आभीर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

प्राचीन भारतीय महाकाव्यों में आभीर लोगों का उल्लेख मिलता है। वेदों तक में इनका उल्लेख प्राप्त होता है। 'आभीर' शब्द 'पेरीप्लस ऑफ द एइथ्रियन सी' (Periplus of the Erythraean Sea) में भी मिलता है।

कई विद्वानों का मत है कि वर्तमान समय की 'अहीर' जाति ही प्राचीन समय के आभीर थे। उनका मत है कि संस्कृत शब्द आभीर का प्राकृत रूप 'आभीर हो गया।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]