अभिषेक बच्चन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
P culture yellow.png
अभिषेक बच्चन
जन्म (1976-02-05) फ़रवरी 5, 1976 (आयु 41 वर्ष)
मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
व्यवसाय अभिनेता
सक्रिय वर्ष 2000- अबतक
जीवनसंगी ऐश्वर्या राय (2007 - अबतक)
संतान 1

अभिषेक बच्चन (अंग्रेज़ी: अभिषेक बच्चन) ५ फ़रवरी १९७६) को महाराष्ट्र के मुंबई में जन्मे, एक पुरस्कार विजेता भारतीय अभिनेता हैं। वह भारतीय अभिनेता अमिताभ बच्चन और जया बच्चन के बेटे हैं। उनकी पत्नी पूर्व मिस वर्ल्ड एवं अभिनेत्री ऐश्वर्या राय हैं।

बच्चन ने अपने अभिनय कैरियर की शुरुआत जे पि दत्ता की रिफ्यूजी (२०००) से की. उसके बाद उनके हिस्से में केवल वे फिल्में आयीं जो बॉक्स ऑफिस पर नहीं चलीं. इसके बाद २००४ में उन्होंने हिट और एक प्रशंसात्मक फ़िल्मों धूम और युवा में प्रदर्शन किया। उत्तरवर्ती में उनके प्रदर्शन की काफी सराहना हुई जिसके लिये उन्हें कई पुरस्कार मिले, जिसमें सर्वश्रेठ सहायक अभिनेता के लिये उनका पहला फ़िल्म फेयर पुरस्कार शामिल है। यह पुरस्कार उन्होने दो साल लगातार जीता. तब से, बच्चन की फिल्मो व्यावसायिक तौर पर सफल और समीक्षकों की कसौटी पर सही रही हैं जिसने उन्हें इस उद्योग का प्रमुख अभिनेता बना दिया है। अभिषेक बच्हन को पहला नेशनल फिल्म अवार्ड बतुर निर्माता "पा" फिल्म क लिए मिला। अभिषेक बच्हन क पिता अमिताभ बच्हन और माता जया बच्हन भी फ़िल्मी जगत के प्रसिद्ध अभिनेता और अभिनेत्री रह चुके है।

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

अभिषेक बच्चन बॉलीवुड के सुपर स्टार अमिताभ बच्चन और अभिनेत्री से राजनेत्री बनी जया भादुड़ी के बेटे हैं, उनकी बड़ी बहन श्वेता बच्चन -नंदा (१९७४ को जन्मी) हैं। उनके दादा हरिवंश राय बच्चन उर्दू और हिंदी साहित्य के एक प्रसिद्ध कवि थे। अभिषेक का पैतृक मूल नाम श्रीवास्तव है, जबकि बच्चन उनके दादाजी का तखल्लुस था। फ़िर भी जब उनके पिता अमिताभ ने फिल्मो में प्रवेश किया तो उन्होने अपने पिता के तखल्लुस को अपनाया. उनके पास उनकी दादी तेजी की तरफ़ से पंजाबी विरासत थी तथा उनकी माँ की तऱफ से बंगाली संस्कार मिले.

अभिषेक बचपन में डिस्लेक्सिक थे, जिससे वे बाद में उबर गये।[1] उन्होने मुंबई के जमनाबाई नरसी स्कूल और बॉम्बे स्कॉटिश स्कूल, नई दिल्ली के वसंत विहार के माडर्न स्कूल और स्विट्ज़रलैंड के एग्लों कॉलेज से पढायी की. फिर वह संयुक्त राज्य अमेरिका के बोस्टन विश्वविद्यालय में पढने गए पर जब उनके पिता की कंपनी ऐ बी सी एल संकट में थी तब बीच में ही उन्होंने पढ़ाई छोड़ कर अभिनय को अपना लिया।

कैरिअर[संपादित करें]

अभिषेक ने अपने कैरियर की शुरुआत जेपी दत्ता की साधारणतया सफल फिल्म रिफ्यूजी से करीना कपूर के साथ २००० में की, परन्तु सफलता करीना को मिली[2] अगले चार साल की अवधि में बच्चन ने कई फिल्में बिना किसी बड़ी बॉक्स ऑफिस की सफलता के की, जैसे की अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय के साथ कुछ ना कहो वर्ष २००४ उनके लिए एक अच्छा वर्ष था। मणिरत्नम की युवा में उनके प्रदर्शन ने उनकी अभिनय क्षमता को साबित किया।[3] उसी साल, उन्होंने धूम में अभिनय किया जो उनकी पहली बड़ी हिट थी[4]. २००५ में, उन्होने चार लगातार हिट फिल्में: बंटी और बबली, सरकार', दस और ब्लाफ़मास्टर दीं[5]. उन्होने अपना दूसरा फ़िल्म फेयर पुरस्कार सरकार में अभिनय के लिये सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता वर्ग में जीता. बच्चन को पहली बार सर्वश्रेठ अभिनेता वर्ग में फ़िल्म फेयर पुरस्कार के लिये नामांकित किया गया।

