दक्षिण अफ़्रीका

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
दक्षिण अफ्रीका का ध्वज दक्षिण अफ्रीका का कुल चिन्ह
ध्वज कुल चिन्ह
राष्ट्रवाक्य: इके क़र्रा के (इक़ाम्)
"एकता विविधता में"
राष्ट्रगान: दक्षिण अफ़्रीका का राष्ट्र गान
दक्षिण अफ्रीका की स्थिति
राजधानी प्रिटोरिया (कार्यपालिका)
ब्लोमफांटेन (न्यायिक)
केप टाउन (विधायी)
221 037) {{{latd}}}°{{{latm}}}′ {{{latNS}}} {{{longd}}}°{{{longm}}}′ {{{longEW}}}
सबसे बडा़ नगर जोहान्सबर्ग (२००६) 
राजभाषा(एँ) अफ़्रिकान्स
अंग्रेज़ी
दक्षिणी न्डबेले
उत्तरी सुठु
दक्षिणी सुठु
स्वाटी
ट्सोंगा
ट्स्वाना
वेंडा
क़ोसा
ज़ुलू
सरकार संवैधानिक लोकतंत्र
 - राष्ट्रपति जेकब ज़ूमा
 - उप राष्ट्रपति गालेमा मोटलांथे
स्वतंत्रता युनाइटेड किंगडम से 
 - संघ ३१ मई १९१० 
 - वेस्ट मिनिस्टर की स्थापना ११ दिसंबर १९३१ 
 - गणराज्य ३१ मई १९६१ 
क्षेत्रफल
 - कुल 1 221 037 किमी² (25वां)
४७१ ४४३ मील²
 - जल(%) नगण्य
जनसंख्या
 - 2009 अनुमान 49,320,000 (25वां)
 - २००१ जनगणना ४४ ८१९ ७७८
 - जन घनत्व ४१/किमी² (170वां)
१०६/मील²
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) (पीपीपी) २००८ अनुमान
 - कुल $४९३.४९० बिलियन (२५ वां)
 - प्रति व्यक्ति $१०,१३६ (७९वां)
मानव विकास सूचकांक  (२००७) ०.६७४ Green Arrow Up Darker.svg (मध्यम) (121वां)
मुद्रा रेंड (ZAR)
समय मंडल SAST (यूटीसी +2)
इंटरनेट टीएलडी .za
दूरभाष कोड +27

दक्षिण अफ़्रीका (साउथ् ऍफ़्रिक भी कहा जनता है) अफ्रीका के दक्षिणी छोर पर स्थित एक गणराज्य है। इसकी सीमाएँ उत्तर में नामीबिया, बोत्सवाना और ज़िम्बाब्वे तथा उत्तर-पूर्व में मोज़ाम्बिक़ और स्वाज़ीलैंड के साथ लगती हैं, जबकि लेसूथो एक स्वतंत्र ऐसा देश है, जो पूरी तरह से दक्षिण अफ़्रीका से घिरा हुआ है।

आधुनिक मानव की बसाहट दक्षिण अफ्रीका में एक लाख साल पुरानी है। यूरोपीय लोगों के आगमन के दौरान क्षेत्र में रहने वाले बहुसंख्यक स्थानीय लोग आदिवासी थे, जो अफ्रीका के विभिन्न क्षेत्रों से हजार साल पहले आए थे। 4थी-5वीं शताब्दी के दौरान बंतू भाषी आदिवासी दक्षिण को ओर बढ़े, और दक्षिण अफ्रीका के वास्तविक निवासियों को विस्थापित करने के साथ-साथ उनके साथ शामिल भी हो गए। यूरोपीय लोगों के आगमन के दौरान शोसा और ज़ूलू दो बड़े समुदाय थे।

