मुमताज़ (अभिनेत्री)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मुमताज़
Mumtaz (actress).jpg
जन्म 31 जुलाई 1947 (1947-07-31) (आयु 74)
Mumbai, Maharashtra, India
नागरिकता Indian (1947-present)
व्यवसाय अभिनेत्री
कार्यकाल 1958–1977
जीवनसाथी मयूर माधवानी (वि॰ 1974)
बच्चे 2 (Natasha and Tanya)
संबंधी Shahrukh Askari (Brother)
Shahzat Askari (Brother)
Malika (Sister)
रंधावा (brother-in-law)
Shaad Randhawa (nephew)
फ़रदीन ख़ान (son-in-law)
फ़िरोज़ ख़ान (in-law)

मुमताज़ (अपनी शादी के बाद मुमताज़ माधवानी के नाम से जानी जाती हैं; जन्म: 31 जुलाई 1947) हिन्दी फ़िल्मों की एक अभिनेत्री हैं।[1] उन्होंने 1971 में खिलौना में अपने किरदार के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फिल्मफेयर पुरस्कार जीता। हालांकि उन्होंने छोटी सहायक भूमिकाओं के साथ शुरुआत की, बाद में उन्होंने तरक्की की और अपने समय के सभी शीर्ष अभिनेताओं के साथ मुख्य भूमिकाओं में काम किया। उन्हें 60 और 70 के दशक की सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्रियों और नर्तकियों में से एक के रूप में याद किया जाता है।[2]

व्यक्तिगत .जीवन[संपादित करें]

मुमताज़ का जन्म अब्दुल सलीम अस्करी (मेवे के विक्रेता) और शदी हबीब आगा के यहाँ हुआ था जो ईरान से थे। उनके जन्म के ठीक एक साल बाद उनका तलाक हो गया। उनकी छोटी बहन अभिनेता मल्लिका है जिनकी शादी पहलवान और भारतीय अभिनेता रंधावा से हुई थी - जो पहलवान और अभिनेता दारा सिंह के छोटे भाई थे।

फ़िल्मी सफर[संपादित करें]

मुमताज़ सोने की चिड़िया (1958) में एक बाल अभिनेत्री के रूप में दिखाई दीं। किशोरी के रूप में उन्होंने 1960 के दशक की शुरुआत में वल्लाह क्या बात है, स्त्री और सेहरा में अतिरिक्त अभिनेत्री के रूप में काम किया। वयस्क के रूप में, ए-ग्रेड फिल्मों में उनकी पहली भूमिका 1963 की गहरा दाग़ में थी। इसमें उन्होंने नायक की बहन की भूमिका निभाई थी। मुझे जीने दो जैसी सफल फिल्मों में उन्हें छोटी भूमिकाएँ मिलीं। बाद में, उन्होंने 16 एक्शन फिल्मों में मुख्य नायिका की भूमिका निभाई, जिसमें फ़ौलाद वीर भीमसेन, टार्ज़न कम्स टू देल्ही, सिकंदर-ए-आज़म, रूस्तम-ए-हिंद, राका, और डाकू मंगल सिंह, शामिल हैं।[3] इन सब में पहलवान दारा सिंह उनके साथ मुख्य भूमिका में थे और वह स्टंट-फिल्म नायिका के रूप में मानी जाने लगीं।[4]

वह राज खोसला की ब्लॉकबस्टर दो रास्ते (1969) थी, जिसने मुमताज़ को पूर्ण फिल्मी सितारा बना दिया। इसमें राजेश खन्ना ने अभिनय किया था। हालाँकि मुमताज़ की फिल्म में छोटी भूमिका थी, फिर भी निर्देशक राज खोसला ने उनके साथ चार गाने फिल्माए। 1969 में, राजेश खन्ना के साथ उनकी फिल्में दो रास्ते और बंधन, वर्ष की शीर्ष कमाई करने वाली फिल्म बनी थी। उन्होंने राजेन्द्र कुमार की ताँगेवाला में प्रमुख नायिका की भूमिका निभाई। शशि कपूर, जिन्होंने पहले सच्चा झूठा (1970) में उनके साथ काम करने से इनकार कर दिया था, अब वह चाहते थे कि वह चोर मचाये शोर (1974) में उनकी नायिका बनें। उन्होंने लोफर और झील के उस पार (1973) जैसी फिल्मों में प्रमुख नायिका के रूप में धर्मेन्द्र के साथ काम किया।

