गूगल धरती

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(गूगल धरा से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

गूगल अर्थ वास्तविक भूमंडल (virtual globe) चित्रण का एक ऐसा कार्यक्रम है जिसे प्रारम्भ में अर्थ व्यूअर नाम दिया गया, तथा इसे कीहोल, इंक (Keyhole, Inc) द्वारा तैयार किया गया है, जो 2004 में गूगल द्वारा अधिगृहीत की गई एक कंपनी है।यह कार्यक्रम उपग्रह चित्रावली (satellite imagery), हवाई छायांकन (aerial photography) तथा भौगोलिक सूचना प्रणाली (GIS) त्रि आयामी (3D) भूमंडल से प्राप्त चित्रों का अध्यारोपण (superimposition) करते हुए धरती का चित्रण करता है। यह तीन विभिन्न अनुज्ञप्तियों के अधीन उपलब्ध है: गूगल अर्थ, सीमित कार्यात्मकता के साथ एक मुक्त संस्करण; गूगल अर्थ प्लस ($ २० प्रति वर्ष), जो अतिरिक्त विशेषताओं से युक्त है तथा गूगल अर्थ प्रो ($ ४०० प्रति वर्ष), जो कि वाणिज्यिक कार्यों में उपयोग हेतु तैयार किया गया है।[1]

२००६ में इस उत्पाद का नाम बदलकर गूगल अर्थ कर दिया गया, जो कि वर्तमान में माइक्रोसॉफ्ट विन्डोज़ (Microsoft Windows) २००० (2000), एक्स पी अथवा विस्ता, मैक ओएस एक्स (Mac OS X) १०.३.९ तथा उससे अधिक, लिनुक्स(१२ जून, २००६ को जारी) तथा फ्री BSD (FreeBSD) से युक्त निजी कंप्यूटरों (personal computer) पर उपयोग के लिए उपलब्ध है। गूगल अर्थ फायरफॉक्स, आई ई 6 (IE6) अथवा आई ई 7 (IE7) के लिए एक ब्राउज़र प्लगइन (02 जून, 2008 को जारी) के रूप में भी उपलब्ध है। एक अद्यतन कीहोल आधारित क्लाइंट को जारी करने के साथ, गूगल ने अपने वेब आधारित प्रतिचित्रण सॉफ़्टवेयर में अर्थ डेटाबेस की चित्रावली भी शामिल की है।वर्ष २००६ के मध्य जनता के लिए गूगल अर्थ जारी होने के साथ २००६ तथा २००७ के बीच आभासी भूमंडल (virtual globes) पर मीडिया कवरेज में दस गुना से भी अधिक की वृद्धि हुई तथा भूस्थानिक (geospatial) तकनीकों तथा अनुप्रयोगों में[2] जनता की रूचि बढ़ गई।

सिंहावलोकन[संपादित करें]

गूगल अर्थ धरती की सतह के उपग्रह द्वारा लिए गए अलग अलग विभेदन (रिसॉल्यूशन) के चित्रों को प्रदर्शित करता है, जिससे कि इसके उपयोगकर्ता मकानों और कारों जैसी चीज़ों का विहंगम दृश्य (bird's eye view) देख सकें.उपलब्ध विभेदन का स्तर कुछ हद तक रुचिकर बिंदुओं पर आधारित है, किंतु अधिकांश भूमि (कुछ द्वीपों को छोड़कर) कम से कम 15 मीटर के विभेदन पर कवर की गई है।[3]मेलबोर्न, ऑस्ट्रेलिया, लॉस वेगास, नेवाडा (Las Vegas, Nevada) औरकैम्ब्रिज, मासाचुसेट्स (Cambridge, Massachusetts) १५ से. मी. (६ इंच) के उच्चतम विभेदन के उदाहरणों में हैं। गूगल अर्थ उपयोगकर्ताओं को कुछ देशों के पतों की खोज करने,संदर्भ बिंदु लिखने अथवा केवल माउस के प्रयोग से किसी स्थान को खोजने में समर्थ बनाता है।

गूगल अर्थ नासा के शटल राडार टोपोग्राफी मिशन (Shuttle Radar Topography Mission) (एस आर टी एम) द्वारा संगृहीत डिजीटल एलिवेशन मॉडल (digital elevation model) (डी ई एम) डाटा का भी उपयोग करता है।



इसका तात्पर्य है की कोई भी ग्रैंड कैनयन या माउंट एवरेस्ट को अन्य मानचित्र कार्यक्रमों/साइट्स (map programs/sites) में द्विआयामी रूप में देखने की अपेक्षा त्रि आयामी (dimension) रूप में देख सकता है। नवम्बर, २००६ के पश्चात् से माउंट एवरेस्ट सहित कई पर्वतीय चोटियों की त्रिआयामी छवियों में, एस आर टी एम कवरेज[4] के अंतरालों को भरने के किए संपूरक डी ई एम डाटा का उपयोग करते हुए सुधार किया गया है।

इन अनुप्रयोगों का उपयोग करने वाले बहुत से लोग अपना डाटा भी इसमें जोड़ते हैं तथा उसे विभिन्न स्रोतों जैसे कि बी बी एस अथवा नीचे के खंड में दिए गए लिंक में उल्लिखित ब्लॉगों के माध्यम से उपलब्ध कराते हैं। गूगल अर्थ धरती की सतह पर आच्छादित सभी प्रकार की छवियों को प्रर्दशित करने में समर्थ है तथा एक वेब मानचित्र सेवा (Web Map Service) क्लाइंट भी है। गूगल अर्थ, कीहोल मार्कअप लैंग्वेज (Keyhole Markup Language)(के एम एल) का उपयोग करते हुए त्रि आयामी भू स्थानिक (Geospatial) डाटा के प्रबंधन में मददगार सिद्ध होता है।

