रमन सिंह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
डॉ॰ रमन सिंह
Dr Raman Singh at Press Club Raipur Mood 2.jpg

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
७ दिसम्बर २००३
पूर्वा धिकारी अजीत जोगी
चुनाव-क्षेत्र राजनाँदगाँव
पद बहाल
१३ दिसम्बर १९९९ – २९ जनवरी २००३

जन्म 15 अक्टूबर 1952 (1952-10-15) (आयु 66)
कवर्धा, भारत
राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी
जीवन संगी वीणा सिंह
बच्चे अभिषेक सिंह, अस्मिता सिंह
As of २ जनवरी, २०११
Source: छत्तीसगढ सरकार

रमन सिंह (जन्म: १५ अक्टूबर १९५२, कवर्धा) एक भारतीय राजनेता है और छत्तीसगढ के वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। रमन सिंह १९९० और १९९३ में मध्यप्रदेश विधानसभा के सदस्य रहे। उसके बाद सन् १९९९ में वे लोकसभा के सदस्य चुने गये। १९९९ और २००३ में उन्होंने भारत सरकार में राज्य मंत्री का भी पद संभाला। २००४ में हुये विधानसभा के चुनावों में उन्होंने सफलता पाई और छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री बने।

२००८ के विधानसभा चुनावों में उन्होंने फिर से सफलता पायी और राज्य के पुनः मुख्यमंत्री बने। तीसरी बार वे 2013 में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री चुने गये।

जीवन परिचय[संपादित करें]

डॉ॰ रमन सिंह का जन्म छत्तीसगढ़ के वर्तमान कबीरधाम (कवर्धा) ज़िले के ग्राम ठाठापुर (अब रामपुर) में एक कृषक परिवार में 15 अक्टूबर, 1952 को हुआ था। 1975 में आयुर्वेदिक मेडिसिन में बी.ए.एम.एस. की उपाधि प्राप्त की। रमन सिंह के परिवार में पत्नी वीना सिंह और दो बच्चे हैं। [1]

राजनीतिक सफर[संपादित करें]

रमन सिंह ने अपने राजनैतिक जीवन की शुरुआत भारतीय जनसंघ के युवा सदस्य के तौर पर की थी। रमन सिंह 1990 और 1993 में मध्यप्रदेश विधानसभा के सदस्य रहे। उसके बाद सन् 1999 में वे लोकसभा के सदस्य चुने गये। वर्ष 1999 में हुए राजनंदगांव, छत्तीसगढ़ से लोकसभा चुनावों में जीत मिलने के बाद उनके राजनैतिक कॅरियर को एक नया आयाम मिल गया। तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी बाजपेयी ने उन्हें अपनी सरकार में वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री बनाया। 2003 में जब छत्तीसगढ़ राज्य का पहला चुनाव होना निश्चित हुआ तो भारतीय जनता पार्टी में ऐसे व्यक्ति की तलाश हुई जो चुनावों से पूर्व के निर्णायक महीनों में पार्टी संगठन को गतिशील कर सके। संगठन क्षमता और सबको साथ लेकर चलने की दक्षता से संपन्न डॉ॰ रमन सिंह को यह दायित्व सौंपा गया। पहली बार भाजपा को छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में बड़ी सफलता मिली। एक दिसम्बर 2003 को छत्तीसगढ़ के इतिहास में भाजपा के विजय दिवस के रूप में दर्ज किया गया। डॉ॰ रमन सिंह छत्तीसगढ़ के प्रथम निर्वाचित मुख्यमंत्री बने। जिसके बाद से वे अभी तक इस पद पर काबिज है। कुछ राजनीतिज्ञों के अनुसार वे २०१९ के आम चुनाव के पश्चात भाजपा प्रधान मंत्री हो सकते हैं। [2] [3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

पूर्वाधिकारी
अजीत जोगी
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री
७ दिसम्बर २००३ – वर्तमान
उत्तराधिकारी
पदस्थ