारे में पूछा या तीनों को मिलकर नीतिनिम या तो यूजरग्रुप का संविधान निर्माण करने के लिए आगे बढ़ने के लिए कहाँ तब भी आपने ये कहकर पल्ला झाड़ लिया कि ध्वजवाहक कोई राजा नहीं, आप अपने ऊपर किसी और को क्यों थोप रहे आदि आदि। जब कहाँ गया कि आप राजा नहीं सेवक हैं, ये आपको करना होगा तब आपने नौकर नहीं है कहकर पल्ला झाड़ लिया था। ध्वजवाहक शब्द से ये अभिप्रेत नहीं होता कि ये राजा है। हाँ यदि ध्वजवाहक का कार्य केवल संपर्कसूत्र बनने तक का ही है अथवा मुख्य कार्य यहीं है तो सम्पर्कसूत्र शब्द सही है। अभी तक उनका कार्य, अधिकार और कर्तव्य का निर्धारण नहीं हुआ है। इस दिशा में चर्चा आगे बढ़ाएं तो कोई निर्णय लिया जा सकता है। धन्यवाद।--आर्यावर्त (वार्ता) 14:47, 2 मई 2019 (UTC)
यूजर ग्रुप के अंतर्गत किये गए सारे कामो को सारी जिम्मेदारी (कानूनी, आर्थिक, नैतिक इ) उसके ध्वजवाहकों की होती है। सरल भाषा में जैसे किसी NGO के बोर्ड मेंबर्स होते है - उसी प्रकार से यूजर ग्रुप के ध्वज-वाहक/संपर्क-प्रमुख होंगे। सरकार या किसी को संस्था/NGO के साथ या खिलाफ कुछ करना हो तो सीधा बोर्ड-मेंबर्स को संपर्क करते है। और एक उदहारण - आप भारत के नागरिक है और आपके चुने हुए नेता आपके प्रतिनिधि - वो खुद को चौकीदार कहे या प्रधानसेवक कहे , पद और जिम्मेदारी उतनी ही रहती है।
फाउंडेशन के logo/चिन्ह ठीक तरीके से इस्तेमाल करना, उसका (यूजर ग्रुप में) अपप्रचार रोकना और अगर कोई गैर-कानूनी हरकत कर रहा हैं तो उसे यूजर ग्रुप से निकालना - ये भी जिम्मेदारियां है। ये जिम्मेदारी लेने वाले को आप जो चाहे वो नाम दे सकते है।
नाम के साथ जिम्मेदारी भी समझ ले अन्यथा नए सदस्य 'संपर्क प्रमुख/ध्वजवाहक ' देखेंगे तो वो सिर्फ संपर्क प्रमुख जैसेही देखेंगे और वो उलझन में पड़ सकते है।
(हिंदी यूजर ग्रुप का पंजीकरण मैंने करवाया था और दुनिया भर के और यूजर ग्रुप में भी मैं शामिल हु - अगर कोई भी मदद लगे तो ज़रूर संपर्क करे )--AbhiSuryawanshi (वार्ता) 18:20, 6 मई 2019 (UTC)

Request for translation and continued maintenance of a Meta page: Wikimedia Community User Group Hong Kong[संपादित करें]

Hello, guys,

I am WhisperToMe, a strategy coordinator for meta:Wikimedia Community User Group Hong Kong. In an effort to increase participation from Hong Kong's ethnic minority South Asian community, I am looking for Wikimedians interested in maintaining translations of the user group's pages in South Asian languages. If there are speakers of Hindi interested in not only creating a translation of the page, but also continually maintaining it as changes are made, please give me a ping. I think this would be very useful for the city's South Asian community.

Happy editing, WhisperToMe (वार्ता) 09:19, 1 मई 2019 (UTC)

चर्चा:विकिमीडिया आंदोलन रणनीति 2018-20/क्षमता निर्माण[संपादित करें]

सभी सदस्यों को नमस्कार! इस हफ्ते हम क्षमता निर्माण (Capacity Building) के विषय पर बातचीत करेंगे। क्षमता निर्माण वे गतिविधियाँ और संचार हैं जो ज्ञान, कौशलों, विश्वासों, उपकरणों, प्रक्रियाओं और संसाधनों को सभी विकिमीडिया हितधारकों के लिए व्यवस्थित रूप से निर्मित, प्राप्त, सुदृढ़, और साझा करते हैं ताकि सेवा और ज्ञान निष्पक्षता के रूप में ज्ञान की हमारी रणनीतिक दिशा की ओर बढ़ा जाए।
केंद्रबिंदु

