भारत का केन्द्रीय मंत्रिमण्डल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

केन्द्रीय मंत्रिमंडल, भारत गणराज्य में कार्यकारी अधिकार का प्रयोग करता हैं। इस में वरिष्ठ मंत्री (केबिनेट मंत्री) और कनिष्ठ मंत्री (राज्य मंत्री) सम्मिलित होते हैं, जिनका नेतृत्व प्रधानमंत्री करते हैं। केंद्रीय मंत्रिमंडल नामक एक छोटी कार्यकारी निकाय, भारत में सर्वोच्च निर्णय लेने की संस्था हैं। केवल प्रधानमंत्री और कैबिनेट मंत्री ही कैबिनेट के सदस्य होते हैं। भारत में सबसे वरिष्ठ सिविल सेवक, कैबिनेट सचिव, कैबिनेट सचिवालय का नेतृत्व करते हैं, तथा मंत्रियों की परिषद को प्रशासनिक सहायता प्रदान करते हैं। राज्य मंत्रियों को अपने काम में कैबिनेट मंत्रियों की सहायता के साथ काम सौंपा गया हैं। यह सूची भारत के केन्द्रीय मंत्रियों की सूची है जिसे नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सोलहवीं लोकसभा के गठन के बाद 2014 में चुना गया है।[1]

इस सूची में जनवरी 2015 में परिवर्तन किया गया है।

अधिनियम[संपादित करें]

सामूहिक रूप से मंत्रियों की परिषद भारतीय संसद के निचले सदन (लोक सभा) को जवाबदेह हैं। भारतीय संविधान के अनुसार, मंत्रिपरिषद में मंत्रियों की कुल संख्या लोक सभा के सदस्यों की कुल संख्या के १५% से अधिक नहीं होनी चाहिए। हर मंत्री को संसद का सदस्य होना आवश्यक हैं; जो मंत्री संसद के निचले अथवा ऊपरी सदन का लगातार ६ महीनों तक सदस्य नहीं, उससे तुरंत उसका मंत्री पद छीन लिया जाएगा।

श्रेणी[संपादित करें]

मंत्रियों की तीन श्रेणियाँ हैं, जो रैंक के अवरोही क्रम इस प्रकार हैं -

  • कैबिनेट मंत्री - कैबिनेट के सदस्य; मंत्रालय का नेतृत्वा करने वाले
  • राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) - कनिष्ठ मंत्री जो कैबिनेट मंत्री को रिपोर्ट नहीं करते हैं
  • राज्य मंत्री (MoS) - कनिष्ठ मंत्री जो कैबिनेट मंत्री को रिपोर्ट करते हैं; आमतौर पर उसी मंत्रालय में एक विशेष जिम्मेदारी सौंपी जाती हैं

प्रधानमंत्री[संपादित करें]

  1. नरेन्द्र दामोदरदास मोदी - प्रधानमंत्री, परमाणु ऊर्जा विभाग, अंतरिक्ष विभाग, कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन विभाग, सभी महत्‍वपूर्ण नीतिगत मामले, एवं उन सभी विभागों के मंत्री जिन्हें स्पष्ट रूप से किसी को नहीं दिया गया हो।

कैबिनेट मंत्री[संपादित करें]

क्रम नाम मंत्रालय टिप्पणी
1 नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री, परमाणु ऊर्जा विभाग, अंतरिक्ष विभाग, कार्मिक लोक शिकायत एवं पेंशन विभाग,
सभी महत्‍वपूर्ण नीतिगत मामले एवं उन सभी विभागों के मंत्री
2 राजनाथ सिंह गृह मंत्रालय २००० में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, फिर २००४ में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में कृषि मंत्री भी रहे।
3 सुषमा स्वराज विदेश मंत्रालय
4 अरुण जेटली वित्त मंत्रालय
5 निर्मला सीतारमन रक्षा मंत्रालय
6 नितिन जयराम गडकरी जहाजरानी, सड़क परिवहन और राजमार्ग मन्त्रालय
7 डी॰ वी॰ सदानंद गौड़ा सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन
8 रवि शंकर प्रसाद क़ानून एवं न्याय, संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी
9 जगत प्रकाश नड्डा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय
10 उमा भारती पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय
11 सुरेश प्रभु वाणिज्य मंत्री नागरिक उड्डयन मंत्री
12 रामविलास पासवान उपभोक्ता मामला, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय
13 कलराज मिश्र सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय
14 मेनका गांधी महिला एवं बाल विकास
15 अनंत कुमार उर्वरक एवं रसायन मंत्रालय, संसदीय कार्य
16 अनंत गीते भारी उद्योग और सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय
17 हरसिमरत कौर बादल खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय
18 नरेन्द्र सिंह तोमर ग्रामीण विकास, पंचायती राज, पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय
19 जुएल उरांव जनजातीय मामलों का मंत्रालय
20 राधा मोहन सिंह कृषि मंत्रालय
21 थावरचंद गहलोत सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय
22 प्रकाश जावड़ेकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय
23 डॉ॰ हर्षवर्धन विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, पृथ्वी विज्ञान
24 चौधरी बीरेन्द्र सिंह इस्पात मंत्रालयö
25 स्मृति ईरानी कपड़ा मंत्रालय
26 पीयूष गोयल रेल मंत्रालय

