विकिपीडिया:चौपाल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
विकिपीडिया पर आपका स्वागत है!
यह एक मुक्त ज्ञानकोश है, जहाँ सभी को ज्ञानप्रसार का अधिकार है।

प्रायः पूछे जाने वाले प्रश्न · नया पृष्ठ कैसे आरम्भ करें? · लेख को कैसे बदलें? · लेखों का आकलन करने में सहायता करें · देवनागरी में कैसे टंकण करें? · मनचाहे बदलाव करके देखें · आप कैसे लेख न बनायें · लेखों का नाम कैसे रखें ·

विकिपीडिया चौपाल पर आपका स्वागत है
नये आगंतुकों का स्वागत है। विकिपीडिया एक ऐसा माध्यम है जो सभी सदस्यों के ज्ञान को एक जगह एकत्रित करता है। विकिपीडिया के द्वारा हम संस्कृति, विज्ञान, कला व दर्शन की जानकारी दुनिया भर में हिन्दी पढ़ने-लिखने वालों तक पहुँचा सकते हैं। अतः सही हिन्दी जानने वालों से अनुरोध है कि आप के पास यदि समय हो तो अपनी जानकारी को हिन्दी में विकिपीडिया पर सहेजें। यहाँ पर विकिपीडिया के सदस्य विकिपीडिया से जुड़े प्रश्न पूछ सकते हैं। तकनीकी मामलों पर भी यहाँ प्रश्न पूछे जा सकते है। नया मत लिखने के लिए सम्पादन टैब पर क्लिक करें। परंतु पहले स्क्रॉल कर पढ़ लें:
  • तथ्यपरक और अन्य प्रकार के प्रश्नों हेतु खोज संदूक या रिफरेन्स डेस्क का प्रयोग करें।
  • अपनी सुरक्षा हेतु कृपया अपना ई-मेल या संपर्क ब्यौरा यहाँ न दें। आपके उत्तर इस पृष्ठ पर ही मिलेंगे। हम ई-मेल से उत्तर नहीं देते हैं।
खोजें या पढ़ें प्रायः पूछे जाने वाले प्रश्न
चौपाल पुरालेख में खोजें
सीधे आज के प्रश्न पर जाएं · नीचे जाएँ · विशिष्ट सहायक सेवाएं · पुरानी चर्चाएं · उत्तर कैसे दें


Archive
पुरालेख

अनुक्रम



विकिपीडिया पर क्या चल रहा है

Sania Mirza at the NDTV Marks for Sports event 17.jpg

एनडीटीवी मार्क्स फोर स्पोर्ट्स पर सानिया मिर्ज़ा।


इस परियोजना पृष्ठ का अंतिम संपादन Hindustanilanguage (योगदानलॉग) द्वारा किया गया था।
     पिछला                               लेख संख्या:1,13,619                               नया जोड़ें     


अभिजीत गुप्ता[संपादित करें]

☆★संजीव कुमार (✉✉) 07:47, 13 जुलाई 2014 (UTC)

bharat suta[संपादित करें]

नमस्कार, अनुनाद जी ने मेरे कविता लिखने पर आपत्ति की, जो कि मुझे बहुत बुरा लगा।कई बार पाठक कविता ढूँढते हैं, इसलिए मैंने ऐसे लोगों की सुविधा हेतु कविता लिखी थी, परंतु अनुनाद जी ने मुझे टोक दिया और कविता लिखने को मना किया।उनकी सलाह मानकर मैंने आज माउंट सिन्हा पर लिखा तो उसी वक़्त अनुनाद जी को भी उसी विषय पर लिखना याद आ गया।किसी नए सदस्य के साथ ऐसा करना कहाँ तक सही है?ऐसे अनुभव पाकर कौन अधिक दिन यहाँ टिक पाएगा?bharat suta

अरे अब कहाँ गया अनुनाद जी का नया सदस्य प्रेम? क्या वो सिर्फ़ कुछ सदस्य को लिए हैं।--पीयूष मौर्यावार्ता 15:04, 13 जुलाई 2014 (UTC)
आपका इशारा शायद उन टिप्पणियों से है जो अनुनाद जी ने समय-समय पर Amt000 जी, Jeeteshvaishya जी और Jeeteshroxx जी के लिए कही हैं। --मुज़म्मिल (वार्ता) 15:15, 13 जुलाई 2014 (UTC)
जी ठीक समझा आपने, इसके अलावा वो Amt000 के लिए मुझसे व्यक्ति-केन्द्रित कुतर्क वाली भी चर्चा कर चुके हैं।--पीयूष मौर्यावार्ता 15:21, 13 जुलाई 2014 (UTC)

धन्यवाद पीयूष जी, आपके लेख अच्छे होते हैं।आपका सदस्य पन्ना पढकर खुशी हुई।bharat suta

धन्यवाद स:Bharat Suta जी, आप चर्चा करते वक्त चार टिल्ड डालकर हस्ताक्षर कर सकते हैं जिससे आपका नाम भी मेरी तरह आएगा।--पीयूष मौर्यावार्ता 15:52, 13 जुलाई 2014 (UTC)
स:Bharat Suta जी, चूँकि आप नए हैं, मैं आपसे निवेदन करूँगा कि कृपया एक बार हिन्दी विकिपीडिया पर सम्पादन से जुड़े वीडियोज़ देख लीजिए। इससे आपको मदद मिलेगी। --मुज़म्मिल (वार्ता) 17:36, 13 जुलाई 2014 (UTC)
पीयूष जी, मैं नहीं चाहता कि आप विवाद में फंसो। अतः आपसे अनुरोध करता हूँ कि विवादास्पद कथन लिखने से बचो। कुछ सदस्यों का उद्देश्य माहौल को खराब करना है और वो इसका ही प्रयास करते हैं।
स्वाति जी, आप हिन्दी विकिपीडिया पर योगदान देकर इसे सुन्दर बनाने में सहयोग करो यह हमारा सौभाग्य होगा लेकिन आपको बता देना चाहूँगा कि किसी भी कविता को ज्यों का त्यों कॉपी करना कॉपीराइट उल्लंघन की श्रेणी में आता है अतः उसे हटाया जाता है। यदि कोई कविता अपने आप में प्रसिद्ध है तो आप उस कविता पर विकिपीडिया पृष्ठ निर्मित कर सकते हो। विकिपीडिया पृष्ठ में आप उस कविता का विवरण, उसका भावार्थ तथा उसके रस छंद का विवरण दे सकतीं हो। साथ में ध्यान रहे कि किसी भी पृष्ठ की विश्वसनीयता के लिए सन्दर्भ जोड़ना आवश्यक है। सन्दर्भ के रूप में आप विश्वसनीय प्रकाशक द्वारा प्रकासित पुस्तक, अथवा किसी विश्वसनीय संस्था का जालस्थल (वेबसाइट) अथवा कोई भी विश्वसनीय तथ्य दे सकते हो। सम्पादन सम्बंधी किसी भी समस्या के लिए आप यहाँ चौपाल पर अथवा वार्ता पृष्ठ पर सम्पर्क कर सकते हो।☆★संजीव कुमार (✉✉) 18:02, 13 जुलाई 2014 (UTC)
पीयूष जी और मुजम्मिल जी, आप दोनों एक दूसरे की लिखी बातों को नहीं समझ पाये और मैं आप दोनों की लिखी बातों को। ऐसी हालत में ऐसा ही होता है। ---- अनुनाद सिंहवार्ता 06:15, 14 जुलाई 2014 (UTC)

धन्यवाद पीयूष, मुज़म्मिल और संजीव जी।आपकी सलाह अच्छी लगी।आप लोगों ने भी सलाह दी, परंतु बात कहने का ढँग होता है।इसी तरह अनुनाद जी समझाते तो बुरा नहीं लगता।स्वाति (वार्ता) 07:13, 14 जुलाई 2014 (UTC)

कृपया मुझे बताएँ कि पंजाबी के लिए क्या अलग से अकाउंट बनाना पडेगा?मैंने पंजाबी के लेख में सुधार किया परंतु वहाँ मेरा नाम लाल रंग में लिखा दिखता है।--स्वाति (वार्ता) 16:53, 16 जुलाई 2014 (UTC)

स्वाति जी, वहाँ आपका नाम इसलिए लाल दिख रहा हैं क्योंकि वहाँ आपने अपना सदस्य पृष्ठ निर्मित नहीं किया होगा।--पीयूष मौर्यावार्ता 17:12, 16 जुलाई 2014 (UTC)
धन्यवाद पीयूष जी, मैंने सदस्य पृष्ठ निर्मित कर लिया है।--स्वाति (वार्ता) 04:38, 17 जुलाई 2014 (UTC)

चर्चा के दौरान स्पंद[संपादित करें]

विकिपीडिया के सभी सदस्यों से अनुरोध है कि किसी सदस्य के वार्ता पृष्ठ पर सन्देश लिखते समय उस सदस्य को पिंग (स्पंदित) न करें जिसके वार्ता पृष्ठ पर आप सन्देश लिख रहे हो क्योंकि उस अवस्था में पिंग किये बिना ही सदस्य के पास अधिसूचना पहूँच जाती है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 14:13, 17 जुलाई 2014 (UTC)

@संजीव कुमार: which rule of wikipedia is it against?? Please explain??...Sushilmishra (वार्ता) 14:20, 17 जुलाई 2014 (UTC)
मैंने अनुरोध किया है, मना नहीं। ऐसा कोई नियम नहीं है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 14:22, 17 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: if there is no such rules, then you want Wikipedia to create a new rule just because you are requesting? Mr. Admin Sanjeev Kumar there are already hundreds of rules here on Wikipedia which are not being followed here on Hindi Wikipedia of which you are an admin(mostly for bizzare reasons), you being an admin 1st enforce those rules (stop waiting for others to inform you about Wikipedia policy violations), before coming out with your requests/proposals/suggestions.....Sushilmishra (वार्ता) 22:30, 17 जुलाई 2014 (UTC)

सदस्य:Shubhamkanodia/प्रयोगपृष्ठ विकिपीडिया:प्रयोगस्थल से अनुप्रेषित?[संपादित करें]

माननीय प्रबंधक या तो इसे सुधार दें या इसके पीछे यदि कोई विशेष कारण हो तो बताएँ। --मुज़म्मिल (वार्ता) 19:40, 17 जुलाई 2014 (UTC)