  • हमारे आंदोलन में क्षमता निर्माण में निवेश करने के लिए लक्ष्य;
  • यह समझना कि आंदोलन के भीतर हमें इस संबंध में कौन-सी क्षमताओं की आवश्यकता है और लक्ष्य समूहों के लिए प्राथमिकताओं को पहचानना;
  • हमारे आंदोलन में नेतृत्व और विशेषज्ञता निर्मित करने के लिए नेतृत्व कौशलों का विकास – स्वैच्छिक और स्टाफ की भूमिकाओं में;
  • वैश्विक आंदोलन के तौर पर कार्यनीतिक निर्देशन की तरफ हमारे काम में सहायता करने के लिए आवश्यक कौशल वाले लोगों (स्वैच्छिक और स्टाफ) की खोज-बीन, भर्ती और उन्हें बनाए रखने के प्रति व्यवस्थित दृष्टिकोण;
  • संगठनात्मक और सांस्कृतिक बदलाव लागू करना।

क्षमता निर्माण के दायरे की ओर बढ़ते हुए, हमने जांच के 7 सामयिक क्षेत्रों का पता लगाया है:
विषय 1: विविधता, निष्पक्षता, समावेश, और सहभागिता संसाधन वितरण में असमानता (उदाहरण के लिए, भौगोलिक स्थितियों में) क्षमता निर्माण में भाग लेने वाले लोगों पर बड़ा प्रभाव डाल सकती है।
विषय 2: संसाधनों का आवंटन हमें यह भी विचार करना चाहिए कि धन सहित संसाधनों को कैसे क्षमता निर्माण के प्राप्तकर्ताओं के स्तर पर आवंटित किया जा सकता है, जिसमें लोगों का समय भी शामिल है।
विषय 3: क्षमता निर्माण के लिए तरीके और साधन हमारे टूलकिट में शामिल किए जाने वाले तरीकों और साधनों में ऑनलाइन-लर्निंग, एक सहकर्मी से दूसरे सहकर्मी को परामर्श, अनुभवी परामर्श, ऑन-साइट तकनीकी सहायता, और आधारिक संरचना के लिए फंडिंग हैं, लेकिन बहुत थोड़े ही ऐसे नाम हैं।
विषय 4: क्षमता निर्माण के लिए भूमिकाएं, जिम्मेदारियां और एक प्रणाली यह विषय इस बात से संबंधित है कि क्षमता निर्माण कौन प्रदान करता है, क्षमता निर्माण कौन प्राप्त करता है, और निर्णय कैसे लिए जाते हैं। विकिमीडिया आंदोलन प्रतिभा और क्षमता को बनाए रखने के लिए संघर्ष करता है। हमारे पास जिम्मेदारी के पदों को लेने के लिए सक्षम और तैयार लोगों के लिए अवसरों को व्यवस्थित रूप से पहचानने, बनाए रखने, और निर्मित करने के तरीके नहीं हैं, और यह क्षमता निर्माण सहित हमारे काम के सभी क्षेत्रों पर लागू होता है।
विषय 5: आंदोलन के हितधारकों के लिए क्षमताओं की श्रेणियाँ क्षमताओं के वर्गों में संचार, शासन, समर्थन, सामुदायिक आयोजन, धन एकत्र करना, संगठनात्मक प्रबंधन और नेतृत्व विकास शामिल हो सकते हैं, लेकिन ऐसे कुछ ही नाम हैं।
विषय 6: विकिमीडिया आंदोलन के भीतर क्षमता के रूप में संचार विकिमीडिया आंदोलन में क्षमता निर्माण के लिए एक ऐसे संचार दृष्टिकोण की आवश्यकता हो सकती है जिसमें एक स्पष्ट प्रक्रिया शामिल हो और जो आवश्यकता पड़ने पर सामुदायिक आवश्यकताओं को पूरा कर सके।
विषय 7: क्षमता निर्माण का सतत मूल्यांकन वर्तमान, विकसित, और सर्वोत्तम प्रथाओं का मूल्यांकन एक क्षमता निर्माण प्रणाली में निर्मित करना होगा, जिससे एक विशिष्ट समुदाय या समूह के साथ-साथ व्यापक विकिमीडिया आंदोलन में उनको यह समझने और स्वीकार कर, निरंतर तरीकों, पहलों और कार्यक्रमों में सुधार करने की अनुमति हो। यह समूहों और व्यक्तियों को अपने स्वयं के कार्य और निर्माण क्षमता में प्रगति का आकलन करने और दूसरों को उनके सीखने और परिणामों के बारे में बताने में भी सक्षम बनाएगा।

मुख्य प्रश्न:

  • क्षमता निर्माण करने के लिए किन संसाधनों की आवश्यकता होती है? स्थानीय और क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कौन से साधन और तरीके सबसे अच्छा काम करते हैं?
  • भावी क्षमता निर्माण में किन प्रक्रियाओं या प्रणालियों का समर्थन हो? क्षमता को बनाए रखने और बढ़ावा देने के लिए किन संरचनाओं और निकायों की आवश्यकता है, और इन्हें कायम रखने के लिए कौन जिम्मेदार है?
  • हम क्षमता निर्माण को कैसे समावेशी और न्यायसंगत बनाते हैं? कौन से हितधारक क्षमता निर्माण प्रयासों का हिस्सा होने चाहिए, और कैसे?

संक्षेप में;

  1. वर्तमान मुद्दे क्या हैं जो संपादकों के प्रतिधारण को प्रभावित कर रहे हैं? सभी विकिमीडिया के सदस्यों (stakeholders) के लिए ज्ञान, कौशल, विश्वास, उपकरण, प्रक्रियाओं और संसाधनों को बनाने और प्राप्त करने; उन्हें मजबूत बनाए रखने और साझा करने के लिए प्रभावी ढंग से स्वयंसेवकों को आंदोलन में लाने के लिए कौन से उपकरण (tools) , संसाधन (funds and staff) और बुनियादी ढांचे (infrastructure) की आवश्यकता है।
  2. हिंदी समुदाय के लिए क्षमता निर्माण को सफल बनाने के लिए आंदोलन स्तर पर क्या बदलाव किए जाने की आवश्यकता है?

इस विषय में प्रतिक्रिया देने के लिए आप नीचे, इस इस पृष्ठ पर, या फिर ईमेल (rsharma@wikimedia.org) पर भी दे सकते हैं हैं? अगर कोई प्रश्न हो, तो अवश्य पूछिए। धन्यवाद। RSharma (WMF) (वार्ता) 17:05, 2 मई 2019 (UTC)

वर्तमान मुद्दे[संपादित करें]

आपके सुझाव/प्रतिक्रिया[संपादित करें]

विकिसम्मेलन कोलकाता 2019 में प्रस्तावित 12 मासीय कार्ययोजना[संपादित करें]

नमस्कार विकिसाथियों। विकिसम्मेलन कोलकाता 2019 में विकिपीडिया और विकिस्रोत के लिए 12 मासीय कार्ययोजना का संकल्प लिया गया था। इसके अंतर्गत निम्न बिंदुओं को कार्यदल गठित कर क्रियान्वित करने का प्रस्ताव रखा गया था :

*हिन्दी विकिपीडिया पर

  1. अगले 12 महीनों में 12 निर्वाचित लेख बनाए जाएं। निर्वाचन हेतु परीक्षण के लिए नामांकित लेखों को सुधार कर निर्वाचित स्तर तक पहुँचाया जाय।
  2. आलेख स्तर से ऊपर के लेखोंं की सूची बनाई जाय तथा प्रत्येक सप्ताह लेखों में परिवर्तन होता रहे।
  3. आधार स्तर के लेखों को कम से कम आलेख स्तर तक पहुँचाया जाय।
  4. एक वाक्य के लेखों को कम से कम आधार स्तर तक पहुँचाया जाय।
  5. क्या आप जानते हैं, निर्वाचित चित्र, आज का आलेख तथा समाचार का अनुभाग अद्यतन तथा नियमित अंतराल पर परिवर्तित होता रहे।

* हिन्दी विकिस्रोत पर

  1. अगले 12 महीनों में 12 पुस्तकें प्रूफरीड करके ट्रांस्क्लूड की जाएंं।
  2. विकिस्रोत पर कम से कम 30 हजार पृष्ठ निर्मित किए जाएं।
  3. निर्मित पृष्ठों के कम से कम 10% (लगभग 3000) पृष्ठ प्रूफरीड एवं वैलिडेट किए जाएं।

इनके साथ-साथ हिन्दी विकिमीडिया पर क्षमता निर्माण के पहल के तौर पर 50 नए सक्रिय संपादक बढ़ाने के प्रयास किए जाएं। हिन्दी विकिपीडिया के अन्य बंधु प्रकल्पों पर भी सक्रियता बढ़ाए जाने के प्रयास किए जाएंं। इन संकल्पों को लक्ष्य तक पहुँचाने में भागीदार बनने के लिए इच्छुक सदस्य अपनी रुचि अनुसार कार्यदल का हिस्सा बन सकते हैं। धन्यवाद। --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 18:50, 6 मई 2019 (UTC)

