श्रावस्ती जिला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

श्रावस्ती भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश का एक जिला है।

जिले का मुख्यालय भिन्गा है जो एक विकासशील नगर हैं। श्रावस्ती जनपद एक नवनिर्मित जनपद है जो बहराइच जनपद से अनुनिर्मित हैं। श्रावस्ती भारत की अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर स्थित एक एतिहासिक एवँ अन्तरवैश्विक धार्मिक महत्व वाला एक धर्मस्थल भी है। बौद्ध धर्म के सँस्थापक महात्मा बुद्ध ने सर्वाधिक उपदेश यही दिये थे। श्रावस्ती जिले में इस समय 5 विकास क्षेत्र इकौना, हरिहरपुररानी, गिलौला, जमुनहा व सिरसिया हैं। तथा तीन तहसीलें भिनगा इकौना और जमुनहा है/ विकास क्षेत्र इकौना में 70, हरिहरपुररानी में 53, गिलौला में 71, जमुनहा में 71 व सिरसिया में 70 ग्राम पंचायतें है। श्रावस्ती एक नवनिर्मित जनपद है जिसे बौद्धिक यानी बुद्ध से संबंधित एक नई विचारधारा के पहचान के रूप में बनाया गया यह निश्चित ही एक राजनैतिक कदम था किंतु इसका एक अन्य फायदा यहां के लोगों को हुआ कि इन्हें नए स्तर पर जनपद कई कई सुविधाएं मिली और यह देखा गया की प्रशासनिक दूरी बहराइच से कम हुई और भींगा नामक एक नया प्रशासनिक सहारे इनको मिला यह बहुत ही बड़ा पड़ाव था कहीं ना कहीं श्रावस्ती जनपद के विकास में और यह भी देखा गया कि यहां के लोगों में एक नई ललक भी देखी और उन्होंने इस फैसले का बड़ा स्वागत किया मैं बोलता है इसी जिले से रहने वाला एक छात्र एक व्यक्ति हूं और मुझे इस धरती से इस माटी से अदम्य प्रेम और मैं इसका महत्व भी समझता हूं लेकिन कुछ लोगों को यह लगता है कि इतिहास ही यहां का सब कुछ है तो ऐसा नहीं है वर्तमान में भी बड़े स्तर पर इस माटी से लोग निकल रहे हैं और उनकी अलग-अलग क्षमताएं बस इस खोई हुई भीड़ में उनको कोई पा नहीं रहा है मैं अंकुर आनंद मिश्रा आज आपसे कहना चाहता हूं कि के पर्यटन और मनोरम बता के आधार पर आप यदि श्रावस्ती हो गए तो आप को जो आपको जो आनंद मिलेगा वह निश्चित ही मन को छूने वाला होगा

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

श्रावस्ती एक अंतरराष्ट्रीय सीमा नेपाल पर स्थित है, यह विकासशील जिला होने के साथ साथ पर्यटन के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है यहां जहां एक तरफ बौद्ध धर्म को मानने वाले अनुयायियों के लिए श्रावस्ती में कटरा सहेट महेट है तो वहीं हिंदू धर्म को मानने वाले अनुयायियों के लिए विभूति नाथ मंदिर और सोनपथरी जैसे मुख्य मंदिर है विभूति नाथ में कजरी तीज मेले के अवसर पर लाखों की संख्या में लोग आते हैं जिस प्रकार से श्रावस्ती में विकास हुआ है यहां के लोगों को ही सुख सुविधाएं एक उच्च स्तर तक पहुंची है वहीं वहीं शिक्षा के दृष्टि के माध्यम से देखा जाए तो श्रावस्ती एक उच्च स्तर पर है सिरसिया ब्लाक के श्री आशीष श्रीवास्तव जी के द्वारा बनाया गया डगमरा सेतु के किनारे स्थित आदर्श इंटर कॉलेज और इकौना में जनता इंटर कॉलेज सुभाष इंटर कॉलेज इस प्रकार से कई सारे ऐसे विद्यालय हैं जो आज शिक्षा के क्षेत्र में छात्रों को आगे लेकर जा रहे हैं मैं प्रभु दयाल विश्वकर्मा जो कि ग्राम पंचायत पंडित पुरवा के धर्मेंद्र पुर गांव का रहने वाला हूं अगर आप लोग कभी श्रावस्ती विजिट करें तो सोन पथरी विभूति नाथ मंदिर कटरा श्रावस्ती और भिनगा बाजार घूमना बिलकुल भूले धन्यवाद्