गणगौर घाट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

गणगौर घाट (अंग्रेज़ी: Gangaur Ghat) जिसे गणगौरी घाट भी कहते हैं। यह एक घाट है जो भारत के राजस्थान राज्य के उदयपुर ज़िले की पिछोला झील के निकट स्थित है। साथ ही इस घाट के नजदीक जगदीश चौक भी है यह बागोर-की-हवेली दर्शनीय स्थल का एक लोकप्रिय हिस्सा है।[1]

अवलोकन[संपादित करें]

गणगौर घाट जो कि उदयपुर ज़िले का एक लोकप्रिय स्थल जहां कई सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होता है।

गणगौर त्यौहार[संपादित करें]

गणगौर राजस्थान राज्य का एक प्रसिद्ध स्थानीय त्यौहार है यह त्यौहार मुख्यतः महिलाओं का है।[2] गणगौर का पारंपरिक जुलूस सिटी पैलेस से शुरू होता है, और शहर के कई अन्य जगहें, जो शहर के विभिन्न क्षेत्रों से गुजरता हैं। जुलूस की अध्यक्षता एक पुरानी पालकी, रथ, बैलगाड़ी और लोक कलाकारों द्वारा प्रदर्शन किया जाता है। जुलूस के पूरा होने के बाद, गण और गौरी की मूर्तियां इस घाट में लाई जाती हैं और यहाँ से पिछोला झील में विसर्जित किया जाता है।

जल-झूलनी एकादशी[संपादित करें]

जल-झूलनी एकादशी या जल-झूलनी ग्यारस एक लोकप्रिय कार्यक्रम है जो गणगौर घाट पर मनाया जाता है। शुक्ल पक्ष के और कृष्ण पक्ष के ग्यारहवें दिन शहर के अलग-अलग जगहों पर जुलूस निकाले जाते हैं और पिछोला झील गणगौर घाट पर लोग बाल कृष्ण (कृष्ण) को झूला झुलाते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "10 Things To Do in Udaipur". Times Internet Limited.. http://www.indiatimes.com/lifestyle/travel/10-things-to-do-in-udaipur-129375.html. अभिगमन तिथि: २७ मार्च २०१७. 
  2. "Where history lives on and on". The Hindu. http://www.thehindu.com/features/metroplus/where-history-lives-on-and-on/article6452750.ece. अभिगमन तिथि: २७ मार्च २०१७.