गूगल अर्थ भवनों तथा संरचनाओं (जैसे कि पुल आदि) को त्रिआयामी रूप में प्रर्दशित करने में सक्षम है, जिसमें स्केचअप (SketchUp), एक त्रिआयामी मॉडलिंग (3D modeling) कार्यक्रम के उपयोग से उपयोगकर्ताओं की प्रस्तुतियां शामिल होती हैं।गूगल अर्थ के पिछले संस्करणों में (चौथे संस्करण के पहले), त्रिआयामी भवन केवल कुछ ही नगरों में दिखाए गए थे, उनकी भी प्रस्तुति खराब थी और उनमे बारीकियां नहीं दिखती थीं। अगस्त २००७ में हैम्बर्ग (Hamburg) ऐसा पहला शहर हुआ जो पूरी तरह, अपनी बनावट के साथ त्रि-आयामी दिखाया जा सका. १६ जनवरी, २००८ को वेस्टपोर्ट (Westport) का आयरिश क़स्बा गूगल अर्थ में त्रि-आयामी चित्र के साथ सम्मिलित किया गया। 'वेस्टपोर्ट त्रिआयामी' मॉडल त्रिआयामी चित्र बनाने वाली फ़र्म ए एम ३ टी डी द्वारा लम्बी दूरी की लेजर स्कैनिंग तकनीक तथा डिजिटल फोटोग्राफी का प्रयोग करते हुए तैयार किया गया था एवं एक आयरिश क़स्बे का इस प्रकार तैयार किया गया अपनी तरह का पहला मॉडल है। चूँकि इसे स्थानीय सरकारों को अपने नगर नियोजन (town planning) के कार्य हेतु मदद करने के उद्देश्य से विकसित किया गया था, इसलिए इसमें गूगल अर्थ में पाए जाने वाली सर्वोच्च विभेदन की फ़ोटो-रियलिस्टिक बनावट समाहित है।गूगल के त्रि आयामी वेयरहाउस[5] तथा अन्य वेबसाइट्स के माध्यम से विश्व के कतिपय भवनों व इमारतों का त्रि आयामी प्रतिपादन उपलब्ध है।

अभी हाल में गूगल ने एक और सुविधा को इसमें सम्मिलित किया है, जिससे हर दो सौ गज़ की दूरी पर लूप में ट्रैफ़िक की गति पर सही निगरानी रखी जा सकती है।

15 अप्रैल2008 को जारी किए गए 4.3 संस्करण में, गूगल स्ट्रीट व्यू (Google Street View) को कार्यक्रम में पूरी तरह एकीकृत किया गया जिससे कार्यक्रम कई स्थानों पर गली के स्तर का दृश्य उपलब्ध कराने में समर्थ हुआ।

स्काई मोड[संपादित करें]

चित्र:Google Earth Sky.png
विंडोज़ विस्टा में स्काई व्यूइंग मोड में गुगल अर्थ

, 22 अगस्त 2007 को जारी 4.2 संस्करण में, गूगल अर्थ ने सितारों और खगोलीय छवियों को देखने के लिए स्काई उपकरण जोड़ा.[6]

गूगल स्काई (Google Sky)को गूगल ने बाल्टीमोर स्थित स्पेस टेलीस्कोप साइंस इंस्टीट्यूट (Space Telescope Science Institute) के साथ मिलकर तैयार किया है, जो कि हबल स्पेस टेलिस्कोप (Hubble Space Telescope) के लिए विज्ञान प्रचालन केन्द्र है। स्पेस टेलीस्कोप साइंस इंस्टीट्यूट के डॉ॰ अल्बर्टो कोन्टि (Alberto Conti) एवं इसे विकसित करने में इनके सहयोगी डॉ॰ कैरोल क्रिश्चन (Carol Christian) ने २००७[7] से सार्वजनिक चित्रों को सम्मिलित करने तथा साथ ही की सर्वेक्षणों के लिए हबल एडवांस्ड कैमरे से खींचे गए पुरालेखीय संचित डाटा में रंगीन चित्रों को भी सम्मिलित कराने की योजना बनाई.नए-नए हबल (Hubble) चित्रों को उनके जारी होते ही गूगल स्काई कार्यक्रम में सम्मिलित किया जायेगा. मल्टी-वेवलेंथ डेटा, प्रमुख उपग्रहों तथा उनकी कक्षाओं की स्थिति जैसी नई सुविधाएँ तथा साथ ही साथ शैक्षणिक संसाधन भी गूगल अर्थ समुदाय को उपलब्ध कराए जाएँगे और क्रिश्चन और कोन्टि की वेबसाइट से भी चीज़ें होंगी.स्काई मोड पर तारामंडलों, नक्षत्रों, आकाश गंगाओं तथा ग्रहों व उनकी कक्षाओं को प्रदर्शित करने वाले एनिमेशन देखे जा सकते हैं।वीओ ईवेंट (VOEvent) प्रोटोकॉल के उपयोग से हाल ही में घटित खगोलशास्त्रीय गतिविधियों का एक रीयल-टाइम गूगल स्काई मैशअप (mashup)वीओ ईवेंट नेट के सहयोग से उपलब्ध कराया जा रहा है।गूगल अर्थ मानचित्रों का प्रत्येक पाँच मिनट पर अद्यतन किया जाता है।

गूगल स्काई कोमाइक्रोसॉफ्ट [1] के आने वाले उत्पाद विश्व व्यापी दूरदर्शी (WorldWide Telescope) से प्रतियोगिता का सामना करना पड़ेगा, जिसके जल्द ही आने की आशा है।[8]

१३ मार्च, २००८ को गूगल ने गूगल स्काई का संजाल-आधारित संस्करण तैयार किया जो कि यहाँ पर उपलब्ध हैhttp://www.google.com/sky/.

स्ट्रीट व्यू[संपादित करें]

१५ अप्रैल, २००८ को ४.३ संस्करण के साथ गूगल ने अपने स्ट्रीट व्यू (Street View) को पूर्ण रूप से गूगल अर्थ के साथ संयुक्त कर दिया.

गूगल स्ट्रीट व्यू ३६० अंशों पर सड़क स्तर के परिदृश्य उपलब्ध कराता है और उपयोगकर्ताओं को चयनित नगरों के भागों और उनके आस पास के महानगरीय क्षेत्रों का ज़मीनी स्तर पर अवलोकन करने में सक्षम बनाता है।२५ मई २००७ को जब इसे गूगल मानचित्रों के लिए (Google Maps) आरम्भ किया गया था तब केवल पाँच नगरों को सम्मिलित किया गया था। और तब से ४० से अधिक अमेरिकी नगरों तक इसका विस्तार हो गया है और इसमें अनेक नगरों के उपनगरों और कुछ नगरों के आस पास के उपनगर सम्मिलित हैं।

जब गूगल स्ट्रीट व्यू का परिचालन किया जाता है तो यह मोटर वाहन पर लगे एक कैमरे द्वारा पहले से लिए गए चित्रों को प्रर्दशित करता है और स्क्रीन पर दर्शाए गए चित्र चिन्हों पर क्लिक करने के लिए माउस का उपयोग करके इसे अपनी यात्रा की दिशा में संचालित किया जा सकता है।इन साधनों के उपयोग से चित्रों को किसी भी दिशा तथा विविध कोणों से विभिन्न आकारों में देखा जा सकता है।

विकिपीडिया और पैनोरैमियो एकीकरण[संपादित करें]

