फ़ैन (फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
फ़ैन
Fan Poster.jpg
निर्देशक मनीष शर्मा
निर्माता आदित्य चोपड़ा
पटकथा हबीब फाइसल
कहानी हबीब फाइसल
मनीष शर्मा
आदित्य चोपड़ा
अभिनेता शाहरुख खान
संगीतकार ए॰ आर॰ रहमान
छायाकार मनु आनंद
संपादक नम्रता राव
स्टूडियो यश राज फिल्म्स
वितरक यश राज फिल्म्स
प्रदर्शन तिथि(याँ)
  • 15 अप्रैल 2016 (2016-04-15)
देश भारत
भाषा हिन्दी
लागत भारतीय रुपया850 मिलियन (US$12.41 मिलियन)
कुल कारोबार भारतीय रुपया1.88 बिलियन (US$27.45 मिलियन)

फ़ैन एक भारतीय बॉलीवुड फ़िल्म है जिसका निर्देशन मनीष शर्मा कर रहे है। इसमें मुख्य किरदार में शाहरुख खान और वाणी कपूर हैं। इसका निर्माण आदित्य चोपड़ा कर रहे हैं।[1][2] फ़िल्म हैप्पी न्यू ईयर में शाहरुख खान को चोट लगने के कारण इसे 2015 तक के लिए लंबित कर दिया गया था। यह फ़िल्म 15 अप्रैल 2016 को प्रदर्शित होगी।[3][4]

कहानी[संपादित करें]

गौरव (शाहरुख खान) दिल्ली में रहता है और वह आर्यन खन्ना (शाहरुख खान) का बहुत बड़ा फैन रहता है। गौरव वहाँ पर एक प्रतियोगिता जीत जाता है और वह आर्यन को अपना आदर्श मानते रहता है। इसके बाद वह उसके जन्म दिन के दिन उसे अपना जीता हुआ ट्रॉफी दिखाने जाता है। वह दिल्ली से मुंबई बिना रेल टिकट के सफर करता है।

आर्यन के जन्मदिन के दिन गौरव उसके घर जाने की कोशिश करता है, लेकिन उसके गार्ड उसे अन्दर जाने नहीं देते हैं। उसके साथ में काम करने वाला सिड कपूर अपने साथी अभिनेता आर्यन का आलोचना करते रहता है। इससे गौरव को क्रोध आ जाता है। वह सिड को धमकी दे देता है। सिड उस घटना का वीडियो इंटरनेट पर डाल देता है। इसके बाद आर्यन भी उस वीडियो को देखता है। आर्यन अपना कार गौरव को लाने के लिए भेजता है। लेकिन वहाँ सिड के सुरक्षा गार्ड आ जाते हैं और गौरव वहाँ से भाग जाता है। पर वे लोग उसे पकड़ कर पुलिस थाने में ले जाते हैं। आर्यन वहाँ आता है और कहता है कि गौरव उसका फैन नहीं है। इसके साथ ही वह गौरव से कहता है कि अब वह ऐसा कभी न करे और अपने घर लौट जाए। गौरव अपने घर चला जाता है उसके बाद वह आर्यन के सारे तस्वीरों को जला देता है। इसके बाद वह उससे बदला लेने के बारे में सोचता है।

एक साल बाद लंदन में गौरव एक संग्रहालय में आर्यन के नाम को खराब करने के लिए उसे तबाह कर देता है। पुलिस असली आर्यन को गिरफ्तार कर लेती है लेकिन उसे जमानत भी मिल जाता है। आर्यन डबरोवनिक रवाना हो जाता है। उसे नहीं पता रहता है कि गौरव भी डबरोवनिक में ही है। गौरव अपने आप को एक कलाकार के रूप में दिखाता है और वहाँ एक कार्यक्रम में चले जाता है। यहाँ आर्यन अपने कर्मियों को बाहर देखने के लिए बोलता है और बाद में उसे पता चलता है कि गौरव उसके उत्पादन दल का हिस्सा बना है। वह पूरी इमारत तलाश लेता है, लेकिन तब तक गौरव वहाँ से भाग निकलता है। बाद में जब आर्यन दर्पण में देखता है तो उसमें लिखा रहता है कि गौरव ने ही आर्यन को बनाया है।

