बोत्सवाना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
'
'
बोत्सवाना गणराज्य
Republic of Botswana
Lefatshe la Botswana
बोत्सवाना का ध्वज बोत्सवाना का कुल चिन्ह
ध्वज कुल चिन्ह
राष्ट्रवाक्य: पुला (वर्षा)
राष्ट्रगान: Fatshe leno la rona (यह हमारी भूमि)
बोत्सवाना की स्थिति
राजधानी गबारोनी
25°40′ S 25°55′ E
सबसे बडा़ नगर राजधानी
राजभाषा(एँ) अंग्रेजी, सेत्सवाना
सरकार संसदीय लोकतंत्र
 - राष्ट्रपति इयान खामा
स्वतंत्रता संयुक्त राजशाही से 
 - तिथि 30 सितम्बर 1966 
क्षेत्रफल
 - कुल {{{area}}} किमी² (47वां)
{{{areami²}}} मील²
 - जल(%) 2.6
जनसंख्या
 - 2010 अनुमान 2,029,307[1] (144वां)
 - 2001 जनगणना 1,680,863
 - जन घनत्व {{{population_density}}}/किमी² (229वां)
{{{population_densitymi²}}}/मील²
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) (पीपीपी) 2009 अनुमान
 - कुल $25.399 अरब[2] ()
 - प्रति व्यक्ति $13,992[2] ()
मानव विकास सूचकांक  (2010) Green Arrow Up Darker.svg 0.633[3] (मध्यम) (98वां)
मुद्रा पुला (BWP)
समय मंडल केन्द्रीय अफ्रीकी समय (UTC+02) (यूटीसी )
इंटरनेट टीएलडी .bw
दूरभाष कोड ++267
बोत्सवाना का मानचित्र

बोत्सवाना गणराज्य (अंग्रेजी: Republic of Botswana, श्वाना: Lefatshe la Botswana), अफ्रीकी महाद्वीप के दक्षिण में स्थित एक स्थल-रुद्ध देश है। 30 सितम्बर 1966 को ब्रिटेन की संयुक्त राजशाही से स्वतंत्रता मिलने से पूर्व इसे ब्रिटिश संरक्षित राज्य, बेचुआनालैंड के नाम से जाना जाता था। स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद ब्रिटिश राष्ट्रमंडल के अंतर्गत इस देश ने एक नया नाम बोत्सवाना अपना लिया। स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद यहां लगातार स्वतंत्र और निष्पक्ष लोकतांत्रिक चुनाव आयोजित किये जा रहे हैं। जिम्बाब्वे,अंगोला, जांबिया और दक्षिण अफ्रीका इसके पड़ोसी देश हैं।

भौगोलिक दृष्टि से बोत्सवाना एक सपाट देश है और इसके लगभग 70% भाग में कालाहारी मरुस्थल फैला है। इसके दक्षिण और दक्षिणपश्चिम में दक्षिण अफ्रीका, पश्चिम और उत्तर में नामीबिया तथा उत्तरपूर्व में जिम्बाब्वे स्थित है। यह सिर्फ एक बिंदु पर जाम्बिया से मिलता है।

यह एक छोटा सा देश है, जिसकी जनसंख्या सिर्फ 20 लाख है। स्वतंत्रता के समय यह अफ्रीका के कुछ सबसे गरीब देशों मे से एक था जिसका सकल घरेलू उत्पाद प्रति व्यक्ति मात्र 70 अमेरिकी डॉलर था, लेकिन तब से लेकर अब तक बोत्सवाना ने आर्थिक रूप से तरक्की की है और अब इसकी गिनती अफ्रीका के मध्यम आय वाले देशों में होने लगी है। इसकी अर्थव्यवस्था विश्व की कुछ सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से है, जिसकी औसत वृद्धि दर 9% की है, और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के 2010 के अनुमान के अनुसार इसका सकल घरेलू उत्पाद (क्रय शक्ति समता) प्रति व्यक्ति लगभग 14,800 अमेरिकी डॉलर के बराबर है।

बड़े स्तर पर व्याप्त गरीबी, असमानता और निम्न मानव विकास सूचकांक के बावजूद बोत्सवाना ने, सुशासन और व्यापक आर्थिक वित्तीय प्रबंधन द्वारा समर्थित विकास के स्तरों पर प्रभावशाली रूप से तरक्की की है। सकल घरेलू उत्पाद का 10 प्रतिशत शिक्षा पर व्यय किए जाने से इस क्षेत्र में महत्वपूर्ण शैक्षिक उपलब्धियों हासिल हुई हैं, और देश में लगभग लगभग सभी के लिए मुफ्त शिक्षा का प्रावधान किया गया है, हालांकि इस सबके बावजूद देश में पर्याप्त कौशल और कार्यबल का अभाव है। बेरोजगारी की दर भी लगातार 20 प्रतिशत के साथ उच्च स्तर पर बनी हुई है। शहरी क्षेत्रों की तुलना में ग्रामीण क्षेत्रों में घरेलू आय काफी कम है, हालांकि ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी की दर में गिरावट आई है, लेकिन अभी भी वो शहरी क्षेत्रों की तुलना में काफी अधिक है। सरकार की ओर से एचआईवी /एड्स की दवाओं की नि:शुल्क उपलब्धता के चलते एचआईवी/एड्स संक्रमण की दर में अभूतपूर्व कमी दर्ज की गयी है।

हीरे और मांस बाजार पर बुरी तरह निर्भर देश की अर्थव्यवस्था में, विविधता लाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

संदर्भ[संपादित करें]

यह भी देखें[संपादित करें]

सिंहावलोकन
निर्देशियायें