कुमाऊँनी लोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कुमाऊँनी

NainSingh.gif
नैन सिंह रावत
कुल जनसंख्या
३० लाख
बड़ी जनसंख्या वाले क्षेत्र
प्रमुख जनसंख्या क्षेत्र:
भाषाएँ

कुमाऊँनी, हिन्दी

धर्म

Om symbol.svg हिन्दू

सम्बन्धित सजातीय समूह

हिन्द-आर्य, राजपूत, ब्राह्मण

पाद टिप्पणी

ब्रिटिश इण्डियन प्रणाली में लड़ाका नस्ल के रूप में वर्गीकृत

कुमाऊँनी लोग, भारतवर्ष के उत्तराखण्ड राज्य के अन्तर्गत कुमांऊॅं क्षेत्र के लोगों को कहते हैं। इनमें वे सभी लोग सम्मिलित हैं जो कुमाऊँनी भाषा या इससे सम्बन्धित उपभाषाएें बोलते हैं। कुमांऊँनी लोग उत्तराखण्ड प्रदेश के अल्मोड़ा, उधमसिंहनगर, चम्पावत, नैनीताल, पिथौरागढ़ और बागेश्वर जिलों के निवासी हैं।[1]

भारत की सशस्त्र सेनाएँ और केन्द्रीय पुलिस संगठन, कुमाऊँ के लोगों के लिए रोजगार का प्रमुख स्रोत रहे हैं। भारत की सीमाओं की रक्षा करने में कुमाऊँ रेजीमेंट की उन्नीस वाहिनियाँ कुमाऊँ के लोगों का स्पष्ट प्रतिनिधित्व करतीं हैं।

वैज्ञानिक व भूगोलवेत्ता[संपादित करें]

  • नैन सिंह रावत
  • खड़गसिंह बल्दिया
  • कृष्णसिंह रावत
  • पूरनचन्द्र जोशी
  • डॉ शैलेश उप्रेती

स्वतंत्रता सेनानी[2][संपादित करें]

राजनीतिज्ञ[संपादित करें]

सशस्त्र सेनाओं मे[संपादित करें]

साहित्य प्रतिभाऐं[संपादित करें]

उद्योग जगत[संपादित करें]

== खेल प्रतिभाऐं == rishab panth

कला जगत की प्रतिभाऐं[संपादित करें]

  • रणवीरसिंह बिष्ट

फिल्म तथा संगीत जगत की प्रतिभाऐं[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "The people live in Kumaon region referred as to as Kumaoni". उत्तराखण्ड टूरिज्म, अंग्रेजी परिशिष्ट. मूल से 3 मार्च 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 फरवरी, 2018. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  2. "छह स्वतंत्रता सेनानी जेल में हुए थे शहीद". अमर उजाला, हिन्दी दैनिक, उत्तराखण्ड परिशिष्ट. मूल से 1 मार्च 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 01 मार्च, 2018. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  3. "एक बेमिसाल नाम स्व० श्रीमती बिश्नी देवी शाह का है।". मेरा पहाड़, उत्तराखण्ड परिशिष्ट. मूल से 6 फ़रवरी 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 01 मार्च, 2018. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)