आदर्श जादुई वर्ग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Magic square at the Parshvanatha temple, Khajuraho.png
੧੨ ੧੪
੧੩ ੧੧
੧੬ ੧०
੧੫
१२ १४
१३ ११
१६ १०
१५
7 12 1 14
2 13 8 11
16 3 10 5
9 6 15 4
भारतीय अंकों

का ट्रांस्क्रिप्शन

आदर्श जादुई वर्ग

कोई n श्रेणी का वर्ग जिसमें शून्य से n² − १ की संख्याएं होती हैं और दो अन्य अतिरिक्त गुण होते हों, आदर्शतम जादूई वर्ग कहलाता है। दो अतिरिक्त गुणों में:

  1. प्रत्येक २×२ उप-वर्ग का जमा २s हो, जहां s = n² + 1 हो।
  2. इंटीजर्स के सभी जोड़े n/2 की प्रधान डायगोनल पर जमा करने पर sआये।

एक आदर्श जादूई वर्ग पार्श्वनाथ मन्दिर, खजुराहो में अंकित है।

उदाहरण[संपादित करें]

दो 12×12 आदर्श जादूई वर्ग निम्न के प्रत्येक घटक में १ जोड़ने पर मिलेंगे:

 [,1] [,2] [,3] [,4] [,5] [,6] [,7] [,8] [,9] [,10] [,11] [,12]
[1,] 64 92 81 94 48 77 67 63 50 61 83 78
[2,] 31 99 14 97 47 114 28 128 45 130 12 113
[3,] 24 132 41 134 8 117 27 103 10 101 43 118
[4,] 23 107 6 105 39 122 20 136 37 138  4 121
[5,] 16 140 33 142 0 125 19 111 2 109 35 126
[6,] 75 55 58 53 91 70 72 84 89 86 56 69
[7,] 76 80 93 82 60 65 79 51 62 49 95 66
[8,] 115 15 98 13 131 30 112 44 129 46 96 29
[9,] 116 40 133 42 100 25 119 11 102  9 135 26
[10,] 123 7 106 5 139 22 120 36 137 38 104 21
[11,] 124 32 141 34 108 17 127 3 110  1 143 18
[12,] 71 59 54 57 87 74 68 88 85 90 52 73
 [,1] [,2] [,3] [,4] [,5] [,6] [,7] [,8] [,9] [,10] [,11] [,12]
[1,] 4 113 14 131 3 121 31 138 21 120 32 130
[2,] 136 33 126 15 137 25 109 8 119 26 108 16
[3,] 73 44 83 62 72 52 100 69 90 51 101 61
[4,] 64 105 54 87 65 97 37 80 47 98 36 88
[5,] 1 116 11 134 0 124 28 141 18 123 29 133
[6,] 103 66 93 48 104 58 76 41 86 59 75 49
[7,] 112 5 122 23 111 13 139 30 129 12 140 22
[8,] 34 135 24 117 35 127 7 110 17 128  6 118
[9,] 43 74 53 92 42 82 70 99 60 81 71 91
[10,] 106 63 96 45 107 55 79 38 89 56 78 46
[11,] 115 2 125 20 114 10 142 27 132  9 143 19
[12,] 67 102 57 84 68 94 40 77 50 95 39 85

गुण[संपादित करें]

सभी आदर्श जादूई वर्ग पैन-मैजिक वर्ग होते हैं।

  • पहली श्रेणी के वर्ग को छोड़कर सभी आदर्श जादूई वर्ग 4n श्रेणी के वर्ग होते हैं।
  • n = 36 के लिए, लगभग 2.7 × 1044 पूर्णतया भिन्न आदर्श जादूई वर्ग होते हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • Kathleen Ollerenshaw, David S. Brée: Most-perfect Pandiagonal Magic Squares: Their Construction and Enumeration, Southend-on-Sea : Institute of Mathematics and its Applications, 1998, 186 pages, ISBN 0-905091-06-X
  • T.V.Padmakumar, Number Theory and Magic Squares, Sura books, India, 2008, 128 pages, ISBN 978-81-8449-321-4

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]