@Hindustanilanguage: oh no what crime you are doing, this admin can threaten you with a ban, how can you question his action? He can threaten you with a ban for questioning his action? Oh no what did i just do he can threaten me with a ban for informing you that he can threaten you with a ban.....hahaha.....who is watching the activities of this admins......some of this admins are inactive for months.....such inactive admins are making hindi wikipedia shabby....Sushilmishra (वार्ता) 22:10, 17 जुलाई 2014 (UTC)
पूर्ण हुआ।☆★संजीव कुमार (✉✉) 11:51, 18 जुलाई 2014 (UTC)

निर्वाचित लेख[संपादित करें]

सभी सदस्यों से विनती हैं कि वो अपनी टिप्पणीयों और सुझावों से निर्वाचित लेख उम्मीदवारों को निर्वाचित लेख बनाने में मदद करें। धन्यवाद।--पीयूष मौर्यावार्ता 07:38, 18 जुलाई 2014 (UTC)

पीयूष जी, ये समीक्षा पहले सिद्धार्थ जी और मयुर जी करते थे और उसके बाद बिल जी ने कुछ समीक्षायें की हैं। अब मैं इसकी समीक्षा करने का प्रयास कर रहा हूँ। इसमें थोड़ा समय लगेगा। अन्य सदस्य भी अपने प्रस्ताव रखेंगे तो अच्छा रहेगा।☆★संजीव कुमार (✉✉) 11:54, 18 जुलाई 2014 (UTC)

मीडिया कॉपीराइट नीति[संपादित करें]

नमस्कार,

(प्रबंधक कृपया ध्यान दें: स:Bill william compton, स:Hunnjazal, स:Mala chaubey, स:Shubhamkanodia, स:अनिरुद्ध, स:आशीष भटनागर, स:संजीव कुमार)

कुछ माह पहले चौपाल पर कॉपीराइट सुरक्षित चित्रों के विकिपीडिया पर प्रयोग सम्बंधित प्रश्न उठाया गया था। चूँकि उस समय इस सम्बन्ध में कानूनी जानकारी स्पष्ट नहीं थी, अतः मैंने विकिमीडिया की लीगल टीम हेतु इस सम्बन्ध में कुछ प्रश्न छोड़े थे। उन्होंने उन प्रश्नों के काफ़ी विस्तार में उत्तर दिए हैं, जिनके अनुसार मेरे विचार से हिन्दी विकिपीडिया पर मीडिया सम्बंधित कॉपीराइट नीति के निर्माण की प्रक्रिया प्रारम्भ की जा सकती है। सदस्यों से अनुरोध है कि निम्न कड़ियों पर चर्चाएँ देख कर इस सम्बन्ध में टिप्पणी करें:

  1. विकिपीडिया:चौपाल/पुरालेख_34#चित्र_नीति: मनोज खुराना जी द्वारा पुछा गया मूल प्रश्न जिसके कारण ये चर्चा शुरू हुई (प्रश्न पूछने का धन्यवाद मनोज जी को)
  2. en:User_talk:Mdennis_(WMF)/Archive_7#Non-free_content: मेरे द्वारा विकिमीडिया की लीगल टीम हेतु पूछे गये प्रश्न
  3. meta:Wikilegal/Exemption doctrine policy for Hindi Wikipedia: विकिमीडिया की लीगल टीम का दिया उत्तर

अंत में मैं इस जानकारी को यहाँ प्रस्तुत करने में हुई देर के लिए क्षमा चाहूँगा। आशा करता हूँ इससे इस सम्बन्ध में नीति बनाने की शुरुआत हो सकेगी।--सिद्धार्थ घई (वार्ता) 14:37, 19 जुलाई 2014 (UTC)

हाँ, अभी इसपर काम आरम्भ किया जा सकता है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 18:35, 19 जुलाई 2014 (UTC)
इस महत्वपूर्ण पहल हेतु आपका बहुत-बहुत धन्यवाद सिद्धार्थजी, इस पर मीडिया कॉपीराइट से संबंधित कार्य नीति शीघ्र बनाई जा सकती है।--माला चौबेवार्ता 05:10, 21 जुलाई 2014 (UTC)

शैली सम्मान[संपादित करें]

Trophy.png शैलीगत नवाचार के लिए सराहना
हिन्दी विकी को अन्यों की अनुकृति नहीं मौलिक हिन्दी आत्मा का प्रतिबिम्ब होना चाहिए Hemant Shesh 06:01, 20 जुलाई 2014 (UTC)
मैं अपनी और से ये सम्मान जारी करना चाहता हूँ- आप इसे प्रचलित करवा दें तो आभार!Hemant Shesh 06:03, 20 जुलाई 2014 (UTC)

ट्विंकल अद्यतन[संपादित करें]

नमस्कार,

ट्विंकल के शीह मॉड्यूल में आज अद्यतन किया गया है और जो इनपुट पहले एक prompt dialog के द्वारा दी जाती थी अब वह सीधा ट्विंकल के dialog में से देना संभव होगा। इस बदलाव हेतु ट्विंकल के कोड में काफ़ी परिवर्तन किया गया है, अतः संभव है कि कहीं कोई कमी रह गयी हो। ट्विंकल प्रयोक्ताओं से अनुरोध है कि शीघ्र हटाने के मॉड्यूल में यदि कोई समस्या आये तो कृपया मुझे उसके बारे में अवश्य अवगत कराएँ ताकि बग्ज़ को जल्द दूर किया जा सके।

धन्यवाद--सिद्धार्थ घई (वार्ता) 12:16, 20 जुलाई 2014 (UTC)

सम्भव है, मैंने ठीक से याद न रखा हो लेकिन जहाँ तक मुझे याद है आप यह कार्य अवकाश से पहले ही पूर्ण कर चुके थे और यह सुचारू रूप से काम करता था फिर भी यदि किसी तरह की कोई समस्या आई तो मैं जरुर लिखुँगा।☆★संजीव कुमार (✉✉) 18:42, 20 जुलाई 2014 (UTC)
संजीव जी, ट्विंकल का अद्यतन एक निरंतर चलती प्रक्रिया है। मैं इसका कुछ वर्णन नीचे कर रहा हूँ ताकि यदि कभी मेरी ग़ैर-हाज़िरी में कोई समस्या आये तो उसे सुलझाने में मदद मिल सके।
अंग्रेज़ी के ट्विंकल का मूल कोड https://github.com/azatoth/twinkle पर है और हिन्दी विकिपीडिया पर जो कोड लागू होता है वह इसका एक fork है जो https://github.com/Siddhartha-Ghai/twinkle पर है।
चूँकि मूल रूप से यह अंग्रेज़ी विकिपीडिया से आया है, अतः इसका मूल software development अब भी वहीं होता है, और अंग्रेज़ी विकिपीडिया पर हो रहे बदलावों के साथ-साथ इसके मूल कोड में परिवर्तन आते रहते हैं। इनमें से कुछ ऐसे होते हैं जिनका हिन्दी विकिपीडिया से कोई सम्बन्ध नहीं होता, और कुछ ऐसे होते हैं जो नयी सुविधाएँ जोड़ते हैं, अथवा कोड में त्रुटियाँ दूर करते हैं या उसमें समय के साथ आवश्यक हुए अद्यतन करते हैं। अतः इन सभी बदलावों को जाँच-परख कर उसमें से जो बदलाव हिन्दी विकिपीडिया के लिए उपयुक्त अथवा आवश्यक होते हैं, उन्हें यहाँ लागू करना होता है। चूँकि अंग्रेज़ी विकिपीडिया पर इसके एक से अधिक (जावास्क्रिप्ट के माहिर) developers हैं, और यहाँ केवल मैं हूँ इसके अद्यतन के लिए, इसलिए हिन्दी विकिपीडिया का ट्विंकल अंग्रेज़ी विकिपीडिया से पीछे रहता है, और अद्यतन की आवश्यकता सदैव बनी रहती है। परन्तु, ये अद्यतन भी देख-भाल के करने होते हैं ताकि कम-से-कम त्रुटियाँ उत्पन्न हों। अब इस बदलाव की एक बार जाँच हो जाए, तभी अगला बदलाव लागू किया जा सकेगा।
इसकी जाँच हेतु शीह मॉड्यूल में नामांकन के हर प्रकार के permutation/combination को जाँचना होगा, यह जाँचने के लिए कि अद्यतन में कोई त्रुटि तो उत्पन्न नहीं हुई। मैंने कुछ जाँच तो कर ली है, परन्तु सम्पूर्ण जाँच अकेले करना इस समय मेरे लिए संभव नहीं है। इसमें यदि आप (अथवा कोई अन्य सदस्य) सहायता कर सके तो बहुत अच्छा होगा।
मैं यह भी स्पष्ट कर दूँ कि ये बदलाव अंग्रेज़ी विकिपीडिया पर अक्टूबर 2013 में हुए थे, और उसके बाद हुए सभी परिवर्तन अभी यहाँ लागू होने बाकी हैं।--सिद्धार्थ घई (वार्ता) 14:23, 22 जुलाई 2014 (UTC)
मेरी जानकारी बढ़ाने हेतु धन्यवाद। अब मैं भी इस प्रक्रिया को समझने का प्रयास करुँगा।☆★संजीव कुमार (✉✉) 16:59, 23 जुलाई 2014 (UTC)

Mala chaubey and Naziah rizvi[संपादित करें]


विकिनितियों के विरुद्ध कठपुतली जांच[संपादित करें]


विराम[संपादित करें]

मैं उपरोक्त चर्चा में भाग ले रहे सभी सदस्यों से अनुरोध करूँगा कि वे कृपया इस चर्चा को वर्तमान के लिए विराम दें।

ऊपर हुई चर्चा के सम्बन्ध में मैं केवल नियमों से सम्बंधित निम्न टिप्पणियाँ करना चाहूँगा:

  • यदि हिन्दी विकिपीडिया पर इस समय मौजूद कोई लेख पूर्णतया प्रचार है तो कृपया उसे पृष्ठ हटाने की नीति के मापदंड ल2 के अंतर्गत शीघ्र हटाने हेतु नामांकित करें
  • यदि किसी लेख में कुछ प्रचार है और उसकी उल्लेखनीयता पर प्रश्न है तो कृपया हटाने हेतु चर्चा प्रक्रिया का प्रयोग करें
  • यदि विकिपीडिया के अनेक भाषा के संस्करणों से सम्बंधित कोई चर्चा होनी है तो उसके लिए उपयुक्त स्थान मेटा है, कृपया ऐसी चर्चा वहाँ करें
  • यदि किसी सदस्य के अवरोधन का अनुरोध किया जाना है तो वह अनुरोध कृपया स्पष्ट रूप से एक नये अनुभाग में करें, इस बात का उल्लेख करते हुए कि सदस्य ने हिन्दी विकिपीडिया पर किये किस सम्पादन/किन संपादनों में हिन्दी विकिपीडिया की किस नीति का उल्लंघन किया है। साथ ही ऐसा अनुरोध करने से पहले कृपया एक बार निषेध नियमावली अवश्य पढ़ लें--सिद्धार्थ घई (वार्ता) 15:58, 23 जुलाई 2014 (UTC)

कौन कहता है कि माला जी ने हिन्दी विकिपीडिया पर अपने पति का प्रचार नहीं किया?[संपादित करें]

@Sushilmishra, Mala chaubey, हिंदुस्थान वासी, संजीव कुमार, Bill william compton, Hunnjazal, Siddhartha Ghai: जी,

कौन कहता है कि माला जी ने हिन्दी विकिपीडिया पर अपने पति का प्रचार नहीं किया? उन्होंने केवल अपने खाते का उपयोग नहीं किया है। आप यदि "रवीन्द्र प्रभात" का अवतरण इतिहास देखें तो पाएँगे कि कई सम्पादन 27.251.170.66 द्वारा किए गए। आप देख सकते हैं कि जब नाज़िया जी कि एक टिप्पणी के बाद माला जी ने "...हिन्दी विकिपीडिया पर प्रबंधकीय दायित्व निभाने में स्वयं को असहज महसूस कर रही हूँ।" वाली टिप्पणी की थी, तब वह लॉग इन करना भूल गईं। उनका आई पी सम्पादन यहाँ देखा जा सकता है। वर्तमान प्रबंधक का एक और झूठ! --मुज़म्मिल (वार्ता) 16:02, 23 जुलाई 2014 (UTC)
(:O, मुझे तो यकीन नहीं होता! पर बात तो बिल्कुल सही हैं।--पीयूष मौर्यावार्ता 16:09, 23 जुलाई 2014 (UTC)
this is final nail in coffin......she should take responsibility now for mass fraud here on wikipedia and leave her post as admin......steward should initiate action against her....Sushilmishra (वार्ता) 16:14, 23 जुलाई 2014 (UTC)
इसे देखिए-धरती पकड़ निर्दलीय, इसका निर्माण माला जी ने ही किया और विस्तार उनके साथ प्रचार खाते परिकल्पना और मनोज पांडे ने किया हैं।--पीयूष मौर्यावार्ता 16:23, 23 जुलाई 2014 (UTC)
यह "रवीन्द्र प्रभात" जी ही के प्रचार से जुड़ा है! --मुज़म्मिल (वार्ता) 16:33, 23 जुलाई 2014 (UTC)
आईपी 27.251.170.66 किसी साइबर कैफे की भी हो सकती है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 16:52, 23 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: आप देख सकते हैं कि जब नाज़िया जी कि एक टिप्पणी के बाद माला जी ने "...हिन्दी विकिपीडिया पर प्रबंधकीय दायित्व निभाने में स्वयं को असहज महसूस कर रही हूँ।" वाली टिप्पणी की थी, तब वह लॉग इन करना भूल गईं। उनका आई पी सम्पादन यहाँ देखा जा सकता है।, read this before you say anything......if not muzamil also have another proof which cannot be denied......even after seeing all this if you talk like this then its out of logics....Sushilmishra (वार्ता) 17:07, 23 जुलाई 2014 (UTC)
सुशील जी, मुझे इस आईपी के सम्पादन और आईपी से सम्पादन करने वाले सभी सदस्यों का पता है लेकिन क्या आपने उपर सिद्धार्थ जी की टिप्पणी पढ़ी? उसे पढ़ने के बाद इस चर्चा को यहाँ बढ़ाने का कोई अर्थ नहीं है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 17:15, 23 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: sanjeev ji you always try to bury a matter as soon as possible with out any action.....either you call it as you lameness or gutlessness.....but you turn blind eye to everything....no matter how big the crime is.....Sushilmishra (वार्ता) 17:28, 23 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: साईबर केफ़े में छिपा खज़ाना --मुज़म्मिल (वार्ता) 18:01, 23 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: पूरे मामले को मैं खोलकर रख चुका हूँ। इसके समाधान की दिशा में कुछ प्रयास आप भी तो कीजिए। --मुज़म्मिल (वार्ता) 18:08, 23 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार, Hindustanilanguage: the day honhar admin sanjeev (वायु मार्गों) take any action on this user in question that day sun will rise in west....which means not only he but other will not do anything against culprit user.....instead one of the admin will threaten us with ban for questioning them....you can already see effort of honhar admin sanjeev (वायु मार्गों) to dilute this matter and bury it.......Sushilmishra (वार्ता) 19:01, 23 जुलाई 2014 (UTC)
मुज़म्मिल जी, मैं यह नहीं कह रहा कि आपने मामले को खोल कर रखा या नहीं। हाँ मैं इस बात से सहमत हूँ कि आपने एक के बाद एक तर्क प्रस्तुत किये हैं चाहे उनमें से कुछ तटस्त स्रोत नहीं हैं लेकिन प्रमाण के तौर पर और विश्लेषण करने पर परिणाम स्पष्ट दिखाई देता है लेकिन जैसा कि मैंने पहले भी कहा था कि माला जी ने हिन्दी विकिपीडिया पर रविन्द्र प्रभात नामक पृष्ठ को हटाये जाने का कभी विरोध नहीं किया और इसका पुनः निर्माण भी मैंने (अन्य विकिपीडियाओं पर उपस्थिति के कारण) किया था। उन्होंने इस पृष्ठ को सम्पादित किया है लेकिन वो सम्पादन कुछ वर्तनी सुधार किये हैं और एक सम्पादन में यूआरएल भी डाला है। इसमें प्रचार वाली कोई बात नहीं है। वैसे तो किसी सदस्य द्वारा आईपी पते से सम्पादन करने पर उसकी गोपनीयता नीति के तहथ आईपी छुपा दी जाती है लेकिन माला जी ने उस आईपी को कभी नहीं छुपाया। आपने जिस आईपी पते की चर्चा की है उससे पहले मनोज पाण्डेय जी सम्पादन करते थे। माला जी के हिन्दी विकिपीडिया पर आने के बाद उस आईपी से केवल माला जी ने ही सम्पादन किये हैं।
अब चूँकि हिन्दी विकिपीडिया पर इस बात को तूल देना किसी सदस्य को बदनाम करने जैसा लगता है अतः सिद्धार्थ जी कि टिप्पणियों को ध्यान में रखते हुये मैं आपसे निम्न में से एक कार्य करने का आग्रह करुंगा:
  • यदि आप व्यापक स्तर पर कोई कार्यवाही करना चाहते हैं तो कृपया मेटा-विकि पर इस चर्चा को आरम्भ करें क्योंकि वैश्विक स्तर पर कार्यवाही करने के अधिकार स्टीवर्ड्स के पास होते हैं।
  • यदि आप रविन्द्र प्रभात से सम्बंधित पृष्ठों को हिन्दी विकिपीडिया पर सही नहीं मानते तो हटाने के लिए उचित नामांकन करें।
  • यदि आप माला जी अथवा नाज़िया जी अथवा अन्य किसी सदस्य को प्रचार करने के कारण प्रतिबन्धित देखना चाहते हैं तो नये अनुभाग में उपरोक्त चर्चा का सन्दर्भ देते हुये एक सार्थक भाव (जैसा भाव सामान्यतः आपके साथ वार्ताओं में देखने को मिलते हैं) के साथ चर्चा आरम्भ करें।
सुशील जी, मैंने कभी भी अपने आप को प्रत्येक विषय का ज्ञाता नहीं कहा और अपनी गलतियाँ स्वीकार की हैं फिर भी आप व्यक्तिगत हमले करने पर तुले हुये हो। मैंने आपको भी गालियाँ देने के बावजूद केवल इसलिए छोड़ दिया था क्योंकि किसी को भी प्रतिबन्धित करते हुये मुझे दुःख होता है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 19:10, 23 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: honhar admin sanjeev (वायु मार्गों) when did i attacked you in personal way?? And about banning me you cant do it because you have to 1st of all ban your guy and his supporter for provoking me repeatedly and abusing me 1st......so instead of crying why dont you take some respinsibility and clean up hindi wikipedia of which you are an admin i suggest you start from biographies section.......
@Hindustanilanguage, संजीव कुमार: muzamil ji every body is suggesting you same thing which i suggested you long back and sanjeev ji you too please help muzamil ji in this work....
  • inform admins of other wikipedias where this conflict of interest activity took place
  • inform stewards about this incident
  • inform stewards about activity of Mala chaubey, Parikalpana, Pandey.manoj118, Naziah rizvi and 27.251.170.66
  • nominate mala ji to be dismissed from post of admin with immediate effect for violating multiple wikipedia policies
Sushilmishra (वार्ता) 19:38, 23 जुलाई 2014 (UTC)
Sushil ji, I will revert in next one or two days. We'll see what's to be done. --मुज़म्मिल (वार्ता) 20:05, 23 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:, extremely sorry that I have to talk to you despite decaration of boycott. I have tried to be a bystander throughout this discussion because I have already accepted defeat trying to persuade you. Either my logics do not carry enough weight or there is a difference of understanding, you might be young enough to carry so much energy, I may not be. I have always welcomed your insistence on quality and supported you till the abuses happened & I stepped back. I am once again here with the same weightless logics of mine. I don't hope they will have any impact on you, as they haven't had any in past. But here I hope Hindi wiki is on verge of a big loss and I don't want my conscience to hurt me in future that I kept on being a mute spectator. So I am here to do my part.
I can only request the learned members of the community to look at the brighter side. I have said this many times that even if a person has given or has the possibility to give one positive contribution, 100 errors/crimes/mistakes should be forgiven. Personal pages are the price we have paid for some quality pages. Krant ji's page is the price of beuatiful article on Bismil. Hemant Shesh page is the price paid for Sawai Jai Singh, Jaipur, Kaman, Nandgaon etc. Jagdish vyom page is the price of so many Hindi literature pages. And if you compare Ravindra Prabhat page as the price of entire contribution of Malaji, it's like buying an entire harvest for a handful of peanuts.
And, Mr. Mishra, price that we have paid for good contribution has not always been in form of self pages. Listening to abuses and not taking any action has also been a price paid for good sports pages. Thanks.--मनोज खुराना वार्ता 05:15, 24 जुलाई 2014 (UTC)

