युधिष्ठिर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
युधिष्ठिर
छत्रपति महाराज
बिरला मंदिर, दिल्ली में एक शैल चित्र
बिरला मंदिर, दिल्ली में एक शैल चित्र
पूर्ववर्तीधृतराष्ट्र
उत्तरवर्तीपरीक्षित
जन्महस्तिनापुर
संगिनीद्रौपदी
संतानद्रौपदी से प्रतिविंध्य और देविका से धौधेय
राजवंशपांडव, कुरुवंश
पितापांडु
माताकुंती

प्राचीन भारत के महाकाव्य महाभारत के अनुसार युधिष्ठिर पांच पाण्डवों में सबसे बड़े भाई थे। वह पांडु और कुंती के पहले पुत्र थे।[1] युधिष्ठिर को धर्मराज (यमराज) पुत्र भी कहा जाता है। वो भाला चलाने में निपुण थे और वे कभी झूठ नहीं बोलते थे। [2]महाभारत के अंतिम दिन उसने अपने मामा शल्य का वध किया जो कौरवों की तरफ था।[3]

युधिष्ठिर को धर्म राज क्यो कहा जाता है

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 29 अगस्त 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 अगस्त 2018.
  2. "महाभारत के वो 10 पात्र जिन्हें बहुत कम लोग जानते हैं!". दैनिक भास्कर. २७ दिसम्बर २०१३. मूल से २८ दिसम्बर २०१३ को पुरालेखित.
  3. "संग्रहीत प्रति". मूल से 18 जून 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 अगस्त 2018.

बाहरी सम्पर्क[संपादित करें]