कामरुपी भाषा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कामरुपी
बोली जाती है भारत
क्षेत्र असम
कुल बोलने वाले ६० लाख
भाषा परिवार
भाषा कूट
ISO 639-1 None
ISO 639-2
ISO 639-3

'कामरुपी भाषा एक प्राचीन भाषा है जो ब्रह्मपुत्र घाटी अथवा असम और उत्तर बंगाल मे बोली जाने वाली प्रथम आर्य भाषा है। यह भाषाविदों के अनुसार विभिन्न पूर्वी भारत - यूरोपीय भाषाओं जैसे असमी का जन्मदाता है और उसे समय समय पर प्रभावित करता रहा। यह कामरूप राज्य में पहली सहस्राब्दी से बोला जाता रहा है अाज पश्चिम असम आैर उतर बंगाल मे प्रचलित है।

उपबोलियाँ[संपादित करें]

कामरुपी चार उपबोलीयो मे विभाजित है जोकि पश्चिम कामरूपी (बरपेटा क्षेत्र), मध्य कामरुपी (नलबाड़ी क्षेत्र), उत्तर कामरुपी (पाठशाला क्षेत्र) और दक्षिण कामरुपी (पलासबाड़ी क्षेत्र) है।

विभाजन[संपादित करें]

ब्रिटिश भारत के दौरान कुछ बिंदु पर कामरूप एक असम और बंगाल के लिए अन्य प्रशासनिक कारणों के लिए दो बड़े जिलों में विभाजित किया गया था और धीरे धीरे इस विभाजन के बाद एक ही कामरुपी को असमी और बंगाली की उपबोली मानी जाने लगी हालांकि असमी कामरुपी और बंगाली कामरुपी एक ही भाषा का प्रतिनिधित्व करता है। आज कामरुपी पश्चिमी असमी और उत्तर बंगाली उपबोली के रूप मे सुरक्षित है।

महत्व[संपादित करें]

सभी प्राचीन और मध्ययुगीन असमिया साहित्य कामरुपी में लिखे गये थे।[1]

यह भी देखे[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Sukhabilasa Barma, Bhawaiya, ethnomusicological study,2004 Based on the materials of the Linguistic Survey of India, Suniti Kumar Chattopadhyay has divided Eastern Magadhi Prakrita and Apabhramsa into four dialect groups (1) Radha-the language of West Bengal and Orissa (2) Varendra-dialect of North Central Bengal (3) Kamrupi-dialect of Northern Bengal and Assam and (4) Vanga-dialect of East Bengal.