फरहान अख्तर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
फरहान अख्तर
FarhanAkhtar.jpg
जन्म 9 जनवरी 1974 (1974-01-09) (आयु 43)
मुम्बई, भारत
व्यवसाय अभिनेता, निर्देशक, निर्माता, पार्शव गायक, गीतकार,
सक्रिय वर्ष 1991—वर्तमान
जीवनसाथी अधुना अख्तर
बच्चे अकीरा अख्तर, शाकया अख्तर
माता-पिता जावेद जान निसार अख्तर
हनी ईरानी
पुरस्कार फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार

फरहान अख्तर (उर्दू: فرحان اختر, जन्म - 9 जनवरी 1974), एक भारतीय फ़िल्म निर्माता, पटकथा लेखक, अभिनेता, पार्श्वगायक, गीतकार, फ़िल्म निर्माता और टीवी होस्ट है।

निर्देशक के रूप में उनकी पहली फ़िल्म (दिल चाहता है, 2001) की काफी प्रशंसा की गई थी और तभी से एक खास दर्शक वर्ग में उनकी अलग पहचान है। आनंद सुरापुर की फ़िल्म, द फकीर ऑफ वेनिस (2007)[1][2][3] और रॉक ऑन!! (2008) से उन्होंने अपने अभिनय करियर की शुरुआत की। 2008

निजी जीवन और पृष्ठभूमि[संपादित करें]

फरहान अख्तर मुंबई के पटकथा लेखक जावेद अख्तर और हनी ईरानी के घर पैदा हुए. उनका जन्म एक ईरानी-मुस्लिम परिवार में हुआ। उन्होंने जुहू के मानिक जी कूपर स्कूल में स्कूली शिक्षा पायी और बाद में कामर्स में डिग्री के लिए एचआर कॉलेज में दाखिला लिया, हालांकि दूसरे साल उन्होंने उसे छोड़ दिया। [1]

अभिनेत्री शबाना आज़मी उनकी सौतेली माँ है। वह उर्दू कवि जान निसार अख्तर के पोते और बॉलीवुड की फ़िल्म निर्देशक और नृत्य कोरियोग्राफर फराह खान के चचेरे भाई हैं। उसकी बहन, जोया अख्तर ने हाल में ही लक बाइ चांस फ़िल्म से निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखा, जिसमें फरहान मुख्य भूमिका में थे। उनका विवाह एक हेयर स्टाइलिस्ट अधुना भावनी अख्तर के साथ हुआ, जो अपने भाई के साथ बी ब्लंट सैलून चलाती हैं। उनकी दो बेटियां-अकीरा और शाक्य हैं। फरहान और रितिक रोशन बचपन से ही अच्छे दोस्त हैं।

करियर[संपादित करें]

फरहान अख्तर ने अपना करियर 17 साल की उम्र में लमहे (1991) जैसी फ़िल्मों के लिए सिनेमाटोग्राफर-निर्देशक मनमोहन सिंह के साथ प्रशिक्षु के रूप में शुरू किया था। 1997 में फ़िल्म हिमालय पुत्र (1997) में निर्देशक पंकज पराशर के सहायक के तौर पर काम करने के बाद तीन साल के लिए एक टेलीविजन प्रोडक्शन हाउस को सेवा देनेवाले फरहान विभिन्न तरह के कार्य कर रहे हैं।[4]

उन्हों‍ने 2001 की हिट फ़िल्म- दिल चाहता है के साथ हिंदी सिनेमा में लेखन और निर्देशन करियर की शुरुआत की, जिसका निर्माण एक्सेल एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड (Excel Entertainment Pvt. Ltd) ने किया, जिसका निर्माण 1999 में उन्होंने रितेश सिदवानी के साथ किया था।[3][5] यह फ़िल्म तीन दोस्तों (आमिर खान, सैफ अली खान और अक्षय खन्ना ने इसमें अभिनय किया) की कहानी है, जो हाल ही में कॉलेज से स्नातक डिग्री लेते हैं और फ़िल्म‍ प्यार और दोस्ती के इर्द-गिर्द घूमती है। इसे समीक्षकों ने तो सराहा ही, व्यावसायिक कामयाबी भी मिली, खासकर युवा पीढ़ी में यह काफी लोकप्रिय हुई। इस फ़िल्म को विभिन्न अवार्ड समारोहों में सर्वश्रेष्ठ पटकथा, निर्देशन और फ़िल्म सहित कई नामांकन मिले। फ़िल्म को सर्वश्रेष्ठ हिंदी फ़िल्म का उस साल का राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार मिला। [6]