२००६ में उनकी पहली फ़िल्म कभी अलविदा न कहना" (2006) थी जो साल का सबसे ज्यादा कारोबार करने वाली फ़िल्म थी[6]. उन्होने मणि रत्नम के स्टेज शो नेत्रू, इंद्रु, नाले में कई अन्य कलाकारों के साथ काम किया। उनकी दूसरी फ़िल्म उमराव जान बॉक्स ऑफिस पर अच्छा करने में विफल रही और उनके और ऐश्वर्या राय के सम्बंधों की अफवाह उठी. उनकी तीसरी फ़िल्म धूम 2 थी जो सफल फ़िल्म धूम की उत्तर-कृति थी। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर बहुत अच्छा किया, परन्तु सफलता का श्रेय पिछली फ़िल्म की तरह खलनायक बने ऋतिक रोशन को मिला[7].

2007 में उनकी पहली फ़िल्म गुरु थी। उनके प्रदर्शन की काफी सराहना हुई और यह उनकी पहली एकल हिट फिल्म साबित हुई<[8]. मई २००७ में उन्होंने कई सितारों वाली शूटआउट एट लोखंडवाला में लघु भूमिका की. यह फिल्म काफी सफल रही[9]. उनकी अगली फ़िल्म झूम बराबर झूम जून २००७ में प्रदर्शित हुई. भारत में यह फ़िल्म असफल रही[10], पर विदेशो में खासकर U.K.[11] में सफल रही. यद्यपि फ़िल्म ने मिश्रित समीक्षा पायी, बच्चन ने फ़िल्म में अपने प्रदर्शन से काफी सराहना अर्जित की[12].

अभिषेक बच्चन अपने पिता की कंपनी (पूर्व में ऐ बी सी एल, अब ऐ बी लिमिटेड) के कार्यात्मक और प्रशासनिक संचालन में शामिल रहे है। यह माना जाता है की जब उनके पिता अपने सबसे बुरे दिन का सामना कर रहे थे तो अभिषेक इसके पुनरोद्धार के लिए पुरी तरह सक्रिय थे।

२००८ की गर्मियों में अभिषेक बच्चन ने प्रीती जिंटा और रितेश देशमुख के संग अविस्मरनीय टूर पर अपने पिता अमिताभ बच्चन और पत्नी ऐशवर्या राय बच्चन का साथ दिया. टूर के प्रथम भाग में USA, कनाडा, लंदन और त्रिनिनाद का दौरा किया गया। टूर का द्वितीय भाग इस बर्ष २००८ के अंत में होंने की उम्मीद है। अमिताभ की कंपनी एबी कार्प लिमिटेड ने विजक्राफ्ट इंटरनेशनल इंटरटेन्मेंट प्राइवेट लिमिटेड के साथ मिलकर इसका आयोजन किया है[13]. इस टूर की टिकटें लगभग सभी जगहों पर पूर्णतः बिक जाने की वजह से यह टूर काफी सफल रहा.

निजी जीवन[संपादित करें]

[[चित्‎|thumb|right|बच्चन अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय बच्चन के साथ आइफा पुरस्कार (२००७).]]

अभिषेक बच्चन की मंगनी पहले करिश्मा कपूर के साथ हुई थी। दोनों ने अपनी मंगनी अमिताभ बच्चन के 60वें जन्मदिन के अवसर पर अक्टूबर 2002 में की थी[14]. यह मंगनी 2003 के जनवरी में टूट गई[15]. गॉसिप कोलम बालों ने बच्चन का नाम उद्योग के कई चेहरों के साथ जोड़ा, पर उन्होंने मजबूती से किसी भी रोमांस की अपवाह का खंडन किया।

संबंधों की बहुत सी अटकलें के बाद, उनकी सगाई ऐश्वर्या राय के साथ होने की घोषणा १४ जनवरी२००७ को की गई। बाद में अमिताभ बच्चन ने इस घोषणा की पुष्टि की[16]. बच्चन और राय ने २० अप्रैल२००७ को अपनी पत्नी के दक्षिण भारतीयबंट समुदाय के पारंपरिक हिंदू रिती - रिवाज से विवाह किया। बाद में सांकेतिक उत्तर भारतीय और बंगाली संस्कारों का भी निर्वाहन किया गया .विवाह जुहू, मुम्बई स्थित बच्चन के आवास प्रतीक्षा में एक निजी समारोह में किया गया। हालाकि शादी बच्चन और राय परिवार और उनके दोस्तों के लिए एक निजी समारोह था पर मीडिया सहभागिता ने इसे राष्ट्रीय सुर्खियां बना दिया.

बच्चन की दादी तेजी बच्चन का २१ दिसम्बर २००७ को देहांत हो गया[17].

