सहेलियों की बाड़ी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सहेलियों की बाड़ी

सहेलियों की बाड़ी (Courtyard of Maiden) भारतीय राज्य राजस्थान के उदयपुर ज़िले का प्रमुख और एक लोकप्रिय उद्यान तथा दर्शनीय स्थल है। इसका निर्माण राणा सांगा (महाराणा संग्राम सिंह) ने करवाया था। उद्यान के पास एक संग्रहालय भी है।

इतिहास[संपादित करें]

हाथी के आकार का फव्वारा ,सहेलियों की बाड़ी में

सहेलियों की बाड़ी एक अड़तालीस जवान महिलाओं का समूह था जिसे उदयपुर की राजकुमारी के दहेज़ के तौर पर दिया गया था। इसलिए उनके लिए इस उद्यान का निर्माण करवाया था। उद्यान में बहुत ही सुन्दर कमल के ताल एवं फूल है साथ ही संगमरमर के मंडप और हाथी के आकार के फव्वारे है जो कि अभूतपूर्व लगते हैं

यह उद्यान फतेहसागर झील के निकट स्थित है जिसका निर्माण राजकीय महिलाओं के लिए १७१० से १७३४ ईस्वी में महाराणा संग्राम सिंह ने करवाया था। लेकिन कुछ प्रमाणों के अनुसार इस उद्यान [1] की संरचना खुद महाराणा सांगा ने तैयार की थी और फिर अपनी महारानी को दिया था। इनके अलावा यह भी मिलता है कि ये ४८ सहेलियां महारानी के दहेज़ के रूप में भेंट की थी। यह उद्यान राजकीय महिलाओं के लिए काफी अच्छा और सुंदर रहा।

बाहरी कड़ियां[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Udaipur.org.uk. "Saheliyon ki Badi". http://www.udaipur.org.uk/gardens/saheliyon-ki-bari.html. अभिगमन तिथि: 4 जनवरी 2017. 

निर्देशांक: 24°36′10″N 73°41′07″E / 24.60278°N 73.68528°E / 24.60278; 73.68528