हिन्दी विकिपीडिया कार्यदल[संपादित करें]

  1. अजीत कुमार तिवारी --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 18:50, 6 मई 2019 (UTC)
  2. Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  21:32, 6 मई 2019 (UTC)
  3. आर्यावर्त (वार्ता) 12:41, 7 मई 2019 (UTC)
  4. --हिंदुस्थान वासी वार्ता 03:25, 8 मई 2019 (UTC)
  5. Raju Jangid (वार्ता) 13:55, 9 मई 2019 (UTC)
  6. निलेश शुक्ला (वार्ता) 05:52, 14 मई 2019 (UTC) Nilesh shukla

हिन्दी विकिस्रोत कार्यदल[संपादित करें]

  1. अजीत कुमार तिवारी --अजीत कुमार तिवारी बातचीत 18:50, 6 मई 2019 (UTC)
  2. Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  21:32, 6 मई 2019 (UTC)
  3. Raju Jangid (वार्ता) 13:54, 9 मई 2019 (UTC)
  4. मेरा दायित्व ३००० पृष्ठ निर्माण तथा ३०० पृष्ठ प्रमाणीकरण। अनिरुद्ध! (वार्ता) 03:07, 11 मई 2019 (UTC)
  5. निलेश शुक्ला (वार्ता) 05:52, 14 मई 2019 (UTC) nilesh shukla

चर्चा[संपादित करें]

नमस्ते @अजीत कुमार तिवारी: जी,कृपया बताएं कि इस योजना पर कार्य कब से आरम्भ होगा और कार्य विभाजन की क्या योजना है?

  • इसके लिए एक परियोजना पृष्ठ बना सकते हैं जहाँ कार्य विभाजन और किये गए कार्य का अद्यतन होता रहे। ये भी आवश्यक है कि ये योजना सक्रिय रूप से चलें।U
  • अभी तक जितने सदस्य जुड़े हैं इस परियोजना को चलाने के लिए पर्याप्त नहीं है, ऐसा नहीं होना चाहिए कि चर्चा हो लेकिन कार्य कुछ न हो।
  • हिन्दी विकिपीडिया में सब से अधिक निर्वाचित लेख बनाने वाले सदस्य आशीष भटनागर जी को तो विकि छोड़ने पर विवश किया गया है। त्यागपत्र देने के बाद उनका कोई संपादन नहीं है।
  • सभी सदस्य तो निर्वाचित लेख बना नहीं सकते; जो बनाएंगे उनको भी एक निर्वाचित लेख बनाने में एक साल भी लग सकता है। ऐसी स्थिति में १२ निर्वाचित लेख कैसे बनेंगे?
  • सदस्य या तो हिन्दी विकिपीडिया में सक्रिय योगदान दे सकते हैं या तो विकिस्त्रोत में सक्रिय योगदान दे सकते हैं। दोनों में कैसे संभव होगा?

जो भी हो वास्तविकता का स्वीकार करें और योजना को कार्य करने की दिशा में आगे बढ़ाने के लिए हमें प्रयत्न तो करना ही होगा। शुभकामनाएं।--आर्यावर्त (वार्ता) 04:58, 17 मई 2019 (UTC)

@आर्यावर्त: आपका दिमाग़ ख़राब हो गया है। --SM7--बातचीत-- 10:33, 19 मई 2019 (UTC)

Regarding an user[संपादित करें]

सदस्य:Maharshi dayanand yog sansthan Addmission call 8429055874, this users user name in against Wikipedias username policy + His/her user page is promoting an institution। Please take appropriate action। I am not very good in writing Hindi, sorry for that। -- Eatcha (वार्ता) 17:22, 8 मई 2019 (UTC)

Regarding an article[संपादित करें]

Hi there,

can any one please delete this non-sense article ? -- Eatcha (वार्ता) 11:05, 9 मई 2019 (UTC)

Can anyone delete these files ?[संपादित करें]

Hi there,
Admin सदस्य:अजीत कुमार तिवारी deleted चित्र:Parveen raaj Hisampur.jpg, but this user re-uploaded this image and also please remove the following non-sense uploads by this user and his brother
LIST:

Many thanks -- [___EATCHA____]  💬 09:16 PM, 9 May 2019 (IST)

Wikimedia Education SAARC conference application is now open[संपादित करें]

Apologies for writing in English, please consider translating

Greetings from CIS-A2K,

The Wikimedia Education SAARC conference will take place on 20-22 June 2019. Wikimedians from Indian, Sri Lanka, Bhutan, Nepal, Bangladesh and Afghanistan can apply for the scholarship. This event will take place at Christ University, Bangalore.

