2010 एशियाई खेल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सोलहवें एशियाई खेल
2010asianlogo.jpg
नारा: "रोमांचक खेल, सामंजस्यपूर्ण एशिया"
मेजबान शहर गुआंग्झोऊ, चीन
प्रतिभागी देश ४५
खिलाड़ी ९,७०४
स्पर्धाएँ ४२ क्रीड़ाओं में ४७६
उद्घाटन समारोह १२ नवम्बर
समापन समारोह २७ नवम्बर
आधिकारिक उद्घाटन वेन जियाबाओ
खिलाड़ी शपथ फू हाइफेंग
मशाल जलाने वाला ही चोंग
मुख्य आयोजक हाइक्शिन्शा द्वीप

सोलहवें एशियाई खेल, १२ नवम्बर से २७ नवम्बर, २०१० के बीच चीन के गुआंग्झोऊ में आयोजित किए जाएँगे। बीजिंग, जिसने १९९० के एशियाई खेलों की मेज़बानी की थी, के बाद गुआंग्झोऊ इन खेलों का आयोजन करने वाला दूसरा चीनी नगर होगा। इसके अतिरिक्त यह इतनी बड़ी संख्या में खेल प्रतियोगिताएँ आयोजित करने वाला अन्तिम नगर होगा, क्योंकि एशियाई ओलम्पिक परिषद ने भविष्य के खेलों के लिए नए नियम लागू किए हैं जो २०१४ के खेलों से यथार्थ में आएँगे।

गुआंग्झोऊ को ये खेल १ जुलाई, २००४ को प्रदान किए गए थे, जब वह इकलौता बोली लगाने वाला नगर था। यह तब हुआ जब अन्य नगर, अम्मान, क्वालालम्पुर और सियोल बोली प्रक्रिया से पीछे हट गए। खेलों की सह-मेज़बानी तीन पड़ोसी नगरों डोंग्गूआन, फ़ोशन और शानवेइ के द्वारा भी की जाएगी।

प्रतिभागी देश[संपादित करें]

इन एशियाई खेलों में एशिया के सभी ४५ देश भाग ले रहे हैं। प्रतिभागी देशों को उनके आईओसी कूटानुसार क्रमित किया गया है और साथ में आईओसी कूट और उस देश से प्रतिभागी खेलमण्डल सदस्य संख्या दी गई है। आधिकारिक खेल जालस्थल के अनुसार, कुवैती खिलाडियों ने इन खेलों में ओलम्पिक ध्वज तले भाग लिया क्योंकि एक राजनीतिक हस्तक्षेप के कारण कुवैत ओलम्पिक समिति को जनवरी २०१० में निलम्बित कर दिया गया।[1]

देश अओस कूट प्रतिभागी देश अओस कूट प्रतिभागी
 अफ़्गानिस्तान AFG ६४  मालदीव MDV ८५
 बांग्लादेश BAN १५२  मंगोलिया MGL २४४
 भूटान BHU ११  म्यान्मार MYA ६८
 बहरीन BRN ८९  नेपाल NEP १४२
 ब्रुनेई BRU  ओमान OMA ५२
 कम्बोडिया CAM २१  पाकिस्तान PAK १७५
 चीन CHN(मेज़बान) ९६७  फ़िलस्तीन PLE ४१
 हांगकांग HKG ४०६  फ़िलीपीन्स PHI २४३
 इण्डोनेशिया INA १७८  उत्तर कोरिया PRK १९९
 भारत IND ६७४  कतर QAT २९२
 ईरान IRI ३८१  सिंगापुर SIN २४१
 इराक IRQ ५२  श्रीलंका SRI १०८
 जॉर्डन JOR ८८  सीरिया SYR ४६
 जापान JPN ७२२  थाईलैण्ड THA ५९७
 कज़ाख़िस्तान KAZ ३८८  ताजिकिस्तान TJK ७६
 किर्गिज़स्तान KGZ १३६  तुर्कमेनिस्तान TKM १११
 दक्षिण कोरिया KOR ८०१  पूर्वी तिमोर TLS २९
 सउदी अरब KSA १६३  चीनी ताइपे TPE ३९३
Olympic flag.svg कुवैत KUW २१५  संयुक्त अरब अमीरात UAE ९९
 लाओस LAO ५२  उज़्बेकिस्तान UZB २६८
 लेबनान LIB ५३  वियतनाम VIE २५९
 मकाउ MAC १७४  यमन YEM ३२
 मलेशिया MAS ३४४

खेल समारोह[संपादित करें]

उद्घाटन समारोह[संपादित करें]

