झाझा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
झाझा
—  शहर  —
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य बिहार
महापौर
सांसद चिराग पासवान
जनसंख्या ३६,४२४ (२००१ के अनुसार )
आधिकारिक जालस्थल: jamui.bih.nic.in

निर्देशांक: 24°46′01″N 86°22′34″E / 24.767°N 86.376°E / 24.767; 86.376

झाझा भारत के बिहार प्रान्त का एक शहर एवं प्रसिद्ध रेलवे जंकशन है। यह जमुई जिले में स्थित है। इसके दोनों ओर साखू के जंगल दिखाई पड़ते हैं। पहाड़ियों से घिरे होने के कारण यहाँ की जलवायु विषम है और ग्रीष्म ऋतु में भयंकर गर्मी पड़ती है।[1][2]

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

झाझा में यातायात का मुख्य साधन रेलवे स्टेशन है। झाझा रेलवे स्टेशन काफी मशहूर रेलवे स्टेशन है यहां से ईएमयू डीएमयू एक्सप्रेस आदि गाड़ियां चलती है।

आदर्श स्थल[संपादित करें]

बिहार राज्य के झाझा (जमुई) में अनेकों आदर्श स्थल है। जो देखने और घूमने लायक है जो निम्नलिखित हैं:

1. झाझा रेलवे स्टेशन
2. मैन दुर्गा मंदिर झाझा
3. बसंती दुर्गा मंदिर झाझा(पुराणी बाजार)
4. सनिदेव मंदिर झाझा(पुराणी बाजार)
5. हनुमान मंदिर झाझा(पुराणी बाजार)
6. यक्षराज स्थान
7. संतजोसेफ स्कूल और पार्क
8. डी एस ऐम कॉलेज और बड़ी पुस्तकालय
9. चंदवारी मैदान
10. नागी डेम
11. नकटी डेम
12. पर्मनिया डेम
13. ढिवी नदी परासी(कभी न सुखनेवाली नदी)
14. पंचभुर मेला15 जनबरी(कोडाडीह)
15. शिव मंदिर चरघरा
16. बरमसिया गाँव(बिख्यात मूर्तिकार, कुम्हार और तांत्रिक)
17. झाझा बाजार
18. कर्पूरी स्मारक
19. गाँधी स्मारक चौक
20. अंबेदकर स्मारक चौक
21. विशाल पार्क (पुराणी बाजार)
22. सिमुलतला आवासीय विद्यालय (सर्बाधिक रिजल्ट टोपर सहित)
23. आजाद युवा क्लब चरघरा (एक अनूठा क्लब जहाँ खेल के साथ-साथ युद्ध स्तर पर पढ़ाई होती है)
24. शैर गांव की खेती पूरे झाझा में मशहूर है जहां हमेशा खेती होती है । इस गांव के बगल में उलाई नदी है जोकि झाझा की प्रसिद्ध नदी है।

शिक्षा[संपादित करें]

महाविद्यालय

  • देव सुन्दरी मेमोरियल कालेज

उच्च विद्यालय

  • महात्मा गांधी स्मारक उच्च विद्यालय
  • पूर्व मध्य रेलवे उच्च विद्यालय
  • सनराइज पब्लिक स्कूल एकडारा झाझा बालिका उच्च विद्यालय
  • सरडोनिक्स विद्यालय
  • संत जोसफ उच्च विद्यालय

मध्य विद्यालय

  • मध्य विद्यालय, चरघरा
  • आदर्श मध्य विद्यालय
  • मध्य विद्यालय, सोहजाना
  • बाल विकास सदन,
  • Middle school shair jhajha

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Bihar Tourism: Retrospect and Prospect," Udai Prakash Sinha and Swargesh Kumar, Concept Publishing Company, 2012, ISBN 9788180697999
  2. "Revenue Administration in India: A Case Study of Bihar," G. P. Singh, Mittal Publications, 1993, ISBN 9788170993810