उत्तरकाशी जिला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
उत्तरकाशी
—  जिला  —
उत्तराखण्ड में स्थिति
उत्तराखण्ड में स्थिति
निर्देशांक: (निर्देशांक ढूँढें)
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश  भारत
राज्य उत्तराखण्ड
नगर पालिका अध्यक्ष
जनसंख्या
घनत्व
२,३९,७०९ (२००१ के अनुसार )
• ३७
क्षेत्रफल
ऊँचाई (AMSL)
८,०१६ कि.मी²
• ११५८ मीटर


उत्तरकाशी या उत्तर काशी भारत के उत्तराखण्ड राज्य के गढ़वाल का एक जिला है। इस जिले का मुख्यालय उत्तरकाशी कस्बा है।

उत्तरकाशी जिला हिमालय रेंज की ऊँचाई पर बसा हुआ है और इस जिले में गंगा और यमुना दोनों नदियों का उद्गम है, जहाँ पर हज़ारों हिन्दू तीर्थयात्री प्रति वर्ष पधारते हैं। उत्तरकाशी कस्बा, गंगोत्री जाने के मुख्य मार्ग में पड़ता है, जहाँ पर बहुत से मंदिर हैं और यह एक प्रमुख हिन्दू तीर्थयात्रा केन्द्र माना जाता है। जिले के उत्तर और उत्तरपश्चिम में हिमाचल प्रदेश राज्य, उत्तरपूर्व में तिब्बत, पूर्व में चमोली जिला, दक्षिणपूर्व में रूद्रप्रयाग जिला, दक्षिण में टिहरी गढ़वाल जिला और दक्षिणपश्चिम में देहरादून जिला पड़ते हैं।

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

द्रौपदी का डंडा, उत्तरकाशी की एक चोटी

२००१ कि स्थिति तक, उत्तरकाशी जिले की कुल जनसंख्या २,९५,०१३ है। कुल जनसंख्या में हिन्दू २,९०,०१३, मुसलमान २,८१७ और बौद्ध १,२३९ हैं।[1]

प्रशासन[संपादित करें]

जिले के प्रशासनिक मुख्यालय उत्तरकाशी नगर में स्थित हैं। प्रशासनिक कार्यों से जिले को ६ तहसीलों और २ उप-तहसीलों में बांटा गया है। ये हैं: भटवाड़ी, डुंडा, चिन्यालीसौड़, बड़कोट, पुरोला, मोरी, जोशियाड़ा (उप-तहसील) तथा धौन्तरी (उप-तहसील)। इसके अतिरिक्त, जिले को ६ विकासखंडों में भी बांटा गया है: भटवाड़ी, डुंडा, चिन्यालीसौड़, नौगांव, पुरोला और मोरी। पूरा जिला टिहरी गढ़वाल संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आता है, और इसमें ३ उत्तराखण्ड विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र हैं; पुरोला, यमुनोत्री और गंगोत्री

यह भी देखिए[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "उत्तराखण्ड - भारत के जिले: भारत को जानिए". भारत का राष्ट्रीय पोर्टल. मूल से 18 सितंबर 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 अप्रैल 2009.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]