आर्यन अपने अगले कार्यक्रम के लिए एक अरबपति के शादी में जाता है। वहाँ भी गौरव अपना रूप आर्यन की तरह कर लेता है और वहाँ उस अरबपति की बेटी के साथ नाचने लगता है। उसी दौरान वह मारने लगता है। इससे अरबपति क्रोध में असली आर्यन को बाहर निकाल देता है। इसका वीडियो पूरे जगह फैल जाता है और उसके सभी प्रशंसक उससे दूरी बनाने लगते हैं। आर्यन को तब तक पता चल जाता है कि गौरव उसका पीछा कर रहा है। वह सभी को बता देता है कि कोई उसके जैसा दिख कर लोगों को नुकसान पहुँचा रहा है।

भारत में वापस लौटने के बाद गौरव वापस आर्यन बन जाता है और आर्यन के घर में जा कर उसके जीते हुए पुरस्कारों के कमरे को तबाह कर देता है। कुछ ही समय बाद आर्यन वहाँ आ जाता है और गौरव वहाँ से भाग जाता है। आर्यन को गौरव के रिश्तेदारों से पता चलता है कि वह एक प्रतियोगिता में शामिल हो सकता है। आर्यन एक योजना बनाता है और गौरव जिस लड़की से प्यार करते रहता है, उससे आर्यन अपने आप को गौरव बता कर अपने प्यार का इजहार कर देता है। इस घटना से गौरव भड़क जाता है और आर्यन उसे देख लेता है। गौरव वहाँ से भागने लगता है और आर्यन उसका पीछा करने लगता है। उसके बाद दोनों के मध्य लड़ाई शुरू हो जाती है। आर्यन उसे कहता है कि वह आर्यन बनने के जगह गौरव बने। इसके बाद गौरव बोलता है कि उसने सबकुछ कहा लेकिन अभी तक माफी नहीं मांगी। इसके बाद वह पहाड़ से गिरते रहता है कि आर्यन उसे पकड़ लेता है। इसके बाद गौरव जवाब देता है कि वह उसे कभी समझ नहीं पाएगा। इसके साथ ही वह अपना हाथ छुड़ा लेता है। वह मुस्कुराते हुए नीचे गिर जाता है और उसकी मौत हो जाती है। वह मरने के बाद भी मुस्कुराते रहता है।

इसके बाद आर्यन का नाम सभी विवादों से हट जाता है। लेकिन हर बार उसके अगले जन्मदिन में जब भी वह भीड़ को देखता है तो उसे गौरव दिखाई देता है।

कलाकार[संपादित करें]

निर्माण[संपादित करें]

इस फ़िल्म का निर्माण 2014 से शुरू हुआ। लेकिन उसके बाद हैप्पी न्यू ईयर के निर्माण के कारण से टाल दिया गया। लेकिन इसी दौरान शाहरुख खान को चोट लगने के कारण 2015 तक टाल दिया गया। इस फ़िल्म में विशेष प्रभाव को दिखाने के लिए जो समूह कार्य कर रहा था, उसे कार्य को पूरा करने में समय लगने के कारण इसकी प्रदर्शन तिथि को 2015 के स्थान पर 2016 कर दिया गया।

प्रदर्शन[संपादित करें]

इस फिल्म के झलक का प्रदर्शन 29 फरवरी 2016 को किया गया था। यह फिल्म पहले 2015 को प्रदर्शित होने वाला था। इसके बाद देरी होते होते यह फिल्म 15 अप्रैल 2016 को 3500 सिनेमाघरों में प्रदर्शित हुआ था। इसके अलावा यह विदेशों में 1100 सिनेमाघरों में भी प्रदर्शित हुआ। इस फिल्म को बनाने में कुल ₹85 करोड़ रुपये लगे थे और इसके प्रचार में ₹20 करोड़ का खर्च आया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Shahrukh Khan begins work on "FAN"". द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया . 25 March 2014. अभिगमन तिथि 19 August 2014.
  2. "Shah Rukh Khan relives his 'Fauji' days while shooting for upcoming film 'Fan'". डेली न्यूज़ एण्ड एनालिसिस. 17 May 2014. अभिगमन तिथि 19 August 2014.
  3. "Shah Rukh Khan starrer Fan postponed owing to injury?". डेली भास्कर. अभिगमन तिथि 19 August 2014.
  4. "Revealed: The story of Shah Rukh Khan starrer Fan". अभिगमन तिथि 9 October 2014.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

इंटरनेट मूवी डेटाबेस पर फ़ैन