अरनाला का किला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अर्नाला किला
मराठा साम्राज्य का हिस्सा
Arnala killa.jpg

किले की एक खिड़की से दुर्ग का दृश्य
लुआ त्रुटि Module:Location_map में पंक्ति 390 पर: The value "{{{longitude}}}" provided for longitude is not valid।
निर्देशांक 19°27′57″N 72°43′57″E / 19.46577°N 72.73247°E / 19.46577; 72.73247निर्देशांक: 19°27′57″N 72°43′57″E / 19.46577°N 72.73247°E / 19.46577; 72.73247
निर्माण
प्रयोग में
वर्तमान स्थिति संरक्षित अवशेष
जनता के लिये खुला
हाँ
अधिकृत है  बीजापुर
 Shivaji
[[Image:{{{flag alias-१७०७}}}|22x20px|border|Flag of पुर्तगाल]] (c.१५३०-१७३७)
Flag of मराठा साम्राज्य मराठा साम्राज्य (1737-1818)
Flag of the United Kingdom ग्रेट ब्रिटेन

Flag of भारत भारत

अर्नाला का किला महाराष्ट्र की राजधानी के निकट वसई गाँव में है। यह दुर्ग जल के बीच एक द्वीप पर बना होने के कारण इसे जलदुर्ग या जन्जीरे-अर्नाला भी कहा जाता है। यह मुम्बई से ४८ किमी दूरी पर ख्य अर्नाला से ८ कि॰मी॰ दूरी पर स्थित है।[1] इस किले पर १७३९ में पेशवा बाजीराव के भाई चीमाजी ने अधिकार कर लिया था।[2] वैसे इस किले पर अधिकार के अलावा उस युद्ध में मराठाओं ने अपनी सेना के एक बड़े भाग की हानि सही थी। १८०२ ई॰ में पेशवा बाजीराव द्वितीय ने ब्रिटिश सेना से द्वितीय वसई सन्धि कर ली और तदोपरान्त अर्नाला का किला अंग्रेजो के अधिकार में आ गया।

यह किला सामरिक दृष्टि से काफ़ी महत्त्वपूर्ण था। यहां से गुजरात के सुल्तान ,पुर्तगाली ,अंग्रेज और मराठाओं ने शासन किया है। अरनाला का किला तीनो ओर से समुद्र से घिरा हुआ है |

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. के 8 रहस्यमयी किले , जहा परिंदा भी पर नही मार सकता | माली, राजकुमार। ८ नवम्बर २०१६। अभिगमन तिथि: २० फ़रवरी २०१८
  2. अर्नाला का किला।बुकस्ट्रक।अभिगमन तिथि: २० फ़रवरी २०१८

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]