विकिपीडिया:निषेध नियमावली[संपादित करें]

विकिपीडिया:निषेध नियमावली में लिखा है :

विशेषाधिकार रखने वाले सदस्यों को कम से कम ३ बार चेतावनी अवश्य दें।

अतः माला जी को चेतावनी देकर तथा उक्त पृष्ठों को हटाने की चर्चा के लिए नामाँकित करके इस मामले को समाप्त करें। मेरा सभी प्रबुद्ध सदस्यगणों से निवेदन है कि सार्थक योगदान पुनः प्रारंभ करें। अपनी ऊर्जा को एसे मुद्दों मे इतना ज्यादा ना लगाएँ। --मनोज खुराना वार्ता 05:27, 24 जुलाई 2014 (UTC)


माला चौबे ही हैं रविन्द्र प्रभात की पत्नी[संपादित करें]

मैं आप सभी को साक्ष्य के साथ बताना चाहूँगा की माला चौबे जी ही रविन्द्र प्रभात की पत्नी हैं|

  • Manoj Pandey ki facebook acount me ek tasveer hain jo ye proove karta hai ki mala hi unki patni hain . aap log pahle ye tasveer dekhe.

Is tasveer me bataya gayaa hain ki ye Ravindra prabhat with his wife. ab Manoj Pandey ki ye facebook account ki photo dekhiye jo Mala Chaubey ki hain . Link Here

  • Ek aur baat, Mala Ji ki Beti ka naam Urvi hai aur Ravindra Prabhat ki beti ka naam bhi Urvija hai, ye ek sanyog matra nahi ho sakta. Urvija jinki shaadi haal me hi abhineta Alok Bhardwaj k sath huaa hain. Jise Faebook par swayam Ravindra Prabhat ne share kiya hain aur Mala Chaubey Ji ko tag bhi kiya hain . .Link Here,
  • Mala Chaube ka facebook profile hai link here
  • Ravindra Prabhat ka fb account ye hai Here
  • Manoj Pandey, jo RP ka page edit karte hai, inka fb id ye hain . Here
  • Inke Facebook account ke anusaar Mala Chaubey, Ravindra Prabhat aur Manoj Pandey ye tino vyakti Dr. B. R. Ambedkar University ke alumni hain, aur Bettiah se belong karte hain aur Lucknow me rahte hai.
  • In Sab se pataa chalta hai ki Mala Ji Jhooth bol rahi hain Daal me kuch kala hai. aur RB ki hi patni hai Mala Chaubey.
  • Aap mere diye gaye link par jaaye aur dhyan se adhyyan kare, sab samajh me aa jayega. Ye sab ki sab photo maine download kar li hai, qki mujhe sak hai ki sambhavtah ye log sabut mita de facebook se...

--Jeeteshvaishya (वार्ता) 10:45, 24 जुलाई 2014 (UTC)

-जीतेश जी, कोई नई बात बताईए। सदियों पहले से हम सभी लोग ये जानते या मानते हैं कि वे इनकी कोई रिश्तेदार हैं। ये इतनी मेहनत करने की कोई आवश्यकता नहीं थी ना ही किसी के व्यक्तिगत फोटो को यहाँ लगाने की आवश्यकता है, चर्चा के लिए तर्क काफी हैं (फोटो मैं हटा रहा हूँ)। ये एक मानवीय कमजोरी है कि हर कोई अपने या अपने प्रिय व्यक्ति के बारे में लिखना चाहेगा और यह माला जी व कई अन्य व्यक्तियों ने किया है। लेकिन ये कोई चीन का भारत पर हमला हो गया है क्या, या अमरीका का विमान रूस ने गिरा दिया है या किसी ने पूरा विकिपीडया मिटा डाला है, या नालंदा का पुस्तकालय जला डाला है या कोई विश्वयुद्ध छिड़ गया है, हुआ क्या है? इतना तूल दिया क्यों जा रहा है इस बात को समझ में नहीं आता। हम लोग यहाँ ज्ञानप्रसार में अपना योगदान देने आए हैं, इस हवन में अपनी अपनी आहुति दें और घर चलें। हमें क्या मतलब कौन किसका क्या रिश्तेदार है। यहाँ पर हम सब हिंदी की संतानें हैं और हिंदी को बचाने व समृद्ध देखने का उद्देश्य रखते हैं। अपने उद्देश्य से ना भटकें और इधर उधर की बातों में वक्त बर्बाद ना करें। माला जी के प्रबंधक बनने से पहले यह मामला डिस्कस हो चुका है इसलिए और बहस की गुंजाईश नहीं है। यदि उसके बाद भी उन्होंने इस पृष्ठ पर संपादन किया है तो चेतावनी दे दी जाएगी। आपसे प्रार्थना है कि वि:विकिपरियोजना हिन्द की बेटियाँ में माला जी का हाथ बँटाईए। उनके द्वारा बनाए पृष्ठ नूर इनायत ख़ान और नालापत बालमणि अम्मा को निर्वाचित लेख बनाने में सहायता कीजिए। एक ज़रा सी मानवीय स्वभाव की भूल पर किसी सदस्य के इतने योगदान को हम कैसे भुला सकते हैं। बहस का फायदा था यदि उन्होंने इस पेज के अलावा कुछ और किया ही ना होता। हिंदी विकिपीडिया में इतना अधिक योगदान करने वाले अपने ही एक साथी की एक गलती को हम लोग सहन नहीं कर पा रहे ये देख कर ही दुख हो रहा है। मेरी आप सब से हाथ जोड़ कर प्रार्थना है कि इस चर्चा को विराम दें और माला जी के साथ सहयोग करें ताकि वे अपने अमूल्य योगदान को जारी रख सकें। --मनोज खुराना वार्ता 11:19, 24 जुलाई 2014 (UTC)

मनोज जी, माला जी का योगदान हिंदी विकिपीडिया पर निसंदेह सराहनीय हैं, किन्तु ये बात वे स्वीकार नहीं कर रही हैं की वे रविन्द्र प्रभात उनके रिश्तेदार या पति हैं| वो बार बार झूठ बोल रही हैं, इस लिए सभी सदस्य हाथ धो कर के पीछे पड़ गए हैं|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 12:33, 24 जुलाई 2014 (UTC)

जीतेश जी, जितने ज्यादा कानून, उतने ज्यादा अपराधी। जब सब को सत्य का पता ही है तो कोई उसे स्वीकार करे ना करे हमें क्या फर्क पड़ रहा है। साफ है कि वे panic में हैं और निंदा के डर से वे बचने का प्रयास कर रही हैं। एसे में हमारा फर्ज है कि उन्हें ढाढस दें कि उन्होंने कोई कत्ल नहीं कर दिया है जो इतना डरने की जरूरत हो, और ना ही हम लोग इस बात को इतना तूल दें। गलती हो गई तो हो गई, हमारे शोर मचाने की वजह से एक के ऊपर दूसरी गलती हो जा रही है। नीचे जगदीश जी ने जो लिखा है मेरे विचार से बहुत उचित है- हमें लेख को देखना चाहिए ना कि उसे बनाने वाले को।--मनोज खुराना वार्ता 13:38, 24 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: khurana saab you can run but you cant hide from me(your chandigarh airport doesnot provide free wifi).....haha....so coming to main topic....even after knowing she is violating/violated multiple wikipedia policy then allowing her to continue as admin is insulting towards other users who are honest......and you are also responsible in this act as it was you who nominated her without knowing much details....you want every 1 to be admin except you....Sushilmishra (वार्ता) 14:38, 24 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: kya hua khurana saab?? Bolti kyu band hogayi aapki.....arey kuch boliye na...kuch bhi boliye.....magar boliye....ha magar honhar admin sanjeev ki tara वायु मार्गों mat boliyega.....Sushilmishra (वार्ता) 21:46, 24 जुलाई 2014 (UTC)
जिन सदस्यों ने सिद्धार्थ जी की और मेरी टिप्पणियों में से किसी को भी नहीं पढ़ा उनके लिए लिख रहा हूँ: कृपया अपने शोध को एक दिशा में मत रखो। इस शोध कार्य को थोड़ा व्यापक करो और जब परिणाम पूर्ण हो जायें तब आप प्रस्तुत कर सकते हो और यह प्रस्तुति भी यहाँ चौपाल पर करने के स्थान पर मुझे ईमेल भेजकर करो। मैं आपके सभी विवादों का उत्तर दुँगा। अभी वर्तमान में आपके लिए शोध का विषय निम्न है:
  • आप लोगों ने अपने कथनों से यह सिद्ध करने की कोशिश की है कि रवीन्द्र प्रभात की पत्नी का नाम माला चौबे है लेकिन मुझे इसका एक भी तथ्य नहीं मिला जो हमारे एक सदस्य खाता जिसका खाता नाम "Mala chaubey" है वो रवीन्द्र जी की पत्नी का ही है। क्या इस नाम से मैं खाता नहीं बना सकता? क्या आपका वास्तविक जीवन में नाम और विकि-नाम समान है?
  • यदि अभिनेता संजीव कुमार जीवित होते तो आप लोग उनकी फिल्मों पर और उनपर बने पृष्ठों को इस आधार पर हटवाने का आग्रह कर सकते थे कि वो पृष्ठ उन्होंने स्वयं ने बनाये अथवा सम्पादित किये हैं। क्योंकि संयोगवश मेरा विकिपीडिया खाता नाम भी यह है और मैं उनका प्रशंसक होने के नाते उन पृष्ठों को सम्पादित भी करता हूँ। कृपया इस बात पर भी शोध करें कि मैं कहीं अभिनेता "संजीव कुमार" का भूत तो नहीं हूँ!
ध्यान रहे उपरोक्त टिप्पणियाँ जीतेश जी और सुशील जी जैसे उन शोधकर्ताओं के लिए है जिन्होंने सिद्धार्थ जी की टिप्पणियाँ भी पढ़ना उचित नहीं समझा और मेरी टिप्पणियाँ भी। यदि आगे इस तरह की चर्चा जारी रही तो उन्हें व्यक्तिगत हमले के आरोप में चेतावनी भी दी जा सकती है और इस तरह की तीन चेतावनियों मिलने पर सम्बंधित सदस्य को प्रतिबन्धित भी किया जा सकता है। हालांकि यह कार्य करने में मुझे काफी दुःख होगा। आशा करता हूँ आप अपना शोध कार्य सकारात्मक दिशा में करोगे न कि नकारात्मक दिशा में। इस सम्बंध में गलत शोध कार्य विकिपीडिया पर प्रकाशित करने से पूर्व कृपया मुझे ईमेल में भेजें और मेरे उत्तर की प्रतीक्षा करें (आपको २४ घण्टे में उत्तर मिल जायेगा) अन्यथा आपका शोध आपके लिए महंगा पड़ सकता है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 15:27, 24 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: honhar admin sanjeev lot of proofs havd been presented in front of you including photographic proofs......but it is your lameness that you are acting this way trying to defend a culprit.....so you try to be you and be lame duck......instead of trying to blame others of attacking why dont you behave responsibly.....Sushilmishra (वार्ता) 16:30, 24 जुलाई 2014 (UTC)


