राजधानी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
लाल रंग में वह देश जिनकी राजधानियाँ उनके सब से बड़े सहर नहीं हैं।
██ तटवर्ती राजधानियाँ वाले देश ██ ग़ैर-तटवर्ती राजधानियाँ वाले देश ██ ग़ैर-तटवर्ती देश
██ एक से ज़्यादा राजधानियाँ वाले देश ██ देश जिनमें पहले एक से ज़्यादा राजधानियाँ थीं

राजधानी वह नगरपालिका होती है, जिसको किसी देश, मुल्क, प्रदेश, सूबे या ओर प्रशासकी क्षेत्र में सरकार की गद्दी के बतौर पहला रुतबा हासिल होता है। राजधानी मिसाली तौर पर एक सहर होता है, जहाँ संबंधित सरकार के दफ़्तर और सम्मेलन -टिकाने स्थित होते हैं और आम तौर पर अपने क़ानून या संविधान द्वारा निर्धारित होती है।

परिभाषाएँ[संपादित करें]

शब्द राजधानी संस्कृत से आया है। राजधानी आम तौर पर संघटक क्षेत्र का सब से बड़ा सहर होता है परन्तु लाज़िमी तौर पर नहीं।

अनोखे राजधानी इंतज़ाम[संपादित करें]

बहुत सारे सूबों की दो से ज़्यादा राजधानियाँ हैं और कुछ ऐसे भी हैं जिन की कोई राजधानी नहीं है।

  • चिली: चाहे देश का राशटरी महा-सम्मेलन बालपारायसो में होता है परन्तु राजधानी संतीयागो है।
  • चेक गणराज्य: पराग एक ही संवैधानिक राजधानी है। ब्रनो में देश की तीनों सर्व-उच्च अदालतों स्थित हैं जो इसको चेक अदालती शाखा की यथार्थ राजधानी बनाते हैं।
  • फ़िनलैंड: गर्मियाँ के दौरान पर राष्ट्रपति नानतली में कुलतारांता में निवास करता है और सरकार की सभी राष्ट्रपति बैठकों भी वहाँ ही होती हैं।
  • फ़्रांस: फ़्रांसीसी संविधान किसी भी सहर को राजधानी के तौर पर मान्यता नहीं देता। क़ानून मुताबिक़[1] पैरिस संसद के दोनों सदनों (राशटरी सभा और सैनेट) का टिकाना है लेकिन उनके सांझे महांसंमेलन "वरसेये के शाही-महल में होते हैं। संकट की घड़ी में संवैधानिक ताकतों किसी ओर सहर में बदली जा सकतीं हैं जिससे संसदों के टिकाने राशटरपती और मंत्री-मंडल वाले स्थानों पर ही रह सकें।

संदर्भ[संपादित करें]