सुभद्रा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अर्जुन और सुभद्रा

कृष्ण तथा बलराम की बहन, महाभारत की एक पात्र। कृष्ण के सुझाव पाकर सुभद्रा का विवाह अर्जुन से हुआ था, अभिमन्यु इनका ही पुत्र था।

सुभद्रा महाभारत के प्रमुख नायक भगवान श्रीकृष्ण और बलराम की बहन थीं | इनके पिता का नाम नन्द बाबा और माता का नाम यशोदा था नंद बाबा की पत्नी यशोदा थी,ना की रोहणी। रोहिणी वासुदेव जी की पहली पत्नी थी ।बलराम जी इन दोनो की सातवीं संतान थी ।बलराम संकर्षण द्वारा देवकी के गर्भ से रोहिणी के गर्भ में पहुंचाए गए थे । अतः बलराम श्री कृष्ण के बड़े भाई थे ।यह दोनो सगे भाई थे और सुभद्रा इनकी चचेरी बहन हुई ।तो सुभद्रा यशोदा और नंद बाबा की इकलौती संतान थी ।

वसुदेव व देवकी की आठवीं संतान भगवान श्रीकृष्ण का जन्म होते ही वसुदेव उन्हें रात्रि के समय गोकुल में अपने भाई नंद को सौंप आये थे व बदले मेंं नंद की नवजात पुत्री को ले आये थे ताकि कंस को यह भ्रम हो सके कि उनकी आंठवी संतान एक कन्या है , बाद में कंस द्वारा कन्या के वध का प्रयास करने पर कन्या योगमाया के रूप में प्रकट होकर अंतर्ध्यान हो गयी व बाद में सुभद्रा के नाम से जानी गयी ।