दिसम्बर २००६ में गूगल अर्थ ने ज्योग्राफिक वेब नामक एक नया स्तर सम्मिलित किया जिसमें विकिपीडियाऔरपैनोरैमियो (Panoramio) के साथ एकीकरण सम्मिलित है। विकिपीडिया में, के माध्यम से निर्देशांकों के लिए प्रविष्टियाँ निकाल दी जातीं हैं यदि विकिपीडिया या पैनोरैमियो प्रविष्टियाँ दिखाने वाले विकल्पों को चुना जाता है तो उपयोगकर्ताओं को अपने खुले हुए गूगल अर्थ व्यू में क्लिक किए जा सकने वाले बिन्दु मिलेंगे .जब इनमें से किसी बिन्दु को चुना जाता है तो उपयोगकर्ता को गूगल अर्थ में ही विकिपीडिया या पैनोरैमियो की प्रविष्टियाँ दिखायी देंगी . विकिपीडिया-वर्ल्ड परियोजना की एक कम्युनिटी -लेयर भी है।अंतनिर्हित विकिपीडिया लेयर के अतिरिक्त और निर्देशांकों का प्रयोग किया गया है, विभिन्न टाइप प्रदर्शित किए गए हैं और विभिन्न भाषाओं का निर्वहन किया गया है। देखें *डायनेमिक रेस्प .स्टेटिक लेयर. 30 मई2007 को गूगल द्वारा यह घोषणा की गई कि वह पैनोरैमियो (Panoramio) को अधिगृहीत कर रहा है।[9]

प्रभाव[संपादित करें]

गूगल अर्थ इंटरफेस और नील स्टीफेंसन (Neal Stephenson) केसाइ-फ़ाइ (sci-fi) क्लासिक स्नो क्रैश (Snow Crash) में स्पष्ट समानता है।

वास्तव में गूगल अर्थ के एक सहसंस्थापक ने दावा किया कि गूगल अर्थ को स्नो क्रैश ,[10] के सदृश बनाया गया था जबकि एक अन्य सहसंस्थापक ने कहा कि यह पॉवेर्स ऑफ़ तेन (Powers of Ten).[11] से प्रेरित था।वस्तुतः गूगल अर्थ कम से कम सिलिकॉन ग्राफिक्स (Silicon Graphics) प्रदर्शन से आंशिक रूप से प्रेरित था जिसे "अन्तरिक्ष से आपके समक्ष "कहा जाता है, जो अन्तरिक्ष से स्विस आल्प्स (Swiss Alps) में और बाद में मैटरहॉर्न (Matterhorn) में ज़ूम किया गया था।[12]

यह असीम वास्तविकता[13] के लॉन्च समय का प्रदर्शन था जिसमें क्लिप मैपिंग (Clip Mapping) का समर्थन था और जो हार्डवेयर टेक्सचर पेजिंग क्षमता (हालांकि इसमें क्लिप मैपिंग का उपयोग नहीं था) और Powers of Ten" द्वारा प्रेरित था।प्रथम गूगल अर्थ कार्यान्वयन जिसे अर्थ व्यूअर कहा जाता है आंतरिक ग्राफिक्स (Intrinsic Graphics) सेक्रिस टेनर (Chris Tanner) के क्लिप मैपिंग (Clip Mapping) टेक्सचर पेजिंग की सॉफ्टवेयर आधारित कार्यान्वयन प्रणाली के प्रदर्शन के रूप में निकला है तथा इसे की होल इंक की तरह प्रचारित किया गया। अर्थ व्यूअर सहज सरंचना की पेजिंग प्रणाली की चरम क्षमताओं की अपरिहार्य सिद्धि थी और अर्थ व्यूअर पर कार्य कर रहे अनेक व्यक्ति सिलिकॉन ग्राफिक्स के पूर्व छात्र थे।

विनिर्देशन[संपादित करें]

  • निर्देशांक प्रणाली और प्रक्षेप
    • गूगल अर्थ की आंतरिक निर्देशांक प्रणाली १९८४(डबल्यू जी एस ८४) की विश्व भू - गणितीय प्रणाली (World Geodetic System) पर भूगोलीय निर्देशांक (अक्षांश /देशांतर) है।
    • गूगल अर्थ धरती को इस प्रकार दिखाता है जैसी यह किसी उन्नत प्लेटफार्म जैसे कि किसी वायुयान या परिक्रमा करते उपग्रह से दिखाई देती है। इस प्रभाव को प्राप्त करने के लिए जिस प्रक्षेप का उपयोग किया जाता है उसे सामान्य प्रक्षेप कहा जाता है (General Perspective).यहलम्बकोणीय प्रक्षेप (Orthographic projection),के समान है अन्तर यह है कि परिदृश्य का बिन्दु एक सीमित दूरी (धरती के निकट) पर है न कि असीमित (गहन अन्तरिक्ष) दूरी पर.[14]
  • प्रारंभिक विभेदन
    • अमेरिका : १५ मीटर (कुछ राज्य पूर्णतः १ मीटर में हैं या अधिक)
    • जर्मनी, स्विट्जरलैंड, नीदरलैंड्स, डेनमार्क, इंग्लैंड, एंडोरा, लक्जेम्बर्ग, लिचेंस्टाइन, सेन मेरिनो, वेटिकन सिटी. 1 मी. या इससे बेहतर
    • चेक गणराज्य, स्लोवाकिया, हंगरी : २.५ मीटर (मध्यम विभेदन)
    • ग्लोबल: सामान्यतः 15 मी (कुछ क्षेत्र, जैसे अन्टार्कटिकाअत्यंत कम विभेदन में हैं) किंतु यह अपलोड किए गए उपग्रह/हवाई चित्र की गुणवत्ता पर निर्भर करता है।
  • सामान्य स्तर के उच्च विभेदन
  • ऊँचाई का विभेदन :
    • सतह : देश के अनुसार बदलती है।
    • समुद्र तल : लागू नहीं होता (समुद्र तल की गहराई के लगभग वर्ण मापनी गोलाकार सतह पर मुद्रित होती है।)
  • आयु:चित्रों की तिथियों में विविधता हो सकती है। चित्र का डेटा डिजिटल ग्लोब कवरेज को सक्षम किए जाने से बनने वाले वर्गों से देखा जा सकता है।प्रतिलिप्यधिकार सूचना के आगे दी गयी तिथि चित्र की ठीक तिथि नहीं है। ज़ूमिंग इन और ज़ूमिंग आउट से चित्रों की तिथि बदल सकती है। अधिकतर अंतर्राष्ट्रीय शहरी चित्रों की तिथियाँ २००४ से हैं और उन्हें अद्यतन नहीं किया गया है। तथापि, अधिकतर अमेरिकी चित्रों को सामयिक रखा जाता है।गूगल अपने लेटलॉन्ग ब्लॉग पर[15] इमेजरी अद्यतन की घोषणा अद्यतनीकृत स्थानों के संकेत के साथ एक प्रश्नावली के रूप में करता है उत्तर कुछ दिन बाद उसी ब्लॉग में पोस्ट कर दिए जाते हैं।

