प्रवेशद्वार:उत्तराखण्ड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सम्पादन   

उत्तराखण्ड प्रवेशद्वार

UttarakhandDistricts numbered hi.svg

उत्तराखण्ड या उत्तरांचल, भारत के उत्तर में स्थित एक राज्य है। २००० और २००६ के बीच यह उत्तरांचल के नाम से जाना जाता था। ९ नवंबर २००० को उत्तराखण्ड भारत गणराज्य के २७ वें राज्य के रूप में अस्तित्व में आया। राज्य का निर्माण कई वर्षों के आन्दोलन के पश्चात हुआ। इस राज्य में वैदिक संस्कृति के कुछ सबसे महत्त्वपूर्ण तीर्थस्थान हैं।

उत्तराखण्ड की सीमाएँ उत्तर में तिब्बत और पूर्व में नेपाल से मिलती हैं तथा पश्चिम में हिमाचल प्रदेश और दक्षिण में उत्तर प्रदेश (अपने गठन से पहले यानि कि सन २००० से पहले यह उत्तर प्रदेश का एक भाग था) इसके पडो़सी हैं। पारंपरिक हिन्दू ग्रंथों और प्राचीन साहित्य में इस क्षेत्र का उल्लेख उत्तराखण्ड के रूप में किया गया है। हिन्दी और संस्कृत में उत्तराखण्ड का अर्थ उत्तरी क्षेत्र या भाग होता है।

जनवरी २००७ में स्थानीय लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुये राज्य का नाम आधिकारिक तौर पर उत्तरांचल से बदलकर उत्तराखण्ड कर दिया गया। देहरादून, उत्तराखण्ड की अंतरिम राजधानी होने के साथ इस क्षेत्र में सबसे बड़ा नगर है। गैरसैण नामक एक छोटे से कस्बे को इसकी भौगोलिक स्थिति को देखते हुए भविष्य की राजधानी के रूप में प्रस्तावित किया गया है किन्तु विवादों और संसाधनों के अभाव के चलते अभी भी देहरादून अस्थाई राजधानी बना हुआ है। राज्य का उच्च न्यायालय नैनीताल में है।

सम्पादन   

चयनित लेख

नंदा देवी शिखर
नंदा देवी पर्वत भारत की दूसरी एवं विश्व की २३वीं सर्वोच्च चोटी है। ७८१६ मीटर (२५,६४३ फीट) ऊंचा यह शिखर हिमालय पर्वत शृंखला में भारत के उत्तरांचल राज्य में पूर्व में गौरीगंगा तथा पश्चिम में ऋषिगंगा घाटियों के बीच स्थित है। इस चोटी को उत्तरांचल राज्य में मुख्य नंदा देवी के रूप में पूजा जाता है। नंदादेवी मैसिफ के दो छोर हैं। इनमें दूसरा छोर नंदादेवी ईस्ट कहलाता है। इन दोनों के मध्य दो किलोमीटर लम्बा रिज क्षेत्र है। इस शिखर पर प्रथम विजय अभियान में १९३६ में नोयल ऑडेल तथा बिल तिलमेन को सफलता मिली थी। यह शिखर २१००० फुट से ऊंची कई चोटियों के मध्य स्थित है। नंदादेवी शिखर के आसपास का क्षेत्र अत्यंत सुंदर है व नंदादेवी राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया जा चुका है। इस नेशनल पार्क को १९८८ में यूनेस्को द्वारा प्राकृतिक महत्व की विश्व धरोहर घोषित किया था। विस्तार में...
सम्पादन   

चयनित चित्र

Nanda Devi.jpg
नंदा देवी पर्वत भारत की दूसरी सर्वोच्च चोटी है। पहली कंचनजंघा है।
सम्पादन   

चयनित जीवनी

डा. पीताम्बर दत्त बड़थ्वाल का एक छायाचित्र
डा. पीतांम्बरदत्त बड़थ्वाल ( १३ दिसंबर, १९०१-२४ जुलाई, १९४४) हिंदी में डी.लिट. की उपाधि प्राप्त करने वाले पहले शोध विद्यार्थी थे। उन्होंने अनुसंधान और खोज परंपरा का प्रवर्तन किया तथा आचार्य रामचंद्र शुक्ल और बाबू श्यामसुंदर दास की परंपरा को आगे बढा़ते हुए हिन्दी आलोचना को मजबूती प्रदान की। उन्होंने भावों और विचारों की अभिव्यक्ति के लिये भाषा को अधिक सामर्थ्यवान बनाकर विकासोन्मुख शैली को सामने रखा। अपनी गंभीर अध्ययनशीलता और शोध प्रवृत्ति के कारण उन्होंने हिन्दी मे प्रथम डी. लिट. होने का गौरव प्राप्त किया। हिंन्दी साहित्य के फलक पर शोध प्रवृत्ति की प्रेरणा का प्रकाश बिखेरने वाले बड़थ्वालजी का जन्म तथा मृत्यु दोनो ही उत्तर प्रदेश के गढ़वाल क्षेत्र में लैंस डाउन अंचल के समीप पाली गाँव में हुए। बड़थ्वालजी ने अपनी साहित्यिक छवि के दर्शन बचपन में ही करा दिये थे। बाल्यकाल मे ही वे 'अंबर'नाम से कविताएँ लिखने लगे थे। विस्तार से पढ़ें...
सम्पादन   

