पाक्योंग विमानक्षेत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पाक्योंग विमानक्षेत्र
Pakyongsikkim.jpg
विवरण
विमानक्षेत्र प्रकारसार्वजनिक
संचालनकर्ताभाविप्रा
सेवाएँ (नगर)गंगटोक
स्थितिपाक्योंग, सिक्किम, भारत
प्रारम्भसितम्बर 24, 2018 (2018-09-24)
समुद्र तल से ऊँचाई1,399 मी॰ / 4,590 फुट
निर्देशांक27°13′40″N 088°35′13″E / 27.22778°N 88.58694°E / 27.22778; 88.58694निर्देशांक: 27°13′40″N 088°35′13″E / 27.22778°N 88.58694°E / 27.22778; 88.58694
मानचित्र
पाक्योंग विमानक्षेत्र की सिक्किम के मानचित्र पर अवस्थिति
पाक्योंग विमानक्षेत्र
पाक्योंग विमानक्षेत्र
सिक्किम में स्थान
उड़ानपट्टियाँ
दिशा लम्बाई सतह
मी॰ फ़ीट
02/20 1 5,577

पाक्योंग विमानक्षेत्र सिक्किम की राजधानी गंगटोक के निकट बना एक ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा है।[1] यह विमानक्षेत्र गंगटोक से दक्षिण में लगभग ३५ कि॰मी॰ दूर 400 हे॰ (990 एकड़) में विस्तृत है।[2] 4,500 फीट (1,400 मी॰) की ऊंचाई पर स्थित यह भारत के पांच सर्वोच्च ऊंचाई पर स्थित विमानक्षेत्रों में से एक है।[3] यह भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र में बना प्रथम ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा है तथा भारत का १००वां प्रचालन संलग्न विमानक्षेत्र भी है।[4][5] यह सिक्किम राज्य का प्रथम हवाई अड्डा है।[6]

इस हवाई अड्डे का उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा २४ सितंबर, २०१८ को किया गया था।[7] हालांकि पहले यहां से प्रथम उड़ान स्पाइस्जेट द्वारा ४ अक्तूबर को होनी तय थी, किन्तु बाद में इसे ८ अक्तूबर को होना निर्धारित किया गया।[8] ड्रक एयर द्वारा १ जनवरी २०१९ से पाक्योंग से पारो की उड़ान आरम्भ करने की भी योजना है। इस प्रकार यह अन्तर्राशःट्रीय विमानक्षेत्र भी बनने वाला नियोजित है।[9]

इतिहास[संपादित करें]

पाक्योंग विमानक्षेत्र के निर्माण से पूर्व, सिक्किम भारत का एकमात्र राज्य था जिसमें एक भी प्रचालनाधीन विमानक्षेत्र नहीं था।[10] तब सिक्किम गमन हेतु गंगटोक से 124 कि॰मी॰ (407,000 फीट) पांच घंटे की यात्रा कर पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल स्थित बागडोगरा या पड़ोसी देश भूटान में पारो हवाई अड्डे से जाना होता था।[11]

पाक्योंग विमानक्षेत्र का अनुमोदन आर्थिक मामलों हेतु मन्त्रिमण्डल समित द्वारा अक्तूबर २००८ में किया गया था। तब जनवरी २००९ को इस ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के लिये पुंज लॉयड समूह के साथ 2,640 करोड़2,640 मिलियन (US$38.54 मिलियन) का अनुबंध हवाई पट्टी और टैक्सीमार्ग के निर्माण, एप्रन जल निकासी व्यवस्था, और बिजली के काम के लिए किया गया था। तब इस विमानक्जशःएत्नर की आधारशिला तत्वकालीन नागरिक उड्डयन मंत्री प्रफुल्ल पटेल द्वारा फरवरी २००९ को रखी गयी थी।[12]

परियोजना शुरू होने पर पूरे होने की आशा २०१२ तक की थी, किन्तु स्थानीय ग्रामवासियों द्वारा पर्याप्त प्रतिपूर्ति एवं पुनर्स्थापन योजना की मांग किये जाने व इसके लिये न्यायालय जाने के कारण यह योजना जनवरी २०१४ तक रुकी रही। तब भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण द्वारा मध्यस्थता कर और ग्रामावासियों को आंशिक प्रतिपूर्ति कर कार्य को अक्तूबर २०१४ में पुनरारम्भ किया गया, किन्तु जनवरी २०१५ में ग्रामवासियों के विरोध के चलते एक बार पुनः यह कार्य बाधित हुआ।[13] जुलाई २०१५ को भाविप्रा के साथ राज्य सरकार द्वारा एक एमओयू हस्ताक्षरित किया गया जिससे भाविप्रा अपना कार्य अक्तूबर २०१५ में एक बार पुनः आरम्भ कर पायी। यहां पर अनोपलब्ध विद्युत-ऊर्जा के अभाव और भूस्खलन के कारण यह कार्य पुनः दो बार बाधित हुआ, जिससे इसकी लागत 3,090 करोड़3,090 मिलियन (US$45.11 मिलियन) से बढ़कर 6,050 करोड़6,050 मिलियन (US$88.33 मिलियन) हो गयी।[14] तब यहां की भूस्खलन की समस्या से निबटने हेतु अधिकतम पारिस्थितिक ढलान-स्थिरीकरण तकनीकों (Maximally ecological slope-stabilization techniques) का प्रयोग कर स्थिति को नियन्त्रण में लिया गया तथा कार्य आगे बढ़ा।[15]

