भारतीय सशस्‍त्र सेनाएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
भारतीय सेना

भारत सरकार भारत की तथा इसके प्रत्‍येक भाग की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए उत्तरदायी है। भारतीय शस्‍त्र सेनाओं की सर्वोच्‍च कमान भारत के राष्‍ट्रपति के पास है। राष्‍ट्र की रक्षा का दायित्‍व मंत्री मंडल के पास होता है। इसका निर्वाहन रक्षा मंत्रालय से किया जाता है, जो सशस्‍त्र बलों को देश की रक्षा के संदर्भ में उनके दायित्‍व के निर्वहन के लिए नीतिगत रूपरेखा और जानकारियां प्रदान करता है। भारतीय शस्‍त्र सेना में तीन प्रभाग हैं भारतीय थलसेना, भारतीय जलसेना, भारतीय वायुसेना और अन्य कई स्वतंत्र और आनुषांगिक इकाइयाँ जैसे: भारतीय सीमा सुरक्षा बल, असम राइफल्स, राष्ट्रीय राइफल्स, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड, भारत तिब्बत सीमा पुलिस इत्यादि।

भारतीय सेना के प्रमुख कमांडर भारत के राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी हैं। यह दुनिया के सबसे बड़ी और प्रमुख सेनाओं में से एक है। सँख्या की दृष्टि से भारतीय थलसेना के जवानों की सँख्या दुनिया में चीन के बाद सबसे अधिक है। जबसे भारतीय सेना का गठन हुआ है भारत ने दोनों विश्वयुद्ध में भाग लिया है। भारत की आजादी के बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान के खिलाफ तीन युद्ध जीते हैं (1948, 1965, तथा 1971) तथा चीन से 1962 में एक बार हार मिली है। 1999 में इसके अलावा एक छोटा युद्ध कारगिल युद्ध पाकिस्तान के साथ दुबारा लड़ा गया जिसके बाद पाकिस्तान में नवाज़ शरीफ का तख्ता पलट कर परवेज़ मुशर्रफ सत्तासीन हुये।

भारतीय सेना परमाणु हथियार से लैस है और उनके पास उचित मिसाइल तकनीक भी उपलब्ध है।

भारतीय सेना की ओर से दिया जाने वाला सर्वोच्च सम्मान परमवीर चक्र है।

सेना का व्यय[संपादित करें]

वित्त वर्ष 2014-15 के केन्द्रीय अंतरिम बजट में रक्षा आवंटन में 10 प्रतिशत बढ़ोत्‍तरी करते हुए 224,000 करोड़ रूपए आवंटित किए गए। 2013-14 के बजट में यह राशि 203,672 करोड़ रूपए थी।[1] 2012-13 में रक्षा सेवाओं के लिए 1,93,407 करोड़ रुपए[2] का प्रावधान किया गया था, जबकि 2011-2012 में यह राशि 1,64,415 करोइ़[3] थी।

वित्त वर्ष 2007-2008 2008-2009 2009-2010 2011-2012 2012-2013 2013-2014 2014-2015
बजट (करोड़ रूपए) 96,000[3] 1,05,600[3] 1,41,703[3] 1,64,415[3] 1,93,407[2] 2,03,672[1] 2,24,000[1]

रक्षा उत्पादन के आधुनिकीकरण में 2007-2008 में 944.95 करोड़ खर्च किया गया जो कि बढ़ कर 2008-2009 में 1370.99 तथा 2009-2010 में 1243.47 करोड़ हो गया।[3]

भारतीय सेना की शाखाएँ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  • भारतीय सैन्य शक्ति (गूगल पुस्तक ; लेखक- दिनकर कुमार, जनरल वी. पी. मलिक]
  • भारतीय सेना का गौरवशाली इतिहास (By Ian Cardozo)
  • भारतरक्षक - भारतीय सेना के सभी अंगो के आधिकारिक जालों का मुखपृष्ठ

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "रक्षा आवंटन 10 प्रतिशत बढ़ाया गया". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 17 फ़रवरी 2014. http://pib.nic.in/newsite/hindirelease.aspx?relid=26921. अभिगमन तिथि: 18 फ़रवरी 2014. 
  2. "रक्षा सेवाओं के लिए प्रावधान". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 16 मार्च 2012. http://pib.nic.in/newsite/hindirelease.aspx?relid=14218. अभिगमन तिथि: 18 फ़रवरी 2014. 
  3. "Defence Budget". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 7 मार्च 2011. http://pib.nic.in/newsite/erelease.aspx?relid=70604. अभिगमन तिथि: 18 फ़रवरी 2014. 

Dalai lama ko India me saran DE Kar JAWAHER LAL NEHRU ney apni bhan choodwai 1962 ka yuddh hua India me China ney chechak polio ke virus bheze India ki government NE desh vasiyon ka chutia banaya,, INDIA meYe failaya ki Ye choti Mata hai ye badi Mata hai .,Kashmir ka mudda Bhosdiwala UN me lekar gaya,, tab ke bachho ka gandoo chacha Mother terresa ney North East me. Terrorist logo ko permote Kiya missionary of charity ki and me Bhosdikey India government ke under sleeping bugs hai,, jo Bhanchod time to time apn8 bhan ko chudwate rahtey hai