बावजी चतुर सिंहजी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सन्त कवि महाराज चतुर सिंहजी जो अब बावजी चतुर सिंहजी के नाम से जाने जाते हैं। ये एक भारतीय राज्य राजस्थान के उदयपुर ज़िले के सन्त कवि थे ,इनका जन्म ०९ फरवरी १८८०) कर्जली में हुआ था। इनके पिता का नाम महाराज सूरत सिंह था जबकि माता का नाम रानी कृष्ण कँवर था। बावजी चतुर सिंह जी को एक राजपूत सन्त कवि थे।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Kanhaiyalal Rajpurohit, Bavji Chtur Singhji - Rajasthani Writer, 1996, page 96, ISBN 81-260-0163-1