५ मार्च २०१८ को भारतीय वाय़ु सेना का डोर्नियर 228 पाक्योंग की पूरी हुई हवाई पट्टी पर पहली बार उतरा।[16] इसके बाद स्पाइस्जेट कंपनी को पाक्योंग से कोलकाता क्षेत्र में उड़ान संचालित करने का कार्यादेश दिया गया। इसका निर्धारण सरकार की उड़ान क्षेत्रीय-संयोजकता योजना (रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम) के तहत बिडिंग के द्वितीय राउण्ड के बाद किया गया। तब स्पाइस्जेट ने पाक्योंग में १० मार्च २०१८ को क्यू४०० विमान का सफ़ल अवतरण प्रयास किया।[17]

हवाई अड्डे को अपना व्यावसायिक संचालन अनुज्ञापत्र नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) से ५ मई २०१८ को प्राप्त हुआ।[18]

वायुसेवाएं एवं गंतव्य[संपादित करें]

वायुसेवाएंगंतव्य
ड्रक एयरपारो (१ जनवरी २०१९ से नियोजित)[19]
स्पाइस्जेटगुवाहाटी (१६ अक्तूबर २०१८ से नियोजित),[20] कोलकाता (८ अक्तूबर २०१८ से नियोजित)[8]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Sikkim to have 100th functional airport in India".
  2. "Wait for Sikkim air link".
  3. "Sikkim's Greenfield Airport". Punjlloyd. अभिगमन तिथि 4 August 2012.
  4. "Sikkim's Pakyong airport stuns before it flies".
  5. "Sikkim to get its first airport at Pakyong". The Indian Express. 17 November 2007. अभिगमन तिथि 4 August 2012.
  6. "Pakyong airport in Sikkim to become the 100th functional airport in India: Jayant Sinha". Financial Express. PTI. 3 May 2018. अभिगमन तिथि 5 May 2018.
  7. "PM Narendra Modi inaugurates Sikkim's Pakyong airport". The Economic Times. 24 September 2018. अभिगमन तिथि 24 September 2018.
  8. "Sikkim flight pushed back by four days". The Telegraph (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 16 September 2018.
  9. https://www.routesonline.com/news/38/airlineroute/280077/drukair-plans-pakyong-launch-in-1q19/
  10. Dey, Panchali. "Pakyong Airport to finally become operational this month". HappyTrips. Times of India. अभिगमन तिथि 6 June 2018.
  11. Sen, Sutapa (19 August 2018). "Good news: Sikkim's first airport ready to start operations, 5 facts you need to know". DNA. iligent Media Corporation Ltd. अभिगमन तिथि 21 August 2018.
  12. "Pakyong, first-ever airport in Sikkim, makes steady progress". ProjectsMonitor. 6 December 2010. मूल से 19 July 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 August 2012.
  13. "North East's first greenfield airport comes to a halt". Business Standard. 30 January 2015. अभिगमन तिथि 7 May 2015.
  14. "AAI, Sikkim govt sign MoU for Pakyong Airport". Business Standard. 3 July 2015. अभिगमन तिथि 6 July 2015.
  15. http://blogs.agu.org/landslideblog/2015/01/29/the-pakyong-airport-landslide-issue-in-india/
  16. IAF's Dornier aircraft lands at Pakyong airport Economic Times 5 March 2018
  17. Spicejet Bombardier Q400 78 seater aircraft makes historic landing at Pakyong Airport Voice of Sikkim 10 March 2018
  18. "Sikkim's Pakyong Airport gets license". Millennium Post. 5 May 2018. अभिगमन तिथि 24 September 2018.
  19. https://www.routesonline.com/news/38/airlineroute/280077/drukair-plans-pakyong-launch-in-1q19/
  20. https://www.telegraphindia.com/calcutta/sikkim-flight-from-oct-4-256141?ref=calcutta-new-stry

बाहरी कड़ियां[संपादित करें]


{{ |group3 = सैन्य |list3 = अर्कोणम · अंबाला · बागडोगरा · भुज रुद्र माता · कार निकोबार · चाबुआ · चंडीगढ़ · दीमापुर · डिंडीगल · गुवाहाटी · हलवाड़ा · हाशीमारा · हिंडन · कुंभिर्ग्राम · पालम · सफ़दरजंग · तंजौर · यलहंका


|group4 = बंद हुए |list4 = बेगमपेट (हैदराबाद) · एच ए एल बंगलुरु अंतर्राष्ट्रीय · बीकानेर · बमरौली · गोरखपुर


|below = * एक "प्रतिबंधित अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा" ("कस्टम हवाई अड्डा") के रूप में निर्दिष्ट। इन विमानक्षेत्रों से कुछ ही अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें प्रचालन में हैं। }}