चाँद रात

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
चाँद रात का चाँद
भारत के शहर हैदराबाद में चाँद रात का जुलूस.

चाँद रात हिन्दी-उर्दू शब्द है, जो भारत और पाकिस्तान में उपयोग होता है। चाँद रात वह समय होता है, जब परिवार और मित्र बाहर खुले जगह पर नए चाँद को देखते हैं।[1]

नया चाँद देखने की रात को "चाँद रात" कहते हैं। इस नए चाँद को देखने की रात के दुसरे दिन से इस्लामी कैलंडर के महीने की शुरूआत होती है। यानी चाँद रात उस महीने का आख़री दिन होता है, दुसरे दिन से अगले महीने की पहली तारीख शुरू होती है।

नाम[संपादित करें]

यह नाम संस्कृत के चंद्र (चाँद) [2] और रात्रि (रात) [3] शब्द से बना है। जिसे हिन्दी और उर्दू में चाँद और रात कहते हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]