मनेर प्रखण्ड (पटना)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मनेर
—  प्रखण्ड  —
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य बिहार
ज़िला पटना
आधिकारिक भाषा(एँ) हिन्दी, मगही, मैथिली, भोजपुरी, अंगिका, उर्दु, अंग्रेज़ी
आधिकारिक जालस्थल: http://patna.bih.nic.in/

निर्देशांक: 25°36′40″N 85°08′38″E / 25.611°N 85.144°E / 25.611; 85.144

मनेर पटना, बिहार का एक प्रखण्ड (अंचल) है।

भूगोल[संपादित करें]

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

यातायात[संपादित करें]

मनेर एक दर्शनीय स्थल है।[संपादित करें]

मनेर पटना जिले के पश्चिमी छोड़ पर स्थित है।

यह एक मनभावन एवं शांतिप्रिय जगह है।

यहां भारत के प्रसिद्ध शुफियों का मकबरा है जो दर्शनीय है।

मनेर गंगा नदी के तट पर स्थित है। इसके उत्तर की तरफ सारन जिला पड़ता है जो नदी पार है।

मनेर के ग्राम हल्दी छपरा पर संगम है जहां गंगा स्नान के लिए दूर दूर से पथिक आते है।

इसका इतिहास बहुत पूुराना है। मनेर के विधालक भाई विरेन्द्र है। मनेर मैं लोग बहुरंगी भाषा बोलते है। यहां सभी धर्मों के लोग सद्भावना बनाकर सदियों से रहते आ रहे है।

मनेर बहुत महापुुरूषों का स्थान रहा है। महात्मा गांधी इंदिरा गांधी यहां आये थे।

मनेर के सम्मान प्राप्त नागरिक कुणाल सिंह है।

शिक्षक प्रभु दयाल शाह को लोग उनके अच्छे गुणों के कारण याद करते है।

मनेर में एक होम गार्ड ट्रेनिंग सेंटर भी है।

यह NH 30 राज मार्ग से संबंधित है।

यहां आम के बगीचे बहुत होते है।

कृषि एवम् पशुपालन मुख्य पेशा है।

यहां के लोग जरूरत से ज्यादा भारत में अंधविश्वासी माने जाते है।

यहां के लोग मृत्युभोज चाव से खाते है।




शिक्षा[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]