गूगल अर्थ का पुराने हार्डवेयर अभिविन्यासों (कन्फिगरेशन) पर चलना संभव नहीं है।सबसे हाल के उपलब्ध डाउनलोड इन न्यूनतम अभिविन्यासों का प्रमाण देते हैं: :

  • पेंटियम ३ (Pentium 3),५०० मेगा हर्टज
  • 128 एम् बी रैम
  • १२.७ एम बी फ्री डिस्क स्पेस (लाइनक्स के लिए 400 एमबी)
  • नेटवर्क स्पीड : १२८ kbit/s
  • १६ एम बी ३डी-सक्षम ग्राफिक्स कार्ड
  • १०२४ x ७६८, १६ बिट हाई कलर का विभेदन
  • विंडोज एक्स पी या विंडोज २०००, विंडोज विस्टा (विडोज मी कम्पैटिबल नहीं). लाइनक्स और मैक ओ एस एक्स

विफलता का सर्वाधिक संभावित कारण है अपर्याप्त वीडियो रैम:यदि प्रयोगकर्ता का ग्राफिक्स कार्ड अर्थ को वहन करने में सक्षम न हो तो उनको चेतावनी देने के उद्देश्य से यह सॉफ्टवेयर अभिकल्पित किया गया है (यह प्रायःअपर्याप्तवीडियो रैम (Video RAM) या बगी ग्राफ़िक्स कार्ड ड्राइवर्स के कारण होता है।) विफलता का अगला सर्वाधिक संभावित कारण है इन्टरनेट एक्सेस स्पीड. बहुत धैर्यवान व्यक्तियों के अतिरिक्त ब्रॉडबैंड इंटरनेट (broadband Internet) (केबल, डीएसएल, टी1, इत्यादि) की आवश्यकता होती है।

मैक संस्करण[संपादित करें]

मैक ओ एस एक्स (Mac OS X) के लिए एक संस्करण १० जनवरी, २००६, को जारी किया गया था यह गूगल अर्थ वेबसाइट से डाउनलोड के लिए उपलब्ध है।निम्नलिखित कुछ अपवादों को छोड़कर मैक संस्करण वस्तुतः मूल विंडो संस्करण जैसी कार्यात्मकता के साथ स्थिर और पूर्ण प्रतीत होता है।

स्क्रीनशॉटस और मैक संस्करण का एक वास्तविक द्विआधारी (बाइनरी)८ दिसम्बर, २००५ को इंटरनेट पर लीक कर दिया गया था। लीक किया गया संस्करण काफी अधूरा था। अन्य चीज़ों में न तो मदद मेनू और न ही इसकी प्रदर्शन लायसेंस सुविधा कार्य कर रही थी जो इस बात का संकेत था कि यह संस्करण केवल गूगल के आतंरिक उपयोग के लिए निर्दिष्ट था। गूगल ने लीक के संबंध में कोई बयान जारी नहीं किया।

वर्तमान में, मैक संस्करण केवल मैक ओएस एक्स १०.४ (10.4) संस्करण या बाद के संस्करणों के अधीन ही कार्य करता है। इसमें कोई अन्तः स्थापित ब्राउजर तथा जीमेल के लिए कोई सीधा अन्तरापृष्ठ नहीं है। एप्लिकेशन में स्विचिंग करते समय इसमें मेनु बार से संबंधित कुछ परेशानियाँ हैं तथा एनोटेशन बलूंस व मुद्रण संबंधी भी कुछ परेशानियां हैं।

संस्करण ४.१.७०७६.४५५८(९ मई (May 9), २००७ को जारी) के पश्चात् से, मैक ओएस एक्स उपयोगकर्ता अन्य नई सुविधाओं के साथ-साथ, गूगल अर्थ में एक विकल्प के माध्यम से "प्लस" संस्करण पर अपग्रेड कर सकते हैं।[16] कुछ उपयोगकर्ताओं ने गूगल अर्थ के नवीनतम संस्करण में जूमिंग करते समय कतिपय कठिनाइयों का अनुभव किया है।[17]

लाइनक्स संस्करण[संपादित करें]

संस्करण 4 बीटा के साथ शुरु करते हुए, गूगल अर्थ Qt-टूल किट (Qt-toolkit) का उपयोग करते हुए एक नेटिव पोर्ट के रूप में, लाइनक्स के अंतर्गत कार्य करता है।यह विशेष रूप से डिजिटल अधिकार प्रबंधन (Digital Rights Management) को लागू करने के क्रम में एक स्वामित्व सॉफ़्टवेयर (proprietary software) है, तथा गूगल अर्थ के लिए कोई निःशुल्क संगत क्लाइंट विकसित करने के लिए फ़्री सॉफ़्टवेयर फ़ाउंडेशन (Free Software Foundation)उच्च प्राथमिकता फ़्री सॉफ़्टवेयर परियोजनाओं (High Priority Free Software Projects) में से किसी एक पर विचार करती है।

न्यूनतम तन्त्र आवश्यकताएंGoogle Earth<!- - बी ओ टी जनित शीर्षक - - ></ref>
  • कर्नेल:२.४ अथवा उसके पश्चात् का
  • सी पी यू : पेंटियम III, 500 MHz
  • सिस्टम मेमोरी (आर ए एम): १२८ MB
  • हार्ड डिस्क : ४०० MB फ्री स्पेस
  • नेटवर्क स्पीड : १२८ kbit/s
  • स्क्रीन: १०२४ x ७६८, १६ बिट कलर
  • निम्नलिखित वितरणों पर परीक्षित और कार्यरत :

विभेदन एवं परिशुद्धता[संपादित करें]

चित्र:Google Scilly.jpg
{कुछ द्वीपों का बहुत कम विभेदन दिखाने वाले, सिली के द्वीप (Isles of Scilly) यह द्वीप (हरित क्षेत्र) लगभग १० कि.मी. तक फैले हैं।
चित्र:GoogleGib.jpg
जिब्राल्टर (Gibraltar) के पश्चिम की ओर झुका हुआ दृश्य जिब्राल्टर की चट्टान (Rock of Gibraltar) से उठता सागर दर्शाता है - सागर का उन्नतांश बिलकुल एलिओट्स मेमोरियल, 252 मी. के समुद्र तट से ज़रा हटकर है।

