मंगोलिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मंगोलिया
Monggol ulus.svg
Монгол улс
Mongol uls
Mongolia का ध्वज Mongolia का कुल चिन्ह
ध्वज कुल चिन्ह
राष्ट्रगान: "Монгол улсын төрийн дуулал"
मंगोलिया का राष्ट्रगान
Mongolia की स्थिति
राजधानी
(और सबसे बड़ा शहर)
उलान बतोर
47°55′ N 106°53′ E
राजभाषा(एँ) मंगोलियन
सरकार संसदीय गणतन्त्र
 - राष्ट्रपति साखियाजिन एल्बदोर्ज
 - प्रधानमंत्री सानजाजिन बायर
गठन  
 - मंगोल साम्राज्य का गठन 1206 
 - स्वतंत्रता की घोषणा (क्विंग साम्राज्य से) 29 दिसंबर 1911 
क्षेत्रफल
 - कुल 1,564,115.75 वर्ग किमी (19वां)
603,909 वर्ग मील
 - जल(%) 0.43
जनसंख्या
 - जुलाई 2007 अनुमान 2,951,786 (139वां)
 - 2000 जनगणना 2,407,500
 - जन घनत्व 1.7/वर्ग किमी (235वां)
4.4/वर्ग मील
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) (पीपीपी) 2008 अनुमान
 - कुल $9.399 बिलियन (-)
 - प्रति व्यक्ति $3,541 (-)
मानव विकास सूचकांक  (2007) Green Arrow Up Darker.svg 0.700 ({{{HDI_ref}}}) (114वां)
मुद्रा तोगोर्ग (MNT)
समय मंडल (यूटीसी +7 से +8)
इंटरनेट टीएलडी .mn
दूरभाष कोड +976

मंगोलिया (मंगोलियन: Монгол улс,) पूर्व और मध्य एशिया में एक भूमि से घिरा (लेंडलॉक) देश है। इसकी सीमाएं उत्तर में रूस, दक्षिण, पूर्वी और पश्चिमी में चीन से मिलती हैं। हालांकि, मंगोलिया की सीमा कज़ाख़िस्तान से नहीं मिलती, लेकिन इसकी सबसे पश्चिमी छोर कज़ाख़िस्तान के पूर्वी सिरे से केवल 24 मील (38 किमी) दूर है। देश की राजधानी और सबसे बड़ा शहर उलान बाटोर है, डहां देश की लगभग 38% जनसंख्या निवास करती है। मंगोलिया में संसदीय गणतंत्र है।

इतिहास[संपादित करें]

आज जिसे मंगोलिया कहा जाता है, कभी विभिन्न घुमंतू साम्राज्यों के द्वारा शासित किया गया, इन साम्राज्यों में शिंओग्नु, शियानबेई, रोऊरन, गोतुर्क और अन्य शामिल हैं। सन् 1206 में चंगेज खान द्वारा मंगोल साम्राज्य की स्थापना की गई। लेकिन युआन राजवंश के पतन के बाद मंगोल अपने पुराने रहन-सहन पर लौट आए। 16 वीं और 17 वीं शताब्दी में मंगोलिया तिब्बती बौद्ध धर्म के प्रभाव में आया। 17 वीं सदी के अंत में मंगोलिया के अधिकांश क्षेत्र में क्विंग राजवंश के शासनाधिन हो गया था। १९११ में किंग राजवंश के पतन के दौरान मंगोलिया ने स्वतंत्रता की घोषणा की, लेकिन १९२१ तक स्वतंत्रता को स्थापित करने और १९४५ तक अंतरराष्ट्रीय मान्यता हासिल करने के लिए संघर्ष करना पड़ा था। इसके नतीजे में देश मजबूत रूस और सोवियत प्रभाव में आया, १९२४ में मंगोलियाई जनवादी गणराज्य की घोषणा की गई और राजनीतिक रूप से मंगोलिया उस समय के सोवियत राजनीति का अनुपालन करने लगा। १९८९ में पूर्वी यूरोप में कम्युनिस्ट शासनों के टूटने के बाद, मंगोलिया में १९९० में लोकतांत्रिक क्रांति देखने को मिली, जिसकी वजह से बहु-दलीय व्यवस्था स्थापित हुई, १९९२ में नया संविधान बना और देश बाजार अर्थव्यवस्था की ओर अग्रसर हुआ।

सन्दर्भ[संपादित करें]