मुमताज ने फ़िरोज़ ख़ान के साथ अक्सर काम किया जिसमें हिट फिल्में मेला (1971), अपराध (1972) और नागिन शामिल हैं। राजेश खन्ना के साथ उनकी जोड़ी कुल 10 फिल्मों में सबसे सफल रही।[5] उन्होंने अपने परिवार पर ध्यान केन्द्रित करने के लिए फिल्म आईना (1977) के बाद फिल्मों में काम करना छोड़ दिया। उन्होंने 1990 में आँधियां से फिर वापसी की थी।

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

मुमताज ने 1974 में बिजनेसमैन मयूर माधवानी से शादी की। उनकी दो बेटियां हैं, जिनमें से एक नताशा ने 2006 में अभिनेता फिरोज खान के बेटे फरदीन खान से शादी की।

रिश्ते[संपादित करें]

शम्मी कपूर उससे प्यार करते थे और उससे शादी भी करना चाहते थे लेकिन मुमताज कम उम्र में अपना फिल्मी करियर छोड़ने के लिए तैयार नहीं थीं क्योंकि कपूर नहीं चाहते थे कि उनकी पत्नी शादी के बाद फिल्म उद्योग में काम करें।[6][7]

प्रमुख फिल्में[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म चरित्र टिप्पणी
1977 आईना शालिनी
1975 प्रेम कहानी कामिनी
1974 आप की कसम सुनीता भटनागर
1974 चोर मचाये शोर रेखा
1974 रोटी बिजली
1973 प्यार का रिश्ता
1973 बंधे हाथ माला
1973 लोफर अंजू
1973 झील के उस पार
1972 ताँगेवाला
1972 अपना देश
1972 रूप तेरा मस्ताना
1972 अपराध
1972 दुश्मन
1971 चाहत
1971 एक नारी एक ब्रह्मचारी नीना
1971 जवान मोहब्बत
1971 तेरे मेरे सपने
1971 कठपुतली निशा
1971 हरे रामा हरे कृष्णा शांति
1970 सच्चा झूठा मीना/रीटा
1970 खिलौना चाँद
1970 हिम्मत माल्ती
1970 भाई भाई बिजली
1970 माँ और ममता मैरी
1969 बंधन
1969 जिगरी दोस्त शोभा एन दास
1969 दो रास्ते रीना
1968 गौरी गीता
1968 मेरे हमदम मेरे दोस्त मीना
1968 ब्रह्मचारी रूपा शर्मा
1967 बूँद जो बन गयी मोती शेफाली
1967 राम और श्याम शान्ता
1967 पत्थर के सनम मीना
1967 चन्दन का पालना
1967 हमराज़ शबनम
1966 दादी माँ
1966 लड़का लड़की आशा
1966 पति पत्नी
1966 सावन की घटा
1966 ये रात फिर ना आयेगी रीटा
1966 प्यार किये जा
1966 सूरज
1965 बेदाग
1965 सिकन्दर-ए-आज़म
1965 बहू बेटी सावित्री
1965 खानदान
1965 मेरे सनम
1963 मुझे जीने दो
1962 मैं शादी करने चला
1962 डॉक्टर विद्या

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "सत्तर के दशक की रोल मॉडल मुमताज का जन्मदिन है आज". पत्रिका समाचार समूह. 31 जुलाई 2014. मूल से 8 अगस्त 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 जुलाई 2014.
  2. "शम्मी कपूर ने मुमताज को दिया था शादी का ऑफर, राजेश खन्ना के साथ जोड़ी थी सुपरहिट". एनडीटीवी इंडिया. 31 जुलाई 2017. मूल से 30 मई 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 मार्च 2019.
  3. "और मुमताज ने अमिताभ बच्चन को गिफ्ट कर दी थी आलीशान मर्सिडिज़ कार". जनसत्ता. 31 जुलाई 2018. मूल से 31 जुलाई 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 मार्च 2019.
  4. "Retro Bollywood...और जब मौत से लड़ गईं मुमताज, देखें वीडियो". पत्रिका. 31 अगस्त 2017. अभिगमन तिथि 18 मार्च 2019.
  5. "B'Day: जब मुमताज के शादी करने से नाराज हो गये थे राजेश खन्‍ना". प्रभात खबर. 31 जुलाई 2018. मूल से 31 जुलाई 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 मार्च 2019.
  6. "Men Actress Mumtaz loved and lost! - Times of India". The Times of India.
  7. "Mumtaz turns 70: Did you know Shammi Kapoor and Jeetendra were in love with the actor?". Hindustan Times. 31 July 2017.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]