कुमाऊँनी लोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
कुमाऊँनी

NainSingh.gif
नैन सिंह रावत
कुल जनसंख्या
३० लाख
बड़ी जनसंख्या वाले क्षेत्र
प्रमुख जनसंख्या क्षेत्र:
भाषाएँ

कुमाऊँनी, हिन्दी

धर्म

Om symbol.svg हिन्दू

सम्बन्धित सजातीय समूह

हिन्द-आर्य, राजपूत, ब्राह्मण

पाद टिप्पणी

ब्रिटिश इण्डियन प्रणाली में लड़ाका नस्ल के रूप में वर्गीकृत

कुमाऊँनी लोग, भारतवर्ष के उत्तराखण्ड राज्य के अन्तर्गत कुमांऊॅं क्षेत्र के लोगों को कहते हैं। इनमें वे सभी लोग सम्मिलित हैं जो कुमाऊँनी भाषा या इससे सम्बन्धित उपभाषाएें बोलते हैं। कुमांऊँनी लोग उत्तराखण्ड प्रदेश के अल्मोड़ा, उधमसिंहनगर, चम्पावत, नैनीताल, पिथौरागढ़ और बागेश्वर जिलों के निवासी हैं।[1]

भारत की सशस्त्र सेनाएँ और केन्द्रीय पुलिस संगठन, कुमाऊँ के लोगों के लिए रोजगार का प्रमुख स्रोत रहे हैं। भारत की सीमाओं की रक्षा करने में कुमाऊँ रेजीमेंट की उन्नीस वाहिनियाँ कुमाऊँ के लोगों का स्पष्ट प्रतिनिधित्व करतीं हैं।

वैज्ञानिक व भूगोलवेत्ता[संपादित करें]

स्वतंत्रता सेनानी[2][संपादित करें]

  • मदन मोहन उपाध्याय
  • पदमसिंह डसीला
  • पदमसिंह कनौंणियॉ बिष्ट (काला चौना, अल्मोड़ा)
  • रामसिंह धोनी
  • शेरसिंह कार्की
  • शेरसिंह हीत बिष्ट (अल्मोड़ा)
  • टीकासिंह कन्याल
  • विक्टर मोहन जोशी

राजनीतिज्ञ[संपादित करें]

सशस्त्र सेनाओं मे[संपादित करें]

साहित्य प्रतिभाऐं[संपादित करें]

उद्योग जगत[संपादित करें]

खेल प्रतिभाऐं[संपादित करें]

कला जगत की प्रतिभाऐं[संपादित करें]

  • रणवीरसिंह बिष्ट

फिल्म तथा संगीत जगत की प्रतिभाऐं[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "The people live in Kumaon region referred as to as Kumaoni". उत्तराखण्ड टूरिज्म, अंग्रेजी परिशिष्ट. http://www.uttarakhand-tourism.com/uttarakhand/kumaoni.php. अभिगमन तिथि: 24 फरवरी, 2018. 
  2. "छह स्वतंत्रता सेनानी जेल में हुए थे शहीद". अमर उजाला, हिन्दी दैनिक, उत्तराखण्ड परिशिष्ट. https://www.amarujala.com/uttarakhand/almora/freedom-fighters. अभिगमन तिथि: 01 मार्च, 2018. 
  3. "एक बेमिसाल नाम स्व० श्रीमती बिश्नी देवी शाह का है।". मेरा पहाड़, उत्तराखण्ड परिशिष्ट. http://www.merapahad.com/bishni-devi-shah-freedom-fighter-from-uttarakhand/. अभिगमन तिथि: 01 मार्च, 2018.