देवरिया जिला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
देवरिया ज़िला
Deoria district
India Uttar Pradesh districts 2012 Deoria.svg

उत्तर प्रदेश में देवरिया ज़िले की अवस्थिति
राज्य उत्तर प्रदेश
Flag of India.svg भारत
प्रभाग गोरखपुर मंडल
मुख्यालय देवरिया
क्षेत्रफल 2,535 कि॰मी2 (979 वर्ग मील)
जनसंख्या 3,100,946 (2011)
जनघनत्व 1,220/किमी2 (3,200/मील2)
साक्षरता 73.53
लिंगानुपात M:F 1000:1013
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र देवरिया, बांसगाँव और सलेमपुर
विधानसभा सीटें देवरिया
राजमार्ग NH28
औसत वार्षिक वर्षण 864.38 मिमी
आधिकारिक जालस्थल
देवरिया का सोमनाथ मंदिर (शिव मन्दिर)

देवरिया भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश का एक जिला है। जिले का मुख्यालय देवरिया शहर है । यह माना जाता है कि यहा का पौराणिक नाम देवारण्‍य है जो अंग्रेजी शासनकाल से देवरिया शब्द प्रयोग मे लाया जाने लगा | देवरिया ज़िला गन्‍ने की खेती और चीनी मिलों के लिए प्रस‍िध्‍द है। यहां की फसलों में धान, गेहूँ, जौ, बाजरा, चना, मटर, अरहर, तिल, सरसों इत्यादि प्रमुख हैं। गंडक, तथा घाघरा इस जिले से हो कर बहती हैं। गंडक नदी एक पौराणिक नदी है; इसका पौराणिक नाम हिरण्यावती है।[कृपया उद्धरण जोड़ें] इन नदियों का यहाँ की सिंचाई में महत्वपूर्ण योगदान है। सिंचाई के अन्य साधनों में नहरें एवं नलकूप प्रमुख हैं।[1][2]

भूगोल व अर्थव्यवस्था[संपादित करें]

गंडक व घाघरा के अलावा कुर्ना, गोर्रा, बथुआ, नकटा आदि नाले भी बरसात में उफन जाते हैं। ज़िला पिछड़ा हुआ है, व्यवसायों का आभाव है और बहुत से लोग नौकरी की तालाश में इसे छोड़कर अन्य स्थानों पर जाते हैं।

सांस्कृतिक पहलू[संपादित करें]

यहँ बोली जाने वाली बोली भोजपुरी है। जो यहाँ की एक लोकप्रिय बोली है। यहाँ की संस्कृति एवं लोक कला में भोजपुरी की छाप स्पष्ट रूप से दिखती है। यहाँ गाए जाने वाले लोक गीतों में कजरी, सोहर, फगुआ या फाग महत्वपूर्ण हैं।

देवरिया से मात्र 27 किमी दूर कुशीनगर में महात्‍मा बुद्ध की समाधि स्थित है। यहीं पर भगवान बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ। वर्तमान में यह कुशीनगर जिले में स्थित है। देवरिया शहर बेहतर रेल एवं सड़क यातायात से जुडा़ हुआ है। इस शहर को ब्रॉड गे़ज की रेल लाइन देश के अन्य शहरों से जोड़ती है। देवरिया डाक मण्डल देवरिया तथा पडरौना जिलो की डाक व्यवस्था देखती है।

भाषा एवं धर्म[संपादित करें]

इस जनपद की बोली भोजपुरी है। देवरिया जनपद में मुख्य रूप से हिन्दी भाषा बोली जाती है। देवरिया जनपद की कुल जनसंख्या की लगभग ९९ प्रतिशत जनता हिन्दी, लगभग ०.५ प्रतिशत जनता उर्दू और ०.५ प्रतिशत जनता के बातचीत का माध्यम अन्य भाषाएँ हैं। बोली की बात करें तो ग्रामीण जनता के साथ-साथ अधिकांश शहरी जनता भी भोजपुरी बोलती है। कुल जनसंख्या की दृष्टि से इस जनपद में लगभग ९५ प्रतिशत हिन्दू, लगभग ५ प्रतिशत मुस्लिम और अन्य धर्म को मानने वाले हैं।

शिक्षा[संपादित करें]

यहाँ पर शिक्षा की समुचित व्यवस्था है, कई इंटर कॉलेज और महाविद्यालय शिक्षण कार्य करते है।राजकीय इंटर कॉलेज संत विनोवा डिग्री कॉलेज यहाँ के मुख्य शिक्षा स्थल हैं।

प्रमुख कस्बे[संपादित करें]

देवरिया जनपद के जाने-माने शहरों में देवरिया,(( नगर पालिका परिषद् बरहज))बरियारपुरमेहरौना (महुआपाटन) नोनापार बैतालपुर, गौरीबाजार, रामपुर कारखाना, पाण्डेय चक,पथरदेवा, तरकुलवा, रुद्रपुर, बरहज भलुअनी, भाटपाररानी, बनकटा, सलेमपुर, लार, लार रोड भागलपुर ब्लाक , भटनी, महेन,जगरनाथ छपरा, सरयां आदि हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Uttar Pradesh in Statistics," Kripa Shankar, APH Publishing, 1987, ISBN 9788170240716
  2. "Political Process in Uttar Pradesh: Identity, Economic Reforms, and Governance," Sudha Pai (editor), Centre for Political Studies, Jawaharlal Nehru University, Pearson Education India, 2007, ISBN 9788131707975

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]