मुझे लगता हैं शायद आप दोष देखना हैं नहीं चाहते, प्रूफ देखना ही नहीं चाहते, अब मैं क्या कर सकता हूँ| छोडिये मुझे क्या करना हैं, मुझे जो आपको बताना उचित लगा, मैंने किया, आगे आपकी मर्जी| वैसे भी, विकिपीडिया तो अब आप ही लोगो का हो गया हैं| शुक्रिया|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 18:52, 24 जुलाई 2014 (UTC)

@Jeeteshvaishya: जी कृपया निराश ना हों। इस मामले का निर्णय इस तरह नहीं होने वाला और उससे सम्बंध टिप्पणी सिद्धार्थ जी उपर दे चुके हैं अतः इसे अब अलग-अलग तरह से उछालने का कोई औचित्य नहीं है। विकिपीडिया आपकी भी उतनी ही है जितनी मेरी अथवा अन्य किसी सदस्य की।☆★संजीव कुमार (✉✉) 19:08, 24 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya: mate you are expecting action from a guy who dont know the meaning of action.....like i said some where in this discussion.....the day sanjeev kapoor tandoor saab/वायु मार्गों take any action against policy violator then that day sun will rise in west.....moral this thing is it will never happen.....so relax and enjoy this comedy which we call hindi wikipedia or you can inform stewards about this thing........we voted this honhar admins and result 80% admins are on permanent leave, 10% admins want to abuse power, 5% admins are runing away from making decision, 4% admins are here just to do tech work and 1% is sanjeev(वायु मार्गों).......who is a lame duck sitting on a truck.....

एक से अधिक खाता रखने का मामला[संपादित करें]

by the way @Jeeteshvaishya: are you operating a sock account Jeeteshroxx?? Are you following wikipedia policies 1st of all??........Sushilmishra (वार्ता) 21:31, 24 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:, शायद आप सही कह रहे हैं भाई, वैसे मैं आपको बताना चाहूँगा की Jeeteshroxx ये मेरी ही अकाउंट हैं, जिसे मैंने Jeeteshvaishya इस अकाउंट का पासवर्ड भूल जाने के कारन क्रिएट किया था, वो तो मेरा सौभाग्य था की जिस नोटबुक में मैंने अपने सारे पासवर्ड लिखे थे, वो जल्द ही मिल गए| Jeeteshroxx अकाउंट मैं कभी कभी लॉग इन करके पेजेज एडिट कर देता हूँ, ताकि ये अकाउंट बंद न हो जाए| Jeeteshvaishya ये मेरा परमानेंट अकाउंट हैं, जिसे २०१० में क्रिएट किया था| वैसे मुझे कठपुतली वठपुतली के बारे में नहीं पता था, वो तो हाल में ही पता हुआ, चौपाल पर|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 15:21, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya: जी, आपने सही स्थिति घोषित की इसलिए आप कठपुतली खातों के दायरे में नहीं आते। ऐसे से ही कारणों से स:अनिरुद्ध जी ने दो खाते खाले थे। हमने उन्हें इसके बाद प्रबंधक भी बनाया। जिसके पश्चात वो इनमें से कोई भी खाते का प्रयोग नहीं कर रहे हैं। --मुज़म्मिल (वार्ता) 15:32, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Hindustanilanguage: मुज़म्मिल जी, बहुत बहुत शुक्रिया, जानकारी के लिए आभार|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 15:38, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya: please add {{Template:User alternative account name|add your other id here}} and {{Template:User alternative account master}} to any 1 of the account english user page....and avoid usage of multiple ids on same wikipedia....Sushilmishra (वार्ता) 16:09, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:, जी, ठीक हैं|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 16:16, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya: i have added this tags to your id Jeeteshvaishya on your user page of english wikipedia.....i request you again to use only 1 id here on hindi wikipedia other id you can use on other language wikipedia.....Sushilmishra (वार्ता) 16:17, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:, भाई मैं Jeeteshvaishya आईडी ही उपयोग में लाता हूँ|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 16:21, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya: Jeeteshroxx अकाउंट मैं कभी कभी लॉग इन करके पेजेज एडिट कर देता हूँ, ताकि ये अकाउंट बंद न हो जाए| this what you said just now on top and now you are saying भाई मैं Jeeteshvaishya आईडी ही उपयोग में लाता हूँ|.....Sushilmishra (वार्ता) 16:28, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:, अमा यार, मेरे कहने का तात्पर्य था की मैं Jeeteshvaishya ये अकाउंट ही अधिकतर उपयोग करता हूँ| समझे|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 16:32, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya: mate dont worry about my understanding....did you 1st understood or not......only 1 id on hindi wikipedia no other id should be used this is a serious offence.....Sushilmishra (वार्ता) 16:41, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:, बताने के लिए बहुत बहुत आभार, हिंदी विकिपीडिया में यही आई डी उपयोग में लाता हूँ|--Jeeteshvaishya (वार्ता) 16:45, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya: good....hope you enjoy your time here.....stick to the wikipedia rules and policy.....if you need any help contact honhar admin sanjeev.....happy editing.....Sushilmishra (वार्ता) 16:53, 25 जुलाई 2014 (UTC)


@Sushilmishra:, सुनील जी, जरुर| बहुत बहुत शुक्रिया| --Jeeteshvaishya (वार्ता) 16:55, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Jeeteshvaishya, Sushilmishra: सुशील जी द्वारा उल्लिखित दोनो साँचे आयात करके अनूदित कर दिये गये हैं। यदि अनुवाद में अथवा अन्य किसी तरह की त्रुटि रह गई है तो बतायें। इन्हें आप अपने हिन्दी विकिपीडिया पर भी काम में ले सकते हैं। सुशील जी कृपया उस नियमावली का भी उल्लेख करें जो दो खातों से सम्पादन करने से रोकती है जिससे जीतेश जी बात को और अच्छी तरह से समझ सकें।☆★संजीव कुमार (✉✉) 19:12, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: are you an admin or me? why dont you do your work seriously instead of depending upon others??....Sushilmishra (वार्ता) 19:20, 25 जुलाई 2014 (UTC)
आजकल नियमावली आप सिखा रहे हैं और आप इस बात पर बहुत जोर दे रहे हैं कि एक ही खाते से सम्पादन किया जाये इसलिए आपको यह कार्य करने को कह रहा हूँ अन्यथा मुझे इसकी जानकारी है और मैंने आपसे कभी सहायता माँगना उचित नहीं समझा क्योंकि आपसे सहायता माँगने से अच्छा है अंग्रेज़ी विकिपीडिया पर जाकर उचित पृष्ठ को पढ़ लूँ।☆★संजीव कुमार (✉✉) 19:42, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: i have to stress on policy and rules because 80% admins are on permanent leave, 10% admins want to abuse power, 5% admins are runing away from making decision, 4% admins are here just to do tech work and 1% is sanjeev(वायु मार्गों).......who is a lame duck sitting on a truck.....more over if you knew about it already then what made you wait so long for creating tag?? hahaha.......there is no harm in accepting that you dont know few/many things......you see i dont know whats wrong with admins here and i accept it.....hahaha..........Sushilmishra (वार्ता) 19:48, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:- Your highness ! in some of your remarks, I came to know that your excellency does have the word "insult" in your dictionary. I do hope at some point of time in your excellency's life, your majesty gets to learn the meaning of it. I do hope at some point of time in your highness's life your lordship learns to respect others especially those who are not as bright or intelligent as you, who may think different than you, who may be less educated than you, or less stronger than you, who are weaker than you, who are your paid workers, or who are volunteers and not your paid workers or slaves. May god give you with the vision to look as much towards your ownself as much you look towards others. May god give you the mental strength to bear others' weakness. May god bless you.--मनोज खुराना वार्ता 06:06, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: जी, संजीव जी तो एक प्रतिष्ठित शोध संस्था से जुड़े हैं और काफ़ी पढ़े-लिखे हैं। --मुज़म्मिल (वार्ता) 06:58, 26 जुलाई 2014 (UTC)

कही iit हैं क्याAmt000 (वार्ता) 07:15, 26 जुलाई 2014 (UTC)

