"मकर संक्रान्ति" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
953 बैट्स् जोड़े गए ,  5 माह पहले
Rescuing 9 sources and tagging 1 as dead.) #IABot (v2.0.1
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
(Rescuing 9 sources and tagging 1 as dead.) #IABot (v2.0.1)
[[चित्र:Magar woman dancing with traditional basket in Maghe Sakranti festival.jpg|right|thumb|200px|माघे-संक्रान्ति के अवसर पर नृत्य करती हुईं मागर स्त्रियां]]
[[नेपाल]] के सभी प्रान्तों में अलग-अलग नाम व भांति-भांति के रीति-रिवाजों द्वारा भक्ति एवं उत्साह के साथ धूमधाम से मनाया जाता है।
मकर संक्रान्ति के दिन [[किसान]] अपनी अच्छी फसल के लिये भगवान को धन्यवाद देकर अपनी अनुकम्पा को सदैव लोगों पर बनाये रखने का आशीर्वाद माँगते हैं। इसलिए मकर संक्रान्ति के त्यौहार को फसलों एवं किसानों के त्यौहार के नाम से भी जाना जाता है।<ref>[{{Cite web |url=http://www.chhathpuja.co/community/viewbulletin/2677-makar-sankranti-hindi,-makar-sankranti-hindi-essay?groupid=115 |title=: मकर संक्रान्ति निबंध ] |access-date=13 जनवरी 2014 |archive-url=https://web.archive.org/web/20140223021524/http://www.chhathpuja.co/community/viewbulletin/2677-makar-sankranti-hindi,-makar-sankranti-hindi-essay?groupid=115 |archive-date=23 फ़रवरी 2014 |url-status=dead }}</ref>
 
नेपाल में मकर संक्रान्ति को माघे-संक्रान्ति, सूर्योत्तरायण और [[थारू|थारू समुदाय में]] 'माघी' कहा जाता है। इस दिन नेपाल [[सरकार]] सार्वजनिक छुट्टी देती है। थारू समुदाय का यह सबसे प्रमुख त्यैाहार है। नेपाल के बाकी समुदाय भी तीर्थस्थल में स्नान करके दान-धर्मादि करते हैं और तिल, घी, शर्करा और कन्दमूल खाकर धूमधाम से मनाते हैं। वे नदियों के [[संगम]] पर लाखों की संख्या में नहाने के लिये जाते हैं। तीर्थस्थलों में रूरूधाम (देवघाट) व त्रिवेणी मेला सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है।
'''[[उत्तर प्रदेश]]''' में यह मुख्य रूप से '[[दान]] का पर्व' है। [[इलाहाबाद]] में [[गंगा नदी|गंगा]], [[यमुना नदी|यमुना]] व [[सरस्वती]] के [[संगम]] पर प्रत्येक वर्ष एक माह तक माघ मेला लगता है जिसे [[माघ मेला|माघ मेले]] के नाम से जाना जाता है। १४ जनवरी से ही इलाहाबाद में हर साल माघ मेले की शुरुआत होती है। १४ दिसम्बर से १४ जनवरी तक का समय खर मास के नाम से जाना जाता है। एक समय था जब उत्तर भारत में १४ दिसम्बर से १४ जनवरी तक पूरे एक महीने किसी भी अच्छे काम को अंजाम भी नहीं दिया जाता था। मसलन शादी-ब्याह नहीं किये जाते थे परन्तु अब समय के साथ लोगबाग बदल गये हैं। परन्तु फिर भी ऐसा विश्वास है कि १४ जनवरी यानी मकर संक्रान्ति से पृथ्वी पर अच्छे दिनों की शुरुआत होती है। माघ मेले का पहला स्नान मकर संक्रान्ति से शुरू होकर शिवरात्रि के आख़िरी स्नान तक चलता है। संक्रान्ति के दिन स्नान के बाद दान देने की भी [[परम्परा]] है।[[बागेश्वर]] में बड़ा मेला होता है। वैसे गंगा-स्नान रामेश्वर, चित्रशिला व अन्य स्थानों में भी होते हैं। इस दिन [[गंगा नदी|गंगा]] स्नान करके तिल के मिष्ठान आदि को ब्राह्मणों व पूज्य व्यक्तियों को दान दिया जाता है। इस पर्व पर क्षेत्र में गंगा एवं [[रामगंगा नदी|रामगंगा]] घाटों पर बड़े-बड़े मेले लगते है। समूचे उत्तर प्रदेश में इस व्रत को ''खिचड़ी'' के नाम से जाना जाता है तथा इस दिन [[खिचड़ी]] खाने एवं खिचड़ी दान देने का अत्यधिक महत्व होता है।
 
