उज़्बेकिस्तान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
उज़्बेकिस्तान गणराज्य
O‘zbekiston Respublikasi
Ўзбекистон Республикаси
उज़्बेकिस्तान का ध्वज उज़्बेकिस्तान का कुल चिन्ह
ध्वज कुल चिन्ह
उज़्बेकिस्तान की स्थिति
राजधानी
(और सबसे बड़ा शहर)
ताशकंद
41°16′ N 69°13′ E
राजभाषा(एँ) उज़्बेक
सरकार अध्यक्षीय गणराज्य
 - राष्ट्रपति इस्लाम करीमोव
 - प्रधानमंत्री शौकत मिर्जियोयेव
स्वतंत्रता सोवियत संघ से 
 - गठन १७४७  
 - उज्बेक एसएसआर २७ अक्टूबर १९२४ 
 - घोषणा १ सितंबर १९९१ 
 - मान्यता ८ दिसंबर १९९१ 
 - पूर्ण २५ दिसंबर १९९१ 
क्षेत्रफल
 - कुल ४४७,४०० वर्ग किमी (५६ वां)
१७२,७४२ वर्ग मील
 - जल(%) ४.९
जनसंख्या
 - २००९ अनुमान २७,७२७,४३५ (४५ वां)
 - जन घनत्व ५९/वर्ग किमी (१३६ वां)
१५३/वर्ग मील
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) (पीपीपी) २००८ अनुमान
 - कुल $७१.५०१ बिलियन (-)
 - प्रति व्यक्ति $२,६२९ (-)
मानव विकास सूचकांक  (२००७) Green Arrow Up Darker.svg ०.७०२ (मध्यम) (११३ वां)
मुद्रा उज़्बेकिस्तानी सोम (O'zbekiston so'mi) (UZS)
समय मंडल UZT (यूटीसी +५)
 - ग्रीष्म (DST) आकलन नहीं (यूटीसी +५)
इंटरनेट टीएलडी .uz
दूरभाष कोड +९९८
बुखारियन अमीरात, कोकान्द खनाते, [ख्वार्जेम]].

एशिया के केन्द्रीय भाग में स्थित एक देश है जो चारो ओर से जमीन से घिरा है। इतना ही नहीं, इसके चहुँदिश के देश की खुद भी समुद्र तक कोई पहुँच नहीं है। इसके उत्तर में कज़ाख़िस्तान, पूरब में ताज़िकिस्तान दक्षिण में तुर्कमेनिस्तान और अफ़गानिस्तान स्थित है। यह 1991 तक सोवियत संघ का एक घटक था। उज़्बेकिस्तान के प्रमुख शहरों में राजधानी ताशकंत के अलावा समरकंद तथा बुख़ारा का नाम प्रमुखता से लिया जा सकता है। यहाँ के मूल निवासी मुख्यतः उज़्बेक नस्ल के हैं, जो बोलचाल में उज्बेक भाषा का प्रयोग करते हैं।

इतिहास[संपादित करें]

मानववास यहाँ पर ईसा के 2000 साल पहले से है। ऐसा माना जाता है कि आज के उज़्बेकों ने वहाँ पर पहले से बसे आर्यों को विस्थापित कर दिया। सन् 327 ईसापूर्व में सिकंदर जब विश्व विजय (जो वास्तव में फ़ारस विजय से ज्यादा अधिक नहीं थी) पर निकला तो यहाँ उसे बहुत प्रतिरोध का सामना करना पड़ा। उसने यहाँ की राजकुमारी रोक्साना से शादी भी की पर युद्ध में उसे बहुत फ़ायदा नहीं हुआ। सिकंदर के बाद ईरान के पार्थियन तथा सासानी साम्राज्य का अंग यह आठवीं सदी तक रहा। इसके बाद अरबों ने ख़ुरासान पर कब्जा कर लिया और क्षेत्र में इस्लाम का प्रचार हुआ।

नौंवी सदी में यह सामानी साम्राज्य का अंग बना। सामानियों ने पारसी धर्म त्यागकर सुन्नी इस्लाम को आत्मसात किया। चौदहवीं सदी के अंत में यह तब महत्वपूर्ण क्षेत्र बन गया जब यहाँ तैमूर लंग का उदय हुआ। तैमूर ने मध्य और पश्चिमी एशिया में अद्भुत सफ़लता पाई। तैमूर ने उस्मान (ऑटोमन) सम्राट को भी हरा दिया था। उन्नीसवीं सदी में यह बढ़ते हुए रूसी साम्राज्य और 1924 में सोवियत संघ का सदस्य का अंग बना। 1991 में इसने सोवियत संघ से आजादी हासिल की।

प्रांत और विभाग[संपादित करें]

उज़बेकिस्तान प्रशासनिक रूप से १२ प्रान्तों और एक स्वशासित गणतंत्र में बंटा हुआ है। इनके अलावा राजधानी ताशकंत को भी एक स्वतन्त्र शहर का दर्जा प्राप्त है। उज़बेक भाषा में प्रान्तों को कई अरब देशों और अफ़्ग़ानिस्तान की तरह विलायत बुलाया जाता है हालांकि इसका उज़बेक उच्चारण 'विलोयत' है। सभी प्रांत आगे जिलों में बंटे हुए हैं जिन्हें उज़बेक भाषा में 'तूमन' कहा जाता है। ध्यान दें कि यह तूमन शब्द मंगोल भाषा से लिया गया है और मध्यकालीन मंगोल साम्राज्य में यह सेना कि ईकाई हुआ करती थी। कुल मिलाकर पूरे देश में १६० तूमन हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]