मुझे लगता है कि मेरे शोध और शोध संस्था के विषय में यहाँ चर्चा करना उचित नहीं है और वह भी प्रचार की श्रेणी में आयेगा। अतः आपसे निवेदन है कि मेरे बारे में व्यक्तिगत जानकारी के लिए आप मुझे ईमेल लिखें। मेरी व्यक्तिगत जानकारी यहाँ प्रकाशित न करें।☆★संजीव कुमार (✉✉) 07:23, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@Hindustanilanguage:- लेकिन वो सुशील जी जितने सुशील तो नहीं हैं। वो तो तकदीर की बात है कि बेचारे वैज्ञानिक बन गए। अब इसमें उनकी क्या गलती है। यही बात आपसे करनी होती तो लिखता कि हर आदमी में कुछ अच्छा कुछ बुरा होता है, कोई भी पूरा अच्छा पूरा बुरा नहीं होता। आपको बोलता कि भगवान ने हर आदमी को दिमाग दिया है और सोचने समझने की शक्ति दी है, तो जो भी वो कर रहा है तो जितना उससे हो पा रहा है अच्छा ही कर रहा होगा, हमें बस उस पर विश्वास होना चाहिए। आप ये सब बातें समझ सकते हैं। सुशील जी से बात करने के लिए वही शब्द तलाशने पड़ते हैं जो उन्हें समझ आते हैं। उनके हिसाब से भगवान ने सिर्फ उन्हें ही दिमाग दिया है। सिर्फ वे ही महाबुद्धिमान, महाशक्तिमान हैं, बाकी सब मूर्ख हैं। इसलिए उनसे बात करने के लिए ये सब लिखा है। उन्हें यही समझ में आता है।
मुज़म्मिल जी, यदि मुझे आपका कोई संपादन, या काम करने का तरीका अच्छा नहीं लगता तो इसका ये मतलब नहीं कि मैं आपको बेवकूफ कहने लगूं। तरह तरह के शब्द बोल कर भरी सभा में आपकी बेइज्जती शुरु कर दूँ। ऐसा करने वाला बच्चा ही हो सकता है। आप विकिपीडिया पर हैं, यही इस बात का सबूत है कि आप एक अच्छे आदमी हैं। मेरा ज्ञान अगर मेरे ३८ साल के तजुर्बे का परिणाम है तो आपका ज्ञान भी इतनी ही तपस्या का परिणाम होगा, फिर चाहे वह मुझसे अलग क्यों ना हो। अगर मैं अपने ३८ साल के तजुर्बे बाद समझा हूँ कि x ठीक है और आपको अगर y ठीक लगता है तो मुझे समझना चाहिए कि वो भी आपकी पूरी उम्र का तजुर्बा है। ऐसे में मुझे आपकी बुराई करने का क्या अधिकार है। विकिपीडिया पर जो भी है वो देने में यकीन रखता है, छीनने में नहीं तभी वो यहाँ पर है। अतः आप जो भी काम करेंगे चाहे वो मेरे विचार से उलट ही क्यों ना हो, मुझे पूरा विश्वास है कि वो मुझे ही मंजिल तक ले के जाएगा क्योंकि हम सब एक ही कश्ती में हैं और एक ही मंजिल के मुसाफिर हैं। ऐसे में लड़ने झगड़ने का सवाल ही कहाँ से आता है। जब हमें ये पता है कि हम सब एक नाव में हैं, एक ही मंजिल पर जा रहे हैं और सभी अच्छे लोग हैं, इसके बाद भी यदि कोई भरी सभा में चिल्ला चिल्लाकर झगड़ा करना चाह रहा है तो उसकी बुद्धि पर तरस ही खाया जा सकता है। हजार बार ये बात समझाने के बाद भी कोई समझना ना चाहे, प्यार से समझाने पर भी ना माने तो क्या किया जाए। बस फिर स्वीकार करना ही पड़ेगा कि हम सभी के सभी मूर्ख हैं और बस वही एक ठीक हैं। घर में बच्चों को कितना ही समझा लो कि कार्टून मत देखो, अच्छी बात नहीं है, लेकिन जब ज्यादा ही रोना पीटना मचाने लगे और सुनने से ही मना कर दे और गर को ही तोड़ना शुरु कर दे तो क्या करें। यही कहना पड़ता है कि हम हारे तुम जीते। हम मूर्ख तुम समझदार, हम प्रजा तुम राजा, अब तो चुप करो।--मनोज खुराना वार्ता 07:29, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: khurana saab if one is not intelligent enough to hold the post of admin and who take this post for granted should be removed as their is no place for inefficient people in this world.......enough of this crap being served here on hindi wikipedia and crap admins that are operating here as 80% admins are on permanent leave, 10% admins want to abuse power, 5% admins are runing away from making decision, 4% admins are here just to do tech work and 1% is sanjeev(वायु मार्गों).......who is a lame duck sitting on a truck.........and manoj khurana saab instead of you nominating others for post of responsibility why dont you accept the post of admin and operate and shoulder some responsibility instead of forcing others.........Sushilmishra (वार्ता) 11:20, 26 जुलाई 2014 (UTC)

लेखों का उपयोगिता और गुणवत्ता के आधार पर मूल्यांकन[संपादित करें]

विकिपीडिया पर अनेक साहित्यकारों/ व्यक्तियों पर लेख बनाये गये हैं जिन्हे अनेक सदस्यों ने बनाया है। लेख किसने बनाया है यह महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि महत्वपूर्ण यह है कि लेख विकि के अनुरूप बना है या नहीं.... लेख को उसके किसी रिश्तेदार ने बनाया है, पत्नी ने बनाया है या किसी अन्य ने बनाया है .... इससे क्या फर्क पड़ता है..... हाँ यदि लेख में प्रचार की बू आती है तो उस पर चर्चा होनी चाहिये और उसे सम्पादित करके संतुलित किया जाना चाहिए...... मैंने स्वयं देखा है कि कई लेख बहुत बढ़ा चढ़ा कर प्रशंसात्मक भाव से लिखे गये हैं..... कई साहित्यकारों के लेखों में यह देखने को मिलता है... किसी पुस्तक पर किस किस ने क्या क्या कहा.... यह सब विकि पर लेख में नहीं आना चाहिये, रवीन्द्र प्रभात पर बनाये गये लेखों में भी यह अतिरंजना देखने को मिलती है, क्रान्त जी पर बना लेख भी कुछ ऐसा ही है.... मेरे विचार से साहित्यकारों पर बनाये जाने वाले लेखों के लिए कुछ नियम बना लेना चाहिये.... मैंने यह प्रस्ताव अपने प्रयोग पृष्ठ पर लिखा है पर किसी ने उस पर चर्चा नहीं की और प्रस्ताव अभी भी लम्बित पडा हुआ है। इस विवाद को तत्काल बन्द करके उन लेखों को जो विकि पर रहने योग्य न हों उन्हें हटा दिया जाना चाहिये, और जो विकि के अनुरूप हैं वे भले ही किसी ने बनाये हों उन्हें रहना ही चाहिये..... लेखों का उपयोगिता और गुणवत्ता के आधार पर मूल्यांकन किया जाय न कि लेख बनाने वाला कौन है इस पर विवाद का कोई औचित्य नहीं है..... माला जी यदि रवीन्द्र प्रभात की पत्नी हैं तो इससे क्या फर्क पड़ता है..... यदि उनके बनाये लेखों में कुछ पक्षपात या प्रचार लग रहा है तो उन लेखों को तत्काल हटा देना चाहिये...... और सभी सदस्य अपनी ऊर्जा विकि पर लेख बनाने में लगायें तो विकि और हिन्दी का हित होगा..... मेरा सभी से यही अनुरोध है।--डा० जगदीश व्योमवार्ता 13:15, 24 जुलाई 2014 (UTC)

जगदीश जी, विकिपीडिया प्रचार करने का माध्यम अथवा विश्वसनीयता हासिल करने का साधन नहीं है। यह कार्य ब्लॉग पर सम्भव है। मैं यदि अच्छी कहानी लिखूँ तो उसे विकिपीडिया पर प्रकाशित करना तर्कसंगत नहीं है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 15:36, 24 जुलाई 2014 (UTC)
संजीव जी, यह जानकारी देने के लिए धन्यवाद--डा० जगदीश व्योमवार्ता 07:22, 27 जुलाई 2014 (UTC)
संजीव जी, भावनाओं को समझिए। शब्दों को छोड़कर तात्पर्य को पकड़िए। जगदीश जी का कहना है कि मान लीजिये यदि नरेंद्र मोदी स्वयं अपने लेख में कुछ वर्तनी संपादन करें तो क्या इसे स्वप्रचार कहा जाएगा, क्या लेख मिटा दिया जाएगा, क्या उन्हें प्रतिबंधित कर दिया जाएगा? यदि कल आपको नोबल पुरस्कार मिल जाए, आपके शोध पर मैं लेख बनाऊं और कोई त्रुटि रह जाए तो क्या आपको ठीक करने का अधिकार होगा या मूल शोध का नियम आड़े आएगा? प्रचार का माध्यम नहीं है ये बात ठीक है, लेकिन जगदीश जी ने कब इसका विरोध किया? उनका कहना है कि यह नियम लागू करने से पहले देख लेना चाहिए कि लेख प्रचार की श्रेणी में आता है कि नहीं। जैसे कि यदि आप अपने पूर्व-प्रकाशित शोध पर लिखे लेख में कुछ संपादन करते हैं तो यह मूल शोध में नहीं आएगा इसी प्रकार यदि लेख संतुलित है, विकि के सारे नियम व शर्तें पूरी करता है और "प्रचार" की श्रेणी में आता ही नहीं, तो स्वसंपादन में भी कोई हर्ज नहीं। नियम मात्र दुरुपयोग रोकने के लिए हैं, formalities के लिए नहीं। यहाँ पर हम सब एक उद्देश्य से इकट्ठे हुए हैं, वही उद्देश्य सर्वोपरि है। नियम, उद्देश्य पूरे करने के लिए हैं। दोनों में अंतर्विरोध की स्थिति में उद्देश्य सर्वोपरि हैं, यदि एक को छोड़ना पड़े तो नियम को छोड़िए, उद्देश्य को नहीं। --मनोज खुराना वार्ता 16:06, 24 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: khurana saab your arguement is vague....i present infront of you an example....during 2010 football world cup qualification play off matches it was france v ireland and french super star thierry henry used his hand to score a goal....which was seen by billions on tv but referee didnot saw it and gave a goal and france won qualified for world cup.....but fans of ireland and neutral supporters felt cheated by this act of henry and they destroyed his wikipedia page......so did henry jumped on his key board correcting those vandalism??........more over if sanjeev win nobel prize then he need not update it here as many bots function for such updates and scientific community themself update such honour(but dont you think you said too much like sanjeev and nobel prize i mean this guy वायु मार्गों....you have chances of bangladesh wining world cup).....more over i question you did you ever find great APJ Abdul Kalam a national hero ever editing his page and boasting himself as oh oh oh i am missile man.....oh oh oh i was former president of world's largest democracy.......oh oh oh i am greatest scientist this nation has ever produced........or do you see holy dalai lama ever editing his page and boasting himself as.....hey i am dalai lama.....hey i am 14th dalai lama.....hey i am a lover of peace.....hey i am mahatma gandhi of this age......my suggestion is if you are really an important/great person then people will know you automatically you need not go and shout......example korean song gangnam style....singer never asked any 1 to watch his video, people all over the world irrespective of language liked his music and song, he became over night sensation.....UN honoured him for uniting human race......did he even once editted page related to him??.....Sushilmishra (वार्ता) 22:33, 24 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:-Oh, Mishra ji ! I'm so overwhelmed & so impressed by your analysis and your examples !!! I once again accept my defeat & step out of your majesty's way. I am so thankful to you for making me realize the true essense & importance of the old adage- Silence is golden. Now, your majesty, kindly do not ask me how much carats, why golden & why not silver or diamond etc. I don't have the answers and I have already accepted my defeat, Sir. I wholeheartedly agree with every word you say, Sir. Thanks. --मनोज खुराना वार्ता 07:36, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: khurana saab you did not mention platinum, so technically i can question you, why not platinum??.....anyways you again showed your trait of running away from arguement....just when it was getting interesting you surrendered.....my expections are high when i am discusing something with you but you always disappoint me.....Sushilmishra (वार्ता) 09:56, 25 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:- I beg your pardon, your highness! I don't feel I'm knowledgeable enough to answer your questions. I am not running away. I have accepted defeat, Sire! Now thou rulst the world. Have mercy on mere mortals, your excellency!!!--मनोज खुराना वार्ता 13:24, 25 जुलाई 2014 (UTC)
मनोज जी, बढ़िया जवाब दिया सुशील जी को!! :) आपका अंग्रेज़ी का ज्ञान तो बहुत अच्छा प्रतीत होता हैं।--पीयूष मौर्यावार्ता 13:31, 25 जुलाई 2014 (UTC)