अधिकांश स्थलीय क्षेत्रों को लगभग 15 मीटर प्रति पिक्सेल के विभेदन के साथ उपग्रह चित्रावली में कवर किया गया है। कुछ आबादी वाले इलाकों को भी कुछ पिक्सेल्स प्रति मीटर के साथ वैमानिक चित्रावली (ओर्थोफोटो (orthophoto) ग्राफी) द्वारा कवर किया गया है। महासागरों को बहुत ही कमतर विभेदन पर कवर किया गया है, जैसे कि द्वीपों और विशेषतः सिली के द्वीप (Isles of Scilly), जो कि इंग्लैंड के दक्षिण पश्चिम में स्थित हैं, लगभग ५०० मी. या उससे कम विभेदन पर हैं। ये चित्र टेरामेट्रिक्स द्वारा उपलब्ध कराया गया है।

गूगल ने मूल रूप से इस सॉफ्टवेयर को जारी किए जाने के पश्चात् से कार्यक्रम के अद्यतन के बिना सदिश-प्रतिचित्रण की कई त्रुटियों को दूर किया है। इसका एक उदहारण है कनाडा के राज्य नुनावुट (Nunavut) राज्य की सीमाओं का गूगल अर्थ मानचित्र में न होना. इस राज्य की स्थापना १ अप्रैल,१९९९ को की गई थी; इस त्रुटि को वर्ष २००६ के प्रारंभ में एक डाटा अद्यतन के माध्यम से ठीक कर लिया गया था। हाल ही में किए गए अद्यतनीकरण से व्यापक हवाई छायांकन की कवरेज भी बड़ गई है, विशेष रूप से पश्चिमी व मध्य यूरोप के कुछ भागों में, तथापि आयरलैंड इसमें सम्मिलित नहीं है जहाँ की चित्रावली काफ़ी सीमित है।

ये सभी चित्र एक ही समय में नहीं लिए गए हैं, किंतु सामान्यतः तीन वर्ष से अधिक पूर्व के नहीं हैं। कुछ स्थानों पर चित्रों के सेट ठीक क्रम में नहीं रखे गए हैं। फोटोग्राफिक डाटाबेस में अद्यतन की प्रक्रिया कभी कभी ही देखी जा सकती है जब पृथ्वी के स्वरुप में कोई बड़ा परिवर्तन होता है, जैसे कि उदाहरण के लिए कैटरीना तूफ़ान के पश्चात् न्यू ओर्लीन्सके गूगल अर्थ के अपूर्ण अद्यतन, अथवा जब धरती की सतह पर स्थल चिन्हों के रूप में अप्रत्याशित रूपम से परिवर्तन होता है। हालांकि, स्थल चिह्नों का स्थान नहीं बदला होता है, फिर भी चित्रावली को अलग तरीके से संयोजित व क्रमबद्ध किया जाता है। २००६ के प्रारंभ में ऐसे ही एक अद्यतन ने लन्दन के छायांकन में कई क्षेत्रों में १५-२० मीटर के शिफ्ट्स स्थापित किए, जो कि बहुत उच्च विभेदन के कारण अलग से देखे जा सकते थे।

स्थानों के नाम व सडकों के विवरण में स्थान-स्थान के अनुसार काफ़ी भिन्नता है। ये उत्तरी अमेरिका तथा यूरोप में सर्वाधिक दोषरहित हैं, किंतु नियमित मैपिंग अद्यतन अन्यत्र कवरेज में सुधार ला रहे हैं।

क्षेत्र की ऊंचाई मापने के लिए उपयोग की गयी तकनीक के कारण कई बार त्रुटियाँ हो जाती हैं; उदाहरण के लिए एडिलेडमें स्थापित ऊंची इमारतों के कारण शहर के एक भाग को एक छोटा पर्वत समझा जा सकता है, जबकि यह समतल है। एफिल टॉवर (Eiffel Tower) की ऊँचाई भी पेरिस के चित्रण में ऐसा ही प्रभाव उत्पन्न करती है। साथ ही, समुद्र तल के नीचे के ऊंचे स्थान समुद्र तल के रूप में प्रस्तुत किया गया है; अर्थात् सैलटन सिटी, कैलिफोर्निया (Salton City, California); डेथ वैली (Death Valley) तथा डेड सी (Dead Sea) को ० मी. के रूप में सूचित किया गया है जबकि सैलटन सिटी -३८ मी. है; डेथ वैली -८६ मी. है तथा डेड सी -४२० मी. है।

जहाँ ३ अर्क सेकंड (arc second) डिजिटल एलिवेशन डाटा (digital elevation data) उपलब्ध नहीं है, वहां ऊंचाई पर स्थित कुछ क्षेत्रों की त्रि आयामी छवियाँ काफ़ी त्रुटिपूर्ण हैं, किंतु अधिकांश पर्वतीय क्षेत्रों को अब ठीक प्रकार से प्रतिचित्रित किया जा रहा है। अन्तर्निहित डिजिटल एलिवेशन मॉडल उत्तर में काफ़ी दूर ३ अर्क सेकांड्स (arc seconds) पर तथा पश्चिम में भी काफ़ी दूर ३ अर्क सेकंड्स पर स्थापित किया इसका तात्पर्य है कि कुछ ऊंची पर्वत श्रेणियों की छायाओं का विस्तार दक्षिण मुखी दिशा की और होता है। कुछ उच्च विभेदन की छवियाँ भी सही जगह पर नहीं रखी गई हैं, जिसका एक उदाहरण अन्नपूर्णा (Annapurna) की छवि है, जो की लगभग १२ आर्क सेकंड्स का विस्थापन है।jअमेरिका के अधिकांश भागों के लिए एलिवेशन डाटा का हाल ही में अद्यतनीकरण करते हुए पहले की ३०-मीटर (१-आर्क-सेकंड) रेसोलुशन की तुलना में १०-मीटर (१-आर्क-सेकंड) कर दिया गया है।

"Measure" फंक्शन से द्योतित होता है कि भूमध्य रेखा की लम्बाई लगभग ४०,०३०.२४ कि.मी. है,जिसमें ४०,०७५.०२ की वास्तविक लम्बाई की तुलना में - ०.११२% की त्रुटि है; देशांतर रेखा सबंधी (meridional) धरती की परिधि पर इसकी लम्बाई ३९,९६३.१३ कि. मी. द्योतित होती है, इसमें भी ४०,००७.८६ के वास्तविक मान की तुलना में -०.११२% कि त्रुटि है।