उद्घाटन समारोह १२ नवम्बर २०१० को स्थानीय समयानुसार २०:०० बजे प्रारम्भ हुआ। इतिहास में पहली बार, समारोह स्टेडियम के भीतर न होकर, एक द्वीप पर आयोजित किया गया और स्थल था पर्ल नदी पर स्थित हाइक्शिन्शा द्वीप। समारोह का निर्देशन चेन वेइया ने किया था जो २००८ ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक खेलों में सहायक निर्देशक थे। समारोह में कुल ६,००० प्रदर्शक थे। समारोह में चीन के प्रधानमन्त्री, वेन जियाबाओ, हांगकांग के प्रशासन प्रमुख सचिव हेनरी टेंग और एशियाई ओलम्पिक परिषद के अध्यक्ष शेख अहमद अल-फ़हद अल-अहमद अल-सबाह और अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति के अध्यक्ष जैक रोगे भी उपस्थित थे। समारोह कुल ३ घण्टों तक चला और समापन समारोह समेत कुल लागत ३८ करोड़ (लगभग २.५ अरब रूपये) थी।

समापन समारोह[संपादित करें]

समापन समारोह २७ नवम्बर २०१० को स्थानीय समयानुसार २०:०६ बजे आरम्भ हुआ। कार्यक्रम "लीव यॉर सॉन्ग हियर" की विषयवस्तु से आरम्भ हुआ, जिसमें चीन, भारत, इण्डोनेशिया, लेबनान, कजाखस्तान और मंगोलिया के नृत्य और संगीत सम्मिलित थे।

समारोह में अगले एशियाई खेलों के मेज़बान दक्षिण कोरिया की ओर से भी आठ मिनट का कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। इन्चियोन के महापौर सोंग यंग-जिल को ध्वज भी इसी समारोह में सौंपा गया। इन्चियोन २०१४ में एशियाई खेलों की मेज़बानी करेगा।

पदक तालिका[संपादित करें]

इन एशियाई खेलों में ३६ देशों ने कम से कम एक पदक जीता था। इसके अतिरिक्त चीन, अन्य एशियाई खेलों के समान ही इन खेलों में भी सर्वाधिक स्वर्ण पदक जीतकर पदक तालिका में सबसे आगे रहा। इन एशियाई खेलों में भारत ने अब तक सर्वाधिक पदक भी जीते, इससे पूर्व १९८२ एशियाई खेलों में भारत ने सर्वाधिक पदक जीते थे। मकाउ और बांग्लादेश ने इन खेलों में क्रमशः वूशू और क्रिकेट में एशियाई खेलों में अपने प्रथम स्वर्ण पदक जीते। केवल नौ देश ऐसे थे जो कोई भी पदक जीतने में असफल रहे।

क्रमांक देश स्वर्ण रजत कांस्य कुल
 चीन १९९ ११९ ९८ ४१६
 कोरिया ७६ ६५ ९१ २३२
 जापान ४८ ७४ ९४ २१६
 ईरान २० १४ २५ ५९
 कज़ाख़िस्तान १८ २३ ३८ ७९
 भारत १४ १७ ३३ ६४
 चीनी ताइपे १३ १६ ३८ ६७
 उज्बेकिस्तान ११ २२ २३ ५६
 थाईलैण्ड ११ ३२ ५२
१०  मलेशिया १८ १४ ४१
कुल ४७७ ४७९ ६२१ १५७७

विवाद[संपादित करें]

मन्दारिन या कैण्टोनी[संपादित करें]

गुआंगझोऊ के लोग नगर समिति द्वारा दिए उस सुझाव के विरोध में है जिसमे कहा गया है की टीवी क्रार्यक्रमों में मन्दारिन का अधिक उपयोग किया जाए, बजाए की गुआंगझोऊ की मुख्य बोली कैण्टोनी। इस कारण स्थानीय समुदाय में रोष है।[2] कैण्टोनी पर दो मोर्चों पर से आक्रमण हो रहा है। पहला तो "आन्तरिक अप्रवास" के कारण, लोग अन्य क्षेत्रों से गुआंग्दोंग आ रहे हैं। गुआंग्दोंग की जनसंख्या १.४ करोड़ है जिसमें से आधे नए बसने बाले कैण्टोनी नहीं जानते। दूसरा मोर्चा है सरकारी नीति जिसका उद्देश्य है एक "एकीकृत सामंजस्यपूर्ण समाज" की रचना। बीजिंग के १९८२ की संवैधानिक धारा १९ ने पोटोंगुहा को आधिकारिक भाषा तय कर दिया। जून २०१० में हुए एक सर्वेक्षण के अनुसार ३०,००० में से ८०% कैण्टोनी से मन्दारिन पर जाने के विरोध में हैं।[3]

भारत में प्रसारण[संपादित करें]

भारत में इन खेलों का प्रसारण डीडी स्पोर्ट्स और टेन स्पोर्ट्स[4] पर किया गया था।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Political interference alleged Archived 2010-08-21 at WebCite ईएसपीएन
  2. मन्दारिन में समाचार के प्रस्ताव से गुआंगझोऊ के नागरिक रुष्ट Archived 2010-07-16 at the Wayback Machine (अंग्रेज़ी)
  3. अपनी जन्मस्थली में कैण्टोनी भाषा पर ताज़ा आक्रमण Archived 2010-07-11 at the Wayback Machine (अंग्रेज़ी)
  4. "Ten Sports to broadcast Asian Games in India". मूल से 30 नवंबर 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 जून 2020.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]