बहुजन समाज पार्टी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बहुजन समाज पार्टी
Elephant Bahujan Samaj Party.svg
भा नि आ स्थिति राष्ट्रीय पार्टी
दल अध्यक्ष मायावती
महासचिव
  • सतीश चन्द्र मिश्र
  • राम अचल राजभर
  • आर.श्रीधर
नेता राज्यसभा सतीश चन्द्र मिश्र
गठन 14 अप्रैल 1984 (1984-04-14) (35 वर्ष पहले)
मुख्यालय 11, गुरुद्वारा रकाबगंज रोड,
नई दिल्ली - 110001
गठबंधन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (कर्नाटक, मध्य प्रदेश, एवं राजस्थान में) (२०१८ से)
लोकसभा मे सीटों की संख्या
10 / 543
राज्यसभा मे सीटों की संख्या
5 / 245
राज्य विधानसभा में सीटों की संख्या
19 / 403
उत्तर प्रदेश विधानसभा
6 / 199
राजस्थान विधानसभा
2 / 230
मध्य प्रदेश विधानसभा
2 / 90
छत्तीसगढ़ विधान सभा
1 / 90
हरियाणा विधानसभा
1 / 82
झारखंड विधानसभा
1 / 225
कर्नाटक विधानसभा
विचारधारा आंबेडकरवाद
रंग      नीला
जालस्थल http://bspindia.org/
Election symbol
भारत की राजनीति
राजनैतिक दल
चुनाव


बहुजन समाज पार्टी (अंग्रेजी: Bahujan Samaj Party; लघुरूप: बसपा) सार्वभौमिक न्याय, स्वतंत्रता, समानता और भाईचारे के सर्वोच्च सिद्धांतों की सोच वाला, भारत का एक राष्ट्रीय राजनीतिक दल है। इसका गठन मुख्यत: एक क्रांतिकारी सामाजिक और आर्थिक आंदोलन के रूप में काम करने के लिए किया गया है जो भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न, समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म और उपासना की स्वतन्त्रता, प्रतिष्ठा और अवसर की समानता दिलाने, उनमें व्यक्ति की गरिमा और राष्ट्र की एकता और अखण्डता सुनिश्चित करने वाली बंधुता बढाने के लिए कार्य करती है जैसा भारतीय संविधान की प्रस्तावना में वर्णित है। इसका गठन मुख्यत: भारतीय जाति व्यवस्था के अन्तर्गत सबसे नीचे माने जाने वाले बहुजन, जिसमें अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अल्पसंख्यक शामिल हैं, ऐसे समाज का प्रतिनिधित्व करने के लिए किया गया था, जिनकी जनसंख्या भारत देश में 85% है।[1][2][3][4] इस दल का दर्शन बाबासाहेब आम्बेडकर के मानवतावादी दर्शन व बौद्ध दर्शन से प्रेरित है।

संक्षिप्त इतिहास[संपादित करें]

बसपा का गठन उच्च प्रोफ़ाइल वाले करिश्माई लोकप्रिय नेता कांशीराम द्वारा 14 अप्रैल 1984 में किया गया था। इस पार्टी का राजनीतिक प्रतीक (चुनाव चिन्ह) एक हाथी है। 13 वीं लोकसभा (1999-2004) में पार्टी के 14 सदस्य थे। 14 वीं लोक सभा में यह संख्या 17 और 15 वीं लोक सभा में यह संख्या 21 थी। वर्तमान अर्थात 16वीं लोकसभा में बसपा का कोई प्रतिनिधि नहीं है। बसपा का मुख्य आधार उत्तर प्रदेश है और पार्टी ने इस प्रदेश में कई बार अन्य पार्टियों के समर्थन से सरकार भी बनाई है। मायावती कई वर्षों से पार्टी की अध्यक्ष हैं।

बहुजन शब्द का इतिहास[संपादित करें]

