गंगोली राज्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
गंगोली राज्य
राज्य
१३वीं सदी–१६वीं सदी
राजधानी मनकोट
शासन राजतंत्र
इतिहास
 -  स्थापित १३वीं सदी
 -  अंत १६वीं सदी
Warning: Value specified for "continent" does not comply

गंगोली राज्य तेरहवीं से सोलहवीं शताब्दी तक वर्तमान उत्तराखण्ड राज्य में एक ऐतिहासिक राज्य था। राज्य की राजधानी मनकोट में थी, और इस कारण यहाँ के राजाओं को मनकोटी राजा कहा जाता था।[1]:11 [2]:61

सरयू गंगा तथा राम गंगा नदियों के मध्य स्थित होने के कारण इस क्षेत्र को पूर्वकाल में गंगावली कहा जाता था, जो धीरे धीरे बदलकर गंगोली हो गया।[3]:71 तेरहवीं शताब्दी में मनकोटी राज शुरू होने से पहले इस क्षेत्र पर कत्यूरी राजवंश का शासन था। गंगोलीहाट इस क्षेत्र का प्रमुख व्यापारिक केंद्र था।

सोलहवीं शताब्दी में कुमाऊँ के राजा बालो कल्याण चन्द ने मनकोट पर आक्रमण कर गंगोली क्षेत्र पर अधिकार कर लिया।[3]:71

गंगोली के राजा[संपादित करें]

गंगोलीहाट के जाह्नवी नौले से प्राप्त एक शिलालेख पर निम्नलिखित मनकोटी राजाओं के नाम अंकित हैं।[4]:225

  • कर्म चन्द
  • सीतल चन्द
  • ब्रह्म चन्द
  • हिंगुल चन्द
  • पुनिया चन्द
  • अणि चन्द
  • नारायण चन्द

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Ramesh, S; Ramesh, Brinda; Bisht, Jogendra (2001). Kumaon : jewel of the Himalayas (अंग्रेज़ी में). New Delhi: UBS Publishers' Distributors. पृ॰ 11. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788174763273.
  2. Burman, Savitri Gauba (1999). Resource use and environmental degradation in the Himalayas: the Kali Watershed (अंग्रेज़ी में). New Delhi: Mudrit. पृ॰ 67. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788187129059. अभिगमन तिथि 28 March 2017.
  3. Handa, O.C. (2002). History of Uttaranchal (अंग्रेज़ी में). New Delhi: Indus Pub. Company. पृ॰ 71. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788173871344.
  4. Pande, Badri Datt (1993). History of Kumaun : English version of "Kumaun ka itihas". Almora, U.P., India: Shyam Prakashan. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-85865-01-9.