माँ तारा चंडी मंदिर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir की बिहार के मानचित्र पर अवस्थिति
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir
Location within बिहार
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir की भारत के मानचित्र पर अवस्थिति
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir
माँ तारा चंडी मंदिर Mandir (भारत)
निर्देशांक: 24°57′N 84°02′E / 24.95°N 84.03°E / 24.95; 84.03
नाम
मुख्य नाम: Tara Chandi Temple
देवनागरी: माँ तारा चंडी मंदिर
संस्कृत लिप्यांतरण: Maa Tara Chandi Mandir
स्थान
देश: Flag of India.svg भारत
राज्य: Bihar
जिला: Rohtas
अवस्थिति: Sasaram, Bihar, India
ऊंचाई: 110 मी॰ (361 फीट)
वास्तुकला और संस्कृति
प्रमुख आराध्य: Durga maa Adi Parashakti, Shakti, Devi, Kali, Parvati, Tara
महत्वपूर्ण उत्सव: Navratri, Maha Shivaratri
स्थापत्य शैली: CaveTemple, MountainTemple
मंदिरों की संख्या: 1
इतिहास
निर्माण तिथि:
(वर्तमान संरचना)
Dwapar Yuga
मन्दिर बोर्ड: Maa Tara Chandi Temple Committee, Sasaram
वेबसाइट: http://m.sasaramonline.in/city-guide/maa-tara-chandi-temple-in-sasaram

मां तारा चंडी मंदिर भारतीय राज्य बिहार के सासाराम जिले में स्थित एक दुर्गा मंदिर है। यह भारत के 52 शंक्ति पीठों से एक है।[1][2][3]

इतिहास[संपादित करें]

माँ तारा चंडी पीठ भारत के 52 पीठों से सबसे पुराना पीठ माना जाता है। पुराण के अनुसार उनके पत्नी "सती " अपने पिता के घर अपने स्वामी को अबमानना होने पर जब आत्मदाह किए , भगबान शिब क्रोध मे आकार सती के सब को उठाकर भयंकर तांडब नृत्य करने लगे। उसी मे बिश्व द्वंश होने का खतरा रहा। भगबान बिष्णु बिश्व को रक्षया करने हेतु अपने सुदर्शन चक्र भेज कर सती के सब को खंड खंड करा दिये। वो सभी खंड भारत उपमहादेश की बिभिन्न प्रांत में गिरे। वो सभी प्रांत को " शक्ति पीठ" माना जाता है और हिंदुओं के लिए सभी पीठ बहुत मतत्वपूर्ण रहे है। माँ तारा पीठ पर सती की "दाहिने आँख " पड़े थे। यहाँ एक अति प्राचीन मंदिर , जिनहे " माँ सती " मंदिर कहा जाता था,उसे माँ तारा  की आबास कहा जाता है।  

कैमूर पहाड़ियों में अनन्य कई आकर्षण भी रहे है। यहाँ गुप्त महादेव मंदिर, पारबती मंदिर,  पुराने गुंफाओं, मँझार कुंड और धुआ कुंड नामक दो जलप्रपात है। येही दोनों जलप्रपात से बिजली उत्पादन भी संभब  है।  [4]

स्थान[संपादित करें]

तारा चंडी मंदिर का अबस्थिति सासाराम से दक्षिण दिशा मे 5 किलोमीटर की दूरी पर है। यहाँ बहुत हिन्दू भक्तों का समागम होता है। धुआँ कुंड प्रपात भी यहाँ का एका बहुत बड़ा परज्यातक आकर्षण है।[5]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. http://ww.itimes.com/places/tara-chandi-temple
  2. http://m.holidayiq.com/Maa-Tara-Chandi-Temple-Sasaram-Sightseeing-759-15459.html
  3. http://vishnupadmokshadham.com/Maa_Tara_Chandi.php
  4. "Tara Chandi Temple Rohtas - Temples in Rohtas, Attractions in Rohtas bihar". hoparoundindia.com. अभिगमन तिथि 24 September 2016.
  5. https://www.tripadvisor.in/Attraction_Review-g1985450-d3727489-Reviews-Maa_Tara_Chandi_Temple-Sasaram_Bihar.html