आयाम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

किसी आवर्ती फलन में चर आयाम एक पूर्ण आवर्ती में इसके अधिकतम परिवर्तन का माप है। आयाम को विभिन्न परिभाषाओं से परिभाषित किया जा सकता है जो प्रत्येक इष्टतम मानों में अन्तर के परिमाण के फलन के रूप में होते हैं। पुराने कला को भी आयाम बोला जाता था।[1]

शाब्दिक परिभाषायें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. कनोप्प, कोन्राद; बगेमिह्ल, फ्रेडरिक (१९९६) (अंग्रेज़ी में). Theory of Functions Parts I and II [फलनों का सिद्धान्त भाग प्रथम और द्वितीय]. डोवर पब्लिकेशन्स. प॰ ३. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-486-69219-7.