१६ दिसम्बर, २००७ को ऑस्ट्रेलिया के लैंडसैट इमेज मोसैक की चित्रावली का प्रयोग करते हुए अन्टार्कटिका के अधिकांश भागों का अद्यतन किया गया;(अन्टार्कटिका के कुछ भागों के १ मी. रिज़ॉल्यूशन के चित्र जून, २००७ में जोड़े गए); तथापि गूगल अर्थ के वर्तमान संस्करण से आर्कटिक पोलर आइस कैप (polar ice cap) गायब है, ठीक वैसे जैसे कि समुद्र की लहरें.भौगोलिक उत्तरी ध्रुव (North Pole) आर्कटिक महासागर के ऊपर मंडराता हुआ पाया जाता है तथा टाइलिंग प्रणाली ध्रुव के समीप आर्टिक्राफ़्ट्स (artifacts) उत्पन्न करती है क्योंकि टाइल असीमित रूप से छोटी हो जाती हैं तथा अंकों को नजदीकी पूर्णांक बनाने सम्बन्धी त्रुटियाँ संचित होती रहती हैं।

कुछ भू क्षेत्रों में, तथा पर्वतों के छाया क्षेत्रों की तरफ़ बादलों की परत तथा छायाओं के कारण स्पष्ट रूप से देखना कठिन या असम्भव हो जाता है।

राष्ट्रीय सुरक्षा और गोपनीयता मुद्दे[संपादित करें]

इस सॉफ़्टवेयर की राष्ट्रीय अधिकारियों सहित कई विशेष रुचि वाले समूहों ने आलोचना की है क्योंकि यह निजता का हनन है और इससे राष्ट्रीय सुरक्षा को भी ख़तरा हो सकता है।एक ठोस दलील यह दी जाती है कि यह सॉफ्टवेयर सेना अथवा अन्य महत्त्वपूर्ण स्थानों के विषय जानकारी प्रदान करता है, जिसका उपयोग आतंकवादियों (terrorist) द्बारा किया जा सकता है। इस प्रकार की कुछ चिंताएं निम्न हैं:

चित्र:Royal Stables.jpg
द हेग (The Hague)नीदरलैंड्स में शाही अस्तबलों की धुंधली छवि

कुछ नागरिक उनकी संपत्तियों तथा आवासों को प्रदर्शित तथा उन्मुक्त रूप से प्रसारित करने वाले हवाई चित्रण के सन्दर्भ में चिंतित हो सकते हैं . सापेक्ष रूप में कुछ अधिकार क्षेत्र राज्य के गोपनीयता का अधिकार से अलग व्यक्ति की निजता के अधिकार (right to privacy) की गारंटी देते हैं, यह एक महत्वपूर्ण किंतु बहुत छोटा विषय है। शायद इन आलोचकों के बारे में जानकारी थी, इसलिए एक बार गूगल ने नेवाद में क्षेत्र 51 (Area 51)(जो अच्छी तरह से दिखायी देता है तथा जिसे खोजना आसान है) व्यतिक्रम स्थल चिह्न के रूप में था जब गूगल अर्थ पहली बार स्थापित हुआ।

संयुक्त राज्य सरकार की ओर से दबाव के कारण नंबर एक वेधशाला सर्किल (Number One Observatory Circle) पर उपराष्ट्रपति (Vice President) के निवास को पिक्सेलाइज़ेशन (pixelization) के द्वारा गूगल अर्थ तथा गूगल मैप्स (Google Maps) पर अस्पष्ट कर दिया गया।इसके घटियाकरण की उपयोगिता संदिग्ध है चूँकि संपत्ति के उच्च विभेदन फ़ोटो और हवाई सर्वेक्षण हर जगह इन्टरनेट पर आसानी से उपलब्ध है।[29] इस तरह से कैपिटल हिल (Capitol Hill) के चित्र का पिक्सेलाइज़ेशन किया जाता था परन्तु बाद में इसे हटा लिया गया।

आलोचकों ने इस विषय में चिंता जतायी है कि गूगल कुछ विशिष्ट उद्देश्यों की पूर्ति हेतु अपने डाटाबेस को बिगाड़ रहा है। उनका मानना है कि किसी भू चित्र को धुंधला करना इसके कथित उद्देश्य - ग्रह पर किसी भी स्थान को स्पष्ट रूप से देखने में समर्थ बनाना" - के विपरीत है।

अंततः, प्रयोगात्मक अनुसंधान ने दर्शाया है कि जबकि गूगल लोगों को निजी लिस्टिंग्स में से विकल्प चयन के लिए समर्थ बनाता है, अधिकांश लोगों को दूरभाष संख्या का उपयोग करते हुए भौगोलिक रूप से चिह्नित किया जा सकता है। [30]

गूगल अर्थ समुदाय[संपादित करें]

गूगल अर्थ समुदाय एक ऑनलाइन फोरम[31] है, जो कि रोचक तथा शैक्षिक दृष्टि से उपयोगी स्थलचिह्नों को प्रस्तुत करने हेतु समर्पित है। इसे गूगल अर्थ वेब पृष्ठ पर अथवा कार्यक्रम में ही सहायता खंड के अंतर्गत खोजा जा सकता है। अथवा एक स्थल चिह्न को डाउनलोड किए जाने के पश्चात् वह अपने आप गूगल अर्थ पर चलेगा (यदि खुला नहीं होगा), तथा सीधे उस व्यक्ति द्वारा उस विनिर्दिष्ट स्थान पर पहुंचेगा, जिसने उसे स्थलीकृत किया था। एक बार वहाँ पहुंचनें पर, आप उस आइकन पर राइट क्लिक करके तथा "मेरे स्थान में सहेजें" चुनकर उसे "मेरे स्थान" में जोड़ सकते हैं।इसके अलावा, कोई भी दूसरों द्वारा डाउनलोड किए जाने के लिए स्थलचिह्न पोस्ट कर सकता है, जब तक कि आपका कोई खाता है।

गूगल अर्थ का उपयोग "आपदाओं" का पता लगाने के भी किया जा सकता है। वर्तमान में प्रयोगकर्ता इन सबको गूगल अर्थ समुदाय में खोज सकता है। इसका एक उदहारण गिएस्लेंबेर्ग, लेवरकुसेन, जर्मनी के गिएस्लेनबर्ग, एन के निकट ए3 ऑटोबाहन पर एक जलती हुई कार अथवा समुद्र तट से दूर पलटा हुआ जहाज हैं।

परतें[संपादित करें]

