करणकौतूहल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

करणकौतूहल, भास्कराचार्य द्वारा लिखित एक ग्रन्थ है। भास्कराचार्य अपने समय के सुप्रसिद्ध गणितज्ञ थे। करणकौतूहल से पहले इन्होनें सिद्धान्त शिरोमणि नामक एक और ग्रन्थ की रचना की थी।[1]

करणकौतूहल में खगोलवैज्ञानिक गणनाएँ है। पंचांग आदि बनाने के समय इसे अवश्य देखा जाता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]