बहुजन शब्द तथागत बुद्ध के धर्मोपदेशों (त्रिपिटक) से लिया गया है, तथागत बुद्ध ने कहा था बहुजन हिताय बहुजन सुखाय उनका धर्म बहुत बड़े जन-समुदाय के हित और सुख के लिए हैं।

चुनावी प्रदर्शन[संपादित करें]

लोकसभा[संपादित करें]

लोकसभा सत्र चुनाव वर्ष सीटें लड़ीं सीटें जीतीं मत % लड़ी सीटों पर मत % राज्य (सीटें) संदर्भ
नवमी लोकसभा 1989 245 4 2.07 4.53 पंजाब (१)
Uttar_Pradesh(३)
[5]
दसवीं लोक सभा १९९१ 231 3 1.61 3.64 मध्य प्रदेश(१)
पंजाब (१)
उत्तर प्रदेश (१)
[6]
ग्यारहवीं लोक सभा 1996 210 11 4.02 11.21 मध्य प्रदेश (२)
पंजाब (३)
उत्तर प्रदेश (६)
बारहवीं लोक सभा 1998 251 5 4.67 9.84 हरियाणा (१)
उत्तर प्रदेश (४)
तेरहवीं लोक सभा १९९९ 225 14 4.16 9.97 उत्तर प्रदेश (१४)
चौदहवीं लोकसभा २००४ 435 19 5.33 6.66 उत्तर प्रदेश (१९)
पंद्रहवीं लोकसभा २००९ 500 21 6.17 6.56 उत्तर प्रदेश (२०)
मध्य प्रदेश (१)
सोलहवीं लोकसभा २०१४ 503 0 4.19 -
सत्रहवीं लोकसभा २०१९ ४०० १० उत्तर प्रदेश (१०)

उत्तर प्रदेश विधानसभा[संपादित करें]

विधानसभा सत्र चुनाव वर्ष सीटें लड़ीं सीटें जीतीं मत % लड़ी सीटों पर मत % संदर्भ
12th Vidhan Sabha 1993 164 67 11.12 28.52
13th Vidhan Sabha 1996 296 67 19.64 27.73
14th Vidhan Sabha 2002 401 98 23.06 23.19
15th Vidhan Sabha 2007 403 206 30.43 30.43
16th Vidhan Sabha 2012 403 80 25.95 25.95
17th Vidhan Sabha 2017 403 19 22.24 22.24

उत्तर प्रदेश में पूर्ण बहुमत[संपादित करें]

11 मई 2007 को घोषित विधान सभा चुनाव परिणामों के पश्चात् उत्तर प्रदेश राज्य में 1991 से 15 वर्षों तक त्रिशंकु विधान सभा का परिणाम भुगतने के बाद भारत के सर्वाधिक आबादी वाले राज्य में स्पष्ट बहुमत प्राप्त कर सत्ता में आयी। बसपा अध्यक्ष मायावती ने मुख्यमंत्री के रूप में उत्तर प्रदेश में अपने चौथा कार्यकाल शुरू करते हुए 13 मई 2007 को प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 50 अन्य मन्त्रियों के साथ मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। बहुजन शब्द का सबसे पहले इस्तेमाल गौतम बुद्ध ने किया था।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Jaffrelot, Christophe (2003). India's Silent Revolution: The Rise of the Lower Castes in North India (अंग्रेज़ी में). Hurst. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781850653981.
  2. "The Caravan of the Bahujan Movement – Why it Lost its Momentum and Direction". velivada.com. अभिगमन तिथि 2018-03-09.
  3. "The Contradictory Bahujan of the BSP – Countercurrents". Countercurrents (अंग्रेज़ी में). 2017-04-28. अभिगमन तिथि 2018-03-09.
  4. "Bahujan Samaj Party: National Political Party of India - Majority People's Party". www.bspindia.org. अभिगमन तिथि 2018-03-09.
  5. "Members : Lok Sabha". IIS Windows Server. 2 May 2016. अभिगमन तिथि 2016-05-02.
  6. "Members : Lok Sabha". IIS Windows Server (जावानीज़ में). 2 May 2016. अभिगमन तिथि 2016-05-02.