उत्तर कोरिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
कोरिया जनवादी लोकतांत्रिक गणराज्य
Democratic People's Republic of Korea
조선민주주의인민공화국
उत्तरी कोरिया का ध्वज उत्तरी कोरिया का कुल चिन्ह
ध्वज कुल चिन्ह
राष्ट्रगान: देशभक्ति का गीत (राष्ट्रगान उत्तर कोरिया) (अंग्रेज़ी: Aegukka)
उत्तरी कोरिया की स्थिति
राजधानी
(और सबसे बड़ा शहर)
प्योंगयांग
39°2′ N 125°45′ E
राजभाषा(एँ) कोरियन
सरकार जूचे समाजवादी गणराज्य,
एकल दल वामपंथी राज्य
 - गणराज्य के चीर अध्यक्ष किम इल-सुंग
(दिवंगत)
 - राष्ट्रीय रक्षा आयोग के अध्यक्ष किग जोंग-इल
 - सुप्रीम पीपुल्स असेंबली के अध्यक्ष किम यांग-नाम
 - प्रधानमंत्री किम यांग-इल
स्थापना  
 - स्वतंत्रता की घोषणा १ मार्च, १९१९ 
 - मुक्ति 15 अगस्त, १९४५ 
 - आधिकारिक घोषणा ९ सितंबर, १९४८ 
क्षेत्रफल
 - कुल १२०,५४० वर्ग किमी (९८ वां)
४६,५२८ वर्ग मील
 - जल(%) ४.८७
जनसंख्या
 - २००९ अनुमान २२,६६६,००० (५१ वां)
 - जन घनत्व १९०/वर्ग किमी (५५ वां)
४९२/वर्ग मील
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) (पीपीपी) २००७ अनुमान
 - कुल $ ४० बिलियन (९५ वां)
 - प्रति व्यक्ति $१,७०० (२००८ अनु.) (१९१ वां)
मानव विकास सूचकांक  (१९९८) 0.७६६ (मध्यम) (७५ वां)
मुद्रा उत्तर कोरियाई वॉन (₩) (KPW)
समय मंडल कोरिया मानक समय (यूटीसी +९)
इंटरनेट टीएलडी .kp
दूरभाष कोड +८५०

उत्तर कोरिया, आधिकारिक रूप से कोरिया जनवादी लोकतांत्रिक गणराज्य (हंगुल: 조선 민주주의 인민 공화국, हांजा:朝鲜民主主义人民共和国) पूर्वी एशिया में कोरिया प्रायद्वीप के उत्तर में बसा हुआ देश है। देश की राजधानी और सबसे बड़ा शहर प्योंगयांग है। कोरिया प्रायद्वीप के 38 वां समानांतर पर बनाया गया कोरियाई सैन्यविहीन क्षेत्र उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच विभाजन रेखा के रूप में कार्य करता है। अमनोक नदी और तुमेन नदी उत्तर कोरिया और चीन के बीच सीमा का निर्धारण करती है, वहीं धुर उत्तर-पूर्वी छोर पर तुमेन नदी की एक शाखा रूस के साथ सीमा बनती है।

इतिहास[संपादित करें]

सन् १९०५ में रुसो-जापान युद्ध के बाद जापान द्वारा कब्जा किए जाने के पहले प्रायद्वीप पर कोरियाई साम्राज्य का शासन था। सन् १९४५ में द्वितीय विश्व युद्ध की समाप्ति के बाद यह सोवियत संघ और अमेरिका के कब्जे वाले क्षेत्रों में बांटा दिया गया। उत्तर कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र संघ की पर्यवेक्षण में सन् १९४८ में दक्षिण में हुए चुनाव में भाग लेने से इंकार कर दिया, जिसके परिणामस्वरूप दो कब्जे वाले क्षेत्रों में अलग कोरियाई सरकारों का गठन हुआ। उत्तर और दक्षिण कोरिया दोनों ही पूरे प्रायद्वीप पर संप्रभुता का दावा किया, जिसकी परिणति सन् १९५० में कोरियाई युद्ध के रूप में हुई। सन् 1953 में हुए युद्धविराम के बाद लड़ाई तो खत्म हो गई, लेकिन दोनों देश अभी भी आधिकारिक रूप से युद्धरत हैं, क्योंकि शांतिसंधि पर कभी हस्ताक्षर नहीं किए गए। दोनों देशों को सन् १९९१ में संयुक्त राष्ट्र में स्वीकार किया गया। २६ मई २००९ में उत्तर कोरिया ने एकतरफा युद्धविराम वापस ले लिया।