'''[[बिहार]] में''' मकर संक्रान्ति को खिचड़ी नाम से जाना जाता है। इस दिन उड़द, चावल, तिल, चिवड़ा, गौ, स्वर्ण, ऊनी वस्त्र, कम्बल आदि दान करने का अपना महत्त्व है।<ref>[{{Cite web |url=http://www.chhathpuja.co/community/viewbulletin/2661-khichdi-festival-2014,-makar-sankranti-or-sakraat-in-maithili?groupid=2122 |title=: खिचड़ी मकर संक्रांति पर्व] |access-date=9 जनवरी 2014 |archive-url=https://web.archive.org/web/20140223021520/http://www.chhathpuja.co/community/viewbulletin/2661-khichdi-festival-2014,-makar-sankranti-or-sakraat-in-maithili?groupid=2122 |archive-date=23 फ़रवरी 2014 |url-status=dead }}</ref>
'''[[महाराष्ट्र]] में''' इस दिन सभी विवाहित महिलाएँ अपनी पहली संक्रान्ति पर कपास, तेल व नमक आदि चीजें अन्य सुहागिन महिलाओं को दान करती हैं। तिल-गूल नामक हलवे के बाँटने की प्रथा भी है। लोग एक दूसरे को तिल गुड़ देते हैं और देते समय बोलते हैं -"तिळ गूळ घ्या आणि गोड़ गोड़ बोला" अर्थात तिल गुड़ लो और मीठा-मीठा बोलो। इस दिन महिलाएँ आपस में तिल, गुड़, रोली और हल्दी बाँटती हैं।
 
 
== बाहरी कड़ियाँ ==
*[https://web.archive.org/web/20200111042003/https://www.newjobsnewsindia.com/2019/11/why-celebrate-makar-sakranti-importance.html मकर सक्रांति का क्यों मनाते हैं? मकर सक्रांति का महत्त्व।]
*[https://www.dekhoyaar.com/makar-sankranti-festival/ मकर संक्रांति महापर्व]
* [http://truetales.in/makar-sankranti-10-sentence-in-hindi-2020/ 10 sentences on Makar Sankranti in Hindi]
*[https://www.gurujiinhindi.com/2019/12/makar-sankranti-kab-hain-makar-sankranti-kya-hai.html मकर संक्रांति 2020: शुभ-मुहूर्त, पुण्यकाल और इतिहास से जुडी सम्पूर्ण जानकारी]
*[http://amarujala.com/dharam/default1.asp?foldername=20060111&sid=2 दान एवं स्नान का पर्व: '''मकर संक्रांति''']{{Dead link|date=जून 2020 |bot=InternetArchiveBot }} (अमर उजाला)
* [https://web.archive.org/web/20101018063719/http://www.rajneesh-mangla.de/unicode.php '''मकर संक्रान्ति''' ] (अमर उजाला)
* [https://web.archive.org/web/20090227171343/http://navbharattimes.indiatimes.com/articleshow/3974004.cms हिंदुओं का 'बड़ा दिन' है मकर संक्रांति] (नवभारत टाइम्स)
* [https://web.archive.org/web/20100116082120/http://www.when-is.com/makar-sankranti.asp When is Makar Sankranti? Dates of Makar Sankranti until 2010]
* [https://web.archive.org/web/20090220171652/http://patrizianorellibachelet.com/TNWblog/?p=68 Makar Sankranti and the Hindu Samaj]
* [https://web.archive.org/web/20100115205134/http://jaanlo.com/howto/how-makara-sankranthi-celebrated-india How Makara Sankranthi is celebrated in India]
* [https://web.archive.org/web/20161012121807/http://www.mypanchang.com/ Makar samkranti dates in different parts of the world]
{{हिन्दू पर्व-त्यौहार}}
 
1,05,299

सम्पादन

दिक्चालन सूची