केप समुद्री मार्ग की खोज के करीबन डेढ़ शताब्दी बाद 1962 में डच ईस्ट इंडिया कंपनी ने उस जगह पर खानपान केंद्र (रिफ्रेशमेंट सेंटर) की स्थापना की, जिसे आज केप टाउन के नाम से जाना जाता है। 1806 में केप टाउन ब्रिटिश कालोनी बन गया। 1820 के दौरान बोअर (डच, फ्लेमिश, जर्मन और फ्रेंच सेटलर्स) और ब्रिटिश लोगों ने देश के पूर्वी और उत्तरी क्षेत्रों में बसने के साथ ही यूरोपीय बसाहट में वृद्धि हुई। इसके साथ ही क्षेत्र पर कब्जे के लिए शोसा, जुलू और अफ्रीकान के बीच झड़प की बढ़ती गई।

हीरा और बाद में सोने की खोज के साथ ही 19वीं शताब्दी में द्वंद शुरू हो गया, जिसे एंग्लो-बोअर युद्ध के नाम से जाना जाता है। हालांकि ब्रिटिश ने बोअर पर युद्ध में विजय प्राप्त कर ली थी, लेकिन 1910 में दक्षिण अफ्रीका को ब्रिटिश डोमिनियन के तौर पर सीमित स्वतंत्रता प्रदान की। 1961 में दक्षिण अफ्रीका को गणराज्य का दर्जा मिला। देश के भीतर और बाहर विरोध के बावजूद सरकार ने रंगभेद की नीति को जारी रखा। 20 वीं शताब्दी में देश की दमनकारी नीतियों के विरोध में बहिष्कार करना शुरू किया। काले दक्षिण अफ्रीकी और उनके सहयोगियों के सालों के अदरुनी विरोध, कार्रवाई और प्रदर्शन के परिणामस्वरूप आखिरकार 1990 में दक्षिण अफ्रीकी सरकार ने वार्ता शुरू की, जिसकी परिणति भेदभाव वाली नीति के खत्म होने और 1994 में लोकतांत्रिक चुनाव से हुई। देश फिर से राष्ट्रकुल देशों में शामिल हुआ।

दक्षिण अफ़्रीका अफ्रीका में जातीय रुप से सबसे ज्यादा विविधताओं वाला देश है और यहाँ अफ्रीका के किसी भी देश से ज्यादा श्वेत रहते हैं; अफ्रीकी जनजातियों के अलावा यहाँ कई एशियाई देशों के लोग भी हैं जिनमे सबसे ज्यादा भारत से आये लोगों की सँख्या है।

भाषाएँ[संपादित करें]

दक्षिण अफ़्रीका में ग्यारह भाषाओं को आधिकारिक भाषा का दर्जा दिया गया है, जिसमें अंग्रेजी के साथ-साथ अफ्रीकान्स, दक्षिणी दीबीली, उत्तरी सोथो, दक्षिणी सोथो, स्वाजी, सोंगा, स्वाना, शोसा और जुलू शामिल है। किसी एक देश में बोली जाने वाली भाषाओं की संख्या के हिसाब से यह बोलिविया और भारत के बाद तीसरा देश है। वर्ष २००१ के राष्ट्रीय जनगणना के अनुसार, मातृभाषा के तौर पर बोली जाने वाली तीन पहली भाषाओं में जुलू (२३.८ प्रति.), शोसा (१७.६ प्रति.) और अफ्रीकान्स (१३.३ प्रति.) हैं। हालांकि अंग्रेजी वाणिज्य और विज्ञान की भाषा है, लेकिन दक्षिण अफ्रीका में केवल ८.२ प्रतिशत लोगों की मातृभाषा है। इन भाषाओं के अलावा देश में आठ अन्य गैर आधाकारिक भाषाओं को भी मान्यता प्रदान की गई है, जिसमें फानागालो, खोई, लोबेदू, नामा, उत्तरी दीबीली, फूथी, सान और दक्षिण अफ्रीकी साइन भाषा शामिल हैं।


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "The Constitution". Constitutional Court of South Africa. http://www.constitutionalcourt.org.za/site/theconstitution/thetext.htm. अभिगमन तिथि: 3 September 2009. 

यह भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

फोटो गैलरी