गूगल अर्थ व्यावसायिक तथा रुचिकर स्थानों की जानकारी के स्रोत के रूप में और साथ ही साथ विकीपीडिया, पैनोरैमियो (Panoramio) तथा यूट्यूब की सामग्री को प्रदर्शित करने के लिए कई लैयर्स प्रदान करता है।गूगल नई लेयर्स का प्रायः अद्यतनीकरण करता है,तथा पैनोरैमियो व गूगल अर्थ समुदाय आदि का प्रतिदिन अद्यतन किया जाता है।

भौगोलिक वेब

  • गूगल अर्थ समुदाय (Google Earth Community) : विशिष्टताओं से युक्त गूगल अर्थ समुदाय संचिकाएँ दर्शाता है।
  • पनोरैमियो (Panoramio) : यह पैनोरैमियो वेबसाईट पर अपलोडेड कई चित्रों को दर्शाता है।
  • विकिपीडिया : यह विकिपीडिया लेखों का सारांश को दर्शाता है, जो कि ज्यादातर स्थानों या घटनाओं से संबंधित होते हैं।
  • पूर्वावलोकन : यह परतों की सामग्री को सार संक्षेप में दर्शाता है। यदि एक नया लेयर जोड़ दिया गया, अगली बार इसे चलाने पर पूर्वावलोकन लेयर डिफ़ॉल्ट रूप में ऑन हो जाएगा.

सड़क: अधिकांश देशों के लिए सड़क नेटवर्क दर्शाता है।

३ आयामी (3D) इमारतें:प्रमुख शहरों जैसे कि न्यूयॉर्क शहर या हांगकांग में कई ३ डी इमारतें दर्शाता है।

  • फोटोरिअलिस्टिक :अनेक इमारतों को यथार्थवादी शैली में दर्शाता है।
  • ग्रे : उन कम्प्यूटर्स के लिए तैयार किए शहर की इमारतों के लो - पॉली मॉडल जो फोटोरिअलिस्टिक मॉडल दिखाने की क्षमता न रखते हों.

गूगल स्ट्रीट व्यू (Google Street View):संयुक्त राज्य अमेरिका के शहरों के अनेक प्रमुख चौराहों और सड़कों के ३६० डिग्री पर पैनोरैमिक (panoramic) दृश्य के साथ स्थान चिह्न दिखाता है। इस सुविधा को एक अंतरराष्ट्रीय सीमा तक ले जाने के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका के अतिरिक्त कुछ अन्य देशों के साथ समझौते किए गए हैं। देशों में ब्रिटेन और कनाडा सम्मिलित हैं .

बार्डर और लेबल : इसमें देशों /प्रान्तों (provinces) की सीमाएँ सीमाएँ हैं और शहरों, कस्बों और गाँवों के स्थानचिह्न दर्शाता है।

यातायात : प्रायः अद्यतन यातायात सूचना दर्शाता है।

मौसम: डॉपलर रडार से पूरी मौसम रिपोर्ट (weather report) देता है और बादलों की परत, (doppler radar) स्थानीय मौसम की रिपोर्ट भी.

गैलरी

ग्लोबल अवेयरनेस: वैश्विक जानकारी का प्रसार करने वाली सेवाओं का एक संकलन. यह स्तर गूगल अर्थ आउटरीच (Google Earth Outreach) द्वारा उपलब्ध कराया गया। इस भाग में उपलब्ध स्तरों के लिए आउटरीच का अनुच्छेद देखें.

महत्त्व के विषय : अनेक स्थानीय सेवाओं द्वारा उपलब्ध कराई गयीं व्यावसायिक सूचियों का संकलन.

कॉपीराइट[संपादित करें]

वर्तमान में, गूगल अर्थ द्वारा उपग्रह डाटा का उपयोग करते हुए गूगल अर्थ द्वारा तैयार किया गया प्रत्येक चित्र कॉपीराइट (copyright) युक्त मानचित्र है। गूगल अर्थ से व्युत्पन्न कोई भी डाटा कॉपीराइट डाटा से व्युत्पन्न होगा जो कि संयुक्त राज्य अमेरिका के कॉपीराइट क़ानून (United States Copyright Law) के अंतर्गत गूगल द्वारा जारी अनुज्ञप्तियों के न होने की स्थिति में उपयोग नहीं किया जा सकता. गूगल चित्रों के गैर व्यावसायिक (non-commercial) व्यक्तिगत उपयोग की अनुमति देता है (उदाहरण के लिए व्यक्तिगत वेबसाइट अथवा ब्लॉग में) जब तक कि कॉपीराइट अधिकार और सर्वाधिकार सुरक्षित रहते हैं।[32] इसके विपरीत, नासा के ग्लोब सॉफ्टवेयर वर्ल्ड विंड (World Wind) द्वारा स्थापित छवियों में ब्लू मार्बल (Blue Marble), लैंडसैट (Landsat) अथवा यू एस जी एस लेयर का उपयोग होता है, जिसमें से प्रत्येक लेयर सार्वजनिक क्षेत्र (public domain) के भू भाग की लेयर है। संयुक्त राज्य सरकार की एक एजेंसी के कार्य निर्माण के समय सार्वजनिक क्षेत्र के होते हैं।इसका तात्पर्य है कि इन चित्रों को व्यावसायिक उद्देश्यों की पूर्ति के लिए रूपांतरित, पुनर्वितरित किया जा सकता है।

गूगल अर्थ प्लग-इन[संपादित करें]

गूगल अर्थ ए पी आई एक निशुल्क बीटा सेवा है, जो कि उपभोक्ताओं को निशुल्क रूप से प्राप्त किसी भी वेबसाइट पर उपलब्ध है। प्लग-इन तथा जावा स्क्रिप्ट एपीआई उपयोगकर्ताओं को गूगल अर्थ के एक संस्करण को वेब पृष्ठों पर डालने में सक्षम बनाता है। एपीआई में गूगल अर्थ अनुप्रयोग वाली समग्र विशेषताएं नहीं हैं किंतु तो भी यह जटिल त्रि आयामी मानचित्र सॉफ्टवेयर बनाने में समर्थ बनाता है।

प्लग-इन का संस्करण १.० निम्नलिखित लेयर्स में मदगार सिद्ध होता है :

  • भू भाग
  • सड़कें
  • इमारतें
  • सीमाएं

यह 'स्काई मोड' में भी मददगार है तथा संपूर्ण सॉफ्टवेयर की भांति ही वैसे ही नियंत्रण तथा इन्फोर्मेशन बार उपलब्ध करता है।

गूगल अर्थ प्लस[संपादित करें]

गूगल अर्थ को $२० के वार्षिक सदस्यता शुल्क का भुगतान कर प्लस संस्करण के रूप में भी अपग्रेड किया जा सकता है। गूगल अर्थ प्लस गूगल अर्थ का सदस्यता शुल्क देकर विकसित किया गया व्यक्ति-सापेक्ष संस्करण है, जिसमें निम्नलिखित विशेषताएं हैं :