अख्तर फिर अपनी अगली परियोजना, ऋतिक रोशन और प्रीति जिंटा अभिनीत फ़िल्म लक्ष्य (2004), के निर्माण में जुटे, जो उन लक्ष्यहीन नौजवानों के बारे में थी, जो आखिर में अपने लिए एक लक्ष्य तय करने में कामयाब होते हैं। हालांकि फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर कामयाबी हासिल नहीं की, पर बहुत सारे समीक्षकों ने प्रशंसा की।[संदिग्ध ][कृपया उद्धरण जोड़ें] फ़िल्म की स्क्रिप्ट उनके पिता जावेद अख्तर ने लिखी थी। इस बीच, उन्होंने गुरिंदर चड्ढा की 2004 की हॉलीवुड फ़िल्म ब्राइड एंड प्रिज्युडिस के लिए भी गीत लिखे.

उसके बाद उन्होंने 1978 की अमिताभ बच्चन की फ़िल्म डॉन का रीमेक [[डॉन- द चेज़ विगिंस अगेन|डॉन - द चेज़ विगिंस अगेन]] शुरू किया, जिसमें मुख्य भूमिका में शाहरुख खान थे। 20 अक्टूबर 2006 को फ़िल्म रिलीज हुई। हालांकि समीक्षकों ने इसकी काफी आलोचना की, पर यह बॉक्स ऑफिस पर खूब कामयाब रही। इसने 50 करोड़ रुपए से अधिक का कारोबार तो किया ही, साथ में साल की पांचवीं सबसे हिट फ़िल्म भी रही। [7] 2007 में उन्होंने फ़िल्म हनीमून ट्रैवल्स प्राइवेट लिमिटेड का निर्माण किया, जिसने बाक्स ऑफिस पर काफी अच्छा प्रदर्शन किया।[8]

2007 में उन्होंने HIV के कलंक और रोगी के प्रति परिवारवालों की सहानुभुति की जरूरत पर 12 मिनट की लघु फ़िल्म, पोजिटिव का निर्देशन किया। मुंबई में इसकी शूटिंग हुई और यह 'एडस जागो रे'(AIDS Awake) की चार लघु फ़िल्मों की सिरीज का एक हिस्सा थी, जिसका निर्देशन मीरा नायर, संतोष सिवान, विशाल भारद्वाज और फरहान अख्तर ने किया। यह सिरीज मीराबाई फ़िल्म्स, स्वयंसेवी संगठन आवाहन तथा बिल एंड मिलिंडा गेटस फाउंडेशन की संयुक्त पहल का नतीजा थी।[9] इस फ़िल्म में बोमन ईरानी, शबाना आजमी और एक नए अभिनेता अर्जुन माथुर ने भुमिकाएं निभाईं.[10]

2008 में, अख्तर ने रॉक ऑन!! से अपने अभिनय कला की शुरुआत की। इस फ़िल्म को समीक्षकों ने तो सराहा ही, बॉक्स आफिस पर, खासकर महानगरों में यह उम्मीद से ज्यादा चली.[11] वे निर्देशन के क्षेत्र में पहला कदम रखने वाली अपनी बहन जोया की फ़िल्म लक बाइ चांस में लीड पुरुष अभिनेता के रूप में दिखे. वह आगामी तीन फ़िल्मों: कार्तिक कॉलिंग कार्तिक, ध्रुव और गुलेल (इनमें केवल उनका अभिनय है, निर्माण नहीं) में भी दिखेंगे.

