कविता कृष्णमूर्ति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कविता कृष्णमूर्ति
Kavita Subramaniam.jpg
जन्म 25 जनवरी 1958[1]
नई दिल्ली
नागरिकता भारत Edit this on Wikidata
व्यवसाय फिल्म अभिनेता, गायक, संगीत रचयिता Edit this on Wikidata
जीवनसाथी लक्ष्मीनारायण सुब्रह्मण्यम Edit this on Wikidata
पुरस्कार कला में पद्मश्री श्री Edit this on Wikidata

कविता कृष्णमूर्ति (जन्म:1958) भारतीय सिनेमा की एक महत्वपूर्ण पार्श्वगायिका है। कविता जब आठ साल की थीं तो उन्होंने एक गायन प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार जीता। तभी से वह बड़ी होकर एक मशहूर गायिका बनने का सपना देखने लगी थीं। 2005 को उन्हें पद्मश्री से पुरस्कृत किया गया।कविता को चार फिल्मफेयर बेस्ट फीमेल प्लेबैक सिंगर अवार्ड्स से सम्मानित किया गया। उनके लिए एकोलेड्स में स्टारडस्ट मिलेनियम 2000 अवार्ड्स में "बेस्ट सिंगर ऑफ़ द मिलेनियम" अवार्ड, अंतर्राष्ट्रीय हिट फिल्म देवदास से डोला रे डोला के लिए जी सिने अवार्ड 2003 शामिल है और वह बॉलीवुड अवार्ड की दो बार प्राप्तकर्ता हैं।

प्रारम्भिक जीवन[संपादित करें]

हिंदी सिनेमा जगत की लोकप्रिय पार्श्व गायिका कविता का जन्म 1958 में नई दिल्ली में हुआ। संगीत की प्रारंभिक शिक्षा उन्हें घर में ही मिली। उन्होंने बाद में बलराम पुरी से शास्त्रीय संगीत सीखा। नौ साल की उम्र में कविता को स्वर सम्राज्ञी लता मंगेशकर के साथ बांग्ला भाषा में एक गीत गाने का मौका मिला। यहीं से उन्होंने पार्श्वगायन के क्षेत्र में आने का फैसला किया।

गायकी[संपादित करें]

मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज में स्नातक करने के दौरान कविता हर प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेती थीं। यही वक्त था, जब एक कार्यक्रम में मशहूर गायक मन्ना डे ने उनका गाना सुना और उन्हें विज्ञापनों में गाने का मौका दिया।

फिल्मो में गायन[संपादित करें]

साल 1980 में कविता ने अपना पहला पार्श्व गीत काहे को ब्याही मांग भरो सजना गाया। हालांकि यह गाना बाद में फिल्म से हटा दिया गया था। साल 1985 में फिल्म प्यार झुकता नहीं के गानों ने उन्हें पार्श्व गायिका के रूप में पहचान दिलाई। इसके बाद फिल्म मिस्टर इंडिया के गाने हवा हवाई और करते हैं हम प्यार ने उन्हें सुपरहिट गायिका का दर्जा दिलाया। 90 के दशक में कविता कृष्णमूर्ति हिंदी सिनेमा की अग्रणी पार्श्व गायिका बनकर उभरीं। फिल्म 1942: अ लव स्टोरी में गाए उनके गाने आज भी पसंद किए जाते हैं। उन्होंने अपने करियर में आनंद-मिलिंद, उदित नारायण, ए.आर. रहमान, अनु मलिक जैसे गायकों व संगीत निर्देशकों के साथ काम किया है। कविता ने एक बार एक साक्षात्कार में बताया था कि बचपन में उनको अभिनेता दिलीप कुमार बहुत पसंद थे। वह जब बड़ी हो रही थीं, तब अभिनेताओं में संजीव कुमार को पसंद करती थीं। उन्हें अमिताभ बच्चन और आमिर खान भी पसंद हैं। अभिनेत्रियों में श्रीदेवी, रानी मुखर्जी, काजोल और प्रीति जिंटा पसंद हैं। शबाना आजमी को वह बेहतरीन अभिनेत्री मानती हैं। कविता ने शबाना आजमी, श्रीदेवी, माधुरी दीक्षित, मनीषा कोइराला और ऐश्वर्या राय सरीखी शीर्ष की अभिनेत्रियों के लिए गाने गाए हैं। कविता वायलिन वादक एल. सुब्रमण्यम की पत्नी हैं। एक साक्षात्कार में उन्होंने बताया था एक बार उन्हें गायक हरिहरन के साथ मिलकर सुब्रमण्यम के लिए गाना गाना था, तब उनकी शादी नहीं हुई थी।

पुरस्कार[संपादित करें]

फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार[संपादित करें]

वर्ष गीत फिल्म संगीत निर्देशक गीतकार
1995 "प्यार हुआ चुपके से" 1942: अ लव स्टोरी राहुल देव बर्मन जावेद अख्तर
1996 "मेरा पिया घर आया" याराना अनु मलिक माया गोविंद
1997 "आज मैं ऊपर" खामोशी जतिन-ललित मजरुह सुल्तानपुरी
2003 "डोला रे डोला"
श्रेया घोषाल के साथ साझा
देवदास इस्माइल दरबार नुसरत बद्र

पद्मा श्री

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  1. इण्टरनेट मूवी डेटाबेस, IMDb अभिज्ञापक nm0471469, अभिगमन तिथि 11 जनवरी 2016Wikidata Q37312