  • जी पी एस (GPS) एकीकरण : जीपीएस (GPS) उपकरण द्वारा रास्तों और स्थलों की जानकारी पढ़नायह कार्यक्षमता देने वाले विभिन्न प्रकार के तृतीय पक्ष अनुप्रयोगों को तैयार किया गया जो प्रयोगकर्ताओं की विशेषताओं तथा प्रयोगकर्ता-रिकॉर्डेड वेपॉइंट पर आधारित के एम एल अथवा के एम जेड संचिकाएँ उत्पन्न करके गूगल अर्थ के मूल संस्करण का उपयोग करते हुए किया गया था। तथापि, गूगल अर्थ प्लस मैगलन (Magellan) और गार्मिन (Garmin) प्रोडक्ट लाइंस के लिए प्रत्यक्ष सहायता प्रदान करता है, जो कि संयुक्त रूप से जी पी एस बाज़ार का एक बड़ा हिस्सा हैं। गूगल अर्थ प्लस सॉफ्टवेयर के लाइनेक्स संस्करण में कोई जी पी एस कार्यात्मकता सम्मिलित नहीं है।
  • उच्चतर रिज़ॉल्यूशन प्रिंटिंग
  • ई मेल के माध्यम से ग्राहकों की सहायता
  • डाटा इम्पोर्टर ; सी एस वी (CSV) संचिकाओं से एड्रेस पॉइंट्स पड़ें ; १०० पॉइंट्स/एड्रेस्सेस तक सीमित. यह एक ऐसी विशेषता है जो मार्ग और पॉलीगॉन एनोटेशंस का रास्ता खोलती है, जो केएमएल (KML) में निर्यात किए जा सकते हैं। यह पहले केवल प्लस उपयोगकर्ताओं को उपलब्ध थी, किंतु अब संस्करण 4.1.2416 में इसे निशुल्क कर दिया गया है।
  • उच्चतर डाटा डाउनलोड गति

गूगल अर्थ प्रो[संपादित करें]

$ ४०० के वार्षिक सदस्यता शुल्क के भुगतान पर उपलब्ध होने वाला गूगल अर्थ प्रो गूगल अर्थ का व्यवसायोन्मुखी उन्नत संस्करण है, जो कि प्लस संस्करण से अधिक विशेषताओं से युक्त है। इस प्रो संस्करण में एड-ऑन सॉफ्टवेयर सम्मिलित है, जैसे कि :

  • मूवी बनाना
  • जी आई एस डाटा इम्पोर्टर .
  • उच्चतर प्रिन्टिंग मॉड्यूल

पहले इसके लिए, $ ४०० के अलावा अतिरिक्त शुल्क भी देना होता था, किंतु अब हाल ही में इसे इस पैकेज में ही सम्मिलित कर दिया गया है। जनवरी, २००८ के गूगल अर्थ प्रो का अद्यतनीकरण करते हुए उसमें ४०० अतिरिक्त सुविधाएं जोड़ी जा रही हैं, इस संस्करण का शुल्क $ १०३० अमेरिकी डॉलर घोषित किया गया है।[33]

गूगल अर्थ के निशुल्क संस्करण से भिन्न, यह व्यावसायिक संस्करण लाइनक्स पर काम नहीं करता.

फ्लाइट सिमुलेटर[संपादित करें]

गूगल अर्थ v ४.२ के पश्चात् से, एक फ्लाइट सिमुलेटर को एक परोक्ष विशेषता (hidden feature) के रूप में सम्मिलित किया गया है। इसे Control+Alt+A, Control+A, अथवा Command (Command)+Option+A दबाकर प्राप्त किया जा सकता है।इस सुविधा के सक्रिय होने के बाद कम से कम एक बार यह टूल्स बार में दिखाई देता है। v ४.३ ke पश्चात् से यह विकल्प अपने आप गायब नहीं होता है। कुछ हवाई अड्डों के अलावा वर्तमान में केवल एफ-१६ फाइटिंग फ़ैल्कन (F-16 Fighting Falcon) तथा सिर्रुस एस आर-२२ (Cirrus SR-22) विमान हैं जो उपयोग किए जा सकते हैं।[34]

सिम्युलेटर को एक माउस अथवा जॉयस्टिक की मदद से भी नियंत्रित करना सम्भव है, हालांकि वर्तमान में सभी माडल्स में यह सुविधा उपलब्ध नहीं है।


यह भी देखें[संपादित करें]

संबंधित जानकारी[संपादित करें]

गूगल मानचित्रण सेवा[संपादित करें]

अन्य प्रदाता[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. गूगल अर्थ कवरेज : गूगल अर्थ कवरेज की आभासी प्रस्तुति दिखाने वाले मानचित्र.
  2. त्रिआयामी वेयरहॉउस
  3. स्टार्स-टेक में सेलेस्टियल एड-ऑन ने गूगल अर्थ की ओर इशारा किया - 22 अगस्त, 2007 - न्यू साइंटिस्ट टेक
  4. माइक्रोसॉफ्ट २७ फरवरी को विश्व व्यापी दूरदर्शी की घोषणा करेगा, टेक क्रंच (TechCrunch), फ़र. ८,२००८
  5. वेब उपयोगकर्ता- गूगल अर्थ साक्षात्कार
  6. गूगल अर्थ की उत्पत्ति पर एवि बार-जे'एव (पुर्वगामी कीहोल से गूगल अर्थ तक)
  7. गूगल अर्थ : अन्तरिक्ष से आपके समक्ष ......और इसके भी परे
  8. असीम वास्तविकता तकनीकी रिपोर्ट
  9. जी ई प्रक्षेप
  10. गूगल अर्थ
  11. मैसेज औ मौंडे-- दुनिया के लिए संदेश
  12. गाजा के अंदर : 'प्रतिरोध हमारी रणनीति है'
  13. गूगल अर्थ समुदाय : फोरम्स की सूची को देखना
  14. गूगल अर्थ सहायता केन्द्र : क्या में चित्रों को वेब पर पोस्ट कर सकता हूँ?
  15. मैक्रो ब्लॉग : गूगल अर्थ फ्लाइट सिमुलेटर

बाह्य संपर्क[संपादित करें]

आधिकारिक और संबंधित साइटें[संपादित करें]

स्थलचिह्न और आवरण[संपादित करें]

अनाधिकारिक मार्गदर्शक और संकेत[संपादित करें]

उपकरण[संपादित करें]

समीक्षाएँ[संपादित करें]