काय विलक्षण कोटAmt000 (वार्ता) 14:31, 25 जुलाई 2014 (UTC)

@Manojkhurana: defeated shall perish.....and one who accept defeat are cowards....and their is no place for cowards in this world....get up and fight like brave and die in battle like a brave....an army of mortal men lead by a mortal man crossed into asia to conquer it laying waste massive cities and killing those who dare to cross his path.....i never heard of him accepting defeat, i never heard of him asking for mercy.....so what might be difference between you two mortal men.....alas the one who conquered asia was brave and 1 who is here asking mercy is coward.....Sushilmishra (वार्ता) 15:27, 25 जुलाई 2014 (UTC)

फोटो कैसे अपलोड करे[संपादित करें]

श्रीमान मै विकिपिडिया के पेजो पर फोटो कैसे अपलोड करे— इस अहस्ताक्षरित संदेश के लेखक Rajesultanpur है, (वार्तायोगदान) 05:17, 25 जुलाई 2014 (UTC)।

पीयूष जी का पुनरीक्षक हेतु नामाँकन[संपादित करें]

पीयूष जी का नामाँकन पुनरीक्षक हेतु किया गया है। कृपया अपना मत दें।--मनोज खुराना वार्ता 08:46, 26 जुलाई 2014 (UTC)

@Manojkhurana: why not old regular underperforming reviewer resign/dimissed 1st from their post before before adding new reviewers.....Sushilmishra (वार्ता) 11:33, 26 जुलाई 2014 (UTC)
Respected Sushilmishra Sir, Your humble servant feels that whenever, whatever & howsoever little good services they are able to do, they must be taken. I am also a reviewer but on an average I am able to do this work once in 2 months, and even after that, in many cases I cannot take decision and many changes are left unreviewed. But surely, one or two changes I review successfully. As far as my little understanding goes, wikipedia is supposed to welcome this. I may be wrong and request you to correct me if that's the case, but I am under impression that minuscule changes collectively shape this huge wikipedia. Since I'm not as knowledgeable as your goodself regarding rules & regulations of wikipedia, I sincerely request you to please let me know if there is any rule that prohibits taking insignificant contributions so that I can decide whether I should increase my reviewing work or should I offer to relinquish the post. Until I settle this question about myself, i think it will be unfair to provide opinion about others. Please guide. Please take into consideration the total numbers of people who are currently doing this job, and whether keeping them or removing them is going to make any difference at all. Thanks.--मनोज खुराना वार्ता 13:03, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: in your office if you are working for 1 hour a day and remaining time you just out there to sleep will people around you accept it?? i guess answer will be no......the same applies here what great service you are doing to wikipedia if you are working only for once in 2 month.....if you are so worried about wikipedia then why not work once in a day? why not twice in a day? but i think it was just your desire to have post but not work that you accepted this post and now unable to let it go as you are consumed with power of the post......glued to it mr khurana eh?.....Sushilmishra (वार्ता) 13:16, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: the more you struggle the more painful it will be........Sushilmishra (वार्ता) 13:27, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: - do you actually feel it's got power? and so much of power that anyone would like to glue it to? Ha Ha Ha, I'm sorry I'm behaving like you but I feel pity for you, darling! Go back and check what are you saying here & what have you said & done earlier. Reconcile them & come back. If you can't see it, ask for my help. This humble servant is always at your service, your excellency! --मनोज खुराना वार्ता 13:55, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: (pinged yourself?) i sense dark side of force in you my old padwan.......if it aint that important then i dont see neither you nor honhar admin nor other admin resign cause of unproductiveness.........Sushilmishra (वार्ता) 14:07, 26 जुलाई 2014 (UTC)

विकिपीडिया की निर्णय प्रक्रिया पर चर्चा[संपादित करें]

  • विकिपीडिया लोकतंत्र नहीं है। निर्णय मतदान से नहीं सहमति से लिये जाते हैं। अतः सहमति देने वाले और विरोध करने वाले सदस्यों से अनुरोध है कि अपनी लघु टिप्पणी भी दें जिससे सम्बंधित सदस्य अपने आप में उचित सुधार ला सके।☆★संजीव कुमार (✉✉) 04:21, 27 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: what happened my old padwan? Has the knowledge of force deserted you? It seems you have fall for darkside of force......Sushilmishra (वार्ता) 10:41, 27 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: oh honhar admin yeh लोकतंत्र नहीं padne ki zarurat tumhe hai......dont choose dark side of force master tandoor......evil sith lord has clouded your mind.....use your knowledge of force to fight it......may the force be with you.....Sushilmishra (वार्ता) 10:41, 27 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:- Now that i am opposing you, it seems to you i've fallen on the dark side else everything was nice till I was fighting tooth & nail with everyone to support you. Please note that I still support each & every logical thing you say. But since the time you have uttered abuses & started making personal attacks, i am extremely sorry I will never support you. I even advised you to take your words back only, I didn't even asked you to say sorry. But you did not hear me. I'm afraid my friend, I can never support abusive language, for howsover good cause it may be. Now problem with you is that you will never accept your fault.--मनोज खुराना वार्ता 12:15, 27 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: yes my old padwan you are now on dark side of force because sith lord has clouded your mind..........do you know why i abused? do you know the whole thing? until unless you know the matter dont pretend to be a master......the jedi council will decide when you are good enough to be a master......as of now fight against dark side of force.......may the force be with you.....Sushilmishra (वार्ता) 12:22, 27 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: the knowledge of force is deserting you my old padwan.....the evil dark side is consuming you soul......dont turn towards darkside dont be an apprentice of a sith lord..........Sushilmishra (वार्ता) 12:28, 27 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: it seems the darkside of force is eating your soul from with in my old padwan.........fight the darkside.....come to lightside......may the force be with you my old padwan.....Sushilmishra (वार्ता) 03:44, 29 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:- I'm sorry I don't know what's opposite of padwan. I think "My Lord" will do. My lord, I don't take sides based on characters, I'm taking sides based on activities, ideas. Till you don't take back your abusive words, I can't come to your side. While you seem to be a pundit of wikipolicies, you forget that using abusive words is also not allowed in wikipolicies and saying that you were provoked is no justification. That's the basic reason why this policies were framed, unless provocated no one will indulge in abuse. Take back your words & I'm with you.--मनोज खुराना 04:20, 29 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: no my old padwan.....you were the chosen one.....you were ment to bring balance to force.....you were ment destroy darkside of force......not join it......you fail us manoj....you failed me my old padwan.....Sushilmishra (वार्ता) 11:51, 29 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:- Its you who has failed me, my dear. You failed me the day you started using abusive words. You failed me completely & in full public view, when you chose not to listen to me when I suggested you to take back your words. Inside yourself you know you know that you have committed wrong, but understandably, its human nature that's stopping you to accept your mistake even though you were fighting for the light. That brief spot of darkness on your soul is what haunts you & it haunts me for I was in your support. Has I been in place of Sanjeev I would have banned you immediately. Seeing your contributions today, I'm happy I'm not an admin. Sanjeev is really honhar that despite all your dark attacks he has seen the light in you & suffered all your dark attacks resulting in your brighter side appearing today benefetting Hindi Wiki. its Sanjeev who has brought balance. I am with light only, if you happen to step on dark, do not think I've failed you, you've failed me!!! --मनोज खुराना 12:43, 29 जुलाई 2014 (UTC)
@Sushilmishra:- Now that everything has passed, lets go on in life and all concentrate on contributing to wiki. World cup is over so it doesn't mean you have nothing left to do. Please help us in Commonwealth games, present & past articles. Thanks.--मनोज खुराना 12:47, 29 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: evil sith lord has clouded your mind my old padwan.......you sense no difference between darkside and lightside......master sanjeev kapoor tandoor has chosen to be apprentice of sith........my old padwan CWG, olympics & asian games are waste of money conducted only in 1 city in a massive stadium which is of no future use.......with no fan following.......only individual sports......i show little or no interest in such sporting event......still got many more football/rugby union/rugby league/nhl/mlb related pages to make.......may the force be with you.....Sushilmishra (वार्ता) 13:02, 29 जुलाई 2014 (UTC)
@Manojkhurana: @ your saying : "Has I been in place of Sanjeev I would have banned you immediately." - an admin cannot block sb simply because he's attacked ---- it is a case of "Conflict of Interest", although co-admin may measure the acceptability of the language and decide accordingly. Secondly, if a particular incident is to be used for abuses hurled, then you need to take the two parties in question and block the instigator first. While I endorse the largeheartedness of Sanjeev in taking people along despite attacks, earlier also admins had been attacking on this very Wiki- be it thru hairsplitting logical criticism or abuses. Check the history to see why Hunnjazal is off from this Wiki while he's still contributing on en:wp. Will anyone try to bring him back? --मुज़म्मिल (वार्ता) 18:22, 29 जुलाई 2014 (UTC)
like i said before place is filled with siths........a user make pages in bulk violating every single rule of wikipedia......result==no action he is old..........a user indulge in edit warring, spreading sensational news and abusing others(which was confirmed by stewards).....result==no action he is new and supported by old rule breaker........a user keeps of provoking a user and carry on personal attack on him for past 1 year......result==no action as provoker is old user and victim is new user..................this is managed by ineffective evil sith admins who should resign from their post.....this admins are on darkside of force only and only followers of lightside of force can defeat this sith lords...............may the force be with us all...........Sushilmishra (वार्ता) 18:39, 29 जुलाई 2014 (UTC)