Who should apply?

  • Any active contributor to a Wikimedia project, or Wikimedia volunteer in any other capacity, from the South Asian subcontinent is eligible to apply
  • An editor must have 1000+ edits before 1 May 2019.
  • Anyone who has the interest to conduct offline/real-life Wikimedia Education events.
  • Activity within the Wikimedia movement will be the main criteria for evaluation. Participation in non-Wikimedia free knowledge, free software, collaborative or educational initiatives, working with institutions is a plus.

Please know more about this program and apply to participate or encourage the deserving candidates from your community to do so. Regards.Ananth (CIS-A2K) using MediaWiki message delivery (वार्ता) 13:54, 11 मई 2019 (UTC)

विकि शिक्षा ग्रीन हाउस टीम प्रस्ताव का समर्थन करें[संपादित करें]

नमस्ते विकि मित्रो, अजीत तथा अन्य ४ सदस्यों ने विकि शिक्षा ग्रीन हाउस के पायलट परियोजना के लिए आवेदन प्रपत्र भर दिया है। आपसे इसका समर्थन करने एवं इसे और बेहतर बनाने के लिए सुझाव देने की अपेक्षा है। यह अपने तरह का पहला प्रयास है। यदि सफल रहा तो विकि को समृद्धि प्रदान करने के लिए एक और राह खुल जाएगी। नैहाटी के छात्रों ने अनौपचारिक रूप से शिक्षा कार्यक्रम तो किया ही है। उसका परिणाम भी विकि स्रोत की स्वीकृति के रूप में सामने है ही। यदि उन छात्रों को इस परियोजना के रूप में कुछ आधारभूत उपकरण, प्रशिक्षण तथा उत्साहवर्धन मिल सके तो वे जरूर कमाल करेंगें। परियोजना की बुनियादी समस्या थी तीन सदस्यों का एक ही स्थल पर होना जो कि दिल्ली के अलावा शायद ही कहीं संभव है। दिल्ली अभी ऐसे आयोजन के लिए तैयार नहीं है। ऐसे में नैहाटी को समर्थन देकर मैं अपनी ही खामी पर पर्दा डाल रहा हूँ। हम ऐसे और स्थानों की तथा ऐसे और दलों की निशानदेही करने को तत्पर हैं जो ऐसे कार्यक्रमों का प्रस्ताव अपने शहर के संस्थानों के लिए लेकर आए। किंतु हमारे भविष्य के प्रयासों के लिए इस प्रयास का सफल होना आवश्यक है। वैसे असफल रहने पर भी हम अपने स्तर पर थोड़े छोटे रूप में इस परियोजना को जरूर चलाएंगें। लेकिन ग्रीन हाउस जैसी बिल्कुल नई पहल की शुरुआत हिंदी से हो जाए तो मजा आ जाए। हम मिलकर चाहेंगें तो जरूर सफल होंगें।

आप यहाँ भी हिंदी में सुझाव दे सकते हैं या चर्चा कर सकते हैं। अनिरुद्ध! (वार्ता) 00:57, 13 मई 2019 (UTC)

आंदोलन रणनीति 2030 चर्चा सारांश मार्च - अप्रैल[संपादित करें]

अप्रैल 2019 तक की सामुदायिक चर्चा प्रकाशित हो चुकी है। इसे आंदोलन रणनीति 2030: हिंदी सामुदायिक रिपोर्ट अप्रैल 2019 पर पढ़ा जा सकता है। धन्यवाद। RSharma (WMF) (वार्ता) 14:07, 14 मई 2019 (UTC)

CIS-A2K: 3 Work positions open[संपादित करें]

Hello,
Greetings for CIS-A2K. We want to inform you that 3 new positions are open at this moment.

  • Communication officer: (staff position) The person will work on CIS-A2K's blogs, reports, newsletters, social media activities, and over-all CIS-A2K general communication. The last date of application is 4 June 2019.
  • Wikidata consultant: (consultant position), The person will work on CIS-A2K's Wikidata plan, and will support and strengthen Wikidata community in India. The last date of application is 31 May 2019
  • Project Tiger co-ordinatorː (consultant position) The person will support Project tiger related communication, documentation and coordination, Chromebook disbursal, internet support etc. The last date of application is 7 June 2019.

For details about these opportunities please see here. -- Tito (CIS-A2K), sent using MediaWiki message delivery (वार्ता) 10:02, 22 मई 2019 (UTC)

Redirect request[संपादित करें]

Please redirect किरेन रिजीजू to किरेन रिजिजू Capankajsmilyo (वार्ता) 08:20, 23 मई 2019 (UTC)