लोफर (1973 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लोफर
लोफर.jpg
लोफर का पोस्टर
निर्देशक ए॰ भीमसिंह
निर्माता आर॰ सी॰ कुमार
लेखक जगदीश कनवाल (संवाद)
पटकथा नबेन्दु घोष
अभिनेता धर्मेन्द्र,
मुमताज़,
ओम प्रकाश,
प्रेमनाथ
संगीतकार लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1973
देश भारत
भाषा हिन्दी

लोफर 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसका निर्देशन ए॰ भीमसिंह द्वारा किया गया और इसमें धर्मेन्द्र, मुमताज़, के एन सिंह, पदमा खन्ना, आदि हैं। जारी होने पर ये "हिट" रही थी। सदाबहार गीत "आज मौसम बड़ा बेईमान है" लोकप्रिय रहा था और 2001 की फिल्म मानसून वैडिंग में इस्तेमाल किया गया।[1]

संक्षेप[संपादित करें]

रंजीत (धर्मेन्द्र) एक लोफर और पॉकेटमार है, जो एक गिरोह के लिए चोरी का काम करता है। उसे एक लड़की, अंजु (मुमताज़) से प्यार हो जाता है, पर उसे पता नहीं होता है कि अंजु दुश्मन गिरोह के लिए उसकी जासूसी कर रही है। गिरोह के लोग रंजीत को जाल में फँसाने के लिए योजना बनाते हैं, लेकिन अंजु उसे पहले ही सचेत कर देती है और वो वहाँ से भाग जाता है। रंजीत अपने एक दोस्त की मदद भी करता है, जो अपनी बेटी को कहे रहता है कि वो काफी अमीर व्यापारी है।

वहीं रंजीत को कुछ गहने दुश्मन गिरोह के चुराने से पहले चुराने होते हैं। वो अपने एक चलने वाले खिलौने, जो कुत्ते की तरह दिखता है, के सहारे गहने चुराने की कोशिश करता है। वहीं अंजु अपने गिरोह के लोगों को बोलती है कि अब वो रंजीत की जासूसी नहीं करेगी, क्योंकि अब उसे भी रंजीत से प्यार हो गया है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत आनंद बख्शी द्वारा लिखित; सारा संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."मोतियों की लड़ी हूँ मैं"आशा भोंसले4:25
2."कहाँ है वो दीवाना"आशा भोंसले5:42
3."कोई शहरी बाबू"आशा भोंसले4:33
4."दुनिया में तेरा है बड़ा नाम"महेन्द्र कपूर5:52
5."मैं तेरे इश्क में"लता मंगेशकर4:46
6."आज मौसम बड़ा बेईमान है"मोहम्मद रफ़ी6:14

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Birthday Special: जाने कौन से हैं मोहम्मद रफ़ी के मशहूर गाने". अभिगमन तिथि 14 जनवरी 2019.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]