केन्द्रीय राज्य मंत्री[संपादित करें]

क्रम नाम मंत्रालय टिप्पणी
1. विजय सांपला सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता
2. बंडारू दत्तात्रेय श्रम और रोजगार
3. गिरिराज सिंह सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम
4. हंसराज गंगाराम अहीर रसायन एवं उर्वरक
5. जयंत सिन्हा वित्त
6. राव इंद्रजीत सिंह आयोजना, रक्षा
7. संतोष कुमार गंगवार कपड़ा (स्‍वतंत्र प्रभार)
8. पद येस्‍सो नाइक AAYUSH (आयुष ), स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण)
9. धर्मेंद्र प्रधान पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस (स्‍वतंत्र प्रभार)
10. सर्बानंदा सोनवाल युवा मामले और खेल (स्‍वतंत्र प्रभार)
11. प्रकाश जावडेकर पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन (स्‍वतंत्र प्रभार)
12. पीयूष गोयल ऊर्जा (स्‍वतंत्र प्रभार), कोयला (स्‍वतंत्र प्रभार), नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा (स्‍वतंत्र प्रभार)
13. डॉ॰ जितेंद्र सिंह पूर्वोत्तर क्षेत्र* का विकास, प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा विभाग, अंतरिक्ष विभाग
14. मती निर्मला सीतारमन वाणिज्‍य एवं उद्योग (स्‍वतंत्र प्रभार)
15. जी.एम. सिद्देश्‍वरा भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम
16. मनोज सिन्‍हा रेलवे, संचार (स्वतंत्र प्रभार)
17. निहालचंद पंचायती राज
18. उपेंद्र कुशवाहा मानव संसाधन विकास
19. राधाकृष्‍णन पी सड़क परिवहन और राजमार्ग, नौवहन
20. किरण रिजिजू गृह मामले
21. कृष्‍ण पाल गुर्जर सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता
22. डॉ॰ संजीव कुमार बालयान कृषि, खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग
23. मनसुखभाई धानजीभाई वसावा जनजातीय मामले
24. राव साहेब दादाराव दानवे उपभोक्‍ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण
25. विष्‍णु देव साई खनन, इस्‍पात
26. सुदर्शन भगत ग्रामीण विकास
27. महेश शर्मा संस्कृति *, पर्यटन *, नागर विमानन
28. मोहनभाई कल्याणजीभाई कुन्दरिया कृषि
29. मुख्तार अब्बास नकवी अल्पसंख्यक मामले, संसदीय कार्य
30. राजीव प्रताप रूडी कौशल विकास और उद्यमिता*, संसदीय कार्य
31. राज्यवर्धन सिंह राठौड़ सूचना एवं प्रसारण,खेल मंत्री
32. राम कृपाल यादव पेय जल व स्वच्छता
33. राम शंकर कठेरिया मानव संसाधन विकास
34. साध्वी निरंजन ज्योति खाद्य प्रसंस्करण उद्योग
35. सांवर लाल जाट जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा कायाकल्प
36. बाबुल सुप्रियो शहरी विकास, आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन
37. विजय कुमार सिंह सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन *, विदेश मंत्रालय, प्रवासी भारतीय कार्य
38. वाईएस चौधरी विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "प्रेस विज्ञप्ति (मंत्री एवं उनसे संबंधि‍त मंत्रालय/वि‍भाग)". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 27मई 2014. http://pib.nic.in/newsite/hindirelease.aspx?relid=27949. अभिगमन तिथि: 30 मई 2014.