Authority Control[संपादित करें]

Authority Control क्या हैं, और ये कैसे बनाया जाए और विकिपीडिया पृष्ठ पर कैसे लगाया जाए? कृपया मार्गदर्शन करें।--Jeeteshvaishya (वार्ता) 15:30, 26 जुलाई 2014 (UTC)

@Jeeteshvaishya: हमारे यहाँ पहले ही एक लेख प्राधिकरण नियंत्रण मौजूद है। विकिपीडिया पर सम्पादन के सम्बंध में मैं आपको वीडियोज़ सूची की कड़ी अपने सन्देश में दे चुका हूँ। कृपया एक बार देखिएगा। --मुज़म्मिल (वार्ता) 15:48, 26 जुलाई 2014 (UTC)

जी शुक्रिया।--Jeeteshvaishya (वार्ता) 18:50, 26 जुलाई 2014 (UTC)

एक सवाल[संपादित करें]

श्रीमान जी, गैर-भारती भाषायों से लेख का अनुवाद करते समय जिन शब्द का हिंदी मे कभी पहिले प्रयोग ना किया गिया हो, उनकें लिए आप शब्द खुद बनाते हो या किसे भाषा विघ्यानी की सलाह लेते हो ? --Vigyani (वार्ता) 04:29, 29 जुलाई 2014 (UTC)

हम कोई भी शब्द खुद नहीं बनाते। कई बार कुछ सम्भावित शब्द काम में लेते हैं और चर्चा के अनुसार उसे ठीक कर दिया जाता है। सामान्यतः वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग, राजभाषा विभाग, भारतीय रिज़र्व बैंक और इसी तरह की सम्बंधित संस्थानों द्वारा पहले से दिये गए शब्द काम में लिए जाते हैं। किसी शब्द के अधिक प्रचलन में होने की स्थिति में प्रचलित शब्द को वरियता दी जाती है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 05:08, 29 जुलाई 2014 (UTC)
विज्ञानी जी, एक ऐसी विषय ही की दिलचस्प वार्ता आप यहाँ देख सकते हैं। --मुज़म्मिल (वार्ता) 12:42, 30 जुलाई 2014 (UTC)
धन्यावाद मुज़म्मिल जी, वह वार्ता विकीपीडीआ की अद्रूनी प्रणाली को लेकर हे। मेरे चिंता दुसरे शब्दों को लेकर थे जो असल मे माईने रखते हैं। हमारी पंजाबी विकी पर चीनी भाषा के शब्द Taiping के लिप्यंतरण को लेकर वार्ता चल रही थी। यह शब्द पंजाबी मे पहले जिआदा इसतेमाल नहीं हुआ। और ऐसा बहुत शबदों के मामलों मै होता रहता है, लिप्यंतरण या अनुबाद को लेकर। तो मैं इसलिऐ जानना चाहता था कि ऐसे मामलों में दुसरे विकीपीडीआ कया करते है। --Vigyani (वार्ता) 13:43, 30 जुलाई 2014 (UTC
विज्ञानी जी, ऐसे में मेरे विचार से दो मानक रखे जा सकते हैं:
  1. यदि कोई आधूनिक शब्दकोश हो जिसे निर्विवाद रूप से शिक्षाविद मानते हों, तो कृपया पहले उसे देखें और समस्या का समाधान ढूँडें।
  2. चौपल पर सदस्यों से भी राय ली जा सकती है। काफ़ी समय तक हम विकिपीडिया को "ज्ञानकोष" कहते आए थे। बाद में हमने चर्चा की और अब हम "ज्ञानकोश" कह रहे हैं।--मुज़म्मिल (वार्ता) 14:17, 30 जुलाई 2014 (UTC)

विजय कुमार[संपादित करें]

कृपया उक्त पृष्ठ को देखें। जिसकी उल्लेखनीयता का ना तो कोई ज़िक्र उसके पाठ में है ना ही कोई संदर्भ या बाहरी कड़ियाँ दी गई हैं जिनसे की इस बारे में कुछ पता लग सके। साहित्य की जानकारी रखने वाले सदस्यगण से अनुरोध है कि कृपया इस बारे में अपनी राय दें। अन्यथा मेरा प्रस्ताव है कि इस पृष्ठ में निशानेबाज़ी में ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले भारतीय खिलाड़ी के बारे में लेख लिखा जाए जो कि फिलहाल हिंदी विकि पर उपलब्ध नहीं है। बगल की अंग्रेजी विकिडाटा कड़ी भी खिलाड़ी विजय कुमार लेख पर इंगित है। --मनोज खुराना 07:19, 30 जुलाई 2014 (UTC)

जहां तक मुझे ज्ञात है हिन्दी साहित्य में दो विजय कुमार हैं। एक विजय कुमार, जो एक ख्यात कवि, आलोचक एवं सम्पादक हैं। इन्होने तीन कविता संकलन 'अदृश्य हो जायेंगी सूखी पंक्तियाँ', 'चाहे जिस शक्ल से' और 'रातपाली' तथा आलोचना की दो पुस्तकें 'कविता की सांगत' और 'खिड़की पर कवि'. उद्भावना के कविता विशेषांक 'सदी के अंत की कविता' का सम्पादन किया है। दूसरे हैं विजय कुमार देव जो भोपाल से प्रकाशित होने वाले अक्षरा पत्रिका के संपादक रह चुके हैं। 'अपना एकांत' काव्य संग्रह ; अनेक स्तरीय साहित्यिक पत्र -पत्रिकाओं एवं संकलनों में आलोचना समीक्षा, आलेख;कविता,रिपोतार्ज़,साक्षात्कार, संस्मरण आदि महत्त्व के साथ ये प्रकाशित होते रहे हैं। मध्यप्रदेश साहित्य परिषद् द्वारा ' अक्षरा ' पत्रिका के श्रेष्ट सम्पादन के लिए उन्हें वर्ष १९९२ में 'प्रादेशिक अनिल कुमार स्मृति पुरस्कार प्रदान किया जा चुका है। हालांकि मुझे यह महसूस हो रहा है, कि हिन्दी विकि पर उपरोक्त लेख पहले वाले विजय कुमार का है, क्योंकि उन्हीं का जन्म १९४९ में हुआ था।--माला चौबेवार्ता 11:02, 30 जुलाई 2014 (UTC)

किताब 'कविता की सांगत' नहीं 'कविता की संगत' है- आपका निष्कर्ष ठीक है - नुवी मुम्बई के निवासी विजय कुमार पर ही लिखना चाह रहे होंगे मुनीश्वर ! Hemant Shesh 11:42, 30 जुलाई 2014 (UTC)

मैं बाकी सदस्यगण की राय लेना चाहूँगा कि:
  1. विजय कुमार पृष्ठ को यथावत रखा जाए और विजय कुमार (बहुविकल्पी), तथा विजय कुमार (शूटर) के नाम से अलग पृष्ठ बनाया जाए ?
  2. विजय कुमार पृष्ठ पर खिलाड़ी विजय कुमार के बारे में लिखा जाए और विजय कुमार (बहुविकल्पी), तथा विजय कुमार (हिंदी साहित्यकार) के नाम से अलग पृष्ठ बनाया जाए ?
  3. विजय कुमार को बहुविकल्पी बना दिया जाए तथा विजय कुमार (शूटर)विजय कुमार (हिंदी साहित्यकार) दोनों अलग से बनाए जाएँ ?
व्यक्तिगत रूप से मेरा मत दूसरे विकल्प के साथ है, क्योंकि १- खिलाड़ी विजय कुमार का अंग्रेजी विकि का पृष्ठ पहले से यहीं जुड़ा हुआ है। तथा २- मेरे अपने विचार से खिलाड़ी विजय कुमार की प्रसिद्धि इस समय में बाकी हमनाम महानुभावों से शायद अधिक है। कृपया अपनी राय दें। --मनोज खुराना 12:04, 30 जुलाई 2014 (UTC)

विजय कुमार (हिंदी साहित्यकार) के नाम से अलग पृष्ठ बनाया जाए - वह महत्वपूर्ण आलोचक हैं!Hemant Shesh 12:51, 30 जुलाई 2014 (UTC)


विकल्प 3 सबसे अधिक उपयुक्त प्रतीत होता है। वर्तमान लिंक विकिडाटा कड़ी को ठीक करना मुश्किल कार्य नहीं है और समय विशेष के लिए एक की ख्याति कम-अधिक हो सकती है लेकिन एक साहित्यकार के लिए वर्तमान में साहित्यकार अधिक महत्वपूर्ण हो सकता है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 14:37, 30 जुलाई 2014 (UTC)

नमस्कार, मेरे अनुसार तीसरा विकल्प सर्वाधिक उपयुक्त है।--स्वाति (वार्ता) 16:17, 31 जुलाई 2014 (UTC)