महाव्रत

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
जैन प्रतीक चिन्ह और पाँच महाव्रत

जैन धर्म में निम्नलिखित पाँच व्रतों को महाव्रत कहा जाता है-

  1. अहिंसा (हिंसा न करना)
  2. सत्य
  3. अस्तेय (चोरी न करना)
  4. ब्रह्मचर्य
  5. अपरिग्रह (धन का संग्रह न करना)