उत्तराखण्ड तथ्यिका



सम्पादन   

चयनित पर्यटन स्थल

केदारनाथ हिमालय पर्वतमाला में बसा भारत के उत्तरांचल राज्य का एक कस्बा है। यह रुद्रप्रयाग की एक नगर पंचायत है। यह हिन्दू धर्म के अनुयाइयों के लिए पवित्र स्थान है। यहाँ स्थित केदारनाथ मंदिर का शिव लिंग १२ ज्योतिर्लिंगों में से एक है और हिन्दू धर्म के उत्तरांचल के चार धाम और पंच केदार में गिना जाता है। श्रीकेदारनाथ का मंदिर ३,५९३ फीट की ऊंचाई पर बना हुआ एक भव्य एवं विशाल मंदिर है। इतनी ऊंचाई पर इस मंदिर को कैसे बनाया गया, इस बारे में आज भी पूर्ण सत्य ज्ञात नहीं हैं। सतयुग में शासन करने वाले राजा केदार के नाम पर इस स्थान का नाम केदार पड़ा। राजा केदार ने सात महाद्वीपों पर शासन और वे एक बहुत पुण्यात्मा राजा थे। उनकी एक पुत्री थी वृंदा जो देवी लक्ष्मी की एक आंशिक अवतार थी। वृंदा ने ६०,००० वर्षों तक तपस्या की थी। वृंदा के नाम पर ही इस स्थान को वृंदावन भी कहा जाता है।  विस्तार में...
सम्पादन   

उत्तराखण्ड के व्यंजन

सम्पादन   

श्रेणियां

सम्पादन   

संबंधित प्रवेशद्वार

भारत भारत भारत
अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूहचण्डीगढ़दमन और दीवदादरा और नागर हवेलीपॉण्डिचेरीदिल्लीलक्षद्वीप

साँचा:क्या आप जानते हैं...

सम्पादन   

उत्तराखण्ड के विषय

इतिहास: इतिहासपौराणिक कालराज्य आन्दोलनमुज़्ज़फर नगर काण्डचमोली भूकम्पब्रिटिश कालचन्द राजवंशकत्यूरी राजवंशगढ़वाल राजवंशभारतीय स्वतंत्रता आंदोलनचिपको आन्दोलनहरिद्वार नरसंहारअधिक

भूगोल: भूगोलहिमालयनदियाँजलवायुगंगायमुनाकालीशारदाअधिक

अर्थव्यवस्था: अर्थव्यवस्थाउद्योगकृषिपशुपालनपरिवहनअधिक

शासन: राजनीतिसरकारविधानसभाराज्यपाल मुख्यमंत्रीउच्च न्यायालयभाजपाकांग्रेसउक्रादलोकसभा क्षेत्रअधिक

जिले एवँ नगर: जिलेअल्मोड़ाउत्तरकाशीउधमसिंहनगरचमोलीचम्पावतटिहरीदेहरादूननैनीतालपिथौरागढ़पौड़ीबागेश्वररूद्रप्रयागहरिद्वारदेहरादूनहल्द्वानीहरिद्वाररुड़कीअधिक

पर्यटन और तीर्थाटन: छोटा चारधामबद्रीनाथकेदारनाथगंगोत्रीयमुनोत्रीहेमकुण्ड साहिबफूलों की घाटीनंदा देवी उद्यानजिम कॉर्बेट उद्यानऔलीकौसानीरानीखेतअधिक

संस्कृति: संस्कृतिकुमाऊँनीगढ़वालीहिन्दीभाषाएँपहाड़ी भाषाएँदिवालीहोलीउत्तरायणीहरेलाकुम्भ मेला२०१० हरिद्वार महाकुम्भअधिक

लोग: हेमवंती नन्दन बहुगुणागोबिन्द बल्ल्भ पंतनारायण दत्त तिवारीहरीश रावतसुमित्रा नंदन पंतगोविन्द बल्लभ पंतरस्किन बांडअधिक

शिक्षा: भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़कीपंतनगर विश्वविद्यालयहेमवती नन्दन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालयकुमाऊँ विश्वविद्यालयपेट्रोलियम विश्वविद्यालयभारतीय वानिकी संस्थानगुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालयउत्तराखण्ड मुक्त विश्वविद्यालयउत्तराखण्ड प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालयकुमाऊँ अभियांत्रिकी महाविद्यालयदून विद्यालयदून केंब्रिज स्कूलदेहरादून प्रौद्योगिकी संस्थानअधिक

सम्पादन   

कार्य जो आप कर सकते हैं


सम्पादन   

विकिपरियोजनाएं



उत्तराखण्ड  विकिसमाचार पर  उत्तराखण्ड  विकिक्वोट पर  उत्तराखण्ड  विकिपुस्तक पर  उत्तराखण्ड  विकिस्रोत पर  उत्तराखण्ड  विक्षनरी पर  उत्तराखण्ड  विकिवर्सिटी पर  उत्तराखण्ड विकिमीडीया कॉमन्स पर
समाचार उद्धरण पाठ & विवरणिकाएं पाठ व्याख्याएं शिक्षण स्रोत चित्र & मीडिया
Wikinews-logo.svg
Wikiquote-logo.svg
Wikibooks-logo.svg
Wikisource-logo.svg
Wiktionary-logo.svg
Wikiversity-logo.svg
Commons-logo.svg