अख्तर ने गायन के क्षेत्र में पहला कदम रॉक ऑन!! से रखा और फ़िल्म के ज्यादातर गाने गाये. यहां तक कि फ़िल्म ब्लू में भी वह गाने वाले थे, जिसे संगीत से ए आर रहमान ने सजाया है।[12] हालांकि कार्तिक कॉलिंग कार्तिक की शूटिंग में व्यस्त रहने के कारण समय नहीं निकाल सके।

वह डांस रियलिटी शो नच बलिये (2005) के पहले सत्र में एक जज के रूप में टेलीविजन के कुछ शो और फेमिना मिस इंडिया (2002 में) में जज के रूप में दिखे. वे NDTV इमेजिन पर अपने शो ओए!, इट इज फ्राइडे के लिए टीवी शो मेजबान के भी रूप में दिखे.It's Friday![13]

फ़िल्मोग्राफी[संपादित करें]

निर्देशक[संपादित करें]

अभिनेता[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म भाषा भूमिका नोट्स
२००७ द फकीर ऑफ़ वेनिस[14] हिंदी ऐडी कांट्रेक्टर
२००८ रॉक ऑन!! हिंदी आदित्य श्रॉफ विजेता, फ़िल्मफेयर बेस्ट मेल डेब्यू अवार्ड
२००९ लक बाइ चांस हिंदी विक्रम जय सिंह
२०१० कार्तिक कॉलिंग कार्तिक हिंदी कार्तिक नारायण 26 फ़रवरी 2010 को रिलीज़
ध्रुव हिंदी निर्माणाधीन
गुलेल हिंदी घोषित
२०११ जिंदगी ना मिलेगी दोबारा हिंदी ईमरान
२०१३ बॉम्बे टॉकीज
भाग मिल्खा भाग मिल्खा सिंह
२०१४ शादी के साइड इफेक्ट्स सिद्धार्थ रॉय
२०१५ दिल धड़कने दो सनी गिल
२०१६ वजीर दानिश अली
रॉक ऑन!! 2 आदित्य श्रॉफ

निर्माता[संपादित करें]

लेखक[संपादित करें]

पार्श्व गायक[संपादित करें]

पटकथा लेखक[संपादित करें]

गीतकार[संपादित करें]

पुरस्कार[संपादित करें]

** 2002 - जीता (दिल चाहता है)

** 2009 - जीता (रॉक ऑन!!)

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. ऐपल ऑफ़ द हिप अर्बन ट्री - ऐज़ मेक्स हिस डेब्यू ऐज़ ऐन ऐक्टर तेहेल्का, खंड 5, अंक 35, 6 सितम्बर 2008.
  2. फरहान अख्तर - नई भूमिकाओं में entertainment.oneindia.in, 27 सितम्बर 2007.
  3. आधिकारिक प्रोफ़ाइल और फिल्मोग्राफी एक्सेल एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड.
  4. फरहान अख्तर की जीवनी.
  5. फरहान अख्तर लिवमिंट, 30 अगस्त. 2008.
  6. "Lagaan sweeps national film awards". Times of India. 2002-07-28. "Farhan Akhtar's Dil Chahta Hai won the award for best feature film in Hindi" 
  7. "Box Office 2006". BoxOffice India. Archived from the original on 2012-05-25. http://archive.is/sweZ. अभिगमन तिथि: 2009-01-27. 
  8. "Box Office 2007". BoxOffice India. Archived from the original on 2012-07-30. http://archive.is/QUlN. अभिगमन तिथि: 2009-01-27. 
  9. मीरा नायेर, फरहान अख्तर AIDS पर फिल्म बनाते हुए रीडिफ.कॉम, मूवीज, 22 जनवरी 2007.
  10. HIV पर फरहान अख्तर की सकारात्मक दृष्टिकोण सिफ़ी, न्यूज़, 18 अक्टूबर 2007.
  11. "Box Office 2008". BoxOffice India. Archived from the original on 2012-07-22. http://archive.is/ZtZP. अभिगमन तिथि: 2009-01-27. 
  12. [1]
  13. "Farhan Akhtar to dabble in television production now". द हिन्दू. 2008-11-26. http://www.hindu.com/thehindu/holnus/009200811260904.htm. अभिगमन तिथि: 2009-01-27. 
  14. The Fakir of Venice इंटरनेट मूवी डेटाबेस पर

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]