फिल्मोग्राफी[संपादित करें]

साल फिल्म भूमिका नोट्स
२००० रिफ्यूजी रिफ्यूजी सर्वश्रेष्ठ नवोदित अभिनेता का फ़िल्मफेअर पुरस्कार के लिये मनोनित
ढाई अक्षर प्रेम के करण खन्ना
तेरा जादू चल गया कबीर श्रीवास्तव
२००१ बस इतना सा ख्वाब है सूरजचंद श्रीवास्तव
२००२ हाँ मैंने भी प्यार किया शिव कपूर
शरारत राहुल खन्ना
ओम जय जगदीश जगदीश बत्रा
देश अंजान
२००३ मैं प्रेम की दीवानी हूँ प्रेम कुमार फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार के लिये मनोनित
मुंबई से आया मेरा दोस्त कांजी
कुछ ना कहो राज
ज़मीन एसीपी जयदीप "जय" राय
एल ओ सी कारगिल लेफ्टिनेंट विक्रम बत्रा
२००४ रन सिद्धार्थ
युवा लल्लन सिंह फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार के विजेता
हम तुम समीर अतिथि उपस्थिति
धूम एसीपी जय दीक्षित
फिर मिलेंगे तरुण आनंद
रख्त: वॉट इफ यू कैन सी द फ्यूचर मानव अतिथि उपस्थिति (आइटम नंबर
नाच अभिनव
२००५ बंटी और बबली राकेश त्रिवेदी / बंटी फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार के लिये मनोनित
सरकार शंकर नागरे फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार के विजेता
दस शशांक धीर
अन्तर महल बृज भूषण
सलाम नमस्ते डॉ॰ विजय कुमार / नेरेटर विशेष उपस्थिति
होम डिलीवरी: आपको... घर तक पिज्जेरिया में ग्राहक विशेष उपस्थिति
एक अजनबी अंगरक्षक विशेष उपस्थिति
नील एन निक्की बार में आदमी विशेष उपस्थिति
ब्लफ्फमास्टर राय कपूर
२००६ अलग गीत सबसे अलग में विशेष उपस्तिथि
कभी अलविदा न कहना ऋषि तलवार फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार के विजेता
लगे रहो मुन्ना भाई सनी खुराना विशेष उपस्थिति
उमराव जान नवाब सुल्तान खान
धूम 2 एसीपी जय दीक्षित
२००७ गुरु गुरुकांत के. देसाई फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार के लिये मनोनित
शूट आउट एट लोखंडवाला अभिषेक महात्रे विशेष उपस्थिति
झूम बराबर झूम रिक्की ठुकराल
राम गोपाल वर्मा की आग जिप्सी गायक विशेष उपस्थिति
लागा चुनरी में दाग़ रोहन वर्मा विस्तारित कामो
ओम शांति ओम विशेष उपस्थिति
२००८ सरकार राज शंकर नागरे विमोचन
मिशन इस्तांबुल विशेष उपस्थिति
द्रोण आदित्य / द्रोण
दोस्ताना समीर नबंबर १४, २००८ को जारी होगी
२००९ पा Amol Arte
दिल्ली ६ रोशन मेहरा जनवरी २३, २००९ को जारी होगी
२०१० रावण Beera Munda
Jhootha Hi Sahi
खेलें हम जी जान से सूर्य सेन
२०११ खेल नील मेनन
दम मारो दम एसीपी विष्णु कामथ
Bbuddah... Hoga Terra Baap
२०१२ खिलाड़ियों चार्ली
बोल बच्चन अब्बास अली
२०१३ नौटंकी साला!
धूम 3 एसीपी जय दीक्षित
२०१४ हैप्पी न्यू ईयर नंदू भिड़े
The Shaukeens
२०१५ शमिताभ
सब ठीक हैं इंदर भल्ला
२०१६ हाउसफुल 3 बंटी

यह भी देखिए[संपादित करें]

साँचा:S-awards{{s-bef|before=कल हो न होके लिये
सैफ अली खान

फिल्मफेयर पुरस्कार
सर्वश्रेठ सहायक अभिनेता
युवा के लिये

२००५
उत्तराधिकारी
सरकार के लिये
अभिषेक बच्चन
पूर्वाधिकारी
युवा के लिये
अभिषेक बच्चन
सर्वश्रेठ सहायक अभिनेता
सरकार के लिये

२००६
उत्तराधिकारी
कभी अलविदा ना कहना के लिये
अभिषेक बच्चन
पूर्वाधिकारी
सरकार के लिये
अभिषेक बच्चन
सर्वश्रेठ सहायक अभिनेता
कभी अलविदा ना कहना के लिये

२००७

{{s-aft|after=लाईफ इन अ... मैटरो के लिये
इरफान खान

सन्दर्भ[संपादित करें]

विदेश लिंक्स[संपादित करें]